Wednesday, June 29, 2022
spot_img
HomeHealth & Fitnessगर्मी में जरूर करें कच्चे प्याज़ का सेवन, होंगे कई चौंकाने वाले...

गर्मी में जरूर करें कच्चे प्याज़ का सेवन, होंगे कई चौंकाने वाले फायदे

हेल्थ/लाइफस्टाइल। गर्मी के मौसाम में कच्चे प्याज़ का सलाद के रूप में सेवन जरूर करना चाहिए। यह हमें गर्मी में होने वाली कई बीमारियों से बचाता है। कच्चे प्याज़ के कई स्वास्थ्य लाभ है। गर्मी के दिनों में प्याज किसी अमृत से कम नहीं होता है। अपने दैनिक आहार में प्याज को शामिल करना या बाहर जाते समय अपनी जेब में एक छोटा प्याज रखना हीट स्ट्रोक को रोकने में मदद कर सकता है। यह लू से भी बचाता है। आइये जानते हैं प्याज़ खाने के क्या क्या फायदे होते हैं।

प्याज़ के फायदे

  • अगर आप अपच से पीड़ित हैं तो प्याज के रस के सेवन से शरीर में पाचक रसों का प्रवाह बढ़ता है जो भोजन को पचाने में मदद करता है।
  • कैंसर से बचाव के लिए प्याज भी एक बेहतरीन दवा है। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है और इसमें विटामिन सी होता है। यह कैंसर को रोकने में मदद करता है।
  • सांस की बीमारी होने पर प्याज का सेवन फायदेमंद हो सकता है। इसके अलावा यह गठिया में भी मदद करता है। भुने हुए प्याज कई समस्याओं से छुटकारा दिलाते हैं।
  • यदि कान में कोई समस्या हो तो प्याज को भूनकर राख में डालकर उसका गर्म रस निकाल लें। इस रस को ईयरड्रम में डालें। कान का दर्द दूर हो जाएगा।
  • एक स्क्वैश छीलें, इसे कद्दूकस करें और रस निचोड़ें। इस पानी में पैर डुबोकर बैठने से लूनी का असर कम हो जाएगा। आप अपने हाथों की हथेलियों पर भी प्याज का रस मल सकते हैं।
  • प्याज शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए फायदेमंद होता है। यह आपको कई तरह की बीमारियों से बचाता है। अगर आप इसका इस्तेमाल सब्जियों में करते हैं तो इसमें मौजूद विटामिन सी फायदेमंद होता है।
  • अगर महिलाओं को मासिक धर्म की समस्या है तो प्याज के रस में शहद मिलाकर इसका सेवन करने से अत्यधिक दर्द से राहत मिलती है।
  • इसके अलावा प्याज के रस का इस्तेमाल त्वचा और बालों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए भी किया जाता है। चर्मरोग में भी प्याज के रस को तिल या अलसी के साथ मिलाकर तेल लगाने से लाभ होता है।
  • सिर में गर्मी की समस्या होने पर आप प्याज के रस को बालों में भी लगा सकते हैं। 1 घंटे बाद बाल धो लें। ऐसा 1-2 दिन तक करने से स्कैल्प की ठंडक बढ़ जाएगी और बाल सिल्की भी हो जाएंगे।

नोट : यह खबर घरेलू और सामान्य जानकारी पर आधारित है। कोई भी बीमारी होने पर डॉक्टर की सलाह के बाद ही इनका सेवन करें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments