Home देश 100 से ज्यादा मर्डर करने वाला डॉक्टर गिरफ्तार, हत्या कर मगरमच्छ को...

100 से ज्यादा मर्डर करने वाला डॉक्टर गिरफ्तार, हत्या कर मगरमच्छ को खिलाता था लाशें

नयी दिल्ली। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने बुधवार को एक ऐसे डॉक्टर को गिरफ्तार किया जिस पर दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में 50 से ज्यादा हत्याओं के केस दर्ज है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने 100 से ज्यादा ट्रक और टैक्सी ड्राइवरों को अगवा कर उनकी हत्या की बात कबूली है। आरोपी ने यह भी बताया कि वह हत्या कर शवों को नदी में फेंक देता था जिसे मगरमच्छ खा जाते थे।

आरोपी का नाम देवेंद्र शर्मा है। यह दिल्ली के बापरोला इलाके में रह रहा था। जबकि मूल रूप से 62 साल का देवेंद्र यूपी के अलीगढ़ का रहने वाला है। इसने बिहार के सीवान से 1984 में बीएएमएस की डिग्री ली और जयपुर में जनता हॉस्पिटल के नाम से एक क्लीनिक खोला। 1982 में शादी हुई। वर्ष 1994 में थापर चैंबर में भारत फ्यूल कंपनी के कार्यालय ने गैस डीलरशिप देने की योजना चलाई। उसने गैस डीलरशिप के लिए 11 लाख रुपये का निवेश किया था। कंपनी के अचानक गायब होने से उसका पैस डूब गया।

उसके बाद देवेंद्र ने घाटा पूरा करने के लिए 1995 में अलीगढ़ में एक फ़र्ज़ी गैस एजेंसी खोल ली। शुरुआत में वो लखनऊ से कुछ सिलिंडर और गैस चूल्हे लाया लेकिन बाद में उसके लिए ये मुश्किल हो गया। फिर वो उदयवीर, वेदवीर और राज के संपर्क में आया। सभी मिलकर गैस सिलिंडर से भरे ट्रकों के ड्राइवर की हत्या करने के बाद ट्रकों के सिलिंडर अपनी गैस एजेंसी में उतारकर ट्रकों को मेरठ में कटवा देते थे।

उसके बाद फर्जी गैस एजेंसी चलाने के आरोप में देवेंद्र को गिरफ्तार किया गया, लेकिन ज़मानत पर आने के बाद उसने अमरोहा में फिर से फ़र्ज़ी गैस एजेंसी खोली और उसे फिर से गिरफ्तार किया गया। जब देवेंद्र फिर से जेल से बाहर आया तो वो अवैध किडनी ट्रांसप्लांट करने वाले गिरोह में शामिल हो गया और उसने जयपुर ,बल्लभगढ़ और गुरुग्राम में 125 लोगों की किडनी ट्रांसप्लांट करवाईं।

किडनी प्रत्‍यारोपण रैकेट में हुआ शामिल, गैस ट्रकों को लूटकर मेरठ में बेचता था उसे

एक किडनी ट्रांसप्लांट में उसे 5 से 7 लाख रुपये मिलते थे, लेकिन 2004 में जब गुरुग्राम के अनमोल नर्सिंग होम पर छापा पड़ा तो किडनी ट्रांसप्लांट माफिया डॉक्टर अमित के साथ वो पकड़ा गया, आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसने 100 से ज्यादा टैक्सी ड्राइवरों की हत्या की है। जयपुर से अलीगढ़ जा रहे टैक्सी ड्राइवरों की हत्या करने के बाद वो उनके शव कासगंज की हज़ारा नदी में फेंक देता था, जहां मगरमच्छ बहुत ज्यादा हैं और लोगों के शव मगरमच्छ खा लेते थे। उसके टैक्सी या तो वो बेच देता था या फिर मेरठ में कटवा देता था।

पैरोल पर आया था बाहर

एक टैक्सी के उसे 20 से 25 हज़ार रुपये मिल जाते थे, उस हत्या के 50 से ज्यादा केस दर्ज हैं, जिसमें 7 केसों में उसे सजा हो चुकी है। हत्या के ही एक केस में जयपुर जेल में सज़ा काट रहा था। इसी साल जनवरी के महीने में उसे 20 दिन की परोल मिली और फिर वो भागकर दिल्ली आ गया, यहां बापरोला इलाके में रहकर अब वो प्रोपर्टी के धंधे में हाथ आजमा रहा था लेकिन पकड़ा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

रिया चक्रवर्ती को लेकर मुंबई पुलिस कमिश्नर दिया बड़ा बयान

मुंबई । बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुंबई पुलिस को रिया चक्रवर्ती के अकाउंट में पैसे ट्रांसफर किए जाने...

रक्षाबंधन के दिन युवक ने फांसी लगाकर हमेशा के लिए छिन लीं बहनों की खुशियां

वाराणसी । रक्षाबंधन पर्व पर सोमवार को एक युवक ने फांसी लगाकर अपनी बहनों और परिजनों की खुशियों को हमेशा के लिए छिन लिया।...

श्रीराम मंदिर भूमि पूजन : इकबाल अंसारी को दिया गया आमंत्रण

अयोध्या । श्रीराम जन्मभूमि के भूमि पूजन में पंचांग पूजा और गणेश पूजा की रस्में आज से शुरू हो गईं है, इसके साथ ही...

माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक ख़रीदने को उत्सुक, बातचीत जारी

लॉस एंजेल्स । माइक्रोसॉफ्ट ने चीनी बाइटडाँस की टिकटाक ख़रीदने के लिए अपनी कोशिशें बंद नहीं की है। माइक्रोसॉफ्ट ने रविवार को पहली बार...