Connect with us

देश

आरुषि व हेमराज हत्याकांड : सीबीआई ने बढ़ाईं तलवार दंपति की मुश्किलें, फैसले के खिलाफ दिया ये तर्क

Published

on

नयी दिल्ली। बहुचर्चित आरुषि तलवार व हेमराज हत्याकांड में सीबीआई ने तलवार दंपित की मुशिकलें बढ़ा दी हैं। इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा बरी किए जाने के फैसले खिलाफ सीबीआई की अपील को सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है।दरअसल, सीबीआई ने मई में हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती दी थी। जस्टिस रंजन गोगोई, नवीन सिन्हा और केएम जोसेफ की बेंच ने कहा कि सीबीआई की अपील के साथ-साथ हेमराज की पत्नी की ओर से दायर याचिका पर भी सुनवाई की जाएगी। अब दोनों मामलों की सुनवाई एक साथ होगी। माना जा रहा है कि कोर्ट के इस फैसले से राजेश तथा नूपुर तलवार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। वहीं आरुषि हत्याकांड में सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को भी नोटिस जारी किया है।

इलाहबाद उच्च न्यायालय पलटा था सीबीआई न्यायलय का फैसला

आपको बता दें कि इलाहबाद उच्च न्यायालय ने पिछले साल 2017 में 12 अक्टूबर को तलवार दंपति को संदेह का लाभ देते हुए उनकी 14 वर्षीय बेटी और नौकर हेमराज की हत्या में बरी कर दिया था। दोनों की हत्या नोएडा के जलवायु विहार इलाके में 16 मई 2008 को की गई थी। इलाहबाद उच्च न्यायालय ने गाजियाबाद की सीबीआई अदालत का 26 नवंबर 2013 को तलवार दंपति को उम्रकैद का फैसला सुनाने के फैसले को पलट दिया था और तलवार दंपति को रिहा करने के आदेश दिए थे। इलाहाबाद उच्च न्यायालय द्वारा बरी किए जाने के बाद राजेश और नूपुर तलवार 16 अक्टूबर को गाजियाबाद के डासना जेल से बाहर आए।

सीबीआई ने क्या कहा

CBI ने सुप्रीम कोर्ट में दलील दी है कि हाईकोर्ट द्वारा राजेश और नूपुर तलवार को निर्दोष साबित करने का जो फैसला दिया गया, उसे कई मायनों में गलत साबित किया जा सकता है। CBI ने याचिका में कहा कि हाईकोर्ट के आदेश में कई खामियां हैं। CBI के मुताबिक, निचली अदालत ने जो फैसला दिया था, वह अच्छी तरह विचार कर दिया गया था। CBI ने कहा कि जिन परिस्थितिजन्य सबूतों के आधार पर निचली अदालत ने फैसला दिया था, उन्हें अनदेखा नहीं किया जा सकता। CBI ने कहा कि इस तरह के मर्डर केस में वे अहम सबूत होते हैं। जिन गवाहों के बयानों पर CBI ने भरोसा नहीं किया, हाईकोर्ट ने उन्हीं की बात मानी. जिन पर CBI ने भरोसा किया, उन्हें हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया।

यह था मामला

गौरतलब है कि डॉ. तलवार की बेटी आरुषि की हत्या 15 एवं 16 मई 2008 की दरम्यानी रात नोएडा के सेक्टर 25 स्थित घर में ही कर दी गई थी। पुलिस को पहले घर के नौकर हेमराज पर आरुषि की हत्या का शक हुआ। लेकिन एक दिन बाद घर की छत से ही हेमराज का शव भी पुलिस को मिला। नोएडा पुलिस ने वारदात के बाद दिए बयान में तलवार दंपती पर शक जताते हुए कहा था कि आरुषि और हेमराज को ‘आपत्तिजनक अवस्था’ में देखने के बाद राजेश ने दोनों की हत्या कर दी। बाद में ये केस नोएडा पुलिस से लेकर सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया था।

नोएडा पुलिस की इस बात के लिए भी आलोचना हुई थी कि उसने जांच को सही ढंग से अंजाम नहीं दिया था जिसकी वजह से अहम फॉरेन्सिक सबूतों को नहीं जुटाया जा सका था। सीबीआई ने अपनी जांच के बाद इस मामले में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर दी थी। सीबीआई का कहना था कि तलवार दंपती को हत्याओं के लिए दोषी साबित करने लायक सबूतों का अभाव है। हालांकि गाजियाबाद में सीबीआई की विशेष अदालत ने एजेंसी के इस तर्क को खारिज कर दिया था। इस अदालत ने तलवार दंपती को आरुषि और हेमराज की हत्या का दोषी मानते हुए दोनों को उम्र कैद सुनाई थी। इसी फैसले के बाद आरुषि के माता-पिता नूपुर और राजेश तलवार ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। जिसके बाद  हाई कोर्ट ने बरी कर दिया था। https://www.kanvkanv.com

देश

बिहार में भाजपा और जदयू के बीच सीटों का विवाद थमा, दोनों पार्टियां बराबर सीटों पर लड़ेंगी चुनाव

Published

on

संतोष राज पांडेय

पटना: बिहार में सीटों को लेकर चल रहा विवाद भाजपा और जदयू के बीच थम गया। दोनों पार्टियां बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेंगी। दोनों राजनीतिक दलों के बीच इसकी सहमति बन गयी। जदयू के खाते में 16 सीटें गयीं है। लोकसभा चुनाव में जेडीयू और बीजेपी बराबर सीटों पर जबकि विधानसभा चुनाव में जेडीयू बीजेपी से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ेगी.
हालांकि उपेन्द्र कुशवाहा की खीर अभी पक रही है। उनकी ओर से यह साफ नही है कि कितने सीट पर वे चुनाव लड़ेंगे पर उनको 2 सीट मिल सकती है जबकि राम विलास पासवान को 4 सीट प्राप्त हो सकती है।
यूं कहें तो बिहार एनडीए में लोकसभा सीटों के बंटवारे पर फैसला हो गया है. बस इसका औपचारिक एलान बाकी है. सूत्रों के अनुसार, बिहार की 40 लोकसभा सीटों में भाजपा 17, नीतीश कुमार की जनता दल यूनाइटेड 16, रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी पांच एवं उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी दो सीटों पर चुनाव लडेगी.

सीटें छोडने के सिद्धांत पर आधारित फार्मूला

यह फार्मूला एनडीए के नये घटक जदयू के लिए सभी के द्वारा कुछ सीटें छोडने के सिद्धांत पर आधारित है. इसमें भाजपा अपनी सीटें छोड रही है और वह सहयोगी लोजपा एवं रालोसपा को भी इसके लिए कह रही है. यह संभावना मजबूत है कि रामविलास पासवान इस फार्मूले को मान लेंगे, लेकिन दिक्कत रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा के साथ है.
वे लंबे अरसे से अपनी नाराजगी प्रकट करते रहे हैं. ऐसे में अगर वे एनडीए छोड कर जाते हैं तो उनके कोटे की सीट भी भाजपा व जदयू एक-एक बांट लेगी.
पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा 29 सीटों पर लडी थी, जिसमें वह 22 जीत गयी थी. उसकी सहयोगी सात पर लडकर छह व रालोसपा चार पर लडकर तीन सीटें जीतने में कामयाब हुई थी. इस तरह एनडीए ने 40 में कुल 32 सीटें जीत ली थी.

बीजेपी-जेडीयू 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे

अब एनडीए में नीतीश कुमार दोबारा आ गये हैं. उनकी पार्टी बिहार की मुख्य सत्ताधारी पार्टी है, जाहिर है सीटों के बंटवारे में भविष्य के लिए भाजपा उन्हें संतुष्ट करेगी.
माना यह भी जा रहा है कि अगर सबकुछ ठीक-ठाक रहा तो बीजेपी-जेडीयू 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. अगर उपेंद्र कुशवाहा एनडीए छोड़ते हैं तो ये संख्या 18-18 भी हो सकती है.
 हालांकि जेडीयू के एक शीर्ष सूत्र ने बताया है कि जब भी जेडीयू और बीजेपी के बीच सीटों का बंटवारा होगा, तो बराबरी पर ही होगा. अगर ऐसा नहीं होता तो सीट शेयरिंग का फार्मूला कब का तय हो चुका होता.
जाहिर है कि बिहार में हमेशा बड़े भाई की भूमिका निभाने वाली जेडीयू किसी भी कीमत पर बीजेपी के सामने अपना कद छोटा नहीं करना चाहती. हालांकि 2014 के लोकसभा चुनाव में जेडीयू का कद काफी छोटा हो गया था और बीजेपी उसके सामने पहाड़ जैसी बड़ी हो गई. पर दोबारा एनडीए में आने का बाद जेडीयू की कोशिश है कि मामला बराबरी का रहे, ताकि इज्जत बची रहे. https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

पार्टी के रणनीतिकार की ही भूमिका में रहेंगे प्रशांत किशोर, नहीं लड़ेंगे चुनाव

Published

on

संतोष राज पांडेय

पटना। बिहार की राजनीति में PK की एंट्री के बाद से ही धमाल मच गया था कि PK बिहार की राजनीति में क्या गुल खिलाएंगे।  pk यानी प्रशांत किशोर। आज उन्होंने यह साफ कर दिया कि वे चुनाव भी नही लड़ेंगे। उन्होंने छात्र और जदयू युवा को पार्टी का कोर सेक्टर बताते हुए उनको सुशासन के लिए सरकार की आंख, कान और नाक बनने की सलाह भी दी।

संगठन की मजबूती ही प्राथमिकता

आज जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने चुनाव लड़ने संबंधी सारे कयासों पर विराम लगा दिया है. पीके ने स्पष्ट कर दिया है कि वो पार्टी के रणनीतिकार की ही भूमिका में रहेंगे. पटना में मुख्यमंत्री आवास एक अणे मार्ग में जदयू के छात्र और युवा कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों के साथ बैठक के दौरान पीके ने साफ किया कि उनकी प्राथमिकता संगठन की मजबूती ही है.पीके ने अपनी रणनीति का खुद से खुलासा करते हुए कहा कि वो लोकसभा या राज्यसभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे बल्कि आने वाले 10 साल तक सिर्फ बिहार की सेवा करेंगे.
दो दिनों तक अलग-अलग बैठक करने के बाद पीके ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव और और 2020 के विधानसभा चुनाव में टिकट वितरण में पार्टी पुराने चेहरों की बजाए युवाओं को प्राथमिकता देगा. बैठक में इस बात का भी फैसला हुआ कि पार्टी कॉलेज और विश्वविद्लाय कैंपस में भी अपनी पकड़ को मजबूत करेगी.

2019 और 2020 के चुनावों को लेकर महत्वपूर्ण टास्क

जदयू का छात्र और युवा विंग मिलकर काम करेगा और दोनों विंग को 2019 और 2020 के चुनावों को लेकर महत्वपूर्ण टास्क दिया गया. बैठक के दौरान प्रशांत किशोर ने युवा जदयू के हर जिलाध्यक्ष को 200 और छात्र जदयू के जिलाध्यक्ष को 100 सक्रिय कार्यकर्ता बनाने के साथ ही प्रदेश स्तर के पदाधिकारियों को भी 200-200 कार्यकर्ता बनाने का टास्क दिया जिसे अगले दो महीने में पूरा करना है.मालूम हो कि हाल में ही नीतीश कुमार ने जेडीयू में शामिल हुए प्रशांत किशोर को पार्टी में नंबर दो की कुर्सी देते हुए उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है.

पार्टी को चुनाव में सफलता दिलाना है मकसद

आगामी लोक सभा चुनाव लड़ने को लेकर चल रही अटकलों को जेडीयू के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने अब विराम दे दिया है. जेडीयू  के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने चुनाव लड़ने के  सारे कयासों पर विराम लगा दिया है. प्रशांत किशोर ने यह साफ़ कर दिया है कि उनकी प्राथमिकता चुनाव लड़ना नहीं बल्कि पार्टी को चुनाव में सफलता दिलाना है.
उन्होंने सोमवार को पटना में मुख्यमंत्री आवास एक अणे मार्ग में जेडीयू  के छात्र और युवा कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों के साथ बैठक के दौरान  साफ कर दिया है कि उनकी प्राथमिकता संगठन की मजबूती देना है. वो अगले दस साल तक चुनाव नहीं लड़ेगें. पार्टी के चुनावी रणनीतिकार की भूमिका में रहेगें.
जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर,यानि पीके सर की क्लास पटना में चल रही है जिसमें युवाओं को वो राजनीति के गुर सिखा रहे हैं। इस तरह प्रशांत किशोर युवाओं के बीच बिहार की राजनीति को नयी दिशा देने की तैयारी में लगे हुए हैं और इस तरह वे एक हजार युवाओं की ऐसी फौज तैयार कर रहे हैं, जो घर-घर में जदयू के झंडा को लहराने में अहम भूमिका निभायेंगे।
प्रशांत किशोर ने बैठक में छात्र संगठनों को बुलाया है और इसमें जदयू के कई नेता भी शामिल हैं। बैठक में युवा जेडीयू और छात्र जेडीयू के कार्यकर्ता शामिल हैं। इन सबके साथ प्रशांत किशोर आगे की रणनीति को लेकर चर्चा कर रहे हैं। प्रशांत किशोर ने बैठक में युवा पदाधिकारियों को महत्वपूर्ण टास्क दिया है।
प्रशांत ने स्पष्ट कहा कि जदयू कार्यकर्ताओ की पार्टी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने न तो अपने पुत्र को आगे बढ़ाया है और ना ही परिवार के किसी सदस्य को। जदयू में हमेशा कार्यकर्ताओ को ही स्थान और सम्मान मिला है। यहां अर्थतंत्र का जोर ना तो कभी चला है और ना ही आगे चलेगा। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

राहुल गांधी की यूथ ब्रिगेड गांव-गांव जाकर खोलेगी भ्रष्टाचार की पोल : मनोज केशान

Published

on

पटना। बिहार में राहुल गांधी यूथ ब्रिगेड की टीम गांव गांव जाकर भ्रष्टाचार का पोल खोलेगी और सभी भ्रष्टाचारी नेताओ का कच्चा चिट्ठा जनता को बताएगी। कांग्रेस नेता मनोज केशान ने बताया कि उन्होंने राहुल गांधी के सपनों को साकार करने के लिए पूरे बिहार सहित राष्ट्रीय स्तर पर राहुल गांधी युथ ब्रिगेड का गठन किया है। मकसद है युवाओं की सोंच को पटल पर लाना संस्था का सभी जिलों में इसका विस्तार किया जा रहा है। हर जिला मुख्यालय में एक इस ब्रिगेड का कप्तान होगा जो प्रखंड स्तर पर भी इस टीम का गठन करेगा। बापू की पुण्य भूमि चम्पारण भारत के बदलाव में नया इतिहास लिखेगा और घर घर से गांधी निकलेगा।

18 साल से लेकर 35 साल तक के युवा ही शामिल होंगे

मनोज केशान ने बताया कि उनके टीम को चुनाव से कोई लेना देना नही है न कांग्रेस के उम्मीदवारों से ही। उनका लक्ष्य यह है कि कांग्रेस को मजबूती से वे धरातल पर लाये और राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के हांथो को मजबूत करें। मनोज केशान ने बताया कि उनकी इस ब्रिगेड टीम में 18 साल से लेकर 35 साल तक के युवा ही शामिल होंगे जो निःस्वार्थ भाव से राहुल गांधी के लिए कार्य करेंगे। इस टीम को राजनीति से कोई सरोकार नही होगा, यह टीम जनता की सेवा करेगी और राहुल गांधी के सपनों की मजबूत भारत बनायेगी।

जेटली की बेटी चोर मेहुल चौकसी के पेरोल पर थी

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि राहुल गांधी युथ ब्रिगेड की टीम ने आज जनता के बीच जाकर बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर मेहुल चौकसी को देश से बाहर भागने में मदद करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अरुण जेटली की बेटी चोर मेहुल चौकसी के पेरोल पर थी। इस दौरान उनके वित्त मंत्री पिता ने मेहुल चौकसी की फाइल देखी और उन्होंने देश से बाहर भागने दिया। अरुण जेटली की बेटी को आईसीआईसीआई बैंक के खाता नं. 12170500316 से पैसा प्राप्त होता था।

मीडिया पर भी बोला हमला

मनोज केशान ने बताया कि राहुल गांधी ने देश की मीडिया पर भी हमला बोलते हुए कहा कि यह दुखद है कि मीडिया ने इस स्टोरी को जगह नहीं दी, लेकिन देश के लोग ऐसा नहीं करेंगे। राहुल गांधी ने वित्तमंत्री अरुण जेटली से इस्तीफा देने की मांग की है। सरकार सिर्फ वर्तमान बुनियादी मामलों से भटका कर भावनाओं से खेल रही है। रोज नये वादों में फंसा कर जनता गुमराह हो रही है। जनता चुनाव मे सबक सिखाएगी। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
राज्य12 hours ago

फैजाबाद : प्रमुख सचिव ने सरयू तट पर दीपोत्सव कार्यक्रम की तैयारियों का लिया जायजा

राज्य12 hours ago

बहराइच : देश विरोधी नारे लगाने का विडियो वायरल, पुलिस प्रसाशन सख्त, मुकदमा दर्ज

राज्य12 hours ago

बलरामपुर : चेकिंग अभियान में शांति भंग के आरोप में 19 गिरफ्तार

राज्य12 hours ago

संतकबीरनगर की वृद्धा श्रावस्ती के धम्म मेले से लापता

राज्य12 hours ago

फैजाबाद : प्रशासन ने दी सफाई, किसी को अयोध्या आने और पूजन-अर्चन से नहीं रोका गया

देश13 hours ago

बिहार में भाजपा और जदयू के बीच सीटों का विवाद थमा, दोनों पार्टियां बराबर सीटों पर लड़ेंगी चुनाव

राज्य13 hours ago

बरेली : सौ साला उर्स में रोडवेज चलाएगा अतिरिक्त बसें, फायर ब्रिग्रेड ने भी शुरू की तैयारी

राज्य13 hours ago

फैजाबाद : तोगड़िया के हाई वोल्टेज ड्रामे का सुखान्त, कहा- जनता की आस्था का दोहन कर रही है भाजपा

राज्य16 hours ago

बरेली : सपा की जिला इकाई भंग, शुभलेश को मंहगी पड़ी वीरपाल के खिलाफ बयानबाजी

दुनिया16 hours ago

वीडियो : सीसीटीवी फुटेज से खुला बड़ा राज, पत्रकार खशोगी की हत्या में बॉडी डबल का किया गया इस्तेमाल

राज्य16 hours ago

इश्क, शादी, बच्चा, धोखा और फिर किया ऐसा काम की महिला पहुंच गयी अस्पताल

राज्य17 hours ago

बरेली : राष्ट्रीय लोक दल के जिला अध्यक्ष बाकर अली के घर चोरी

लाइफ स्टाइल17 hours ago

बदलते मौसम के साथ लें साग का मजा, जानें इसके कई फायदे

राज्य18 hours ago

फैजाबाद : जिला अस्पताल में बच्चे की मौत, इलाज में लापरवाही का आरोप

राज्य18 hours ago

सुल्तानपुर के दोस्तपुर में पिकप की टक्कर से वृद्ध की मौत, बेटे की हालत गंभीर

राज्य18 hours ago

फैजाबाद से लोकसभा का चुनाव लड़ सकते हैं प्रवीण तोगड़िया, प्रधानमंत्री बनने का देख रहे ख्वाब

देश18 hours ago

पार्टी के रणनीतिकार की ही भूमिका में रहेंगे प्रशांत किशोर, नहीं लड़ेंगे चुनाव

देश18 hours ago

राहुल गांधी की यूथ ब्रिगेड गांव-गांव जाकर खोलेगी भ्रष्टाचार की पोल : मनोज केशान

देश2 weeks ago

VIDEO : मोदी के मंत्री ने एक्टिंग कर चौंकाया, लंबी मूंछें और राजशाही लिबास में आए नजर

देश1 week ago

दोस्त सईद ने घर बुलाकर किया 20 साल की मॉडल मानसी का मर्डर, सूटकेस में ले गया बॉडी

राज्य3 weeks ago

विवेक हत्याकांड : अब इंस्पेक्टर ने लिखा फेसबुक पर पोस्ट, ‘मैं पुलिस में हूं जिसे जानकारी नहीं वो समझ ले’…

देश2 weeks ago

शिवपाल पर मेहरबान हुई योगी सरकार, मायावती का खाली बंगला किया उनके नाम, सियासी हलचल तेज

देश4 days ago

अमृतसर ट्रेन हादसा : जिसने निभाया था रावण का किरदार, उसे भी ‘मौत’ खींच ले गयी पटरी के पास

देश4 weeks ago

लखनऊ गोलीकांड : योगी बोले कराएंगे सीबीआई जांच, DGP बोले, बर्खास्त होंगे दोनों आरोपी सिपाही

देश2 days ago

विधान परिषद सभापति के बेटे की मौत पर बड़ा खुलासा, मां ने ही की थी हत्या, बताया-क्या हुआ था उस रात

देश1 week ago

वीडियो : पुलिसवाले ने सरेराह न्यायाधीश की पत्नी और बेटे को मारी गोली, बोला-ये शैतान हैं

देश3 weeks ago

यूपी : SDM ने गोली मारकर तो महिला सिपाही ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, सुसाइड नोट से मचा हड़कंप

देश2 weeks ago

गैर मर्द के साथ शारीरिक संबंध बना रही थी पत्नी, अचानक आया पति और फिर…

देश1 week ago

अखिलेश को झटका देने की तैयारी में योगी सरकार, शिवपाल के बाद अब राजा भैया पर हुई मेहरबान

दुनिया3 weeks ago

बेहोश होने तक ISIS के आतंकी करते थे रेप, पढ़ें, 2018 की नोबेल विजेता नादिया की दर्दभरी कहानी

देश6 days ago

यूपी : कलयुगी भाइयों ने अपनी ही 15 साल की सगी बहन का 4 साल तक किया रेप

देश4 weeks ago

लखनऊ शूटआउट : पत्नी बोली-अपना जुर्म छिपाने के लिए पति को चरित्रहीन साबित करने में जुटी पुलिस

राज्य4 weeks ago

1986 से अब तक AK-47 की गोलियों से दहलता रहा है मुजफ्फरपुर

राज्य3 weeks ago

विवेक तिवारी के हत्यारोपी सिपाही प्रशांत के रोम-रोम में भरी है दबंगई, लोग बुलाते हैं ‘छोटा डॉन’

राज्य4 weeks ago

मुलायम सिंह यादव बने दादा, छोटी बहू ने बेटी को दिया जन्‍म

हेल्थ5 days ago

डॉक्टरों का हैरतअंगेज कारनामा : देश में पहली बार मां के गर्भाशय से बेटी ने दिया बच्चे को जन्म

Trending