Connect with us

देश

काशी को 557 करोड़ की सौगात, मोदी बोले-आप मेरे हाईकमान, हिसाब देना मेरी ड्यूटी, गिनाए 10 बड़े बदलाव

Published

on

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी से सांसद एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बीएचयू के एम्फीथिएटर मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि काशी में बदलाव लाने के जो भी प्रयास हो रहे हैं, वो उसकी परंपराओं को संजोते हुए व पौराणिकता को बचाते हुए किए जा रहे हैं।

पीएम ने वाराणसी दौरे के दूसरे दिन कई परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। पीएम मोदी ने काशी को 500 करोड़ रुपये से अधिक की सौगात देते हुए कहा कि वह भोले बाबा की नगरी बनारस को एक नए मुकाम पर पहुंचाना चाहते हैं। प्रधानमंत्री ने अपार जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा, “ मैं आपका सेवक हूं। वाराणसी के सांसद होने के नाते आपको चार वर्षों के विकास कार्यों की ये छोटी सी झलक दिखा रहा हूं। आप मेरे मालिक एवं हाईकमान हैं। आपकाे अपने सेवक से हिसाब मांगने का स्वभाविक अधिकार है और मेरा दायित्व है कि मैं पाई-पाई का हिसाब दूं।

आशीर्वाद मुझे हर पल प्रेरित करता है

पीएम मोदी ने कहा, ‘मेरे लिए ये सौभाग्य की बात है देश के लिए समर्पित एक और वर्ष की शुरुआत मैं बाबा विश्वनाथ और मां गंगा के शुभ आशीष से कर रहा हूं. आप सभी का ये स्नेह, ये आशीर्वाद मुझे हर पल प्रेरित करता है. आज यहां 550 करोड़ रुपये से ज्यादा के प्रोजेक्ट्स का या तो लोकार्पण हुआ है या फिर शिलान्यास हुआ है. विकास के ये कार्य बनारस शहर ही नहीं बल्कि आसपास के गांवों से भी जुड़े हैं.’

जब हमारी काशी को भोले के भरोसे, अपने हाल पर छोड़ दिया गया था

पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘हम काशी में जो भी बदलाव लाने का प्रयास कर रहे हैं वो उसकी परंपराओं को संजोते हुए, उसकी पौराणिकता को बचाते हुए किया जा रहा है. अनंत काल से जो इस शहर की पहचान रही है उसे संरक्षित करते हुए, इस शहर में आधुनिक व्यवस्थाओं का समावेश किया जा रहा है. चार वर्ष पहले जब काशीवासी बदलाव के इस संकल्प को लेकर निकले थे, तब और आज में अंतर स्पष्ट दिखता है. वरना आप तो उस व्यवस्था के गवाह रहे हैं जब हमारी काशी को भोले के भरोसे, अपने हाल पर छोड़ दिया गया था.’

अब बनारस एलईडी बल्ब की रोशनी से जगमगाता है

पीएम मोदी ने कहा, ‘पहले भी जब मैं यहां आता था तो शहर भर में बिजली के लटकते तारों को देखकर हमेशा सोचता था कि आखिर कब बनारस को इससे मुक्ति मिलेगी? आज शहर के एक बड़े हिस्से से लटकते हुए तार गायब हो गए हैं. बाकी जगहों पर भी इन तारों को जमीन के भीतर बिछाने का काम तेजी से जारी है. अब बनारस एलईडी बल्ब की रोशनी से जगमगाता है. मैंने ठाना है कि काशी का चौतरफा विकास करना है. हम बनारस को पूर्वी भारत के गेटवे के तौर पर एक नई पहचान दिलाएंगे और हम इसके लिए प्रतिबद्ध हैं.’

BHU ने एम्स के साथ एक वर्ल्ड क्लास हेल्थ इंस्टीट्यूट बनाने के लिए समझौता किया है.’

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में आगे कहा, ‘आज काशी में एक तरफ वैदिक विज्ञान केंद्र का शिलान्यास हुआ है तो दूसरी तरफ अटल ऊष्मायन केंद्र की भी शुरुआत हुई है. हम सभी को जितना अपनी पुरातन संस्कृति और सभ्यता पर गर्व है उतना ही भविष्य की तकनीक के प्रति हमारा आकर्षण है. नए कैंसर और सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल लोगों को इलाज की आधुनिक सुविधाएं देंगे. BHU ने एम्स के साथ एक वर्ल्ड क्लास हेल्थ इंस्टीट्यूट बनाने के लिए समझौता किया है.’

BHU में आधुनिक ट्रॉमा सेंटर हजारों लोगों के जीवन को बचाने का काम कर रहा है

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘काशी आज हेल्थ हब के रूप में उभरने लगा है. BHU में आधुनिक ट्रॉमा सेंटर हजारों लोगों के जीवन को बचाने का काम कर रहा है. वाराणसी शहर ही नहीं बल्कि आसपास के गांवों को भी सड़क, बिजली, पानी जैसी सुविधाएं पहुंचाई गई हैं. सांसद के रूप में जिन गांवों को विशेष रूप से विकसित करने का जिम्मा मेरे पास है, उनमें से एक नागेपुर गांव के लिए आज पानी के एक बड़े प्रोजेक्ट का लोकार्पण हुआ है.’

इलाहाबाद से बनारस तक पाइपलाइन बिछाई गई है

पीएम मोदी ने कहा, ‘भले ही मैं प्रधानमंत्री हूं लेकिन एक सांसद के तौर पर अपने चार साल के काम का हिसाब दूंगा. मैं बनारस की जनता को पल-पल और पाई-पाई का हिसाब दूंगा. वाराणसी के हर वर्ग का जीवन स्तर ऊपर उठाने के लिए हमारी सरकार प्रयास कर रही है. काशी अब देश के चुनिंदा शहरों में शामिल है, जहां के घरों में पाइप से कुकिंग गैस पहुंच रही है. इसके लिए इलाहाबाद से बनारस तक पाइपलाइन बिछाई गई है. 40,000 से ज्यादा घरों तक पहुंचाने के लिए काम चल रहा है.’ इसी के साथ पीएम मोदी ने ‘भारत माता की जय’ के नारे के साथ अपना भाषण खत्म किया.

मोदी ने गिनाए काशी में 10 बड़े बदलाव…

1. आज यहां 550 करोड़ रुपए से ज्यादा के प्रोजेक्ट्स का या तो लोकार्पण हुआ है या फिर शिलान्यास हुआ है, विकास के ये कार्य बनारस शहर ही नहीं बल्कि आसपास के गांवों से भी जुड़े हैं.

2. प्रधानमंत्री ने कहा कि हम लोग वाराणसी को उसकी पहचान के साथ आधुनिक विकास से जोड़ रहे हैं. पिछले चार साल में यहां पर काफी काम हुआ है, आज ये अंतर दिख रहा है. पहले काशी को भोले के भरोसे छोड़ दिया गया था, लेकिन अब वाराणसी को विकास की नई दिशा दी जा रही है.

3. काशी का चौतरफा विकास करना है. उन्होंने कहा कि आज काशी में लटके हुए तार नहीं दिखते हैं, हम वाराणसी को पूर्वी भारत के गेटवे के तौर विकसित किया जाता है. आज LED बल्ब से काशी जगमगा रही है.

4. वाराणसी शहर ही नहीं बल्कि आसपास के गांवों को भी सड़क, बिजली, पानी जैसी सुविधाएं पहुंचाई गई हैं.

5. सांसद के रूप में जिन गांवों को विशेष रूप से विकसित करने का जिम्मा मेरे पास है उनमें से एक नागेपुर गांव के लिए आज पानी के एक बड़े प्रोजेक्ट का लोकार्पण किया गया है.

6. हम पूरे समर्पण के साथ बनारस में हो रहे परिवर्तन के इस संकल्प को और मजबूत करें. नई काशी, नए भारत के निर्माण में आगे बढ़कर अपना योगदान दें.

7. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज हवाई जहाज से वाराणसी आने वाले लोगों में बढ़ोतरी हो रही है, चार साल पहले यहां पर 8 लाख लोग आते थे और लेकिन अब 21 लाख लोग हवाई जहाज से काशी में आते हैं.

8. प्रधानमंत्री ने कहा कि अब गंगा में नांव के साथ-साथ क्रूज़ भी चलाया जा रहा है. हमारी कोशिश है कि पर्यटकों को काशी में कोई परेशानी ना हो, इसके लिए पूरी कोशिश की जा रही है. सारनाथ में आज लाइट एंड साउंड का काम किया गया है.

9. नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगले साल की शुरुआत में दुनिया भर में बसे भारतीय का कुंभ काशी में लगेगा यानी पूरी दुनिया में बसे हिंदुस्तानी यहां आएंगे. बता दें कि अगले साल होने वाले प्रवासी भारतीय दिवस का आयोजन वाराणसी में किया जाएगा.

10. गंगा सफाई के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मां गंगा की सफाई के लिए गंगोत्री से लेकर गंगा सागर तक काम चल रहा है, इसके लिए 21 हजार करोड़ से अधिक की योजनाओं को स्वीकृति दी जा चुकी है. वाराणसी में भी गंगा सफाई से जुड़े कई बड़े प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है.

मिले तोहफे – लोकार्पण

-362 करोड़ : शहरी विद्युत सुधार कार्य, पुरानी काशी (आइपीडीएस)

-84.61 करोड़ : 3722 मजरो में विद्युतीकरण का काम

-9.90 करोड़ : सिंगल फेज के 90 हजार मीटर लगाने का काम

-2.80 करोड़ : 33 केवी विद्युत उपकेंद्र बेटावर का निर्माण

-2.58 करोड़ : 33 केवी विद्युत उपकेंद्र कुरुसातो का निर्माण

-2.74 करोड़ : नागेपुर ग्राम पेयजल योजना

-20 करोड़ : बीएचयू में अटल इन्क्यूबेशन सेंटर।

मिले तोहफे- आधारशिला

-14.10 करोड़ : बीएचयू में वैदिक विज्ञान केंद्र की स्थापना

-34 करोड़ : रीजनल इंस्टीट्यूट ऑफ आफ्थेल्मोलाजी

-23.08 करोड़ : 132 केवी विद्युत उपकेंद्र चोलापुर का निर्माण।

मिले तोहफे- बांटे रोजगार

-98 लाख : कुंभकारी उद्योग के तहत 260 विद्युत चालित चाक, आधुनिक भट्ठी

-53.25 लाख : हनी मिशन के तहत 500 मधुमक्खी बॉक्स

– 7.50 लाख : खादी व सोलर वस्त्र के अंतर्गत 3 रेडीबार्प मशीन। https://www.kanvkanv.com

 

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

मोदी मय हुआ काशी : मेगा रोड शो के बाद प्रधानमंत्री ने की मां गंगा की पूजा, देखें फोटोज और वीडियो

Published

on

वाराणसी। लोकसभा चुनाव में अपने नामांकन से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मेगा रोड शो करके विपक्षी दलों को सियासी ताकत का एहसास कराया। इसकी शुरुआत काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) स्थित भारत रत्न महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण से हुई। भगवा रंग का कुर्ता पाजामा पहने प्रधानमंत्री ने महामना की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद पुष्प भी अर्पित किये।

मोदी-मोदी और भारत माता की जय के साथ बढ़ काफिला

शंखध्वनि, पुष्पवर्षा के बीच यहां लोगों का अभिवादन स्वीकार कर प्रधानमंत्री ने काले रंग की कार में सवार होकर मेगा रोड शो शुरू किया। मोदी-मोदी और भारत माता की जय के गगनभेदी नारे के बीच प्रधानमंत्री का काफिला लंका से आगे बढ़ा तो सड़क के किनारे दोनों तरफ खड़े लाखों युवाओं, महिलाओं को देख प्रधानमंत्री ने हाथ हिलाकर उनका अभिवादन स्वीकार किया।

मोदी की एक झलक देखने के लिए बेताब रहे लोग

रोड शो में जब मोदी हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार कर रहे थे तो ऐसा लग रहा था कि मानो लोग बैरिकेडिंग तोड़कर उन तक पहुंच जायेंगे। सड़क के किनारे सभी भवनों के ऊपर खड़े होकर लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक झलक देखने के लिए बेताब रहे।

गुलाब की पंखुडियां बरसाईं

प्रधानमंत्री को देखते ही लोगों ने उन पर गुलाब की पंखुडियां बरसाईं। लोगों का अभूतपूर्व जनसमर्थन प्यार देख मोदी भी अभिभूत दिखे। लंका में ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने ‘मोदी अगेन’ की टी-शर्ट पहनकर पूरे जोश के साथ स्वागत किया। वाराणसी के विभिन्न मोहल्लों में बसे विभिन्न राज्यों के नागरिकों ने रोड शो के मार्ग पर पारंपरिक परिधानों में पीएम का स्वागत किया।

रोड शो में अपार जनसैलाब को देख लोगों को काशी में लघु भारत का एहसास होता रहा। लगभग पांच किमी. रोड शो में जैसे-जैसे पीएम का काफिला आगे बढ़ता गया, वैसे-वैसे रोड शो में शामिल होने के लिए जनसैलाब उमड़ता रहा।

प्रधानमंत्री के काफिले पर 25 कुंतल फूल बरसाए गए

प्रधानमंत्री का रोड शो अस्सी, शिवाला, सोनारपुरा और गोदौलिया होते हुए दशाश्वमेध पहुंच कर समाप्त हुआ। रोड शो को मेगा इवेंट बनाने के लिए पूरे मार्ग पर 101 स्वागत स्थल बनाकर इसे 10 ब्लॉक में विभाजित किया गया। रोड शो के दौरान प्रधानमंत्री के काफिले पर 25 कुंतल फूल बरसाए गए।

ये नेता रहे मौजूद

रोड शो में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल,जेपी नड्डा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष डा.महेन्द्र नाथ पांडेय, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष भोजपुरी फिल्मों के सुपर स्टार मनोज तिवारी, केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल, अकाली दल नेता प्रकाश सिंह बादल, पार्टी प्रवक्ता शहनवाज हुसैन भी शामिल रहे।

मोदी भव्य गंगा आरती देख हुए मगन, आचमन के बाद किया गंगा पूजन 

पांच किलोमीटर लम्बे मेगा रोड शो के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दशाश्वमेध घाट पर भव्य गंगा आरती भी देखी। भीषण गर्मी उमस के बीच लम्बे रोड शो में भाग लेने के बावजूद प्रधानमंत्री के चेहरे और शरीर पर थकान का असर नहीं दिखा। उन्होंने पूरे उत्साह और आस्था के साथ घाट की सीढ़ियों पर मां गंगा का आचमन कर स्वच्छ गंगा निर्मल गंगा का संदेश देकर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच गंगा पूजन किया।

इसके बाद दुग्धाभिषेक कर गंगा की आरती भी उतारी। इसके पहले गंगा सेवा निधि की ओर से आयोजित भव्‍य आरती में शामिल हुए। फूलों के वन्दनवार से दुल्हन की तरह सजे घाट की मढ़ियों पर रखी कुर्सियों पर बैठ कर प्रधानमंत्री ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष डाॅॅ. महेन्द्रनाथ पांडेय के साथ गंगा आरती देखी।

इस दौरान भाजपा अध्यक्ष शाह से गुप्तगू भी करते दिखे। मां गंगा के भजनों को सुन प्रधानमंत्री हाथ जोड़ अध्यात्म में खोये दिखे। घाट पर फूलों से भव्य सजावट और आकर्षक विद्युत लतरों, लेजर लाइट के सजावट से घाट पर देव दीपावली सरीखा नजारा रहा। घाट पर लयबद्ध गायन के बीच पंरपरागत वेशभूषा में सात अर्चकों ने मां गंगा की आरती उतारी। अर्चकों के साथ रिद्धि सिद्धि के रूप में 14 कन्‍याओं ने मां गंगा को चवंर डुलाया।

घाट पर इन्‍क्रेडिबल इंडिया (अतुल्‍य भारत) ने भी बेहतरीन सजावट की थी। निधि के अध्‍यक्ष सुशांत मिश्र ने पीएम को स्मृति चिन्ह भी भेंट किया। गंगा तट पर पीएम के मौजूदगी के दौरान सुरक्षा का व्यापक प्रबन्ध किया गया था। यहां भी व्यवस्था की कमान अमित शाह ने संभाल रखी थी।

शंख बजाने वाले रामजनम योगी से मिले, बढ़ाया उत्साह

खास बात यह रही कि प्रधानमंत्री ने गंगा आरती में काफी देर तक शंख बजाने वाले रामजनम योगी से मिलकर प्रशंसा करने के बाद उनका उत्साह भी बढ़ाया। प्रधानमंत्री गंगा आरती के बाद काशी विश्वनाथ दरबार में भी जायेंगे। दर्शन पूजन के बाद शाम को छावनी क्षेत्र स्थित होटल डी पेरिस में प्रधानमंत्री वाराणसी के तीन हजार विशिष्टजनों से मुलाकात कर उन्हें संबोधित करेंगे।

कालभैरव से आशीर्वाद लेकर शुक्रवार को करेंगे नामांकन

डीजल रेल इंजन कारखाना के गेस्ट हाउस में रात्रि प्रवास के बाद प्रधानमंत्री शुक्रवार की सुबह नौ बजे होटल डी पेरिस में ही पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। इसमें बूथ अध्यक्ष और उसके ऊपर के पदाधिकारियों की मौजूदगी होगी।

तत्पश्चात काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव का दर्शन करने जाएंगे। दर्शन पूजन के बाद प्रधानमंत्री सीधे नामांकन के लिए वाहनों के काफिले में कचहरी रवाना होंगे।

पीएम मोदी का वाराणसी में संबोधन, काशी की जनता का प्यार अविस्मरणीय

रोड शो के बाद पीएम नरेंद्र मोदी एक रैली को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस धरती से जो प्यार मिला है वो अविस्मरणीय है। यह धरती महान मनीषियों की धरती रही है। यह धरती भगवान बुद्ध, तुलसीदास और रविदास की है। यहां वो जब जब आते हैं तो उनका संबंध सिर्फ मतपत्रों तक सीमित नहीं है। वो यहां के लोगों से दिल का नाता रखते हैं। वो यहां के लोगों के सुख और दुख में बराबर के भागीदार हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

बांदा में गरजे पीएम मोदी, कहा-जो वोट के लिये मरते हैं वो देश को मरवाते हैं, पढ़ें बड़ी बातें

Published

on

लखनऊ। अंग्रेजों समय किसी जाति या वर्ग के आधार पर आजादी के दीवाने लड़ाई नहीं लड़े थे। वहां सब लोग मां भारती के दीवाने थे। आज भी आजादी के 75 साल पूरे होने के पूर्व का यह आखिरी चुनाव है। उस समय आजादी के लिए बैचेनी थी। आज विकास के लिए बैचेनी है। फिर जातियों के बंधन को तोड़कर विकास के लिए मतदान करना है।
ये बातें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को बुंदेलखंड के बांदा में जनसभा को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने कहा कि आपको कुछ लोग जातीय आधार पर भड़काने वाले लोग भी आएंगे। आपको हर तरह से बरगलाएंगे लेकिन इनसे सावधान रहकर मतदान विकास के नाम पर ही करना। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में पहले की सरकारें बुंदेलखंड की तमाम योजनाएं फाइलों में लटकाए रहती थीं लेकिन हमारी सरकार ने यहां 99 बड़ी परियोजनाएं शुरू कीं।

बुंदेलखंड में पानी की समस्या दूर करेंगे

उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद बुंदेलखंड में पानी की समस्या दूर करने के लिए मिशन के तौर पर काम किया जाएगा। पुरानी सरकारें सिर्फ पानी पर राजनीति करती आई हैं लेकिन हम इसके लिए विशेष पहल करने वाले हैं, जिससे खेतों के साथ ही व्यक्ति की भी प्यास बुझेगी। 

जो वोट के लिये मरते हैं वो देश को मरवाते हैं : मोदी

समाजवादी पार्टी (सपा),बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन और कांग्रेस पर जाति और धर्म की राजनीति करने का आरोप लगाते हुये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आतंकवाद का समूल विनाश और देश को विकास के रास्ते पर ले जाने के लिये भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को पूर्ण बहुमत की जरूरत है। मोदी ने कहा कि जातिपात और धर्म के नाम पर वोट हासिल करने की कोशिश करने वाले आतंकवाद की खुली मुखालफत नहीं कर सकते है क्योंकि उन्हे डर है कि इससे उनका वोट बैंक खिसक जायेगा। जाति पात की राजनीति वाले दलों पर अलीगढ का ताला लगना तय है।

उन्होने कहा “ क्या सपा बसपा अथवा कांग्रेस ने आतंकवाद के खात्मे की कोई योजना बना रखी है। बिल्कुल नहीं बल्कि ये इतना डरे हुये है कि आतंकवाद के खिलाफ बोलेंगे तो उनका वोट बैंक खिसक जायेगा। जो अपने वोट के लिये मरते है वो देश को मरवाते है। मोदी अपने लिये नहीं बल्कि देश के लिये पैदा हुआ है। जातिवाद और अवसरवाद को सबक सिखाना है ताकि राजनीतिक दलों को संदेश जाये और वह देश को मजबूत करने में जुट जायें।

कांग्रेस के नामदार गाली देने में लगे

मोदी ने कटाक्ष किया “ इन दिनों सपा बसपा वाले मेरी जाति का सर्टिफिकेट बांट रहे है जबकि कांग्रेस के नामदार मोदी के बहाने पूरे पिछड़े समाज को ही गाली देने में लगे हैं। ये जात-पात, पंथ-संप्रदाय तक ही सोच सकते हैं। ये एक भारत, श्रेष्ठ भारत की बात तक करना नहीं चाहते। भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, झांसी की रानी और सुभाष चंद्र बोस समेत एक भी महापुरुष को अपनी जाति से नहीं जाना जाता बल्कि अपने कार्यों से जाना जाता हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

यौन उत्पीड़न केस : CJI के खिलाफ ‘साजिश’ की जांच करेंगे जस्टिस एके पटनायक, SC ने कहा-आग से खेल रहे…

Published

on

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न से जुड़े साजिश के मामले की जांच के लिए जस्टिस एके पटनायक को नियुक्त किया है। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई, आईबी और दिल्ली पुलिस के प्रमुखों को जस्टिस पटनायक को सहयोग करने का निर्देश दिया है। इस मामले पर आज सुबह कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था।

सीलबंद हलफनामा सुप्रीम कोर्ट को सौंपा

आज सुबह सुनवाई के दौरान वकील उत्सव बैंस ने एक और सीलबंद हलफनामा सुप्रीम कोर्ट को सौंपा था। सुनवाई के दौरान अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा था कि उत्सव बैंस ने कुछ दस्तावेज को गोपनीय कहा है लेकिन साक्ष्य अधिनियम की धारा 126 के तहत इस मामले में लागू नहीं होता है। उत्सव बैंस ने जिस व्यक्ति से मुलाकात की बात कही है, वह इनका मुवक्किल भी नहीं है,इसलिए धारा 126 के तहत ये दस्तावेज गोपनीय नहीं कहे जा सकते हैं।

ऐसे में यह संस्था खत्म हो जाएगी

सुनवाई के दौरान जस्टिस दीपक गुप्ता ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता को संबोधित करते हुए गुस्से में कहा था कि पिछले 3-4 सालों से सुप्रीम कोर्ट में जो चल रहा है, जिस तरह से आरोप लगाए जा रहे हैं, ऐसे में यह संस्था खत्म हो जाएगी। जस्टिस दीपक गुप्ता ने कहा था कि हम हमेशा सुनते है कि बेंच फिक्सिंग हो रही है, यह हर हाल में बंद होना चाहिए। जज के रूप में हम बहुत चिंतित हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- आग से खेल रहे हैं साजिशकर्ता

इस मामले में बड़ी साजिश का इशारा करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने न्यायपालिका पर ‘सोच समझकर’ किए जा रहे हमले पर नाराजगी जताई और कहा कि अब इस देश के अमीर एवं ताकतवर लोगों को यह बताने का समय आ गया है कि वे ‘आग’ से खेल रहे हैं और यह रुक जाना चाहिए।

वकील उत्सव बैंस ने हलफनामे में ये भी दावा किया

24 अप्रैल को वकील उत्सव बैंस के दावों पर जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा था कि न्यायपालिका में फिक्सर की कोई जगह नहीं है। हम इन दावों की तह तक जायेंगे ताकि इन फिक्सरों का पता चल सके। जांच कर सच पता करना होगा वर्ना लोगों का इस संस्थान से भरोसा उठ जाएगा।
वकील उत्सव बैंस ने हलफनामे में ये भी दावा किया था कि चीफ जस्टिस को फंसाने की इस साजिश में कोर्ट के बर्खास्त किये गए कर्मचारी भी शामिल हैं। हलफनामे में कोर्ट की अवमानना के मामले में अनिल अंबानी की व्यक्तिगत पेशी से संबंधित गलत आदेश वेबसाइट पर अपलोड करनेवाले कोर्ट मास्टर तपन चक्रवर्ती और मानव शर्मा का उल्लेख किया गया है।

वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह बोली

सुनवाई के दौरान वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने कहा था कि हम महिला वकील इस कोर्ट की स्वतंत्रता और निष्पक्षता को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने कहा था कि हम चाहते हैं कि इस कोर्ट की पूर्व महिला कर्मचारी की ओर से दाखिल हलफनामे पर स्वतंत्र जांच हो। तब जस्टिस नरीमन ने कहा था कि हम 20 अप्रैल को हुई सुनवाई से जुड़े मामले की सुनवाई नहीं कर रहे हैं। तब इंदिरा जयसिंह ने कहा था कि उन आरोपों के बाद ही 20 अप्रैल की सुनवाई के लिए बेंच गठित की गई थी। तब जस्टिस नरीमन ने कहा था कि हम फिर कह रहे हैं कि हम केवल उत्सव बैंस के हलफनामे पर विचार करेंगे। तब इंदिरा जयसिंह ने कहा था कि एक जांच दूसरी जांच को प्रभावित नहीं करना चाहिए। 

जस्टिस अरुण मिश्रा बोले

जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा था कि उत्सव बैंस ने कहा है कि कुछ फिक्सर हैं और हमें इसकी तह तक जाना चाहिए। एक वकील ने आरोप लगाया है, इसलिए इसकी जांच होनी चाहिए। अगर ये हलफनामा गलत है तो उस पर भी कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा था कि नाराज कर्मचारी एक हो गए हैं । तीन कर्मचारियों को बर्खास्त किया गया है। इस तरह की कार्रवाई इसके पहले के किसी चीफ जस्टिस ने नहीं की थी।

अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल बोले

सुनवाई के दौरान अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा था कि हमें ये नहीं समझ आ रहा है कि कोई व्यक्ति ऐसे आरोप लगा रहा है और कह रहा है कि बाकी दावे प्रिविलेज्ड हैं। उत्सव बैंस ने कहा था कि हमारे ऊपर व्यक्तिगत आरोप लगा रहे हैं तब जस्टिस नरीमन ने कहा था कि आपके अटार्नी जनरल पर संदेह करने का कोई मतलब नहीं है। वे बार के सबसे सम्मानित सदस्य हैं। अगर आप उन पर संदेह करेंगे तो हम आपको बाहर कर देंगे। तब उत्सव बैंस ने कहा था कि हम खुद ही बाहर चले जाएंगे। तब जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा था कि आपको बाहर जाने को नहीं कहा जा रहा है। जस्टिस नरीमन ने कहा था कि केके वेणुगोपाल एक जेंटलमैन हैं और हमें उनसे काफी कुछ सीखने को मिलता है।

चीफ जस्टिस के खिलाफ सबसे बड़ी साजिश रची गई

इंदिरा जयसिंह ने कहा था कि उत्सव बैंस सुप्रीम कोर्ट में अपनी जगुआर कार से बिना किसी स्टिकर के आ जाते हैं और हमें आने के लिए एंट्री का स्टीकर लगाकर आना पड़ता है। आखिर वे कैसे आ जाते हैं।  सुनवाई के दौरान उत्सव बैंस ने कहा था कि मैंने सीलबंद लिफाफे में मैटेरियल दिए हैं उसमें सीसीटीवी फुटेज हैं जो कहानी को बयां करती है। चीफ जस्टिस के खिलाफ सबसे बड़ी साजिश रची गई है। बैंस ने कहा था कि बड़े कारपोरेट हाउस ने साजिश रची है।

उत्सव बैंस की सुरक्षा जारी रहेगी

कोर्ट ने कहा था कि उत्सव बैंस की सुरक्षा जारी रहेगी । अगर यह मामला सही है तो ये बेहद गंभीर है। 23 अप्रैल को कोर्ट ने वकील उत्सव बैंस को नोटिस जारी किया था । उत्सव बैंस ने हलफनामा देकर कहा था कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को यौन उत्पीड़न के मामले में फंसाने के लिए साजिश रची गई थी। पिछले 20 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर आपात सुनवाई की थी। कोर्ट ने यौन प्रताड़ना के आरोपों का सिरे से खंडन किया था।

मीडिया से जिम्मेदारी पूर्वक काम करने को कहा

बेंच के दूसरे सदस्य जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस संजीव खन्ना ने मीडिया से जिम्मेदारी पूर्वक काम करने को कहा था। कोर्ट ने कहा कि हम मीडिया रिपोर्टिंग पर रोक नहीं लगा रहे हैं लेकिन उम्मीद करते हैं कि मीडिया तथ्यों को जांचे बगैर इस तरह न्यायापालिका को निशाना बनाने वाले फर्जी आरोप नहीं छापेगा।

कोर्ट ने कहा कि हम मीडिया पर छोड़ते हैं कि वे न्यायपालिका की स्वतंत्रता को बरकरार रखें। हम कोई न्यायिक आदेश नहीं पारित कर रहे हैं। इस मामले में जस्टिस एसए बोब्डे की अध्यक्षता वाला तीन सदस्यीय जांच पैनल ने आरोप लगाने वाली महिला को नोटिस जारी कर तलब किया है। इस पैनल ने उक्त महिला को 26 अप्रैल को बुलाया है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
देश4 hours ago

मोदी मय हुआ काशी : मेगा रोड शो के बाद प्रधानमंत्री ने की मां गंगा की पूजा, देखें फोटोज और वीडियो

राज्य4 hours ago

वैन का हॉर्न बजाने पर युवक को पीटा, लूटपाट का आरोप

राज्य5 hours ago

अयोध्या : अधिगृहीत परिसर में सम्पन्न हुआ पीएसी का सम्मेलन

राज्य5 hours ago

अयोध्या : मुख्य चुनाव अधिकारी वैकटेश्वर लू ने कसे अधिकारियों के पेंच, समझाई निर्वाचन की शुचिता

राज्य5 hours ago

देवीपाटन मंडल : पेट्रोल पंप पर हो रही है घटतौली, प्रशासन बना अंजान

राज्य5 hours ago

बहराइच : प्रेक्षक मिथलेश कुमार ने किया मतदान केन्द्र का किया निरीक्षण

राज्य5 hours ago

बहराइच : छोटी-छोटी सावधानियों से टाली जा सकती है मानव-वन्यजीव संघर्ष की घटनाएं : डीएफओ

देश8 hours ago

बांदा में गरजे पीएम मोदी, कहा-जो वोट के लिये मरते हैं वो देश को मरवाते हैं, पढ़ें बड़ी बातें

देश10 hours ago

यौन उत्पीड़न केस : CJI के खिलाफ ‘साजिश’ की जांच करेंगे जस्टिस एके पटनायक, SC ने कहा-आग से खेल रहे…

राज्य10 hours ago

निरहुआ के लिए सीएम योगी ने किया प्रचार, बोले, सपा-बसपा ने आजमगढ़ को बनाया ‘आतंक का गढ़’

हेल्थ10 hours ago

जानें महिलाओं और पुरुषों में कौन ज्यादा सहन करता है दर्द, इस तरह किया गया चौंकाने वाला शोध

देश10 hours ago

शादीशुदा महिला के चक्रव्यूह में फंसा युवक, पहले की शादी फिर कर डाला ऐसा कांड

देश11 hours ago

‘आप’ का चुनाव घोषणा-पत्र जारी, ‘दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा’ पर फोकस, पढ़ें और क्या किए वादे

देश11 hours ago

दरभंगा में गरजे पीएम मोदी, कहा-‘भारत माता की जय’ ही भक्ति, ‘वंदे मातरम’ का उद्घोष ही शक्ति है

खेल11 hours ago

आईपीएल : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने अपने नाम किया ये रिकॉर्ड, लेकिन ये टीम है बेस्ट

दुनिया11 hours ago

राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प को ये शख्स दे सकता है कड़ी टक्कर, मिल चुका है पितामह का दर्जा

खेल11 hours ago

पंजाब से मिली जीत पर भी नहीं दिखी विराट की खुशी, दे दिया ये बड़ा बयान

राज्य11 hours ago

सुनहरे सोने का काला करोबार, इस देश को हुआ अरबों डॉलर का नुकसान

मनोरंजन3 weeks ago

डायरेक्टर ने इस अभिनेत्री से कहा, एक रात…कॉम्प्रोमाइज, एक्ट्रेस बोली-‘आपके साथ सो तो जाऊं लेकिन…’

खेल3 days ago

धोनी ने बनाया नया कीर्तिमान, एसा कारनामा करने वाले बने पहले भारतीय, कोहली ने बोल दी ये बड़ी बात

मनोरंजन4 weeks ago

जानें पहले दिन कैसा रहा फिल्म ‘नोटबुक’ और ‘जंगली’ का प्रदर्शन, दर्शकों ने दिये कितने अंक

मनोरंजन3 weeks ago

टाइगर की गर्लफ्रेंड दिशा पटानी ने किया ऐसा डांस कि वायरल हो गया वीडियो, आप भी देखें

राज्य1 week ago

BJP सांसद हरिओम पाण्डेय का कटा टिकट तो पार्टी के नेताओं पर लगाया लड़की और पैसे पर टिकट बेचने का आरोप

देश2 weeks ago

गृहमंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ कांग्रेस से ये नेता लड़ेगा चुनाव!, खरीदा नामांकन पत्र

देश4 weeks ago

दुल्हन को फेरे लेते समय अचानक होने लगीं उल्टियां, दूल्हे ने जबरन कराया वर्जिनिटी और प्रेग्नेंसी टेस्ट

देश2 weeks ago

यूपी में तीन बजे तक 51 प्रतिशत मतदान, सतीश चन्द्र मिश्रा ने किया DGP को फोन, दर्ज कराई शिकायत

राज्य4 weeks ago

सपा ने जारी एक और उम्मीदवारों की सूची, गोरखपुर व कानपुर से इस दिग्गज नेता को दिया टिकट

देश3 weeks ago

65 साल के बुजुर्ग को जवान लड़की से डेट करना पड़ा महंगा, हो गया ये बड़ा कांड

राज्य5 days ago

समाजवादी पार्टी ने जारी की एक और सूची, अब इस सीट से उम्मीदवार किया घोषित

दुनिया4 weeks ago

महिला ने एक बेटे को जन्म देने के बाद फिर 26 दिन बाद दो जुड़वा बच्चों को दिया जन्म, डाक्टर हुए हैरान

दुनिया2 weeks ago

पति ने घर पर छोड़ा खुला कैमरा, आकर देखा तो दोस्त के साथ पत्नी का दिखा अतरंग वीडियो

राज्य4 weeks ago

यूपी में भाजपा को एक और बड़ा झटका, 2 घंटे पहले इस सांसद ने छोड़ी पार्टी, कांग्रेस ने दिया टिकट

देश3 weeks ago

आडवाणी ने तोड़ी चुप्पी, भाजपा को दी नसीहतें, टिकट न मिलने का भी छलका दर्द, राहुल-ममता ने किया स्वागत

वीडियो2 weeks ago

बॉयफ्रेंड संग नजर आईं एमी जैक्सन, दिख रहा बेबी बंप, बिकिनी पहन कर खेला गोल्फ, देखें वीडियो

देश3 weeks ago

फिर बहुमत से आएगी मोदी सरकार, कांग्रेस-सपा-बसपा सिमट जाएगी इतनी सीटों पर, पढ़ें सर्वे की ये रिपोर्ट

देश2 weeks ago

महिला आयोग ने देह व्यापार के रैकेट का किया भंडाफोड़, चार नाबालिग लड़कियां मुक्त कराईं

Trending