आईसीसी बैन पर बोले शाकिब अल हसन, मैंने बेवकूफी भरी गलती की थी जिसका खेद है

शाकिब दे सकते है केकेआर को झटका
शाकिब दे सकते है केकेआर को झटका

नई दिल्ली। बांग्लादेश के क्रिकेटर शाकिब अल हसन ने बोला है कि सट्टेबाजों द्वारा संपर्क किए जाने के बावजूद इसकी जानकारी छुपाने के मामले में उन्होंने बड़ी लापरवाही की थी। शाकिब पर आईसीसी ने दो साल का बैन लगाया है। इस साल 29 अक्टूबर को शाकिब वापसी कर सकते हैं। क्रिकबज ने शाकिब के हवाले से बोला कि मैंने इन संपर्कों को हल्के में लिया था। जब मैं भ्रष्टाचार रोधी अधिकारी से मिला तो उन्हें बता दिया है और उन्हें सब पता था।

शाकिब ने बोला कि मुझे इस बात का खेद है। किसी को भी इस तरह के संदेशों या फोन (सट्टेबाजों के) को हल्के में नहीं लेना चाहिए या नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। उन्होंने बोला कि सुरक्षित रहने के लिए हमें इसकी जानकारी आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी इकाई के अधिकारी को देनी चाहिए और मैंने यह सबक सीखा और मुझे लगता है कि यह बड़ा सबक है।

उन्होंने बोला कि मैंने उन्हें सभी साक्ष्य दिए और जो हुआ उन्हें सब पता था। ईमानदारी से कहूं तो यही एकमात्र वजह है कि मुझे एक साल के लिए बैन किया गया, अन्यथा मुझ पर पांच या 10 साल का प्रतिबंध लग सकता था। ऑलराउंडर क्रिकेटर ने बोला कि लेकिन मुझे लगता है कि मैंने बेवकूफी भरी गलती की क्योंकि अपने अनुभव और मैंने जितने इंटरनेशनल मैच खेले हैं और आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी आचार संहिता की जितनी क्लास ली है, उसे देखते हुए कहूं तो मुझे यह (सट्टेबाजों द्वारा संपर्क करने की जानकारी अधिकारियों को नहीं देना) फैसला नहीं करना चाहिए था।

 

Previous article37 साल पहले आज ही के दिन भारत बनी थी वर्ल्ड कप विजेता
Next articleआईसीसी बैठक: अगले चेयरमैन की नॉमिनेशन प्रक्रिया है मुख्य एजेंडा