मुंबई में 30 वर्षीय रेप पीड़िता ने तोड़ा दम, प्राइवेट पार्ट में डाल दी थी रॉड

मुंबई की 30 वर्षीय रेप पीड़िता आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई। बीते 9 सितंबर को मुंबई के साकी नाका इलाके के खैरानी रोड पर दुष्कर्म के बाद दरिंदे ने पीड़िता को रॉड से पीटा फिर उसे प्राइवेट पार्ट में डाल दिया। पीड़िता को अस्पताल में भर्ती किए 
 
मुंबई में 30 वर्षीय रेप पीड़िता ने तोड़ा दम, प्राइवेट पार्ट में डाल दी थी रॉड

मुंबई। मुंबई की 30 वर्षीय रेप पीड़िता आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई। बीते 9 सितंबर को मुंबई के साकी नाका इलाके के खैरानी रोड पर दुष्कर्म के बाद दरिंदे ने पीड़िता को रॉड से पीटा फिर उसे प्राइवेट पार्ट में डाल दिया। पीड़िता को अस्पताल में भर्ती किए जाने के समय ही उसकी हालत नाजुक बनी हुई थी। पीड़िता की शहर के एक अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। मुंबई पुलिस ने ये जानकारी दी है। बता दें कि इस महिला के साथ 'निर्भया' जैसी हैवानियत हुई थी। 

इस जघन्य अपराध के आरोप में हाल ही में जिस शख्स को पुलिस ने पकड़ा है उसका नाम मोहन चौहान बताया जा रहा है। 45 साल के मोहन चौहान को पुलिस ने घटना के कुछ ही घंटों पर दबोच लिया। पुलिस ने बताया कि कंट्रोल रूम को सूचना मिली थी कि एक महिला को एक शख्स बुरी तरह से पीट रहा है। यह सूचना मिलते ही पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची। यहां सड़क पर महिला खून से लथपथ पड़ी हुई थीं। इसके बाद महिला को इलाज के लिए तुरंत अस्पताल ले जाया गया। आज अस्पताल में महिला की मौत हो गई।

पुलिस ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि महिला के साथ दुष्कर्म हुआ और उनके प्राइवेट पार्ट में रॉड डाला गया है। पुलिस का कहना है कि सड़क किनारे खड़े एक टेम्पो के अंदर महिला के साथ यह हैवानियत की गई है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि वाहन के अंदर भी खून के धब्बे मिले हैं। उन्होंने बताया कि कुछ सुरागों के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपी चौहान को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 307 (हत्या का प्रयास) और 376 (बलात्कार) के तहत गिरफ्तार किया गया और आगे की जांच जारी है।