लखीमपुर कांड: सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद दो गिरफ्तार, केंद्रीय मंत्री टेनी के आरोपी बेटे को समन

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिखने लगा है। लखीमपुर खीरी में रविवार को हुए बवाल के 4 दिनों बाद पुलिस ने गुरुवार को इस मामले में आशीष पांडेय और लवकुश राणा नाम के दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।
 
Lakhimpur Kheri Violence Case
लखीमपुर कांड

लखीमपुर खीरी/ लखनऊ/ नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिखने लगा है। लखीमपुर खीरी में रविवार को हुए बवाल के 4 दिनों बाद पुलिस ने गुरुवार को इस मामले में आशीष पांडेय और लवकुश राणा नाम के दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि अब भी केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी का बेटा आशीष मिश्र फरार है। पुलिस उसकी तलाश में दबिश दे रही है। आशीष मिश्र को पुलिस ने समन भी भेजा है। 

कौन हैं आशीष मिश्रा: जिन पर लगा UP किसानों की हत्या का आरोप..करते हैं  बिजनेस लेकिन रूतबा मिनस्टर जैसा | Lakhimpur violence, know Ashish Mishra  son of minister Ajay Mishra ...

( फोटो- केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी का बेटा आशीष मिश्र )

इससे पहले गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में सख्त रुख अपनाया। शीर्ष अदालत ने उत्तर प्रदेश सरकार से स्टेटस रिपोर्ट तलब की है। कोर्ट ने कल यानी 8 अक्टूबर को स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया। 

चीफ जस्टिस एनवी रमना ने उत्तर प्रदेश सरकार के वकील से कहा कि आप पर आरोप ये है कि जांच सही नहीं हो रही है। आप बताएं कि कितने आरोपित हैं और कितनों की अभी गिरफ्तारी हुई है। मामले की सुनवाई कल यानी 8 अक्टूबर को जारी रहेगी।

सुनवाई शुरू होते ही चीफ जस्टिस ने कहा कि परसों दो वकीलों ने मुझे चिट्ठी लिखी थी। उनके नाम शिवकुमार त्रिपाठी और सीएस पांडा हैं। कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को निर्देश दिया है कि दिवंगत लवप्रीत की मां बीमार हैं। कोर्ट ने लवप्रीत की मां को उचित स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। सुनवाई के दौरान प्रदेश सरकार की वकील ने कहा कि मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट में भी याचिका दाखिल की गई है। तब चीफ जस्टिस ने कहा कि आप कल तक स्टेटस रिपोर्ट दें और यह बताएं कि हाई कोर्ट में दायर जनहित याचिकाओं की स्थिति क्या है। जस्टिस सूर्यकांत ने कहा कि यह भी बताएं कि किन-किन लोगों की मौत हुई है।

उधर, विपक्ष ने मामले में हत्‍यारोपी बनाए गए केंद्रीय गृहराज्‍यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे की गिरफ्तारी की मांग तेज कर दी है। पुलिस ने आशीष पांडेय और लव कुश नामक दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनों पर उस गाड़ी में सवार रहने का आरोप है जो उस थार जीप के पीछे-पीछे चल रही थी जिसने किसानों को रौद दिया था। किसानों को थार जीप से रौंदे जाने का वीडियो पिछले दो दिन से सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

क्या है पूरा मामला 
उल्लेखनीय है कि लखीमपुर खीरी में 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में दर्ज एफआईआर में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा को आरोपित किया गया है। आशीष मिश्रा पर आरोप है कि उसकी गाड़ी से कुचलकर चार लोगों की मौत हो गई। इस मामले में राजनीति गरम हो गई है और विपक्षी दलों के नेताओं का दौरा लगातार जारी है।