किसान आंदोलन से सड़क जाम पर NHRC सख्त, यूपी ,हरियाणा और राजस्थान सरकार को भेज नोटिस

किसान आंदोलन से सड़क जाम के कारण लोगों को हो रही परेशानियों को लेकर अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) भी सख्त हो गया है।
 
kisaan aandolan
किसान आंदोलन

नई दिल्ली। किसान आंदोलन से सड़क जाम के कारण लोगों को हो रही परेशानियों को लेकर अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) भी सख्त हो गया है। इस मामले पर एनएचआरसी ने नाराजगी जताते हुए दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और अन्य ऑथोरिटीज को नोटिस जारी कर किसान आंदोलन पर रिपोर्ट मांगी है। एनएचआरसी ने कहा कि उसे किसान आंदोलन को लेकर कई शिकायतें मिली हैं।

मानवाधिकार आयोग को मिली इन शिकायतों के अनुसार, किसान आंदलोन से 9000 से अधिक छोटी-बड़ी और मंझोली कंपनियों को नुकसान पहुंचा है। कथित तौर पर इन औद्योगिक इकाइयों के अलावा यातायात पर भी प्रभाव पड़ा है, जिससे यात्रियों, मरीजों, शारीरिक रूप से विकलांग लोगों और वरिष्ठ नागरिकों को सड़कों पर होने वाली भारी भीड़ के कारण नुकसान उठाना पड़ता है।

आयोग ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान के मुख्य सचिवों को नोटिस जारी किए हैं। साथ ही उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान के पुलिस महानिदेशकों और दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस जारी कर उनसे संबंधित कार्रवाई की रिपोर्ट देने को कहा है।