Connect with us

लाइफ स्टाइल

क्यों लगाया जाता है तिलक? जाने तिलक लगाने के अनसुने फ़ायदे

Published

on

नई दिल्ली । क्या आपके मन में भी कभी ये सवाल उठा है की आखिर टीका क्यों लगते हैं या इससे क्या लाभ होता है? दरअसल, टीका लगाने के पीछे आध्यात्मिसक भावना के साथ-साथ दूसरे तरह के लाभ की कामना भी होती है।

आम तौर पर चंदन, कुमकुम, मिट्टी, हल्दी, भस्म आदि का तिलक लगाने का विधान है. अगर कोई तिलक लगाने का लाभ तो लेना चाहता है, पर दूसरों को यह दिखाना नहीं चाहता, तो शास्त्रों में इसका भी उपाय बताया गया है. कहा गया है कि ऐसी स्तिथि में ललाट पर जल से तिलक लगा लेना चाहिए.
इससे लोगों को प्रत्यक्ष तौर पर कुछ लाभ बड़ी आसानी से मिल जाते हैं।

आइये जानते है की टीके के प्रकार और उनसे होने वाले लाभों के बारे में:-

चन्दन का तिलक :- चंदन का तिलक लगाने से पापों का नाश होता है, व्यक्ति संकटों से बचता है, उस पर लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है, ज्ञानतंतु संयमित व सक्रिय रहते हैं।
 

कुमकुम का तिलक:- कुमकुम का तिलक तेजस्विता प्रदान करता है।

 

मिट्टी का तिलक:- विशुद्ध मिट्टी के तिलक से बुद्धि-वृद्धि और पुण्य फल की प्राप्ति होती है।

केसर का तिलक:- केसर का तिलक लगाने से सात्विक गुणों और सदाचार की भावना बढ़ती है। इससे बृहस्पति ग्रह का बल भी बढ़ जाता है और भाग्यवृद्धि होती है।

हल्दी का तिलक:- हल्दी से युक्त तिलक लगाने से त्वचा शुद्ध होती है।

 

दही का तिलक:- दही का तिलक लगाने से चंद्र बल बढ़ता है और मन-मस्तिष्क में शीतलता प्रदान होती है।

इत्र का तिलक:- इत्र कई प्रकार के होते हैं। अलग अलग इत्र के अलग अलग फायदे होते हैं। इत्र का तिलक लगाने से शुक्र बल बढ़ता हैं और व्यक्ति के मन-मस्तिष्क में शांति और प्रसन्नता रहती है।

Trending