Connect with us

लाइफ स्टाइल

चेहरे पर हो रही झुर्रियां और खर्राटे से बचना है तो करें ये उपाय

Published

on

वाशिंगटन। चेहरे को खूबसूरत बनाने के लिए कई तरह के क्रीम और घरेलू नुस्खे अपनाते है, आपको बता दें, चेहरे की खूबसूरती, खर्राटे और सीने में जलन की समस्या का एक आसान उपाय है, एक शोध में दावा किया गया है की यह समस्या आपके सोने पर के तरीके पर निर्भर करता है. शोध में खा गया है की जैसे-जैसे आप बुढ़ापे की ओर बढ़ते हैं सोने के तरीके और नींद लेने पर असर पड़ता है।

अगर झुर्रियां रोकना चाहते हैं तो पीठ के बल लेटना चाहिए और खर्राटों से बचना है तो करवट लें। स्लीप एप्निया के कारण ढंग से सांस लेने में दिक्कत होती है। हवा का फ्लो रुकता है। इसके चलते लोग जोर-जोर से खर्राटे लेते हैं। ऐसे में करवट लेकर या फिर पेट के बल लेटना फायदेमंद हो सकता है। दाईं करवट लेकर लेटने पर समस्या बढ़ सकती है। ऐसे व्यक्ति जिन्हें गैट्रोसोफेगल रिफलक्स डिसीज (जीईआरडी) यानी खाना भोजन नली में ऊपर चढ़ने की समस्या है, जैसे गर्भवती महिलाएं उनमें यह दिक्कत जरूर बढ़ती है। ऐसे में बाईं करवट सोएं। इससे जलन कम होगी।

जब आप करवट लेकर या पेट के बल सोते हैं, तब उठने के बाद चेहरे पर सिकुड़न महसूस की होगी। ऐसे में पीठ के बल सोएं। चेहरे पर झुर्रियां धीमे आएंगी। एक्सपर्ट के मुताबिक, रोजाना 6 से 8 घंटे की नींद जरूर लें। यह आपको शारीरिक और दिमागी फिट रखती है। ​​इसके अलावा रात में देर तक जागने की आदत को बदलें। इसका असर भी चेहर पर पड़ता है। पीठ या गर्दन दर्द के मामले में स्थिति थोड़ी अलग है। कुछ लोगों का मानना है कि पीठ के बल सोने से दर्द कम होता है तो कुछ का कहना है कि ऐसा करने पर दर्द और बढ़ सकता है। ऐसी स्थिति में सोने की पोजिशन के साथ एक्सपेरिमेंट कर सकते हैं और देख सकते हैं कि कौन सी स्थिति में आपका दर्द कम हो रहा है।

Trending