Connect with us

देश

सम-विषम योजना में निजी सीएनजी कारों को नहीं मिलेगी छूट, महिलाओं के लिए केजरीवाल का बड़ा फैसला

Published

on

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को घोषणा की कि सम-विषम योजना के दौरान इस बार निजी सीएनजी चालित वाहनों को छूट का लाभ नहीं मिलेगा। हालांकि महिलाओं को गत वर्षों की तरह इस बार भी इससे बाहर रखा गया है।

सम-विषम योजना में वाहनों को उनके सम और विषम नंबर के आधार पर वैकल्पिक दिनों में संचालित करने की अनुमति होती है। यह तीसरा मौका होगा जब दिल्ली में यह 4 से 15 नवम्बर के बीच लागू होगा। सम-विषम सप्ताह के अंतिम दिन प्रभावी नहीं होता है।

इन पर लागू नहीं होगा नियम

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सम-विषम योजना के दौरान इस बार निजी स्वामित्व वाली सीएनजी कारों को सम-विषम के दौरान छूट नहीं दी जाएगी, जैसा कि पहले उन्हें दी गई थी।  हालांकि सीएनजी चालित बस, टैक्सी, ऑटो आदि सार्वजनिक यात्री वाहनों पर यह नियम लागू नहीं होगा। निजी सीएनजी कारों को छूट नहीं देने से लाखों दिल्ली वालों को समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इस पर केजरीवाल ने कहा कि पिछले दो सम-विषम योजना के दौरान यह अनुभव हुआ कि सीएनजी स्टीकर का काफी दुरुपयोग हुआ था।

महिला चालकों को छूट

उन्होंने कहा कि सुरक्षा कारणों से महिला चालकों को पहले की तरह ही सशर्त छूट दी जाएगी जो सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक लागू रहेगी। इसमें ऐसी कार, जिसे अकेली महिला चला रही हो या फिर सभी सवारी महिलाएं हो या महिला के साथ 12 या उससे कम आयु का लड़का कार में होगा तो भी उसे छूट का लाभ मिलेगा।

केजरीवाल ने कहा कि दोपहिया वाहनों के संबंध में अभी अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। दोपहिया वाहनों को योजना से छूट दी जानी चाहिए या नहीं, इस पर निर्णय लिया जाना बाकी है और सरकार इस पर विशेषज्ञों से सलाह ले रही है।

मुख्यमंत्री ने सर्दियों के दौरान प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए सम-विषम के अलावा दिल्ली की जनता से दीपावली पर पटाखे नहीं जलाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि इस बार दिल्ली सरकार दीपावली पर एक लेजर शो आयोजित करेगी। http://kanvkanv.com

Trending