Connect with us

खेल

कोरोना से ठीक होने के बाद हॉकी कप्तान मनप्रीत सिंह ने कही ये बात

Published

on

बेंगलुरु। भारत में कोरोना वायरस का कहर जारी है। वही कोरोना वायरस की चपेट में प्लेयर्स भी आ रहा है अब ही हाल ही में बेंगलुरु में राष्ट्रीय शिविर के लिए पहूंचे हॉकी कप्तान मनप्रीत सिंह सहित छह हॉकी प्लेयर्स जो उस राष्ट्रीय शिविर में शामिल होने वाले थे वो बेंगलुरु में टीम के ट्रेनिंग केंद्र पर पहुंचने पर कोरोना पॉजिटिव निकले थे।

कप्तान ने बोला, ” हॉकी इंडिया के अधिकारी रोज मालूम करते हैं कि हमें जो खाना दिया जा रहा है वह सही है या नहीं, हमारा उपचार सही से हो रहा है या नहीं,  नियमित रूप से हमारे रक्त में आक्सीजन का स्तर की जांच हो रही है या नहीं।” उन्होंने बोला, ”कोचिंग स्टाफ और टीम के साथी भी वीडियो कॉल के माध्यम से हमसे बात करते हैं।

वही इससे हमारा मनोबल बढ़ाए रखने में मदद होगी। हालांकि ये थोड़ा चुबने वाली है कि टीम के हमारे साथी मैदान पर वापस आ चुके हैं जबकि हम अब भी क्वारंटाइन में है। मुझे लगता है कि इस अनुभव ने मुझे किसी भी हालात का सामना करने के लिए मानसिक रूप से मजबूती मिलती है।

कोरोना वायरस से ठीक होने के बाद मनप्रीत सिंह ने व्यक्तिगत सत्र में भाग लेना शुरू किया है और उनका बोलना है कि उन्हें बाकी टीम का भाग नहीं होने की कमी खल रही है। हॉकी इंडिया, भारतीय खेल प्राधिकरण और सहयोगी स्टाफ हालांकि प्लेयर्स का मनोबल बढ़ाने का हरसंभव प्रयास करती हैं।

अस्पताल में समय बिता चुके स्टार मिडफील्डर ने बोला कि क्वारंटाइन में रहना उनके और बाकी संक्रमित प्लेयर्स के लिए मानसिक रूप से कड़ा था। उन्होंने बोला, ”ये आसान नहीं था, विशेषकर मानसिक रूप से। मैंने एक महीने से कुछ नहीं किया है और ये एक प्लेयर के जीवन में लंबा टाइम है विशेषकर तब जब आप प्रत्येक दिन सुधार करना और अपने अच्छे देने की कोशिश में लगे रहते हो।” मनप्रीत ने बोला, ”ईमानदारी से बोला तो परीक्षण का रिजल्ट आने पर शुरुआत में हम थोडा saसा तनाव में थे। लेकिन हमें अस्पताल में अच्छी सुविधाएं मिली।”

Trending