Connect with us

देश

वीडियो : अमृतसर में बड़ा हादसा, ट्रेन से कुचलकर 60 लोगों की मौत, रेलवे और ड्राइवर ने दी सफाई

Published

on

अमृतसर । अमृतसर में रावण दहन देखने के दौरान एक ट्रेन की चपेट में आकर हुई 60 लोगों की मौत के बाद शनिवार को रेलवे ने इस घटना से अपना पल्ला झाड़ लिया। उत्तरी रेलवे के प्रवक्ता दीपक कुमार ने जारी बयान में कहा कि यह कार्यक्रम एक ऐसे क्षेत्र में हो रहा था, जो रेलवे के अधिकार क्षेत्र से बाहर है। बयान के अनुसार, वहां पर दशहरा कार्यक्रम आयोजित करने के बारे में ना तो क्षेत्रीय प्रशासन और ना ही कार्यक्रम आयोजक ने कोई सूचना दी। उन्होंने कहा, “तो रेलवे से अनुमति लेने का सवाल ही नहीं उठता। वहीं हादसे के बाद पंजाब सरकार ने मृतक केे परिवार को पांच लाख रुपए का मुआवजा का एेलान किया है। केन्द्र सरकार द्वारा 2-2 लाख मुआवजा दिया गया है।

कार्यक्रम के समय मानवीय क्रॉसिंग के दरवाजे बंद थे

उन्होंने कहा कि शुक्रवार शाम कार्यक्रम के समय मानवीय क्रॉसिंग के दरवाजे बंद थे। एक वरिष्ठ रेलवे अधिकारी ने हालांकि यह स्वीकार किया कि डीजल मल्टीपल यूनिट (डीएमयू) जालंधर-अमृतसर पैसेंजर ट्रेन के लोको पायलट ने आपातकालीन ब्रेक का उपयोग नहीं किया। अधिकारी ने स्वीकार किया कि क्रॉसिंग पर खड़े व्यक्ति को नजदीकी स्टेशन को वहां कार्यक्रम की भीड़ इकट्ठी होने की सूचना देनी चाहिए थी। स्टेशन मास्टर को सतर्क होना चाहिए था और बाद में उसे लोको पायलटों को सतर्क करना चाहिए था।

700 लोगों की भीड़ रावण के विशाल पुतले का दहन देख रही थी

शुक्रवार को धोबीघाट के निकट जोड़ा फाटक पर लगभग 700 लोगों की भीड़ रावण के विशाल पुतले का दहन देख रही थी तभी अमृतसर से होशियारपुर जा रही जालंधर-अमृतसर डीएमयू पैसेंजर ट्रेन शाम करीब सात बजे पटरी पर खड़े लोगों को रोंदती हुई गुजर गई। 10-15 सेकेंड के बाद ही वहां क्षत-विक्षत शव नजर आने लगे और वहां चीख-पुकार मचने लगी। डॉक्टरों का कहना है कि कई लोगों के गंभीर रूप से घायल होने के कारण मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है।

राज्य में शोक का ऐलान

मुख्यमंत्री के घटनास्थल पर शनिवार को पहुंचने की संभावना है। आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि पंजाब सरकार ने शनिवार को राज्य में शोक का ऐलान किया है। इस दौरन सभी ऑफिस और शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। जांच के आदेश दे दिए गए हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल फिलहाल अमेरिका में हैं। उन्होंने अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और वह लौटने की तैयारी कर रहे हैं। दुर्घटना के बाद शुक्रवार शाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मृतकों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

ट्रेन चालक से हिरासत में पूछताछ

पंजाब और रेलवे पुलिस ने शनिवार को अमृतसर में 60 लोगों को कुचलने वाली ट्रेन के चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पंजाब पुलिस अधिकारियों का कहना है कि डीएमयू (डीजल मल्टीपल यूनिट) के ड्राइवर को लुधियाना रेलवे स्टेनशन से हिरासत में लिया गया और शुक्रवार रात को हुई इस घटना के संदर्भ में पूछताछ की गई। सूत्रों ने बताया कि ड्राइवर का कहना है कि उसने ग्रीन सिग्नल दिया था और रास्ता साफ था लेकिन उसे कोई अंदाजा नहीं था कि बड़ी संख्या में लोग रेलवे ट्रैक पर खड़े हैं।

इस दशहरा कार्यक्रम के आयोजकों के खिलाफ अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया गया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि आयोजक अंडरग्राउंड हो गए हैं। रेलवे अधिकारी इस संदर्भ में जानकारियां जुटा रहे हैं। केंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने शुक्रवार रात घटनास्थल का दौरा किया। उन्होंने कहा कि घटना की जांच की जा रही है और यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। यहां और नई दिल्ली का रेल प्रशासन खुद का बचाव करता आया कि उन्हें इस स्थान पर दशहरे के कार्यक्रम के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। स्थानीय पुलिस ने लोगों को इस व्यस्त रेलवे ट्रैक पर आने से नहीं रोका।

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

DRM ने बताया, दुर्घटना के बाद ड्राइवर ने क्यों नहीं रोकी ट्रेन

इस मामले पर फिरोजपुर के डीआरएम विवेक कुमार का कहना है ड्राइवर ने स्पीड कम की थी. इसके बावजूद कई लोग ट्रेन की चपेट में आ गए. डीआरएम ने बताया कि जहां हादसा हुआ उससे पहले एक मोड़ है, ड्राइवर 91 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन लेकर आ रहा था, उसने जब लोगों को देखा तो रफ्तार कम करने की कोशिश की और 68 किमी प्रति घंटे तक ही ला पाया था कि हादसा हो गया. इस रफ्तार से चल रही ट्रेन को रोकने के लिए कम कम 700 मीटर की दूरी होनी चाहिए.

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

यात्रियों की हिफाजत के लिए अमृतसर ले गया ट्रेन  

हादसे के बाद ट्रेन की रफ्तार 10 तक आ गई थी लेकिन लोग ट्रेन पर पथराव करने लगे। गार्ड ने ड्राइवर को बताया कि लोग आक्रोश में हैं और यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए ट्रेन रोकना ठीक नहीं है। इसके बाद ड्राइवर ट्रेन लेकर अमृतसर पहुंच गया.  डीआरएम के मुताबिक ड्राइवर सुरक्षित है, और यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए वह हादसे के बाद नहीं रुका.

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

बजाया था हॉर्न

पंजाब सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता नवजोत सिद्दू के इस बयान पर कि ट्रेन में हॉर्न ही नहीं था, डीआरएम ने कहा कि ट्रेन में हॉर्न है और वह ठीक है. डीआरएम ने यह भी दावा किया ड्राइवर ने हॉर्न बजाया था.   
25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

याद नहीं मुझे कब मिली जानकारी – डीआरएम

डीआरएम से जब पूछा गया कि उन्हें इसकी जानकारी कब मिली तो उनका कहना था कि उन्हें ठीक से याद नहीं है. वह यह भी नहीं बता पाए की किस टाइम पर हादसा हुआ.

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

ट्रेन के ड्राइवर ने दी सफाई

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेल ड्राइवर ने कहा कि रावण जलने की वजह से आसपास काफी धुआं था, घटनास्थल पर रोशनी की भी व्यवस्था नहीं थी, इसलिए उसे कुछ दिखाई नहीं दिया. रेल अधिकारी का भी कहना है कि वहां काफी धुआं था, जिसकी वजह से ड्राइवर कुछ भी देखने में असमर्थ था, इसके अलावा ट्रेन भी घुमावदार मोड़ पर थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेल ड्राइवर की पहचान को सार्वजनिक नहीं किया गया है, रेल अधिकारी उससे पूछताछ कर रहे हैं.

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

रेलवे ने दिया हर सवाल का जवाब

सवाल-1: क्या ट्रेन की स्पीड को कम नहीं किया जा सकता था?

अधिकारी: अंधेरा था और घटनास्थल पर थोड़ा घुमाव है. इसलिए ट्रेन की लाइट सीधी जाती है और लोग ट्रैक पर थे. हमें ट्रेन में लगे स्पीड रिकॉर्डिंग मशीन से पता चला है कि  जब ड्राइवर को लोग दिखाई दिए तो उसने स्पीड कम की थी और उस वक्त ट्रेन की स्पीड करीब 92 किलोमीटर प्रति घंटा थी और ट्रेन की स्पीड 68 तक कर ली गई थी. ऐसी स्थिति में ट्रेन को पूरी तरह रुकने के लिए 700 मीटर की आवश्यकता होती है.

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

सवाल-2: क्या ट्रेन को हादसे के बाद रोका गया?

अधिकारी: ट्रेन की स्पीड कम करने के बाद स्पीड 7-10 किलोमीटर प्रति घंटे हो गई थी. लेकिन गार्ड ने कहा कि लोग पथराव कर रहे थे और सवारियों की सुरक्षा को देखते हुए ट्रेन नहीं रोकी गई और उसके बाद में अमृतसर में रोका गया. ट्रेन को घटनास्थल पर रोकना ठीक नहीं था.

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

सवाल-3: क्या रेलवे को आयोजन को लेकर कोई जानकारी नहीं थी?

25 PHOTOS: कितना भयानक था ट्रेन हादसा, चपेट में आकर 60 मरे

अधिकारी: हमें कोई जानकारी नहीं थी और ना ही किसी ने हमें बताया था कि ट्रैक पर लोग रहेंगे. ना ही हमारे पास कोई जानकारी नहीं थी कि ट्रेन को धीमा करना है. साथ ही यह आयोजन रेलवे लाइन के बाहर हो रहा था, इसलिए इस स्थिति में रेलवे से अनुमति लेने की कोई आवश्यकता नहीं है. https://www.kanvkanv.com

देश

गृहमंत्री राजनाथ सिंह का हमला, बिना दूल्हे की बारात लेकर आगे बढ़ी है कांग्रेस

Published

on

रायपुर। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह छत्तीसगढ़ में चुनावी सभाओं को संबोधित करने गुरुवार सुबह रायपुर पहुंचे। उन्होंने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, “देश में नक्सलवाद 90 जिलों से सिमट कर 11 जिलों तक आ गया है। भारत जल्द ही नक्सलवाद मुक्त होगा। उन्होंने कहा कि नक्सली नक्सलवाद छोड़कर आत्मसमर्पण करें। छत्तीसगढ़ में चौथी बार सरकार बनने पर यहां भी पूर्ण रूप से नक्सलवाद को खत्म करेंगे।

राजनाथ सिंह ने कहा कि राज्य में पिछले 15 वर्षों से भाजपा की सरकार है और यहां की जनता का भरोसा भाजपा और मुख्यमंत्री रमन सिंह पर बरकरार है। राजनाथ ने कहा कि विगत दिनों हुई जनसभाओं और प्रथम चरण के मतदान को देखकर पता चलता है कि छत्तीसगढ़ की जनता का भरोसा और विश्वास भाजपा सरकार पर बढ़ा है।

उन्होंने कहा, “छत्तीसगढ़ ही नहीं पूरे देश में कांग्रेस और अन्य सभी विपक्षी पार्टियां विश्वसनीयता के संकट से जूझ रही हैं। कांग्रेस की हालत खराब है वह अपनी राजनीतिक ताकत खो चुकी है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस मुख्यमंत्री भी प्रोजेक्ट नहीं कर सकी । कांग्रेसी बिना दूल्हे की बारात लेकर आगे बढ़ी है।

घोषणा पत्र का कोई मतलब नहीं

राजनाथ सिंह ने कहा कि  कांग्रेस ने जो घोषणा पत्र जारी किया है उसका कोई मतलब नहीं है। जो राजनीतिक पार्टी अपना विश्वास खो चुकी है और जिसकी बातों पर भरोसा न हो, ऐसे में उसके घोषणा पत्र का क्या औचित्य है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने गरीबी हटाने का नारा दिया था लेकिन गरीबी नहीं हटी बल्कि गरीबों को परेशानी हुई। बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया लेकिन इससे गरीबों का भला नहीं हुआ। जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैंकों का सामान्यीकरण किया तब लोगों को फायदा मिला। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कैमरे से डरे लालू के लाल तेजस्वी यादव, लगाए गंभीर आरोप

Published

on

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास की दीवार के ऊपर एक सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है जो मुख्यमंत्री आवास की सुरक्षा के लिए लगाया गया है। अब इसको लेकर बिहार की सियासत गरमा गई है। दरअसल आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया है कि इतनी ऊंचाई पर सीसीटीवी कैमरे लगाना केवल उनके सरकारी आवास पर नजर रखना है।

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर गंभीर आरोप लगाए हैं और कहा है कि मुख्यमंत्री आवास में लगे ऊंचे सीसीटीवी कैमरे के जरिए उनके सरकारी आवास 5, देशरत्न मार्ग पर नजर रखी जा रही है। तेजस्वी ने कहा कि सरकार उनकी जासूसी करा रही है।

विरोधियों की जासूसी और उनकी निजता का उल्लंघन करने में व्यस्त है नीतीश

तेजस्वी ने पहले ट्वीट में कहा कि मुख्यमंत्री आवास के तीन तरफ सड़क हैं जबकि पूरब दिशा की तरफ उनका सरकारी आवास है। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार ने बाकी तीन तरफ सीसीटीवी कैमरे लगाने की जरूरत नहीं समझी, मगर उनके घर के तरफ एक ऊंचा सीसीटीवी कैमरा लगा दिया है ताकि वह अपने विरोधी पर नजर रख सकें। तेजस्वी यादव ने यह सवाल भी पूछा कि जब मुख्यमंत्री आवास की पूरब दिशा में सुरक्षा के लिए स्थाई चेक पोस्ट बना हुआ है तो फिर उसी जगह पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की क्या जरूरत है?

ट्वीट में तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार की विरोधियों पर सीसीटीवी के जरिए नजर रखने की यह ओछी हरकत काम आने वाली नहीं है। तेजस्वी ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री को पहले से ही जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है और वह चाहें तो और सुरक्षा अपने लिए ले सकते हैं, मगर ऊंचाई पर सीसीटीवी कैमरे लगाना उनकी निजता का उल्लंघन है। तेजस्वी ने कहा कि पटना समेत पूरे बिहार में आपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही हैं और ऐसे में मुख्यमंत्री केवल विरोधियों की जासूसी और उनकी निजता का उल्लंघन करने में व्यस्त हैं। उन्होंने कहा कि जनता की सुरक्षा का उन्हें जरा भी ख्याल नहीं है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

खुफिया एजेंसियों का हाई अलर्ट, जैश के 7 आतंकी पंजाब में घुसे, दिल्ली में वारदात की साजिश

Published

on

नई दिल्ली। पंजाब के फिरोजपुर में 7 आतंकवादियों के घुसने की खबर सामने आई है। सातों आतंकी खूंखार आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के बताए जा रहे हैं। इन आतंकियों को फिरोजपुर में देखा गया है। माना जा रहा है कि ये आतंकी इसी इलाके में हैं और दिल्ली की तरफ बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं।

पंजाब पुलिस इंटेलिजेंस के खुफिया रिपोर्ट  के बाद भारत-पाक सीमा पर सख्ती और सतर्क रहने का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, पुलिस ने लोगों से अपील की है कि किसी भी संदिग्ध के देखे जाने पर तुरंत इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दें। ऐसे में सभी सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों को अपनी पोस्ट न छोड़ने की सलाह दी गई है। इसी क्रम में बॉर्डर पर भी सतर्कता को और चौकस कर दिया गया है।

दिल्ली पुलिस भी अलर्ट

माना जा रहा है कि ये आतंकी सड़क मार्ग से दिल्ली की तरफ आकर कोई बड़ी वारदात कर सकते हैं और दिल्ली ना पहुंचने की स्थिति में पंजाब में भी कोई बड़ा आतंकी हमला हो सकता है। वहीं, पंजाब पुलिस की तरफ से जारी हुए अलर्ट की जानकारी के बाद दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल और दिल्ली पुलिस भी अलर्ट हो गई है।

पुलिस ने आसपास के लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले

आपको बता दें कि इससे पहले बुधवार को पंजाब के पठानकोट से बड़ी खबर सामने आई थी। यहां चार संदिग्ध युवकों ने हथियारों के बल पर युवक से इनोवा कर छीन फरार हो गए थे। वारदात को अंजाम जम्मू बॉर्डर पर माधोपुर और सुजानपुर के बीच दिया गया था। इनोवा के ड्राइवर राजकुमार ने तभी घटना की जानकारी पुलिस कंट्रोल रूम को दी थी।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने आसपास के लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले। पीड़ित के शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू की। वहीं, प्रशासन ने एहतियात के तौर पर पूरे राज्य में अलर्ट जारी कर दिया था। टैक्सी के हाईजैक होने से 2016 की तरह पठानकोट एयरबेस जैसे हमले की आशंका पैदा हो गई है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
देश12 mins ago

गृहमंत्री राजनाथ सिंह का हमला, बिना दूल्हे की बारात लेकर आगे बढ़ी है कांग्रेस

राज्य42 mins ago

बलरामपुर : पैसा मांगने गए दूध वाले की दबंगों ने धारदार हथियार से की हत्या

देश47 mins ago

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कैमरे से डरे लालू के लाल तेजस्वी यादव, लगाए गंभीर आरोप

राज्य52 mins ago

बाबरी मस्जिद के पक्षकार इक़बाल ने बताया जान का खतरा, डीजीपी ने दिया भरोसा, यूपी में सब सुरक्षित

दुनिया1 hour ago

कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट से रुपया हुआ मजबूत, ऊर्जा क्षेत्र के निवेशक चिंतित

देश1 hour ago

खुफिया एजेंसियों का हाई अलर्ट, जैश के 7 आतंकी पंजाब में घुसे, दिल्ली में वारदात की साजिश

टेक्नोलॉजी2 hours ago

सैमसंग भारत में इस दिन लॉन्च करेगा 4 कैमरे वाला स्मार्टफोन, जानें कीमत और खूबियां

देश2 hours ago

भारत-सिंगापुर हैकाथन से प्रौद्योगिकी, युवा शक्ति को मिलेगा बढ़ावा : पीएम मोदी

राज्य2 hours ago

यूपी में तीन आईएएस और चार पीसीएस अधिकारियों के तबादले

देश3 hours ago

फैशन डिजाइनर और नौकर की चाकुओं से गोदकर हत्या, थाने जाकर बोले आरोपी-हमने किया मर्डर

राज्य3 hours ago

डीआईजी ओंकार सिंह ने की अपराधों पर लगाम की समीक्षा, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

बिज़नेस3 hours ago

पेट्रोल और डीजल के दाम फिर घटे, जानिए क्या है आज की कीमत

राज्य3 hours ago

घर छोड़ने के बहाने छात्रा को खेत में ले गए युवक, फिर किया सामूहिक बलात्कार

हेल्थ4 hours ago

अगर आपके शरीर में हो रहे एेसे लक्षण तो जरूर कराएं जांच, नहीं तो हो सकती है मौत

राज्य18 hours ago

बहराइच : डीएम-एसपी ने त्यौहारों को लेकर कसे मातहतों के पेंच

राज्य18 hours ago

बलरामपुर : एसडीएम का बालू खनन माफियों पर चला चाबूक, मचा हड़कम्प

देश18 hours ago

राफेल पर फैैसला सुरक्षित, पढ़ें सरकार व वायुसेेना ने क्या-क्या दी दलीलें, जिस पर चीफ जस्टिस ने कहीं ये बातें

राज्य18 hours ago

अमेठी : अनियंत्रित ट्रक ने स्कूली छात्र को रौंदा, मौके पर ही मौत

राज्य3 weeks ago

सिपाही पिता आईपीएस बेटे का बना मातहत, ठोकेगा सैल्यूट, लखनऊ में दोनों की तैनाती

देश4 weeks ago

अमृतसर ट्रेन हादसा : जिसने निभाया था रावण का किरदार, उसे भी ‘मौत’ खींच ले गयी पटरी के पास

देश3 weeks ago

विधान परिषद सभापति के बेटे की मौत पर बड़ा खुलासा, मां ने ही की थी हत्या, बताया-क्या हुआ था उस रात

मनोरंजन2 weeks ago

अभिनेत्री बोली, कमरे में ले जाकर डायरेक्टर ने कहा-100 करोड़ दूंगा, कुत्ते के साथ शारीरिक संबंंध बनाओगी

देश2 weeks ago

लखनऊ में दिनदहाड़े कैशियर की गोली मारकर हत्या, 10 लाख रुपये लूटे, पुलिस महकमे में हड़कंप

देश6 days ago

दिन में भाजपा में शामिल हुई और रात में ही मिल गया इस मुस्लिम महिला को टिकट, लेंगी बदला

मनोरंजन3 days ago

देखें फोटो : पहलवान से भिड़ना राखी सावंत को पड़ा महंगा, उठाकर एेसा पटका कि पहुंच गईं अस्पताल

देश4 weeks ago

यूपी : कलयुगी भाइयों ने अपनी ही 15 साल की सगी बहन का 4 साल तक किया रेप

मनोरंजन3 weeks ago

‘मुझे धक्का देते हुए मेरे प्राइवेट पार्ट्स छूने लगा’, शूटिंग के दौरान डांसर से छेड़छाड़, अक्षय भी थे मौजूद

हेल्थ4 weeks ago

डॉक्टरों का हैरतअंगेज कारनामा : देश में पहली बार मां के गर्भाशय से बेटी ने दिया बच्चे को जन्म

देश4 weeks ago

वीडियो : अमृतसर में बड़ा हादसा, ट्रेन से कुचलकर 60 लोगों की मौत, रेलवे और ड्राइवर ने दी सफाई

राज्य4 weeks ago

यूपी : भाजपा पार्षद ने चांटे मार-मार कर दरोगा को पीटा, महिला वकील को भी नहीं बख्शा, देखें वीडियो

राज्य2 weeks ago

भाजपा के डिप्टी सीएम व कैबिनेट मंत्री के खिलाफ गैर जमानती वारंट, रीता को गिरफ्तार करने का आदेश

राज्य3 days ago

योगी सरकार की बड़ी तैयारी, इलाहाबाद-फैजाबाद के बाद अब बदले जाएंगे इन शहरों के नाम

देश2 weeks ago

पहले बने भाई और बहन फिर प्रेमी-प्रेमिका, शारीरिक संबंध के बाद शुरू हुआ विवाहिता दीदी का ‘गंदा खेल’

राज्य4 weeks ago

यूपी पुलिस में निकली बंपर वैकेंसी : 1 नवंबर से शुरू होगी 56,808 सिपाहियों की भर्ती, जानें पूरी जानकारी

देश4 weeks ago

यूपी और उत्तराखंड के पूर्व सीएम एनडी तिवारी का निधन, जन्मदिन के दिन ही ली अंतिम सांस

देश2 weeks ago

वीडियो : सिगरेट को लेकर नशे में धुत मॉडल ने गार्ड को लात-घूसों से पीटा, पुलिस पहुंची तो कपड़े उतारे

Trending