वर्ल्ड क्लास स्टेशन रानी कमलापति का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन, जानिए इस रेलवे स्टेशन की खूबियां

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वर्ल्ड क्लास स्टेशन रानी कमलापति (हबीबगंज) का लोकार्पण किया। इस रेलवे स्टेशन को जर्मनी के हैडलबर्ग स्टेशन की तर्ज पर बनाया गया है। 
 
World class station Rani Kamalapati inaugurated by PM Modi.webp
रानी कमलापति रेलवे स्टेशन- पीएम मोदी

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वर्ल्ड क्लास स्टेशन रानी कमलापति (हबीबगंज) का उद्घाटन किया। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने पीएम को इस स्टेशन की खासियतों के बारे में बताया। बता दें कि इस रेलवे स्टेशन को जर्मनी के हैडलबर्ग स्टेशन की तर्ज पर बनाया गया है। 

जिस 'रानी कमला​पति रेलवे स्टेशन' का लोकार्पण करेंगे पीएम मोदी, वहां की  सुविधाएं देख एयरपोर्ट भी शर्मा जाए! देखिए तस्वीरें | Rani kamlapati railway  station ...

पीएम ने कहा- आज का दिन देश के लिए गौरवपूर्ण इतिहास और वैभवशाली भविष्य के संगम का दिन है। भारतीय रेल का भविष्य कितना आधुनिक है। कितना उज्जवल है। इसका प्रतिबिंब भोपाल के इस भव्य रेलवे स्टेशन में जो भी आएगा, उसे दिखाई देगा। भोपाल के इस ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन का सिर्फ कायाकल्प नहीं हुआ है, बल्कि गिन्नौरगढ़ की रानी का नाम जुड़ने से इसका महत्व और बढ़ गया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारतीय रेल का भविष्य कितना आधुनिक है, कितना उज्जवल है इसका प्रतिबिंब भोपाल के इस भव्य रेलवे स्टेशन में जो भी आएगा उसे दिखाई देगा।  उन्होंने कहा, "स्टेशन पर भीड़-भाड़, गंदगी. ट्रेन के इंतज़ार में घंटों की टेंशन. स्टेशन पर बैठने-खाने-पीने की असुविधा. ट्रेन के भीतर गंदगी. सुरक्षा की चिंता. दुर्घटना का डर. ये सबकुछ एक साथ दिमाग में चलता रहता था. भारत कैसे बदल रहा है, सपने कैसे सच हो सकते हैं, ये देखना हो तो आज इसका एक उत्तम उदाहरण भारतीय रेलवे भी बन रही है। "

लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन को देश का सर्वश्रेष्ठ बताते हुए कहा कि स्टेशनों में स्टेशन, रानी कमलापति स्टेशन। उन्होंने कहा कि भोपाल मेट्रो को रानी कमलापति स्टेशन से इंटीग्रेट किया जाएगा।

इस स्टेशन की खासियत यह है कि यहां एंटर होते ही एयरपोर्ट जैसा फील आएगा। यहां पर एक साथ करीब 2000 लोग एक साथ बैठ सकेंगे। मॉडर्न टॉयलेट, क्वालिटी फूड, म्यूजियम और गेमिंग जोन की भी यहां सुविधा है। स्टेशन पर जल्द ही स्पा भी खुलेगा।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी आज पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन  राष्ट्र को समर्पित करेंगे - RailPost.in

रानी कमलापति रेलवे स्टेशन की खासियत

1- इस रेलवे स्टेशन भीड़ को नियंत्रित करने के लिए एंट्री और एग्जिट गेट अलग-अलग हैं। प्लेटफार्म तक पहुंचने के लिए स्टेशन पर एस्केलेटर और लिफ्ट लगाए गए हैं। 

2- ओपन कानकोर्स में 700 से 1,100 यात्रियों के बैठने की व्यवस्था की गई है। ट्रेनों की आवाजाही की जानकारी के लिए पूरे स्टेशन पर अलग-अलग भाषाओं के डिस्प्ले बोर्ड लगाए गए हैं।

3- स्टेशन में फूड कोर्ट, रेस्तरां, वातानुकूलित प्रतीक्षालय, छात्रावास, वीआईपी लाउंज भी बनाए जाएंगे। चौबीसों घंटे निगरानी रखने के लिए स्टेशन पर लगभग 160 सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं।

4- देश का ये पहला वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन तो है ही इसी के साथ ये पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप यानि PPP मॉडल के तहत बनाया गया देश का पहला स्टेशन भी है। बंसल ग्रुप ने इसे बनाया है

5- इस स्टेशन का जो मूल कॉन्सेप्ट है उसे जर्मनी के हैडलबर्ग रेलवे स्‍टेशन से लिया गया है। इसमें आने जाने वाले यात्रियों का एक दूसरे से आमना सामना नहीं होगा। यानि ट्रेन में उतरने और चढ़ने वाले यात्रियों के रास्ते अलग अलग हैं।

6- रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पर रोजाना 40 हजार यात्रियों का आना-जाना होगा। यहां रोजाना करीब 40 जोड़ी ट्रेनों को स्टॉपेज दिया जाएगा। कोविड से पहले तक यहां हर रोज 54 जोड़ी ट्रेनों का संचालन होता था। करीब 25 हजार लोगों की आवाजाही हो रही थी। फिलहाल अभी 22 जोड़ी ट्रेनों का संचालन हो रहा है।