Saturday, May 21, 2022
spot_img
Homeदेशसचिन पायलट की राजस्थान में तुरंत सीएम बदलने की मांग, गाँधी परिवार...

सचिन पायलट की राजस्थान में तुरंत सीएम बदलने की मांग, गाँधी परिवार के साथ हो चुकी तीन बैठकें

जयपुर। राजस्थान में विधानसभा चुनाव अगले साल 2023 में होने वाला है। ऐसे में प्रदेश में कांग्रेस की स्थिति को लेकर पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने गाँधी परिवार के साथ तीन बैठकें की। वही सूत्रों मुताबिक राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को हटाया जा सकता है। सचिन पायलट ने कांग्रेस आलाकमान सोनिया गांधी से कहा कि गहलोत को हटाने में देरी नहीं करनी चाहिए। यदि देरी हुई राजस्थान में पंजाब जैसी स्थिति हो जाएगी।

पायलट की जल्द से जल्द सीएम बदलने की मांग

एक टीवी न्यूज चैनल के हवाले से कहा कि सचिन पायलट ने सोनिया गांधी से तुरंत सीएम बनाओं की मांग की है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में सचिन पायलट ने नई दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात की थीं। माना जा रहा है कि सचिन पायलट ने सोनिया गांधी से साफ शब्दों में कह दिया कि यदि राजस्थान में कांग्रेस सरकार रिपीट करनी है तो अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री पद से हटाना ही होगा। पायलट से पहले सोनिया गांधी ने सीएम अशोक गहलोत को नई दिल्ली में मुलाकात के लिए बुलाया था। पांच दिन पहले ही सीएम गहलोत ने जयपुर में एक कार्यक्रम में कहा था कि मेरा इस्तीफा तो परमानेंट सोनिया गांधी के पास रखा हुआ है।

मेरा इस्तीफा परमानेंट सोनिया गांधी के पास : गहलोत

बता दें कि सीएम अशोक गहलोत ने 23 अप्रैल को राजधानी जयपुर में राजस्व सेवा परिषद के एक कार्यक्रम में बड़ा सियासी बयान देकर चौंका दिया था। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिल्ली में सचिन पायलट के सोनिया गांधी से मिलने के दो दिन बाद बड़ा बयान दिया था। सीएम गहलोत ने कहा कि मेरा इस्तीफा तो 1998 से परमानेंट सोनिया गांधी के पास में है। जब मुख्यमंत्री बदलना होगा तो किसी को कानो-कान खबर तक नहीं लगेगी। यह काम रातो-रात हो जाएगा। इस पर कोई चर्चा और चिंतन नहीं होगा। सीएम गहलोत ने कहा कि सोनिया गांधी फैसला लेने के लिए स्वतंत्र है। मैं आप लोगों से आग्रह करूंगा कि अफवाहों पर ध्यान न दें।

राजस्थान में 2023 में होगा विधानसभा चुनाव

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के अंत तक होने वाले हैं। कांग्रेस पार्टी हाल ही में हुए पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में हार के बाद राजस्थान को अपने हाथ से जाने नहीं देगी। सचिन पायलट ने पिछले गुरुवार को नई दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात की थी। पायलट से मुलाकात के एक दिन पहले ही सीएम गहलोत सोनिया गांधी से मिले थे। पायलट ने कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात के बाद दिल्ली में प्रेस वार्ता कर कहा था कि राजस्थान कांग्रेस के हालात पर सोनिया गांधी को अवगत कराया गया है। पार्टी 2023 के चुनावों में एक बार जीत हासिल करेगी।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments