Connect with us

देश

रावण से मिलना चाहते थे केजरीवाल, योगी सरकार ने दिया झटका, आगबबूला हुए दिल्ली सीएम

Published

on

सहारनपुर। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उत्तर प्रदेश की सहारनपुर जेल में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत बंद भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर उर्फ रावण से मुलाकात करने की इजाजत मांगी थी, जो उन्हें नहीं मिल सकी। इसके बाद केजरीवाल ने ट्विटर पर योगी सरकार को अपने निशाने पर लिया है। उन्होंने लिखा, चंद्रशेखर रावण, दलितों के संघर्षशील नेता, को UP की भाजपा सरकार ने राजनैतिक द्वेष के कारण काफ़ी समय से जेल में रखा हुआ है। मैं उनसे मिलने जाना चाहता था लेकिन ये अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है की योगी सरकार ने मुझे इजाज़त नहीं दी।

ये कहा प्रशासन ने

केजरीवाल 13 अगस्त को सहारनपुर जेल में रावण से मिलना चाहते थे। उत्तर प्रदेश सरकार ने कानून-व्यवस्था का हवाला देते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री की मांग ठुकरा दी। स्थानीय प्रशासन ने दावा किया है कि केजरीवाल और चंद्रशेखर के बीच राजनीतिक चर्चा हो सकती है और इससे कानून व्यवस्था खराब हो सकती है और माहौल बिगड़ सकता है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि जेल मैन्युअल के मुताबिक रावण से उनके परिवार का ही कोई सदस्य मिल सकता है। अगर केजरीवाल उनसे मिलने के बाद प्रेस में बयान देते हैं, जो कि संभावित है, उससे भी जेल मैन्युअल का उल्लंघन होगा। सहारनपुर प्रशासन ने पुलिस अधीक्षक से इस बारे में रिपोर्ट ली है और कहा है कि 13 अगस्त को केजरीवाल के सहारनपुर के प्रस्तावित दौरे के समय दलित और राजपूतों में संघर्ष हो सकता है। सहारनपुर के डीएम के मुताबिक चंद्रशेखर से मुलाकात के बाद केजरीवाल कोई बयान दे सकते हैं, जिससे कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है।

एक से ज्यादा समय से जेल में बंद है चन्द्रशेखर

गौरतलब है कि पिछले साल सहारनपुर के शब्बीरपुर में हुई जातीय हिंसा में भीम आर्मी के प्रमुख चन्द्रशेखर की संलिप्तता पाये जाने के बाद से वह एक साल से ज्यादा समय से जिला जेल में बंद हैं। हालांकि उन्हें सभी मामलों में उच्च न्यायालय से जमानत मिल गई थी लेकिन तत्कालीन जिलाधिकारी प्रमोद पांडेय ने उसे रासुका में निरुद्ध कर दिया था। भीम आर्मी चंद्रशेखर की रिहाई को लेकर दिल्ली में बड़ी पंचायत होने वाली है। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

भक्त ने पूछा कब ले रहे समाधी, कम्प्यूटर बाबा ने कहा- मैं क्या करूं, दिग्विजय के आड़े आए उनके कर्म

Published

on

भोपाल। लोकसभा चुनाव में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के लिए कम्प्यूटर बाबा, मिर्ची बाबा जैसे कई बाबाओं ने प्रचार-प्रसार किया था। किसी ने तपती धूप में सुलगती आग के बीच हठयोग किया था तो किसी ने पांच क्विंटल लालमिर्च का हवन किया था। यही नहीं इन बाबाओं ने अपने-अपने तरीके से दिग्विजय सिंह के जीतने का दावा भी किया था। इसलिए जैसे ही चुनाव परिणाम आए, लोग बाबाओं के पीछे पड़ गए हैं। मिर्ची बाबा के बाद अब कम्प्यूटर बाबा का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिसमें कम्प्यूटर बाबा यह कहते सुनाई दे रहे हैं कि दिग्विजय सिंह के आड़े उनके कर्म आ गए थे, जिनकी वजह से वे चुनाव हारे हैं। हालांकि हम इस ऑडियो के वास्तविक होने का दावा नहीं करते हैं।

जानें क्या हुई बातचीत

सोशल मीडिया पर कम्प्यूटर बाबा से बातचीत के इस ऑडियो में खुद को होशंगाबाद का बताने वाला विजय चौकसे नामक व्यक्ति कम्प्यूटर बाबा को उनका वादा याद दिलाता है। बाबा से बात करते हुए वह उन्हें दिग्विजय सिंह के हारने पर समाधि लेने की बात को याद दिलाते हुए पूछता है कि बाबा कब समाधि ले रहे हैं। बाबा बात करने वाले को फटकारते हुए अपना पीछा छुड़ाने की कोशिश करते हैं, लेकिन फोन करने वाला व्यक्ति फोन नहीं काटता। फोन करने वाला व्यक्ति कहता है कि हम आपके भक्त हैं और हम लोगों ने समाधि की पूरी तैयारी कर रखी है। इससे नाराज बाबा यह कहते हुए सुनाई देते हैं कि दिग्विजय सिंह हार गए तो मैं क्या करूं। उनके कर्म उनके आड़े आ गए थे।
उल्लेखनीय है कि कम्प्यूटर बाबा ने दिग्विजय सिंह की जीत को लेकर राजधानी भोपाल के न्यू सैफिया कॉलेज ग्राउंड पर अपने सैकड़ों साथियों के साथ तपती धूप में हठयोग किया था और रोड शो भी किया था। इसे लेकर कम्प्यूटर बाबा के खिलाफ निर्वाचन आयोग ने आचार संहिता के उल्लंघन की एफआईआर भी कराई थी। ले किन अब कम्यूटर बाबा चुनाव परिणाम के बाद दिग्विजय  सिंह के हारने के बाद अपनी बात से पलट गए हैं। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading

देश

आईपीएस राजीव कुमार ने सीबीआई के नोटिस को किया दरकिनार, किस भी वक्त गिरफ्तारी संभव

Published

on

कोलकाता। अरबों रुपये के सारदा चिटफंड घोटाला मामले में साक्ष्यों को मिटाने के आरोपित व सीएम ममता बनर्जी के करीबी आईपीएस अधिकारी व कोलकाता पुलिस के पूर्व आयुक्त राजीव कुमार पूर्वानुमान के मुताबिक ही सोमवार को तय समय के अंदर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) दफ्तर में नहीं पहुंचे हैं।

सीबीआई ने रविवार रात कोलकाता के आईपीएस आवास और भवानी भवन स्थित सीआईडी मुख्यालय में जाकर नोटिस दी थी। उन्हें दस बजे से पहले सीजीओ कंपलेक्स में स्थित सीबीआई के पूर्व क्षेत्रीय मुख्यालय में पूछताछ के लिए हाजिर होने को कहा गया था, लेकिन वह नहीं पहुंचे हैं।

नोटिस को दरकिनार कर सीबीआई दफ्तर नहीं पहुंचे राजीव

राजीव कुमार ने ऐसा तब किया है, जब सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें जांच में पूरी तरह से सहयोग करने और दूसरी ओर सीबीआई को कानून के मुताबिक कार्रवाई करने की छूट दी है। माना जा रहा है कि ऐसा करके उन्होंने अपनी मुश्किलें और अधिक बढ़ा ली है। सीबीआई सूत्रों के अनुसार गिरफ्तारी से बचने के लिए उन्होंने अपने ठिकाने बदलने की शुरुआत की है और छिपकर रह रहे हैं।

रविवार रात को सीबीआई ने उन्हें 34 नंबर पार्क स्ट्रीट में स्थित कोलकाता पुलिस के साउथ डिवीजन के उपायुक्त मिराज खालिद के आवास पर तलाशा था, लेकिन वह नहीं मिले थे। सीआईडी मुख्यालय में भी उनकी खोज की गई थी, वहां भी वे नदारद रहे। दिनभर उन्होंने अपना फोन नॉट रिचेबल कर रखा था और सीबीआई की लाख कोशिशों के बावजूद उनसे संपर्क नहीं किया जा सका था।

किसी समय हो सकती है गिरफ्तारी

सीबीआई की गिरफ्तारी से बचने के लिए शुक्रवार को उन्होंने बारासात की स्पेशल सीबीआई कोर्ट में याचिका लगाई थी, लेकिन त्रुटिपूर्ण होने की वजह से जमानत नहीं मिली थी और सोमवार को कोर्ट खुलने पर उन्हें याचिका लगाने को कहा गया था।

माना जा रहा है कि सीबीआई के नोटिस को दरकिनार कर वह सबसे पहले कोर्ट में जाना चाहते हैं ताकि अगर गिरफ्तारी से अंतरिम राहत मिल सके तो बच जाएंगे। लेकिन सीबीआई सूत्रों का दावा है कि कोर्ट के बाहर भी सादी वर्दी में सीबीआई अधिकारियों की तैनाती कर दी गई है ताकि अगर राजीव कुमार पहुंचे तो उन्हें हिरासत में ले लिया जाए, क्योंकि उन्होंने नोटिस को दरकिनार कर दिया है। इसलिए सीबीआई के पास अधिकार है कि उन्हें कहीं भी किसी भी समय गिरफ्तार कर ले। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ने दिया इस्तीफा, बताई ये बड़ी वजह

Published

on

रांची। झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे की प्रतिलिपि उन्होंने प्रदेश के कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह को भेज दिया है। बताया जाता है कि लोकसभा चुनाव-2019 में पार्टी की करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए उन्होंने इस्तीफा दिया।
उल्लेखनीय है कि झारखंड में कांग्रेस ने झामुमो, राजद और झाविमो के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था। गठबंधन के तहत कांग्रेस को झारखंड में सात सीटें मिली थी लेकिन कांग्रेस सिर्फ चाईबासा सीट ही जीत पाई और बाकी सीटों पर कांग्रेस के उम्मीदवार हार गए। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading
देश3 mins ago

भक्त ने पूछा कब ले रहे समाधी, कम्प्यूटर बाबा ने कहा- मैं क्या करूं, दिग्विजय के आड़े आए उनके कर्म

देश16 mins ago

आईपीएस राजीव कुमार ने सीबीआई के नोटिस को किया दरकिनार, किस भी वक्त गिरफ्तारी संभव

देश17 mins ago

झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ने दिया इस्तीफा, बताई ये बड़ी वजह

दुनिया24 mins ago

खाड़ी में तनाव, ईरान समर्थित आतंकियों ने किया ड्रोन से हमला, सऊदी किंग ने क़तर अमीर को बुलावा भेजा

देश34 mins ago

देश के इस राज्य में होती है अनोखी शादी, दूल्हे की जगह उसकी बहन लेती है दुल्हन से सात फेरे, जानें कारण

राज्य46 mins ago

स्मृति के करीबी सुरेन्द्र सिंह हत्याकांड : कांग्रेस नेता समेत हत्या के सभी नामजद आरोपी गिरफ्तार

राज्य48 mins ago

बसपा की तरफ से सपा प्रत्याशियों को हराने वाला लेटर वायरल, लिखी है ये बातें, जानें क्या है पूरा मामला

लाइफ स्टाइल57 mins ago

राशिफल : इन राशि के लोगों के लिए बेहद फलदायी है आज का दिन, जानें अपना भविष्यफल

देश1 hour ago

महाविजय के बाद वाराणसी पहुंचे पीएम मोदी, भगवान शिव का लिया आशीर्वाद, देखें वीडियो

खेल16 hours ago

महेला जयवर्धने ने विश्व कप अभियान के लिए श्रीलंकाई टीम से जुड़ने से किया मना, बताई ये बड़ी वजह

राज्य17 hours ago

बहराइच : ग्रामीण क्षेत्रों में बेसहारा पशुओं के विचरण पर जिम्मेदार होंगी ग्राम पंचायतें : जिलाधिकारी

राज्य17 hours ago

श्रावस्ती : त्योहारों को लेकर एएसपी ने थाना प्रभारी को 7 दिन के अंदर कमियों को दूर करने का दिया निर्देश

राज्य17 hours ago

देवीपाटन मंडल : कई बातों के लिए याद रहेगा प्रचार अभियान

राज्य20 hours ago

अयोध्या : अप्रैल में अपहृत हुई किशोरी रेलवे स्टेशन से बरामद

देश20 hours ago

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त के बाद JDS ने मीडिया से किया किनारा, नेताओं को दी ये सख्त हिदायत

दुनिया21 hours ago

फ़ारस की खाड़ी में अमेरिका ने की 1500 सैनिकों तैनाती, ईरान ने दिया बड़े संकट का संकेत, जानें क्या कहा

देश21 hours ago

सत्ता में वापसी के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उपराष्ट्रपति नायडू से की मुलाकात, इन मुद्दों पर की चर्चा

टेक्नोलॉजी21 hours ago

अब Google Search और Google Maps से कर सकेंगे ये भी काम, जानें पूरी बात

देश2 weeks ago

जानिए कौन है नीली ड्रेस वाली खूबसूरत पोलिंग अफसर, खुद किया ये बड़ा खुलासा, देखें 13 तस्वीरें

राज्य3 weeks ago

फेसबुक पर इंस्पेक्टर से प्यार, फिर बने संबंध, होने वाली थी शादी, लड़की ने ये सुसाइड नोट लिख चुन ली मौत

राज्य3 weeks ago

यूपी की इस सीट पर यदुवंशी शिफ्ट हो रहे भाजपा में, लगा रहे ये नारे, गठबंधन के चेहरे पर चिंता की लकीरें

देश3 weeks ago

BSF के बर्खास्त जवान तेज बहादुर बोले, 50 करोड़ रुपए दो तो कर दूंगा पीएम मोदी की हत्या, देखें वीडियो

राज्य4 weeks ago

योगी सरकार के मंत्री पर महिला ने लगाये रेप के आरोप, मंत्री बोले-दोषी साबित हुआ तो कुत्ते से नुचवा लेना मांस

देश2 weeks ago

जानिए कौन है पीली साड़ी पहनी खूबसूरत पोलिंग ऑफिसर? जिसे ढूंढ रही पूरी दुनिया, देखें फोटो

राज्य3 weeks ago

रमजान शरीफ के चांद की शहादत को लेकर दरगाह आला हजरत से जारी हुआ हेल्पलाइन नंबर

वीडियो3 weeks ago

तेज रफ्तार बाइक की टंकी पर बैठ कर लड़की ने लड़के को किया किस, IPS अफसर ने शेयर किया वीडियो

देश5 days ago

कांग्रेस ने जारी किया अपना एग्जिट पोल, खुद को दिखाईं इतनी सीटें, भाजपा को बताया सत्ता से दूर

देश2 weeks ago

सट्टा बाजार में भाजपा को बढ़त, बना रहे मोदी सरकार, जानिए महागठबंधन का क्या है हाल

देश4 weeks ago

पिता और पुत्र ने मां-बेटी से किया बलात्कार, अश्लील वीडियो बनाकर करने लगे ये काम, जानें पूरा मामला

देश4 weeks ago

यूपी की इस लोकसभा सीट को जीते बिना सत्ता में नहीं आती है भाजपा, जानिए क्या है बड़ा कारण

देश3 weeks ago

दोबारा सत्ता में लौटी मोदी सरकार तो इन पांच राज्यों की सरकारों पर मंडराने लगेंगे खतरे का बादल

राज्य4 weeks ago

बरेली : मुक़द्दस रमज़ान 6 या 7 जून से, बरेलवी हाफिजों की दुनिया भर में मांग

देश3 weeks ago

पहली बार जंगल में उतरीं महिला कमांडो, 2 वर्दीधारी नक्सलियों को किया ढेर

देश2 weeks ago

ममता की प्रत्याशी बोली, बंगाल में राम बोलने की अनुमति नहीं, अल्लाह ही रहेंगे, पुलिसवाले भी समर्थन में

मनोरंजन1 week ago

जानें, फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ की बॉक्स ऑफिस पर कैसी रही शुरुआत, दर्शकों ने दी कैसी प्रतिक्रिया?

देश3 weeks ago

फानी तूफान का तांडव शुरू, 11 लाख लोग हटाए गए, बिजली गुल, संचार सेवा ठप, देखें तबाही के वीडियो

Trending