Connect with us

राज्य

देवी पाटन मंडल : दिग्गज नेताओं की मौजूदगी में दद्दन मिश्रा ने भरा नामांकन, उमड़ा जनसैलाब, सड़कें हुईं भगवामय

Published

on

बलरामपुर की सड़कें भगवा रंग में रंगी सांप्रदायिक माहौल देने की हुई कोशिश, एक दर्जन विधायकों ने नामांकन सभा में शामिल होकर दिया एकता का प्रतीक, बजरंगी विनय कटियार को दिया गया हनुमान गदा भेंट

राधेश्याम मिश्र

देवी पाटन मंडल। मंडल के श्रावस्ती लोकसभा 58 से एनडीए उम्मीदवार दद्दन मिश्र के नामांकन सभा में हजारों की संख्या में जनसैलाब उमड़ा| नामांकन सभा में मंडल से एक दर्जन विधायक ,उत्तर प्रदेश भाजपा युवा  अध्यक्ष सुभाष यदुवंशी ,बजरंगी के नाम से मशहूर हिन्दु ह्रदय सम्राट विनय कटियार,अयोध्या हनुमानगढ़ी अखाड़ा के महंत व देवी पाटन  पाटेश्वरी माता के महंत प्रमुख रूप से सभा में पहुंचकर नामांकन सभा की शोभा बढ़ाई |इस दौरान बलरामपुर की सड़के भगवा,व कमल के रूप में पूरी तरह से रंगी हुई थी, नामांकन सभा का आयोजन बलरामपुर स्थित बड़ा परेड ग्राउंड में किया गया| जिसमें हजारों की संख्या में गाड़ियां व फैजाबाद तथा प्रदेश के कोने-कोने से आए हुए कद्दावर नेताओं ने दद्दन मिश्र के नामांकन सभा की शोभा बढ़ाने की कोशिश की| इस दौरान आचार संहिता का भी  जमकर उल्लंघन हुआ|  सबसे पहले  दीप प्रज्वलित तथा  माला पहनाने का कार्यक्रम  हुआ जिसके बाद आम सभा के बाद हजारों की संख्या में  रोड शो के माध्यम से  कलेक्ट्रेट पहुंचकर भाजपा उम्मीदवार दद्दन मिश्रा ने श्रावस्ती लोकसभा मुख्यालय बलरामपुर कलेक्ट्रेट में जाकर के अपना नामांकन पत्र दाखिल किया|
 आम सभा के मुख्य अतिथि हिंदू युवा सम्राट बजरंगी विनय कटियार ने संबोधित करते हुए युवाओं और कार्यकर्ताओं में जोश भरा और कांग्रेस तथा महागठबंधन के प्रत्याशियों पर जमकर हमला बोला |कहा कि श्रावस्ती लोक सभा की जनता से वह अपील करने आए हुए हैं कि वह भारत को एक सशक्त और   विकसित राष्ट्र  बनाने के लिए  खुद को मोदी  और दद्दन मिश्रा बन जाएं और विपक्षियों पर ऐसा झाडू लगाएं  कि  महागठबंधन  और कांग्रेसी  वगैरा-वगैरा  की जमानत जप्त हो जाए |इस दौरान संप्रदायिक रंग देने की भी कोशिश की गई ,जिसमें स्पष्ट रूप से कहा गया की कि विपक्षी अपने को  25 और 35 फीसदी की बात करता है और वह 65 फीसदी है | उन्होंने कहा कि यह हास्य पद है  कि वह 35 फीसदी के लोग हम 65 फीसदी पर शासन करने की कोशिश कर रहे हैं ,उन्होंने कहा है कि किन्तु हम भगवान राम  व कृष्ण के वंशज और बजरंगी के सच्चे भक्त है और हम अपने वैदिक संस्कृत की नियमों का पालन करते हुए शांति सौहार्द का माहौल पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन विपक्षी यह भूल गए हैं हम राम के वंशज हैं जो धर्म युद्ध के लिए अपने मां ,बाप ,पत्नी और भाई को भी त्याग करने में गुरेज नही करते है| इस दौरान मुख्य अतिथि कटियार ने श्रावस्ती तथा बलरामपुर की जनता से भाबुक अपील की और कहा कि यह धरती नाना देश मुख ,भगवान बुद्ध,राम के पुत्र लवकुश,और माता पाटेश्वरी की है और स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल विहारी बाजपेई की कर्म स्थली  रही है और अटल जी के न रहने के बाद पहली आम संसदीय का चुनाव है ,ऐसे में भारत रत्न स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेई  को सच्ची श्रद्धांजलि तब होगी , जब  श्रावस्ती बलरामपुर की जनता भाजपा उम्मीदवार को  रिकॉर्ड मतों से विजय बनावे |
इस दौरान  भाजपा युवा प्रदेश अध्यक्ष व विशिष्ट अतिथि  सुभाष यदुवंशी  धर्म पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वह लोग  धर्म के लिए  कार्य करते हैं जबकि विपक्षी  अधर्म के मार्ग पर चल रहे है  और देश की जनता को  जातिवाद  के नाम पर विघटित करने का काम कर रहे है ,जबकि सच यह है कि भाजपा विश्व का सबसे बड़ा संगठन है जिसमें  12 करोड़ कार्यकर्ता कार्य कर रहे है  | विशेष अतिथि ने विपक्षी पर निशाना साधते हुए कहा कि यह कितना हस्तपद है कि यह लोग वंशवाद को बढ़ावा देकर राज तांत्रिक व्यवस्था को बढ़ावा दे रहे हैं ,अपने वंशजों को ही पार्टी का नेतृत्व दे रहे हैं यही कारण है कि कांग्रेश सपा के पास देश व राज्य में अपने वंश को छोड़कर कोई युवा नेता नहीं है जिससे यह साफ होता है कि विपक्षी दलों का लोकतांत्रिक व्यवस्था में विश्वास  नही है,उन्होंने  विपक्षियों को चुनौती देते हुए कहा हैं  और कहा कि वह नहीं जानते हैं  कि हमारा एक-एक कार्यकर्ता नरेंद्र मोदी है| इस दौरान विनय कटियार ने मंच से घोषणा किया कि प्रधानमंत्री मोदी की देन है कि आज देश में 95 फीसदी सड़के तैयार हैं 90 फीसदी जनता को गैस कनेक्शन मिल चुका है और मोदी ने हर गरीब को आयुष्मान योजना के तहत पांच लाख पहले ही एडवांस के रूप में दे चुके हैं जबकि विपक्षी कहते हैं कि चुनाव जीतने के बाद में उनकी सरकार बनने के बाद में गरीबों को ₹72,000 देंगे| उन्होंने कहा यह धरती जब सवा सौ वर्ष तपस्या करती है तब एक मोदी और योगी पैदा होते हैं और इस देश का सौभाग्य है मोदी और योगी जैसा नेतृत्व कर्ता मिला है,उन्होंने कहा कि यह चुनाव चुनाव नही ,बल्कि धर्म युद्ध है एक तरफ कौरव सेना के रूप में  मोदी है  तो दूसरी तरफ तरफ इस  धर्म युद्ध मैं  कांग्रेस समेत सारे विपक्षी दल है|वह लोग राम राज्य की स्थापना करना चाहते है और राक्षसों को भगाना चाह रहे हैं |
भाजपा उम्मीदवार दद्दन मिश्रा ने कहा कि बुआ भतीजा मिलकर प्रदेश को बर्बाद करना चाह रहे हैं किंतु भाजपा के जांबाज सिपाही ऐसा नहीं होने देंगे| उन्होंने कहा कि पीएम मोदी  21वी सदी में पैदा हुए है और आपका वोट 21वीं शताब्दी के लिए होगा। क्योंकि आपके अपने सपने इसी शताब्दी में साकार करने है। उसके लिए जो भी है ये शताब्दी है। उन्होंने कहा कि हम उस परंपरा के हैं कि किसी को छेड़ते नहीं है और किसी ने छेड़ा तो छोड़ते भी नहीं है। दद्दन मिश्रा ने कहा कि पीएम मोदी ने दिखा दिया है कि इस देश में एक इमानदार सरकार चलाना भी संभव है। आपके सहयोग से पूरे देश में इमानदारी की एक नई नीति स्थापित हो रही है। अगर अब कोई धनवान बैंक का पैसा वापस नहीं करता तो वो चैन की नींद नहीं सो पाएगा। अगर कोई देश से भागने की कोशिश करता है दो उसके लिए भागना मुश्किल होगा। जो भागकर देश से बाहर गया है। उसे मिशेल मामा की तरह उठाकर वापस लाया जाएगा।
उन्होंने कहा कि ये मोदी की सरकार है जिसने बैंक का पैसा खाने वालों को सजा दी है। साथियों पहले की सरकार अपने अरबपति साथियों को फोन बैंकिंग की परंपरा से कर्ज दिलवाती थी। हम मुद्रा बैंक के जरिए गरीब और आदिवासी सथियों को बिना गारंटी कर्ज दे रहे हैं। ऐसा देश में शायद पहली बार हुआ होगा। पहली बार सवा चार करोड़ लोगों ने बैंक से पैसा लिया। अपना नया काम शुरू किया। इस दौरान उन्होंने श्रावस्ती लोकसभा के लिए किए गए कार्यों पर बेस्ट प्रकाश डाला और जनता से अपील की कि उन्हें एक बार और मौका दिया जाए और वह एक सच्चे चौकीदार की तरह आपके जिले को विकास को और आगे ले जायेंगे  |इस मौके पर गैसड़ी विधायक शैलेश सिंह शैलू, उतरौला विधायक कैलाश नाथ शुक्ला, बलरामपुर सदर विधायक पलटूराम ,श्रावस्ती विधायक राम फेरन पांडे ,नानपारा विधायक. माधुरी वर्मा, जिला बलरामपुर अध्यक्ष राकेश सिंह, जिला श्रावस्ती अध्यक्ष शंकर दयाल पांडे, श्रावस्ती गिलौला मंडल अध्यक्ष  यज्ञ राम मिश्र ,दिवाकर शुक्ला समेत श्रावस्ती व बलरामपुर जिला के समस्त पदाधिकारी वह हजारों हजारों की संख्या में जनता व कार्यकर्ता मौजूद रहे| https://www.kanvkanv.com

राज्य

बहराइच : ग्रामीण क्षेत्रों में बेसहारा पशुओं के विचरण पर जिम्मेदार होंगी ग्राम पंचायतें : जिलाधिकारी

Published

on

राधेश्याम मिश्र

बहराइच । शासन के निर्देशानुसार जनपद के समस्त ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों (यथा ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत, नगर पालिका व नगर पंचायत) में अस्थाई गौवंश आश्रय स्थलों का सुव्यवस्थित ढंग से संचालन सुनिश्चित कराये जाने के उद्देश्य से विभिन्न विभागों/समितियों के कर्तव्य एवं दायित्वों की समीक्षा के लिए शनिवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने सभी सम्बन्धित जिला स्तरीय अधिकारियों को समन्वय के साथ कार्य करने एवं सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया।
विकास खण्ड हुज़ूरपुर अन्तर्गत अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल के निर्माण कार्य में संतोषजनक प्रगति न पाये जाने की स्थिति का कड़ा संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि खण्ड विकास अधिकारी हुज़ूरपुर के विरूद्ध नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई करते हुए यथास्थिति से शासन को भी अवगत करा दिया जाय।
इसी प्रकार बैठक से अनुपस्थित रहने पर जिलाधिकारी ने अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत का 01 दिन का वेतन बाधित करने के साथ-साथ बिना अनुमति के मुख्यालय छोड़ने के सम्बन्ध में कार्यवाही किये जाने के लिए मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया। नगर पंचायत क्षेत्र जरवल व रिसिया में अधिक संख्या में छुट्टा जानवर पाये जाने पर सम्बन्धित अधिशासी अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्देश दिया।

विद्युतीकरण कराया जाना सुनिश्चित करें

जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी ग्राम प्रधानों को इस बात की जानकारी दे दी जाये कि यदि उनकी ग्राम पंचायत में कहीं कोई निराश्रित पशु है तो उसे तत्काल अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल पहुॅचा दें। अन्यथा की स्थिति में यदि किसी क्षेत्र में कोई निराश्रित पशु पाया जाता है तो उसकी जिम्मेदारी सम्बन्धित ग्राम पंचायतों की होगी।
खण्ड विकास अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया गया कि ग्राम प्रधानों के साथ बैठक आयोजित कर इस आशय का प्रमाण-पत्र प्राप्त करें कि उनके क्षेत्र में किसी प्रकार के निराश्रित पशु नहीं हैं। जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि समस्त खण्ड विकास अधिकारियों से वार्ता कर अस्थाई गौवंश आश्रय स्थलों का विद्युतीकरण कराया जाना सुनिश्चित करें।
बैठक का संचालन मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. बलवन्त सिंह ने किया। इस अवसर मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान, मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव सहित उप जिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी व अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading

राज्य

श्रावस्ती : त्योहारों को लेकर एएसपी ने थाना प्रभारी को 7 दिन के अंदर कमियों को दूर करने का दिया निर्देश

Published

on

आशुतोष मिश्र

श्रावस्ती। आगामी त्यौहार के दृष्टिगत उपजिलाधिकारी इकौना व  क्षेत्राधिकारी इकौना  तारकेश्वर पांडेय द्वारा पीस कमेटी की मीटिंग की गई। जिसमें पीस कमेटी के संभ्रांत व्यक्ति उपस्थित रहे। जनपद वासियों से अपील की गई कि वह शांति व सौहार्दपूर्ण भाईचारा के साथ त्यौहार को मनाएं। यदि किसी द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम या अराजक तत्वों द्वारा अफवाह/अशांति फैलाने का प्रयास किया जाता है तो तत्काल उसकी सूचना उच्चाधिकारियों, थाना प्रभारी अथवा यूपी-100 को दे। जिससे समय रहते प्रभावी कार्यवाही की जा सकें।

विवेचनाओं के निस्तारण का कार्य किया

दूसरी तरफ आज जिले के सभी थानों पर आज विवेचना निस्तारण दिवस के रूप में मनाया गया। सभी विवेचक थाने पर बैठकर विवेचनाओं के निस्तारण का कार्य किया गया। इस दौरान जिला अपर पुलिस अधीक्षक बीसी दुबे द्वारा थाना इकौना का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान प्रशासनिक भवन, हवालात, कार्यालय के अभिलेखो के रखरखाव, मेस, बैरक तथा परिसर की साफ सफाई को चेक किया गया तथा प्रभारी निरीक्षक को 7 दिवस के अंदर पाए गए कमियों को पूर्ण कराने के लिए निर्देशित किया गया। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading

राज्य

देवीपाटन मंडल : कई बातों के लिए याद रहेगा प्रचार अभियान

Published

on

राधेश्याम मिश्र

देवी पाटन मंडल। 17वीं लोकसभा के चुनावी समर का प्रचार अभियान कई बातों और प्रयोगों के लिए याद रहेगा |यह चुनाव मुख्य रूप से मोदी हराओ और मोदी जिताओं पर केंद्रित दिखा|आरोप-प्रत्यारोप और  आक्षेपों के बीच  पूरा प्रचार चला| कभी एक दूसरे के हितैषी बताने वाले सियासी भिनगा -विधायक असलम राईनी और बलरामपुर के पूर्व सांसद रिजवान जहीर भाजपा उम्मीदवार और पूर्व सांसद दद्दन मिश्रा को विरोधियों के साथ पटकनी देने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रहे थे और अपने मंसूबे में कामयाब भी हुई।

 भाजपा प्रत्याशी को हार का सामना पड़ा

वहीं पर भाजपा उम्मीदवार दद्दन मिश्र को जिनको पूरे पांच वर्ष कभी भी पार्टी के कार्यकर्ता खासकर( ब्राह्मण) भाये नही ,वह मोदी हारे न इसके लिए अपना खून बहाने पर भी आतूर दिखे,और अन्तत: अपने हीरों का सम्मान श्रावस्ती से कम न हो,उसके लिए अपना खून भी बहा डाले| हालांकि भाजपा प्रत्याशी को मामूली अन्तर से हार का सामना करना पड़ा|
पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने यह दिखा दिया कि श्रावस्ती के भाजपा कार्यकर्ता अपने हीरो( पीएम मोदी )के सम्मान में एक समय की तरह (छात्रसंघ राजनीति)  इस उम्र में भी पुलिस की लाठी खाने से पीछे नही रहेंगे, और मोदी के सम्मान में गलत सही कुछ भी नही सुनने को तैयार नही है,क्योंकि यह चुनाव मोदी हराओ और मोदी जिताओं पर केन्द्रित रहा है|यह चुनाव किसी भी सीट पर उम्मीदवार नही लड़ रहा था,और पीएम ने अपने तुफानी प्रचार में साफ-साफ खूद के लिए जानता से वोट भी मांगा था|

हिन्दू एकता को तार-तार कर देने पर आतुर

दूसरी तरफ 25 वर्ष तक जो सियासी विरोधी रहे मुलायम सिंह यादव और मायावती के समर्थक जय भीम और जय लोहिया के नारे के साथ हिन्दू एकता को तार-तार कर देने पर आतुर दिखे,और जातीय गणित में ब्राह्मण को इस सृष्टि का सबसे खलनायक के रूप में पडो़सने में कोई कसर नही छोड़ना चाह रहे थे और अन्तत:उन्हें सफलता भी मिली,और यह बताने में कोई कसर नही छोड़ी कि भाजपा ब्राह्मण उम्मीदवार को छोड़कर किसी और जाति को श्रावस्ती से उम्मीदवार बनाती तो भाजपा की जीत पक्की थी|

नेपथ्य में जाने का भी गवाह

कभी एक दूसरे के खिलाफ बांहे चढ़ाकर घूंमने वाले सपा -बसपा के कार्यकर्ता एक दूसरे के पक्ष में नारे लगाते दिखे| इस चुनाव ने भविष्य के कुछ सियासी चेहरो से परिचय कराया तो पुराने चेहरों के नेपथ्य में जाने का भी गवाह बना| इस लोकसभा चुनाव में एक खासियत यह भी रही कि लोकसभा क्षेत्र के विकास का मुद्दा गायब रहा,और मिश्रा को हराने का मुद्दा ज्यादा उछाला गया प्रत्याशी कौन है और कैसा है और कहां से है? मुद्दा यह नहीं बल्कि दद्दन दिखें|
दुसरी तरफ एनडीए के भाजपा राष्टृीय अध्यक्ष अमित शाह समेत लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविलास पासवान, अपना दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल समेत अन्य घटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रावस्ती लोकसभा क्षेत्र वासियों से भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में वोट करने की अपील की किंतु इन राष्टृीय नेताओं   पर बलरामपुर लोकसभा के पूर्व सांसद रिजवान जहीर तथा भिनगा विधायक असलम राईनी का प्रभाव भारी रहा| और भाजपा उम्मीदवार के चुनाव जीतने के सारे प्रयास विफल रहे|

असंभव को संभव बना दिया

उधर खुलेआम मायावती द्वारा रायबरेली सीट पर अपने मतदाताओं से कांग्रेस को वोट करने  की अपील भी सपा के श्रावस्ती के मतदाताओं को भी सचेत नहीं कर सकी, जबकि संसद सत्र के दौरान मुलायम सिंह यादव ने अस्पष्ट शब्दों में कहा था कि वह चाहते हैं कि एक बार नरेंद्र मोदी फिर से प्रधानमंत्री बने| वैसे तो सियासत में सब कुछ संभव यह कहावत पुरानी है फिर भी उत्तर प्रदेश के बड़े बड़े राजनीतिक पंडित यह भी मानते थे कि सपा और बसपा की दोस्ती संभव नहीं है| पर 2019 के चुनाव में इस असंभव को संभव बना दिया अखिलेश यादव और मायावती ने !

दो बड़े सियासी दुश्मन एक मंच पर

इन दोनों नेताओं ने न केवल मंच साझा ही नहीं किया बल्कि माया और मुलायम जैसे दो बड़े सियासी दुश्मनों को भी एक मंच पर लाकर खड़ा कर दिया और बुआ और बबुआ जैसे शब्दों का कभी तंज के रूप में प्रयोग के रूप में इस्तेमाल हो रहा था लेकिन अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव ने मायावती का मंच पर पैर छूकर और जवाब में बसपा  सुप्रीमों मायावती  द्वारा डिंपल को आशीर्वाद देना और मुलायम का परिवार अब अपना परिवार बताकर संदेश देने कि कोशिश करना कि मुलायम का परिवार अब गैर नही है |यही नही अखिलेश यादव द्वारा जय लोहिया और जय भीम बोलना! और मायावती द्वारा जय भीम के साथ जय लोहिया बोलना !भी बहुत बड़ा विचारों में बदलाव का परिचायक बना|
राजनैतिक पंडित कहते हैं कि अब उत्तर प्रदेश का आगामी 2022 का विधानसभा चुनाव में इन दोनों दलों के एका का लाभ कांग्रेस को मिलने जा रहा है,और कांग्रेस की राष्टृीय महासचिव प्रियंका गांधी ने लोक सभा का चुनाव परिणाम आने के बाद कार्यकर्ताओं को निराश न होकर आगामी 2022 के राज्य चुनाव पर अभी से ध्यान देने की नसीहत देकर आगामी राजनीतिक गणित का संदेश भी दे डाला है| क्योंकि प्रियंका को यह मालूम है राज्य के चुनाव में यह दो क्षेत्रीय दल कभी एक नहीं हो सकते हैं| https://www.kanvkanv.com
Continue Reading
लाइफ स्टाइल9 mins ago

राशिफल : इन राशि के लोगों के लिए बेहद फलदायी है आज का दिन, जानें अपना भविष्यफल

देश22 mins ago

महाविजय के बाद वाराणसी पहुंचे पीएम मोदी, भगवान शिव का लिया आशीर्वाद, देखें वीडियो

खेल15 hours ago

महेला जयवर्धने ने विश्व कप अभियान के लिए श्रीलंकाई टीम से जुड़ने से किया मना, बताई ये बड़ी वजह

राज्य16 hours ago

बहराइच : ग्रामीण क्षेत्रों में बेसहारा पशुओं के विचरण पर जिम्मेदार होंगी ग्राम पंचायतें : जिलाधिकारी

राज्य16 hours ago

श्रावस्ती : त्योहारों को लेकर एएसपी ने थाना प्रभारी को 7 दिन के अंदर कमियों को दूर करने का दिया निर्देश

राज्य16 hours ago

देवीपाटन मंडल : कई बातों के लिए याद रहेगा प्रचार अभियान

राज्य19 hours ago

अयोध्या : अप्रैल में अपहृत हुई किशोरी रेलवे स्टेशन से बरामद

देश19 hours ago

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद JDS ने मीडिया से किया किनारा, नेताओं को दी ये सख्त हिदायत

दुनिया20 hours ago

फ़ारस की खाड़ी में अमेरिका ने की 1500 सैनिकों तैनाती, ईरान ने दिया बड़े संकट का संकेत, जानें क्या कहा

देश20 hours ago

सत्ता में वापसी के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उपराष्ट्रपति नायडू से की मुलाकात, इन मुद्दों पर की चर्चा

टेक्नोलॉजी20 hours ago

अब Google Search और Google Maps से कर सकेंगे ये भी काम, जानें पूरी बात

देश21 hours ago

पार्टी की करारी हार से तनाव में हैं लालू यादव, नहीं आ रही नींद, दिन का खाना छोड़ा, की जा रही काउंसलिंग

खेल21 hours ago

न्यूजीलैंड के खिलाफ हार के बाद भारत की बल्लेबाजी को लेकर रविंद्र जडेजा ने कह दी ये बड़ी बात

राज्य21 hours ago

स्मृति ईरानी के करीबी कार्यकर्ता की हत्या पर एक्शन शुरू, 7 हिरासत में, मंत्रियों के साथ स्मृति अमेठी रवाना

देश22 hours ago

सागर कसाना ने विश्व की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर फहराया तिरंगा, होगा भव्य स्वागत

बिज़नेस22 hours ago

गहनों की मांग कम होने से सोने में 60 रुपये की गिरावट, जानें अब प्रति 10 ग्राम कितनी है कीमत

दुनिया22 hours ago

पाकिस्तान के विदेश मंत्री बोले, भारत की नई सरकार से हम बातचीत को तैयार

खेल23 hours ago

पाकिस्‍तान को हराने के बाद अफगानिस्‍तान में जश्न, फायरिंग से गूंजा आसमान, इस खिलाड़ी का चला जादू

देश2 weeks ago

जानिए कौन है नीली ड्रेस वाली खूबसूरत पोलिंग अफसर, खुद किया ये बड़ा खुलासा, देखें 13 तस्वीरें

राज्य3 weeks ago

फेसबुक पर इंस्पेक्टर से प्यार, फिर बने संबंध, होने वाली थी शादी, लड़की ने ये सुसाइड नोट लिख चुन ली मौत

राज्य3 weeks ago

यूपी की इस सीट पर यदुवंशी शिफ्ट हो रहे भाजपा में, लगा रहे ये नारे, गठबंधन के चेहरे पर चिंता की लकीरें

देश3 weeks ago

BSF के बर्खास्त जवान तेज बहादुर बोले, 50 करोड़ रुपए दो तो कर दूंगा पीएम मोदी की हत्या, देखें वीडियो

राज्य4 weeks ago

योगी सरकार के मंत्री पर महिला ने लगाये रेप के आरोप, मंत्री बोले-दोषी साबित हुआ तो कुत्ते से नुचवा लेना मांस

देश2 weeks ago

जानिए कौन है पीली साड़ी पहनी खूबसूरत पोलिंग ऑफिसर? जिसे ढूंढ रही पूरी दुनिया, देखें फोटो

राज्य3 weeks ago

रमजान शरीफ के चांद की शहादत को लेकर दरगाह आला हजरत से जारी हुआ हेल्पलाइन नंबर

वीडियो3 weeks ago

तेज रफ्तार बाइक की टंकी पर बैठ कर लड़की ने लड़के को किया किस, IPS अफसर ने शेयर किया वीडियो

देश5 days ago

कांग्रेस ने जारी किया अपना एग्जिट पोल, खुद को दिखाईं इतनी सीटें, भाजपा को बताया सत्ता से दूर

देश2 weeks ago

सट्टा बाजार में भाजपा को बढ़त, बना रहे मोदी सरकार, जानिए महागठबंधन का क्या है हाल

देश4 weeks ago

पिता और पुत्र ने मां-बेटी से किया बलात्कार, अश्लील वीडियो बनाकर करने लगे ये काम, जानें पूरा मामला

देश4 weeks ago

यूपी की इस लोकसभा सीट को जीते बिना सत्ता में नहीं आती है भाजपा, जानिए क्या है बड़ा कारण

देश3 weeks ago

दोबारा सत्ता में लौटी मोदी सरकार तो इन पांच राज्यों की सरकारों पर मंडराने लगेंगे खतरे का बादल

राज्य4 weeks ago

बरेली : मुक़द्दस रमज़ान 6 या 7 जून से, बरेलवी हाफिजों की दुनिया भर में मांग

देश3 weeks ago

पहली बार जंगल में उतरीं महिला कमांडो, 2 वर्दीधारी नक्सलियों को किया ढेर

देश2 weeks ago

ममता की प्रत्याशी बोली, बंगाल में राम बोलने की अनुमति नहीं, अल्लाह ही रहेंगे, पुलिसवाले भी समर्थन में

मनोरंजन1 week ago

जानें, फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ की बॉक्स ऑफिस पर कैसी रही शुरुआत, दर्शकों ने दी कैसी प्रतिक्रिया?

देश3 weeks ago

फानी तूफान का तांडव शुरू, 11 लाख लोग हटाए गए, बिजली गुल, संचार सेवा ठप, देखें तबाही के वीडियो

Trending