करारा जवाब : शोपियां मुठभेड़ में तीन आतंकी ढेर, सुरक्षाबलों ने भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया

जम्मू कश्मीर के  शोपियां जिले के तुलरान ईमाम साहिब इलाके में सोमवार देर रात से जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने मंगलवार सुबह तीन आतंकियों को मार गिराया है। 
 
Three terrorists killed in Shopian encounter.webp
तीन आतंकी ढेर

शोपियां। जम्मू कश्मीर के  शोपियां जिले के तुलरान ईमाम साहिब इलाके में सोमवार देर रात से जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने मंगलवार सुबह तीन आतंकियों को मार गिराया है। 

मारे गए तीनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के द रजिस्टेंस फ्रंट से संबंधित थे। मारे गए एक आतंकी की पहचान मुख्तार शाह निवासी गांदरबल के रूप में की गई है, जबकि अन्य दो आतंकियों की पहचान अभी नहीं हुई है। मुठभेड़ स्थल से सुरक्षाबलों को काफी मात्रा में हथियार-गोला बारूद एवं अन्य आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद हुई है।

जानकारी के अनुसार सोमवार शाम को सुरक्षाबलों को सूचना मिली कि शोपियां जिले के तुलरान ईमाम साहिब क्षेत्र में दो से तीन आतंकी मौजूद हैं। सूचना मिलते ही जम्मू कश्मीर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने संयुक्त रूप से तलाशी अभियान शुरू किया। तलाशी अभियान के दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों को अपने ठिकाने के नजदीक आते देख उन पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई से पहले आतंकियों को आत्मसमर्पण करने के लिए कई बार कहा लेकिन वह नहीं माने। इस पर मुठभेड़ शुरू हो गई। 

देर रात को अंधेरा होने के कारण मुठभेड़ को रोक दिया गया, हालांकि आतंकियों को चारों तरफ से घेर लिया गया था। मंगलवार सुबह एक बार फिर सुरक्षाबलों ने आतंकियों को आखिरी मौका दिया। जब उन्होंने इस बार भी उनकी अपील का जवाब गोली से दिया तो जवाबी कार्रवाई में तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया गया। वहीं सुरक्षाबलों ने आतंकियों के मारे जाने के बाद इलाके में तलाशी अभियान चलाया। तलाशी अभियान चलाने के बाद जब यह पुष्टि हो गई कि वहां और कोई आतंकी मौजूद नहीं है तो अभियान समाप्त कर दिया गया।

आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने कहा कि इन तीन आतंकियों में शामिल मुख्तयार शाह वही है, जिसने गत दिनों श्रीनगर में रेहड़ी करने वाले बिहार निवासी वीरेंद्र पासवान की हत्या की थी। हत्या के बाद वह फरार हो गया था और यहां शोपियां में छिप गया था। सुरक्षाबलों ने सूचना के आधार पर शोपियां में तलाशी अभियान चलाया और इन तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया।