Connect with us

Latest

पडरौना के सुबाष चौक रैन बसेरे पर सिम बेचने वाले दुकानदारों का कब्जा 

Published

on

सुनील तिवारी

कुशीनगर। रहने को घर नहीं, सोने को बिस्तर नहीं इनका खुदा है रखवाला यारो। जी हां, क्योंकि प्रशासन या समाजसेवा का दंभ भरने वाली संस्थाओं में इतना दम नहीं कि गरीबों, असहायों के लिए कोई ठोस मुकमंल इंतजाम करा सकें। कहने को तो यह पडरौना शहर मे बने रैन बसेरा है, पर यहां तो कुछ सिम बेचने वालों के आलावा दबंग दुकानदारों का कब्जा है। शेल्टर होम व अस्थायी रैन बसेरे बनाए जाने चाहिए, पर इनका तो कोई अता-पता नहीं है। ऐसे में कोई रात में कूड़े को जलाकर तो कोई पुराने कंबल के सहारे अपना जीवन बीता रहा है, पर इस सबसे बेखबर नगरपालिका प्रशासन आंख और कान दोनों बंद किये हुए है।तस्वीर पडरौना शहर के ह्दय स्थली कहे जाने वाले सुबाष चौक पर बने रैन बसेरा गेट की है। रिक्शा चालक कंबल ओढ़कर रिक्शे पर ही सो जाते है।   पर कोई विकल्प न होने के कारण यह रिक्शा चालक व असहाय गरीब तबके के लोगो को पुराने कंबल के सहारे ही रात काटने को मजबूर है।

लोग प्लेटफार्म पर टिकटघर के आगे जाकर सो जा रहे

पडरौना कोतवाली की पुलिस ने तो कहने के लिए नो पार्किंग स्थल बना रखा है। जबकी इसी सुबाष चौक पर तो वाहन खड़े करने पर रोक है, लेकिन रात को तो छोड़ दीजिए साहब यहां दिन में ही रैन बसेरा के मुख्य गेट पर खडी बोलोरो वाहन लोगों को तखलीफ देने मे काफी है। ऐसे में यहां आने वाले व्यक्ति रैने बसेरा के जगह जमीन पर ही कंबल ओढ़कर सो जा रहे हैं । क्योंकि उन्हे तो रैन बसेरा को ढुढ़ने के साथ ही कहीं और ठिकाना नहीं मिल पा रहा है।पडरौना रेलवे स्टेशन पर  अस्थायी रैन बसेरे का इंतजाम न होने के कारण प्लेटफार्म का हाल भी कुछ अलग नहीं था। जो यात्री होटल में महंगे कमरे नहीं ले सकते थे वह यहां जमीन पर पॉलीथिन बिछाकर लेटे देखे जा सकते है। जगह नहीं बची तो यहां कई शख्स प्लेटफार्म पर टिकटघर के आगे जाकर सो जा रहे हैं।

महिलाएं आग जलाकर बैठी थीं

रात के एक बज रहे थे। रेलवे स्टेशन के मालगोदाम की तरफ कुछ महिलाएं आग जलाकर बैठी थीं। पूछने पर बताया कि दिन भी भीख मांगकर गुजारा करती हैं। रैन बसेरा में क्यों नहीं जातीं इस तरह खुले आसमान के नीचे क्यों हैं। सुनते ही छितौनी गांव की उसा देबी ने बताया कि वहां पर सिर्फ पुरुष रहते हैं। वह भी नशा करते हैं। आपस में मारपीट व गाली-गलौज करते हैं। गोडरिया के नौगवां गांव की धनदेवी ने बताया कि जेबकतरे व जुआरी एकत्र होते हैं।महिलाओं के साथ अभद्रता करते हैं। चैतीमुसहरी गांव की उर्मिला देवी ने बताया कि रैन बसेरा महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं है। वे लोग इसी तरह रात काटती हैं। प्रशासन को उन लोगों के लिए अलग व्यवस्था करनी चाहिए। https://www.kanvkanv.com

 

Featured

इस खतरनाक बीमारी को ना करें नजरअंदाज, युवाओं को है खतरा

Published

on

नई दिल्ली। ब्रेन स्टोक आज के समय में घातक साबित हो रहा है। लगातार यह बीमारी हमें अपनी गिरफ्त में ले रही है। एक रिपोर्ट की मानें तो दुनिया का हर छठवां व्यक्ति इस बीमारी का शिकार है। यही नहीं 60 से ऊपर की उम्र के लोगों में मौत का दूसरा सबसे बड़ा कारण ब्रेन स्ट्रोक है। यह 15 से 59 साल के आयुवर्ग में मृत्यु का पांचवां सबसे बड़ा कारण है।

यह होता है कारण

विशेषज्ञों के अनुसार स्ट्रोक आने के बाद 70 फीसदी मरीज अपनी सुनने और देखने की क्षमता खो देते हैं। साथ ही 30 फीसदी मरीजों को दूसरे लोगों के सहारे की जरूरत पड़ती है। आमतौर पर जिन लोगों को दिल की बीमारी होती है उनमें से 20 फीसदी मरीजों को स्ट्रोक की समस्या होती है। धर्मशिला नारायणा सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल के सीनियर कंसलटेंट, न्यूरो-सर्जरी डॉ आशीष कुमार श्रीवास्तव बताते है कि मस्तिष्क के किसी हिस्से में रक्त की आपूर्ति बाधित होने या गंभीर रूप से कम होने के कारण स्ट्रोक होता है।

उनके अनुसार मस्तिष्क के ऊतकों में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की कमी होने पर कुछ ही मिनटों में मस्तिष्क की कोशिकाएं मृत होने लगती हैं इसलिए समय रहते रोगी को उपचार मिलने से उसे सामान्य स्थिति में लाया जा सकता है, अन्यथा मृत्यु अथवा स्थायी विकलांगता हो सकती है।

मस्तिष्क के अधिकतर कार्य प्रभावित होने लगते हैं

उन्होंने बताया कि ब्रेन स्ट्रोक को समय पर सही इलाज देकर ठीक किया जा सकता है, लेकिन इलाज में देरी होने पर लाखों न्यूरॉन्स क्षतिग्रस्त हो जाते हैं और मस्तिष्क के अधिकतर कार्य प्रभावित होने लगते हैं। इससे प्रभावित होने पर व्यक्ति के शरीर का कोई एक हिस्सा सुन्न होने लगता है और उसमें कमजोरी या लकवा जैसी स्थिति होने लगती है। मरीज को बोलने में दिक्कत आ सकती हैए झुरझुरी आती है और उसके चेहरे की मांस पेशियां कमजोर हो जाती हैं जिससे लार बहने लगती है।

100 में से लगभग 25 ब्रेन स्ट्रोक रोगियों की आयु 40 वर्ष से नीचे

उन्होंने बताया कि देश में हर साल ब्रेन स्ट्रोक के लगभग 15 लाख नए मामले दर्ज किए जाते हैं और यह असामयिक मृत्यु और विकलांगता की एक बड़ी वजह बनता जा रहा है। यहां यह भी अपने आप में परेशान करने वाला तथ्य है कि हर 100 में से लगभग 25 ब्रेन स्ट्रोक रोगियों की आयु 40 वर्ष से नीचे है। यह हार्ट अटैक के बाद दुनिया भर में मौत का दूसरा सबसे आम कारण है। पीण्एसण्आरण्आई हॉस्पिटल के न्यूरोलॉजिस्ट डॉ अमित श्रीवास्तव बताते है कि समय रहते स्ट्रोक के लक्षणों को पहचानकर तत्काल उपचार कराने पर कुछ ही समय में यह बीमारी ठीक हो जाती है।

मुस्कुराना चाहिए ताकि…

इसके लक्षणों और तत्काल एहतियाती उपायों की जानकारी देते हुए डॉ गोयल ने बताया कि अगर किसी व्यक्ति का चेहरा एक तरफ से टेढ़ा होने लगे और उसे बोलने में दिक्कत हो तो उस व्यक्ति को ज्यादा से ज्यादा मुस्कुराना चाहिए ताकि चेहरे की मांसपेशियों की कसरत हो। इसी तरह अगर एक हाथ कमजोर या सुन्न लगे तो उपचार मिलने से पहले उसे ऊपर नीचे करने की कोशिश करें।

उन्होंने बताया कि अगर बोलने में दिक्कत हो तो ऐसे व्यक्ति किसी एक वाक्य को बार.बार दोहराएं और उसका सही उच्चारण करने की कोशिश करें। वह हिदायत देते हुए कहते हैं कि इनमें से कोई भी लक्षण नजर आने पर मरीज को तत्काल किसी नजदीकी अस्पताल में लेकर जाएं। गोल्डन ऑवर में उपचार मिलने से मरीज को स्ट्रोक से बचाया जा सकता है।

ये है कारण

चिकित्सकों के मुताबिक इसका मुख्य कारण उच्च रक्तचाप, मधुमेह, रक्त शर्करा, उच्च कोलेस्ट्रॉल, शराब, धूम्रपान और मादक पदार्थों की लत के अलावा आरामतलब जीवन शैली, मोटापा, जंक फूड का सेवन और तनाव है। युवा रोगियों में यह अधिक घातक साबित होता हैए क्योंकि यह उन्हें जीवन भर के लिए विकलांग बना सकता है। डॉ. राजुल अग्रवाल, सीनियर न्यूरोलॉजिस्ट, बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टिट्यूट के अनुसार पहले यह समस्या बढ़ती उम्र में होती थी वही आज स्ट्रोक का खतरा युवाओं पर भी मंडरा रहा है।

अनियमित जीवन शैली, खानपान और तनाव स्ट्रोक होने के मुख्य कारणों में से है। इससे बचाव के लिए व्यायाम, उचित खानपान और नशे से दूर रहने की सबसे ज्यादा जरूरत है। साथ ही व्यक्ति को तनाव से बचने की कोशिश करनी चाहिए। तनाव कई बीमारियों की जड़ है जो धीरे-धीरे घुन की तरह शरीर को खोखला कर देती हैं।

Continue Reading

Latest

ब्रिक्स देशों में भारत की आर्थिक विकास दर सर्वाधिक : रिपोर्ट

Published

on

By

नई दिल्ली। ब्रिक्स देशों में भारत सर्वाधिक आर्थिक विकास दर वाला देश है। यह बात पेशेवर सेवा प्रदाता कंपनी केपीएमजी द्वारा गुरुवार को जारी एक रिपोर्ट में सामने आई है। ब्रिक्स में ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं।

भारत की विकास दर 7.4 फीसदी रहने की संभावना

केपीएमजी की रिपोर्ट ‘इंडिया सोर्स हायर’ के मुताबिक, सुधार के कुछ कदमों के कारण वित्त वर्ष-2018 की पहली तिमाही में विकास की रफ्तार धीमी रहने के बावजूद भारत की विकास दर 2018 में 7.4 फीसदी रहने की संभावना है, जबकि विकसित अर्थव्यवस्थाओं की विकास दर और वैश्विक आर्थिक विकास क्रमश: दो फीसदी और तीन फीसदी है। रिपोर्ट में भारत की आर्थिक स्थिरता में विदेशी मुद्रा भंडार के महत्व को दर्शाते हुए बताया गया है कि नौ फरवरी 2018 को भारत में विदेशी मुद्रा भंडार 4230 अरब डॉलर था जोकि देश के 11 महीने के आयात की जरूरतों के लिए पर्याप्त है।

भारत आज टिकाऊ विकास की ओर अग्रसर

कानून और न्याय, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद द्वारा माइंडमाइन समिट 2018 के 12वें संस्करण के अवसर पर केपीएमजी की रिपोर्ट जारी की गई। केपीएमजी इंडिया के चेयरमैन व सीईओ अरुण एम. कुमार ने कहा, “भारत आज टिकाऊ विकास की ओर अग्रसर है। दिवालियापन (बैंक्रप्टसी कोड) और वस्तु एवं सेवा कर जैसे सुधार के कदमों और बुनियादी ढांचा निर्माण के क्षेत्र में निवेश विकास की नींव के महत्वपूर्ण घटक हैं।” https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

Latest

कुशीनगर : किशोरी के साथ युवक ने किया बालात्कार करने का प्रयास

Published

on

By

सुनील तिवारी

कुशीनगर। पडरौना कोतवाली के ग्राम मिश्रौली में एक नाबालिग युवती के साथ गांव के एक युवक द्वारा उसके घर में घुसकर जबरन  दुष्कर्म का प्रयास किए जाने का मामला प्रकाश में आया है ।पीड़ित युवती के मां की तहरीर पर पुलिस अगली कार्रवाई में जुटी हुई है, अभी तक मुकदमा नहीं पंजीकृत हो सका था।

मारने की धमकी देते हुए भाग निकला

मिली जानकारी के अनुसार उक्त गांव निवासी युवती की मां 9 बजे अपने खेत में किसी कार्य से गई हुई थी, उसकी नाबालिक लड़की घर पर अकेली थी, गांव का ही एक युवक मौका पाकर उसके घर में घुस गया और उसके साथ जोर जबरदस्ती करने के साथ ही अश्लील हरकत करना चालू कर दिया, वहीं उसे जमीन पर पटक कर दुष्कर्म करने का प्रयास किया, लड़की के चीखने चिल्लाने की आवाज सुन पहुंचे अगल-बगल के लोगों को देखते ही युवक किशोरी को जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकला थोड़ी देर में यह घटना पूरे क्षेत्र में आग की तरह फैल गई और लोग तरह-तरह की चर्चाएं शुरू कर दिए घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता की तहरीर मामले की छानबीन में जुटी हुई है,पुलिस युवक के घर लगातार छापेमारी कर रही है लेकिन वह घर छोड़ फरार हो गया है। इस बाबत पूछे जाने पर प्रभारी कोतवाल उमेश कुमार ने बताया कि मामला संज्ञान में है तहरीर चौकी इंचार्ज के पास है जल्द इस मामले में मुकदमा पंजीकृत कर लिया जाएगा । https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
राज्य5 hours ago

बहराइच : कैसरगंज एसएसडी की टीम ने बरामद किया 4 लाख 98 हजार रुपये

राज्य5 hours ago

क्रिकेट प्रतियोगिता का शुभारम्भ, उद्घाटन मैच में लखनऊ मंडल विजयी

राज्य5 hours ago

चेकिंग में मिला लावारिस अटैची और बैग, घरेलू सामान और नकदी बरामद, आरपीएफ मालिकों को लौटाया

राज्य5 hours ago

बाप बना जल्लाद, चार बेटियों को रास्ते से हटाने के लिए दिया इस वारदात को अंजाम, लेकिन…

राज्य7 hours ago

श्रावस्ती : बिना अनुमति नहीं जारी होगें कोई भी चुनावी विज्ञापन : जिला निर्वाचन अधिकारी

राज्य7 hours ago

बहराइच : श्रीराम जानकी इण्टर कालेज रूपईडीहा में आयोजित हुआ मतदाता जागरुकता कार्यक्रम

राज्य7 hours ago

बहराइच : प्रत्याशियों के चुनाव खर्चे पर रखी जा रही है नज़र : व्यय प्रेक्षक 

वीडियो8 hours ago

‘तेरे नाम’ में सलमान खान फिर बिखेरेंगे जलवा, ऐसी होगी स्टोरी, देखें वीडियो

दुनिया8 hours ago

IS ने ली कोलंबो धमाके की जिम्मेदारी, अब तक हो चुकी है 310 लोगों की मौत

राज्य9 hours ago

अयोध्या : सड़क दुर्घटना में डीसीएम क्लीनर सहित दो लोगों की मौत

राज्य9 hours ago

अयोध्या : एक मई को पीएम मोदी की जनसभा, अखिलेश, मायावती, केशव और उमा भारती भी जनता से होंगी रूबरू

राज्य9 hours ago

सुल्तानपुर में उड़ाका दस्ते ने जब्त की तीन लाख से अधिक की नकदी

देश10 hours ago

गौतम गंभीर ने किया नामांकन, कहा- प्रधानमंत्री मोदी के विकास कार्यों की विरासत को बढ़ाऊंगा आगे

देश11 hours ago

सांसद उदित राज को लगा झटका, भाजपा ने उत्तर पश्चिमी दिल्ली से हंसराज हंस को बनाया प्रत्याशी

खेल11 hours ago

विश्व कप को लेकर सामने आया रिषभ पंत का दर्द, दिया ये बड़ा बयान

देश11 hours ago

साध्वी प्रज्ञा की नामांकन रैली में उमड़े साधु-संत, भगवामय हुआ शहर, किया शक्ति प्रदर्शन

टेक्नोलॉजी12 hours ago

जल्दी करें, आज है आखिरी दिन, फ्लिपकार्ट पर सिर्फ 7,299 में ले सकते हैं TV, जानें पूरी बात

हेल्थ12 hours ago

एंटीबायोटिक लेने से पहले करें डॉक्टर से संपर्क, नहीं तो हो सकते हैं ये नुकसान

मनोरंजन3 weeks ago

डायरेक्टर ने इस अभिनेत्री से कहा, एक रात…कॉम्प्रोमाइज, एक्ट्रेस बोली-‘आपके साथ सो तो जाऊं लेकिन…’

खेल2 days ago

धोनी ने बनाया नया कीर्तिमान, एसा कारनामा करने वाले बने पहले भारतीय, कोहली ने बोल दी ये बड़ी बात

मनोरंजन4 weeks ago

जानें पहले दिन कैसा रहा फिल्म ‘नोटबुक’ और ‘जंगली’ का प्रदर्शन, दर्शकों ने दिये कितने अंक

मनोरंजन2 weeks ago

टाइगर की गर्लफ्रेंड दिशा पटानी ने किया ऐसा डांस कि वायरल हो गया वीडियो, आप भी देखें

राज्य1 week ago

BJP सांसद हरिओम पाण्डेय का कटा टिकट तो पार्टी के नेताओं पर लगाया लड़की और पैसे पर टिकट बेचने का आरोप

देश1 week ago

गृहमंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ कांग्रेस से ये नेता लड़ेगा चुनाव!, खरीदा नामांकन पत्र

देश4 weeks ago

दुल्हन को फेरे लेते समय अचानक होने लगीं उल्टियां, दूल्हे ने जबरन कराया वर्जिनिटी और प्रेग्नेंसी टेस्ट

देश2 weeks ago

यूपी में तीन बजे तक 51 प्रतिशत मतदान, सतीश चन्द्र मिश्रा ने किया DGP को फोन, दर्ज कराई शिकायत

राज्य4 weeks ago

सपा ने जारी एक और उम्मीदवारों की सूची, गोरखपुर व कानपुर से इस दिग्गज नेता को दिया टिकट

देश3 weeks ago

65 साल के बुजुर्ग को जवान लड़की से डेट करना पड़ा महंगा, हो गया ये बड़ा कांड

राज्य3 days ago

समाजवादी पार्टी ने जारी की एक और सूची, अब इस सीट से उम्मीदवार किया घोषित

दुनिया4 weeks ago

महिला ने एक बेटे को जन्म देने के बाद फिर 26 दिन बाद दो जुड़वा बच्चों को दिया जन्म, डाक्टर हुए हैरान

दुनिया2 weeks ago

पति ने घर पर छोड़ा खुला कैमरा, आकर देखा तो दोस्त के साथ पत्नी का दिखा अतरंग वीडियो

वीडियो1 week ago

बॉयफ्रेंड संग नजर आईं एमी जैक्सन, दिख रहा बेबी बंप, बिकिनी पहन कर खेला गोल्फ, देखें वीडियो

देश3 weeks ago

आडवाणी ने तोड़ी चुप्पी, भाजपा को दी नसीहतें, टिकट न मिलने का भी छलका दर्द, राहुल-ममता ने किया स्वागत

देश2 weeks ago

महिला आयोग ने देह व्यापार के रैकेट का किया भंडाफोड़, चार नाबालिग लड़कियां मुक्त कराईं

राज्य4 weeks ago

यूपी में भाजपा को एक और बड़ा झटका, 2 घंटे पहले इस सांसद ने छोड़ी पार्टी, कांग्रेस ने दिया टिकट

देश3 weeks ago

सपा का घोषणा पत्र जारी, अखिलेश बोले-सवर्णों पर लगाएंगे टैक्स, जानें और क्या-क्या किए गए वादे

Trending