Ganesh Chaturthi: आज है संकष्टी गणेश चतुर्थी का व्रत, जानें क्या है शुभ मुहूर्त

धर्म डेस्क. हिंदी पंचांग के अनुसार ये साल की अंतिम संकष्टी चतुर्थी है। आज पौष माह के कृष्ण पक्ष की तृतीय तिथि है। हालांकि आज प्रातः काल में पहले तृतिया तिथि रहेगी लेकिन शाम को 04 बजकर 53 मिनट से चतुर्थी तिथि लग जाएगी। गणेश पूजन शाम को करने का विधान है, इसलिए संकष्टी चतुर्थी का व्रत और पूजन आज, 22 दिसंबर को ही किया जाएगा। बुधवार का दिन गणेश पूजन के लिए विशेष फलदायी होता है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस संकष्टी चतुर्थी पर पुष्य नक्षत्र का संयोग बन रहा है। 

 
gg
Ganesh Chaturthi: आज है संकष्टी गणेश चतुर्थी का व्रत, जानें क्या है शुभ मुहूर्त 

धर्म डेस्क. हिंदी पंचांग के अनुसार ये साल की अंतिम संकष्टी चतुर्थी है। आज पौष माह के कृष्ण पक्ष की तृतीय तिथि है। हालांकि आज प्रातः काल में पहले तृतिया तिथि रहेगी लेकिन शाम को 04 बजकर 53 मिनट से चतुर्थी तिथि लग जाएगी। गणेश पूजन शाम को करने का विधान है, इसलिए संकष्टी चतुर्थी का व्रत और पूजन आज, 22 दिसंबर को ही किया जाएगा। बुधवार का दिन गणेश पूजन के लिए विशेष फलदायी होता है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस संकष्टी चतुर्थी पर पुष्य नक्षत्र का संयोग बन रहा है। 

आज पौष माह के कृष्ण पक्ष की तृतीय तिथि है। बता दे पौष माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को संकष्टी चतुर्थी कहा जाता है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस संकष्टी चतुर्थी पर पुष्य नक्षत्र का संयोग बन रहा है। इस नक्षत्र के काल में कोई शुभ कार्य करना या पूजन करना विशेष फलदायी होता है। इस दिन पुष्य नक्षत्र दिन में 12 बजकर 45 मिनट तक रहेगा। इसके बाद अश्लेषा नक्षत्र लग रहा है। हालांकि गणेश पूजन के लिय सबसे शुभ मुहूर्त अमृत काल रात्रि में 8.15 से 9.15 तक है।

संकष्टी चतुर्थी के दिन चंद्रमा के दर्शन करना बेहद शुभ माना जाता है है। इस दिन चंद्र दर्शन का मुहूर्त रात्रि 08:30 से रात्रि 09:30 बजे तक है। संकष्टी चतुर्थी के दिन चंद्र दर्शन करना लाभ कारी होता है।