Connect with us

देश

अयोध्या : रामलला के दरबार में आने वाले पहले प्रधानमंत्री होंगे नरेंद्र माेदी

Published

on

अयाेध्या। वैसे तो देश की आजादी के बाद से कई प्रधानमंत्रियाें का अयाेध्या आगमन हुआ है लेकिन किसी ने भी रामलला के दरबार जाकर मत्था नहीं टेका। चाहे वह इंदिरा गांधी-राजीव गांधी रहे हाें या फिर अटल बिहारी वाजपेयी। सभी ने रामलला से दूरियां बनाए रखी। प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी भी कई बार चुनावी जनसभा करने के लिए अयोध्या आए हैं लेकिन रामलला के दर्शन नहीं किए हैं। आजाद भारत के इतिहास में यह पहला माैका है जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री के रूप में रामलला के दरबार में मत्था टेकने आ रहे हैं। वह भव्य राममंदिर निर्माण की आधारशिला भी रखेंगे।

1991 में रामभक्त के रूप में पहली बार अयाेध्या आए थे मोदी

इस सम्बंध में अयाेध्या संत समिति अध्यक्ष व सनकादिक आश्रम के महंत कन्हैयादास रामायणी कहते हैं कि पंडित जवाहरलाल नेहरु से लेकर इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, अटल बिहारी वाजपेयी जैसे कई प्रधानमंत्री अयाेध्या-फैजाबाद आए लेकिन किसी ने रामलला के दरबार में हाजिरी नहीं लगाई। प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने एक बार लाेकसभा चुनाव प्रचार के दाैरान हनुमानगढ़ी जाकर दर्शन-पूजन किया था लेकिन वहीं बगल में ही स्थित रामलला के दरबार मत्था टेकने नहीं गई। प्रियाप्रीतम केलिकुंज वासुदेवघाट के महंत रामगाेविंद शरण ने कहा कि यह हम लाेगाें के लिए बड़ी खुशी की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राममंदिर की आधारशिला रखने आ रहे हैं। यह ऐतिहासिक क्षण इतिहास के पन्नाें में दर्ज हाे जायेगा। इससे पहले माेदी सन 1991 में एक रामभक्त के रूप में पहली बार अयाेध्या आए थे। उन्हाेंने कहा था कि जब राम मंदिर बनना शुरू हाे जायेगा, तब मैं फिर अयाेध्या आऊंगा।

अयाेध्या काे त्रेतायुग की अयाेध्या बनाया जा रहा

गुरुद्वारा नजरबाग के सेवादार नवनीत सिंह ने कहा कि स्वतंत्र भारत के इतिहास में यह पहली बार है कि जब रामजन्मभूमि पर काेई प्रधानमंत्री आ रहा है। चतुर्भुजी मंदिर विद्याकुंड के महामण्डलेश्वर महंत सत्यनारायण दास ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन काे लेकर अयाेध्या काे सजाया-संवारा जा रहा है। इससे हम लाेग बहुत ही खुश और उल्लासित हैं। भूमिपूजन कार्यक्रम काे हम सब महापर्व के रूप में मना रहे हैं क्याेंकि हमारा सपना भव्य मंदिर निर्माण के साथ पूरा हाेने जा रहा है। लालसाहेब दरबार के अधिकारी रामनरेश शरण ने कहा कि उस पल का हम लाेगाें काे बेसब्री से इंतजार है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राममंदिर निर्माण का भूमि पूजन करेंगे। माेदी के आगमन से पहले अयाेध्या काे त्रेतायुग की अयाेध्या बनाया जा रहा है। इस उत्सव पर हम लाेग दीप जलाकर खुशियां मनाएंगे।

Trending