लखीमपुर हिंसा: लखनऊ में विपक्ष के सभी बड़े नेता हाउस अरेस्ट

-अखिलेश यादव, सतीश मिश्रा, शिवपाल यादव, प्रमोद तिवारी के घर के बाहर भारी पुलिस बल तैनात
 
Lakhimpur Kheri violence news pic
लखीमपुर खीरी  हिंसा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में में रविवार को हुई हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश का सियासी माहौल गर्म हो गया है। विपक्षी पार्टियों के सभी बड़े नेताओं को हाउस अरेस्ट नजरबंद कर दिया गया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, सतीश मिश्रा, शिवपाल यादव, प्रमोद तिवारी, आराधना मिश्रा के घर के बाहर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

विपक्षी पार्टी के नेताओं के लखीमपुर जाने के ऐलान के बाद देर रात  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों के साथ बैठक कीऔर फैसला हुआ कि विपक्षी नेताओं को लखीमपुर खीरी जाने से रोका जाएगा। इन नेताओं के लखीमपुर खीरी पहुंचने से कानून-व्यवस्था खराब हो सकती है।

सीएम योगी के निर्देश के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, बसपा महासचिव सतीश मिश्र, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव समेत तमाम नेताओं के घर के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई। हालांकि इन सबको धत्ता बताते हुए प्रियंका गांघी देर रात में ही अपने आवास से निकल गई,बाद में सीतापुर में रोक दिया गया है।

छत्तीसगढ़ के सीएम और पंजाब के डिप्टी सीएम के लखनऊ लैंडिंग पर रोक

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने भारतीय एयरपोर्ट अथॉरिटी को पत्र लिखकर लखनऊ में चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और पंजाब के उप मुख्यमंत्री का विमान लैंड ना कराने के निर्देश दिए है। अवनीश अवस्थी ने लिखा है कि लखीमपुर खीरी में धारा 144 लागू होने कारण वहां जाने से कानून-व्यवस्था की स्थिति खराब हो सकती है।

शहर में के कई सड़को को किया गया ब्लाक

विपक्ष के नेताओं को रोकने के लिए जगह-जगह गाड़ियां रोड पर खड़ी करके सड़क ब्लॉक की गई है। इसके अलावा एक ट्रक मंगाकर उसे बीच सड़क पर खड़ा करके रोड बंद कर दिया गया है। स्थिति यह है कि यहां कोई वाहन तो क्या कोई पैदल भी नहीं जा-आ सकता है।