Connect with us

देश

पति से अलग होकर मायके में बने महिला के अवैध संबंध, जन्मी मासूम बच्ची तो नाली में फेंका

Published

on

चंडीगढ़। पंजाब के मोगा के थाना बाघापुराना इलाके के माहला कलां गांव से एक हैरान कर देने वाला शर्मनाक मामला सामने आया है। यहां की रहने वाली 28 वर्षीय अमनदीप कौर का विवाह गिल ग्राम निवासी राजपाल संग हुआ था। लेकिन शादी के कुछ दिन बाद से पति-पत्नी में झगड़ा होने लगा। इस दौरान दोनों में ज्यादा रिश्ते खराब हो गए। इसी के चलते अमनदीप कौर ने अपने पति को छोड़कर मायके में रहने लगी। मीडिया रिपोट्स के मुताबिक महिला अपने घर में करीब दो साल से रह रही थी। पंचायती समझौते के तहत महिला व उसका पति अलग अलग रह रहे है। इसी दौरान गांव के एक शख्स जतिंदर सिंह से उस विवाहिता के अवैध संबंध बन गए। जिसके चलते महिला गर्भवती हो गई। यह बात उसने जतिंदर को बताई।

दोनों ने मिलकर तय किया कि अगर बेटा हुआ तो रख लेंगे। मगर बेटी हुई तो उसे कहीं फेंक आएंगे। 9 माह बाद महिला ने एक नवंबर को एक मासूम बच्ची को जन्म दिया। बच्ची को देख दोनों ने उसे न रखने के फैसला कर लिया और मासूम को एक नाली में फेंक आए। वहां बच्ची की मौत हो गई। किसी की सूचना पर पुलिस ने बच्ची का शव मौके से बरामद कर लिया।

पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की। इस दौरान पुलिस आरोपी महिला और उसके प्रेमी तक जा पहुंची। थाना बाघापुराना के तहत नत्थूवाला गरबी चौकी इंचार्ज कुलदीप कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि बच्ची का शव मिलने पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। लेकिन पुलिस ने इस मामले जांच करते हुए आरोपी महिला और उसके प्रेमी तक जा पहुंची और दोनों गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को नामजद कर दिया गया है। पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। https://kanvkanv.com

देश

युवती ने पुलिसकर्मी सहित तीन को हनीट्रैप में फंसाया, फिर रखी ये डिमांड, हुई गिरफ्तार

Published

on

गुरुग्राम। स्पा सेंटर में काम करते-करते पुलिसकर्मी से दोस्ती और फिर उस दोस्ती का फायदा उठाकर लखपति बनने के चक्कर में हनीट्रैप करने वाली युवती को पुलिस ने धर दबोचा। वह रेवाड़ी की रहने वाली है इस समय गुरुग्राम में रहती है। एसीपी सहायक पुलिस आयुक्त (अपराध) प्रीतपाल ने बुधवार को बताया कि पांच दिन पूर्व उसने एक पुलिसकर्मी समेत तीन के खिलाफ रेप, छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया था। इसके बाद समझौते के लिए उसने 30 लाख की डिमांग रखी। 

फोन की रिकॉर्डिंग सुनाई

बता दें कि 23 मई 2020 को युवती गुरुग्राम पुलिस में अपने दोस्त ईशान व उसके दोस्तों के साथ घूमने निकली थी। उसी दिन उसने पुलिस में तीनों के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। जिसमें एक युवक पर रेप का केस दर्ज कराया था, उसे गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया। उस मामले में आरोपी मनोज उर्फ सरपंच निवासी गांव रिठौज ने थाना पालम विहार में एक फोन की रिकॉर्डिंग सुनाई।

30 लाख रुपयों की मांग

इसमें शिकायतकर्ता युवती प्रीति के दोस्त ने इस मुकदमे को रद्द कराने की ऐवज में उससे 30 लाख रुपयों की मांग की है। इसी मामले में युवती प्रीति ने फोन पर पुलिस चौकी में तैनात ईएचसी योगेश से भी फोन करके कहा कि यदि ईशान उसे 30 लाख रुपये नहीं देता है तो वह इस मुकदमे को कैंसिल करवा दे। प्रीति के साथ हुई बातचीत में ईएचसी योगेश ने रिकॉर्डिंग कर ली और थाना में पेश की। अब पुलिस ने इस रिकॉर्डिंग के आधार पर कार्रवाई की है। पुलिस ने शिकायतकर्ता युवती प्रीति को गुरुग्राम के हंस एंक्लेव से गिरफ्तार किया है।  
Continue Reading

देश

32 साल पहले रहा आज का दिन रहा सबसे गर्म, दो दिन बाद बारिश के आसार

Published

on

45 डिग्री तापमान में घरों पर दुबकने को मजबूर हुए लोग

लॉकडाउन में छूट के बावजूद सड़कों से लेकर पसरा रहा सन्नाटा

वातावरण में नमी की हुई कमी, लू के थपेड़ों से झुलस रहे लोग

कानपुर। बंगाल में बने चक्रवात का जहां असर बीते दिनों देखा गया और आंधी बारिश होने से सामान्य से तापमान कम हो गया था तो वहीं इन दिनों लगातार तापमान बढ़ रहा है। हालांकि आज का दिन 32 साल पहले सबसे अधिक गर्म रहा और 47 डिग्री तापमान दर्ज किया गया था। मौसम विभाग के मुताबिक आज सामान्य से साढ़े डिग्री सेल्सियस तापमान अधिक रहा और आगामी दो दिनों बाद स्थानीय स्तर पर बारिश के आसार बने हुए हैं।
मई के माह में कई साल बाद देखा जा रहा है कि अचानक तापमान बढ़ रहा है, क्योंकि अप्रैल और मई माह में आंधी के साथ बारिश भी बीच-बीच होती रही। उन दिनों किसान आसमान साफ होने के लिए परेशान था और अब आसमान साफ हुआ तो सूर्यदेव सुबह से ही आग उगलने लगते हैं। सुबह से ही गर्मी की आहट लोगों में दहशत पैदा करने लगी थी। लोग अपने जरुरी कार्यों को निपटाने के लिए सुबह जल्दी ही निकल पड़े थे। सभी दोपहर होने से पहले ही अपने घरों में दुबक जाना चाहते थे। यहां सूरज सुबह से ही आग बरसाना शुरू कर देता है इस कारण सवेरे चलने वाली हवा भी बेहद गर्म होती है। दोपहर तक तो झुलसा देने वाली लू का प्रवाह शुरु हो जाता है। इसने जनजीवन अस्त व्यस्त हो जाता है। कोरोना खतरे के चलते पूरे देश में चल रहे लॉकडाउन 4 के बीच पहले ही लोग कम ही बाहर निकल रहे हैं। लेकिन नौतपा शुरू होने के बाद तो आसमान से आफत बरस रही है। जिसकी तपिश देर रात तक लोगों को हलकान कर रही है। दिन में तापमान इतना अधिक हो जाता है कि सूरज ढलने के बाद यहां तक कि देर रात तक गर्म हवाओं के थपेड़े लोगों को चैन नहीं लेने देते हैं।

मई के अंत में बारिश की है संभावना 

चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. नौशाद खान ने बुधवार को बताया कि उत्तरी पश्चिमी हवाओं के चलने से लगातार तापमान बढ़ रहा है। हालांकि आज हवाओं की दिशाएं उत्तरी पूर्वी रही तो कुछ राहत रही। तापमान बढ़ने से वातावरण में नमी की कमी आ रही है और नमी की कमी से लू के थपेड़े तेज हो रहे हैं। बताया कि अधिकतम तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा और 45 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसी प्रकार न्यूनतम तापमान 30.6 डिग्री सेल्सियस रहा और सुबह की आर्द्रता 34 फीसदी व दोपहर की आर्द्रता 15 फीसदी दर्ज की गयी। हवा की रफ्तार 8.7 किलोमीटर प्रति घंटा रही। इस सप्ताह मध्य उत्तर प्रदेश के व्लाक एवं जिला स्तर पर आसमान में हल्के से मध्यम बादल छाए रहने के कारण 29 मई से 1 जून के मध्य तेज हवाआें के साथ स्थानीय स्तर पर हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

डाक्टरों का कहना

बाल रोग विशेषज्ञ डा. ने बताया कि इन दिनों भीषण गर्मी का प्रकोप है। ऐसे में सभी को डिहाईड्रेशन, हीट स्ट्रोक, डायरिया जैसी दिक्कतों की आशंका बनी रहती है और बच्चों को यह खतरा सबसे ज्यादा होता है। इसलिए इनके साथ विशेष सावधानी रखना जरूरी है। बेहद जरूरी होने पर ही बच्चों को घर से बाहर निकालें और जब बाहर निकालें तो पूरी तरह ढक कर रखें विशेष रूप से बच्चों के सिर को ढक कर रखें। जिन बच्चों को बुखार में दौरे आते हैं उनमें तेज गर्मी में इसकी आशंका और बढ़ जाती है। इस झुलसा देने वाले गर्मी से सभी आयुवर्ग के लोगों के लिए परेशानियां हैं लेकिन बच्चों और बूढों साथ ही सांस के मरीजों को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। अत्यधिक तापमान के कारण ज्यादा सावधानी बरतने की दरकार है।
वहीं फिजीशियन ने कहा कि ऐसे मौसम में सबसे जरूरी है कि घरों से बाहर नहीं निकला जाए। बेहद जरूरी होने पर ही ऐसा करें और अगर मजबूरी में बाहर निकलना है तो खाली  पेट न निकलें। हमेशा पेट भरा हो और पानी भी अच्छी मात्रा में पिया हो। बाहर निकलें तो पानी साथ लेकर निकलें । यह इसलिए जरूरी है कि लू नहीं लगे और हीट स्ट्रोक के हम शिकार न हों। बाहर के खाने से पूरी तरह से परहेज करें और घर का भी ताजा खाना ही खायें। ताजे फलों का सेवन करें और पानी भरपूर मात्रा में पियें। बताया कि इस समय खानपान इस तरह का हो कि शरीर में पानी की कमी नहीं होने पाये। मौसमी फलों और सब्जियों जैसे खीरा, ककड़ी, खरबूज और तरबूज की सेवन पर्याप्त मात्रा में करें। हमेशा ताजा खाना ही खायें ,बासी खाने से पूरी तरह परहेज करें। ऐसे मौसम में बच्चों का विशेष ख्याल रखने की जरूरत है।

सुबह से ही लोगों को सता रही गर्मी

तापमान बढ़ने का असर इस कदर हो रहा है कि इन दिनों सूर्यदेव आसमान से आग बरसा रहे हैं। सुबह से शुरु हुई गर्मी की आहट दोपहर होते होते भीषण तपिश के साथ लू के थपेड़ों में परिवर्तित हो जाती है। दिन में पारा 45 के पार जाने लगा है। इस कारण लोग अपने घरों में ही दुबके रहने को मजबूर हो रहे हैं। इसके चलते लोगों में पानी की कमी से होने वाली बीमारियां भी पांव पसार रही हैं। चिकित्सक लोगों को घरों से न निकलने की सलाह दे रहे हैं। और यदि निकलना जरुरी ही हो तो पानी की कमी न होने की सलाह देते नजर आ रहे हैं।
Continue Reading

देश

कमलनाथ ने किया फिर सत्ता में लौटने का दावा, कहा-अभी तो यह इंटरवल है

Published

on

भोपाल/छिंदवाड़ा। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने बुधवार को अपने छिंदवाड़ा प्रवास के दौरान मीडिया से बात करते हुए एक बार फिर सत्ता में वापस लौटने का दावा किया है। उन्होंने कहा है कि सब जानते हैं कि भाजपा नेताओं ने विधायकों की खरीद-फरोख्त कर हमारी सरकार गिराई। निम्नस्तरीय राजनीति पर मैं कोई जवाब देना नहीं चाहता हूँ और न ही मैं इस तरह की राजनीति में विश्वास करता हूं, लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है। अभी तो इंटरवल हुआ है। हमारी सरकार फिर से वापस आएगी।

विशेष विमान से तीन दिवसीय दौरे पर छिंदवाड़ा पहुंचे थे

दरअसल, कमलनाथ अपने सांसद पुत्र के साथ मंगलवार शाम को विशेष विमान से तीन दिवसीय दौरे पर छिंदवाड़ा पहुंचे थे। यहां उन्होंने बुधवार को मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि जो कांग्रेस छोडक़र भाजपा में गए हैं, उसके पीछे के कारणों की सच्चाई प्रदेश की जनता जानती है। हमारे प्रदेश की जनता मूल्यों, सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं करती। वह भोली-भाली और सरल स्वभाव की है। जो लोग कांग्रेस छोडक़र गए हैं, वे खुद भी जानते हैं, लेकिन वे अब उस उच्चाई को उजागर नहीं करेंगे, वे तो उसके लिए झूठे आरोप और बहानेबाजी ही करेंगे।

उपचुनाव की तैयारी पूरी

उन्होंने कहा है कि राज्य में 24 सीटों पर उपचुनावों होंगे और हमने पूरी तैयारी कर ली है। हम 20 से 22 सीट हर हाल में जीतेंगे और दोबारा प्रदेश में हमारी सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि छिंदवाड़ा में विकास के जो भी काम हुए हैं, वह सब निर्धारित प्रक्रिया के तहत टेंडर से हुए हैं। सरकार जो चाहे जांच करा ले, छिंदवाड़ा के विकास मॉडल को यह लोग चोट पहुंचाना चाहते हैं, यह इनका लक्ष्य है, लेकिन इससे कोई फर्क पडऩे वाला नहीं है।

उन्होंने कहा कि छिंदवाड़ा के आदिवासी क्षेत्र के विकास के लिए व प्रदेश के लिए मैंने कई योजनाएं नई सोच के साथ प्रारंभ की। आज मैं छिंदवाड़ा से यह संदेश देना चाहता हूं कि मैं और पूरी कांग्रेस पार्टी आम जनता, किसानों, बेरोजगार नौजवानों, मजदूरों के साथ खड़ी है। हमें चिंता कृषि क्षेत्र की है, हमें चिंता आने वाली पीढिय़ों की है। आने वाली पीढ़ी ही प्रदेश का नव निर्माण करेगी।

मंत्रिमंडल के गठन पर बोले-अब देखो, आखिर कब बनता है?

उन्होंने मंत्रिमंडल के गठन के सवाल पर कहा कि एक माह में तो बड़ी मुश्किल से पांच लोगों का मंत्रिमंडल बनाया, पिछले 15 दिन से रोज सुन रहे हैं कि आज बनेगा, कल बनेगा। अब देखो, आखिर कब बनता है? उन्होंने इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जो किया, उसका जवाब प्रदेश की जनता देगी। मैं उस पर कुछ नहीं कहना चाहता।

उन्होंने कहा कि हमने प्रदेश की जनता को इंदिरा गृह ज्योति योजना के तहत 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली दी थी, जिसका फायदा एक करोड़ से अधिक लोगों को हुआ। हमने किसानों का कर्जा माफ किया, लेकिन अब यह कहते हैं कि किसी का भी कर्जा माफ नहीं हुआ। इनकी झूठ की राजनीति की सच्चाई प्रदेश का किसान खुद जानता है, वह खुद इन्हें जवाब देगा।

Continue Reading

Trending