वरुण गांधी को सरकार के खिलाफ बयानबाजी पड़ी भारी, भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर, मां मेनका को भी नहीं मिली जगह

उत्तर प्रदेश की पीलीभीत सीट से भाजपा सांसद वरुण गांधी वरुण गांधी (Varun Gandhi) को अपनी ही सरकार के खिलाफ बयानबाजी करन भारी पड़ गया। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारणी से वरुण गांधी को बाहर कर दिया गया है। 
 
varrun gandhi.jpg
वरुण गांधी (Varun Gandhi)

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नई राष्ट्रीय कार्यकारणी का गुरुवार को ऐलान कर दिया गया। राष्ट्रीय कार्यकारिणी से उत्तर प्रदेश की पीलीभीत सीट से सांसद वरुण गांधी वरुण गांधी (Varun Gandhi) को बाहर कर दिया गया है।  


मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक वरुण काफी समय से सरकार की नीतियों के खिलाफ बयानबाजी कर रहे थे। वरुण की बयानबाजी का खामियाजा उनकी मां मेनका गांधी को भी भुगतना पड़ा है और मेनका को भी भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर कर दिया गया है।

ये लोग शामिल

भाजपा ने 80 सदस्यों की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का ऐलान किया है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, केंद्रीय मंत्री अमित शाह और राजनाथ सिंह भी शामिल हैं। इनके अलावा मिथुन चक्रवर्ती को भी नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी जगह मिली है। राष्ट्रीय कार्यकारिणी से विनय कटियार को भी निकाला गया है।