Connect with us

देश

भारत-चीन पीछे हटने को तैयार नहीं, तीसरे दौर की वार्ता भी बेनतीजा

Published

on

पैंगोंग, हॉट स्प्रिंग, गोगरा और गलवान घाटी में फिलहाल तनाव बरकरार 

नई दिल्ली। भारत और चीन के कोर कमांडरों के बीच तीसरे दौर की वार्ता भी बेनतीजा रही है। एलएसी पर तनाव कम करने और भारतीय क्षेत्र में चीनी सेना की घुसपैठ रोकने के मकसद से मंगलवार को यह बैठक भारत ने बुुुलाई थी, इसीलिए पैंगोंग त्‍सो के नजदीक भारतीय क्षेत्र चुशूल में दोनोंं देशों के कोर कमांडर आमने-सामने बैठे। कई घंटे चली इस मैराथन बैठक में एक-दूसरे के निर्माण कार्यों और सेनाओं के पीछे हटने के मुद्दों पर कोई सहमति नहीं बन पाई। भारत-चीन के बीच एलएसी पर वैसे तो 5 विवादित क्षेत्र हैं लेकिन बैठक में फिंगर-4 पर सबसे ज्यादा फोकस रहा जहां से दोनों देशों की सेनाएं पीछे हटने को तैयार नहीं है।

चीन ने बैठक स्थल पर ही उकेरा अपना झंडा, सेटेलाइट ने किया कैप्‍चर 

चीन ने बैठक स्थल पर ही पैंगोंग झील के किनारे अपने देश का बड़ा सा झंडा और एक निशान उकेरा जिसे सेटेलाइट ने कैप्‍चर किया है। तीसरे दौर की बैठक का मुख्य एजेंडा दोनों देशों की सेनाओं को एलएसी से पीछे हटने का रहा। यह बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण रही क्योंकि इससे पहले की दोनों बैठकें चीन की तरफ मॉल्डो में हुई थी। यानी वह दोनों बैठकें चीन के आग्रह पर बुलाई गई थीं। इन दोनों बैठकों में बनी सहमतियों का चीन की तरफ से पालन नहीं किया गया बल्कि इस बीच चीनी सेना ने सीमा पर अपनी तैनाती बढ़ाई और अभी भी पीछे हटने को तैयार नहीं हैं। इसलिए तीसरे दौर की बैठक भारत को बुलानी पड़ी, इसीलिए यह भारतीय क्षेत्र चुशूल में हुई। भारत की तरफ से भारतीय सेना की 14वीं कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह ने तथा चीन की तरफ से मेजर जनरल लिन लियू ने अपनी-अपनी टीम की अगुवाई की।

चीनी सैनिक फिंगर-4 पर कब्ज़ा जमाये बैठे

पिछली दो दौर की बैठकों में तय हुआ था कि दोनों सेनाएं सभी विवादित क्षेत्रों से कम से कम 5-5 किमी. पीछे हटेंगी लेकिन भारत और चीन को यह शर्त बिलकुल मंजूर नहीं है क्योंकि अगर भारत को यहां से पीछे हटना पड़ा तो फिंगर-4 से हटकर फिंंगर-2 में जाना पड़ेगा। इसी तरह चीनियों को फिंंगर-6 तक पीछे हटना पड़ेगा। मौजूदा स्थिति में चीनी सैनिक फिंगर-4 पर कब्ज़ा जमाये बैठे हैं। इसी तरह चीन गलवान घाटी से पीछे हटने को लेकर सहमत नहीं है क्योंकि उसका कहना है कि वह पहले ही अपनी लाइन से 800 मीटर पीछे हैं।
बैठक में एलएसी पर तनाव कम करने और भारतीय क्षेत्र की गलवान घाटी, हॉट स्प्रिंग्स और देप्सांग के मैदानी इलाके में चीनी घुसपैठ के मुद्दे पर भी चर्चा हुई लेकिन दोनों पक्ष सहमति के करीब नहीं पहुंच सके।

गलवान की खूनी झड़प

इससे पहले दो दौर की सैन्य वार्ता हो चुकी है। पहली बैठक 6 जून को दोनों देशों के सैन्य कमांडरों के बीच चीन की तरफ मॉल्डो में हुई थी। बेनतीजा रही इस बैठक के बाद फिर 15 जून को ब्रिगेडियर और कर्नल स्तर की हुई वार्ता में पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी क्षेत्र और हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र पेट्रोलिंग पॉइंट्स 14 और 17 के दो फेस-ऑफ स्थलों पर चर्चा हुई। इस बैठक के बाद सौर्हाद्रपूर्ण माहौल में दोनों फ़ौजों के 5-5 किलोमीटर पीछे हटने पर सहमति बन गई। दिन में हुई बैठक में बनी सहमति का चीन पक्ष से पालन नहीं किया गया जिसकी वजह से 15/16 जून की रात को गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों में भिड़ंत हो गई जिसमें 20 भारतीय जवान शहीद हो गए।
गलवान की खूनी झड़प के बाद 22 जून को 11 घंटे चली बैठक में भारत ने चीन से दो टूक एलएसी से अपनी सेना हटाकर 2 मई से पहले की स्थिति बहाल करने को कहा था। लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की मैराथन बैठक में इस बात पर आपसी सहमति बनी कि दोनों देश पूर्वी लद्दाख में एलएसी से पीछे हटेंगे। इसके बावजूद चीन के सैनिक अभी भी वहीं पर जमे हैं जहां पिछली बैठक के समय थे। दूसरे दौर की इस वार्ता में बनी सहमतियों पर चीन की तरफ से अमल न होने पर भारत को फिर तीसरे दौर की बैठक बुलानी पड़ी लेकिन वह भी एलएसी पर भारत और चीन के बीच तनाव कम करने में नाकाम रही।

देश

अमिताभ-अभिषेक के बाद ऐश्वर्या राय और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव

Published

on

मुंबई। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और बेटे अभिषेक बच्चन के बाद अब ऐश्वर्या राय बच्चन और उनकी बेटी आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री डॉ राजेश टोपे ने ट्वीट करके इसकी पुष्टि की है।

किया ये ट्वीट

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने ट्वीट कर लिखा, ऐश्वर्या राय बच्चन और उनकी बेटी आराध्या को भी कोरोना है। जबकि जया बच्चन की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। राजेश टोपे ने कहा- हम बच्चन परिवार के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।

इनकी रिपोर्ट निगेटिव आई

वहीं जांच में श्वेता नंदा, अगस्त्या नंदा, नव्या नवेली नंदा और जया बच्चन की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। आपको बता दें कि कल ऐश्वर्या की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। लेकिन आज उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। साथ में उनकी बेटी आराध्या की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

नानावती अस्पताल में भर्ती हैं अमिताभ और अभिषेक

बता दें कि शनिवार देर रात अमिताभ बच्चन और अभिषेक ने खुद कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की जानकारी दी थी। अभिषेक ने ट्वीट कर बताया था कि उन्होंने बीएमसी समेत सभी जरूरी अथॉरिटीज को इस बात की जानकारी दे दी है। दोनों को मुंबई के नानावती अस्पताल में भर्ती किया गया है।

Continue Reading

देश

विश्वकर्मा इंटर प्राइजेज स्टील फैक्ट्री में आग लगने से लाखों का सामान हुआ खाक

Published

on

यमुनानगर । जगाधरी में विश्वकर्मा इंटर प्राइजेज स्टील फैक्ट्री में अचानक आग लग गई जिससे लाखों रुपए का नुकसान हो गया। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। शनिवार देर रात को लगी यह आग सुबह तक चलती रही, जिसको बुझाने के लिए मौके पर फायर ब्रिगेड की गाड़ियां भी पहुंची और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।
करीब 50 लाख रुपए का हुआ नुकसान
 जगाधरी में गौरी शंकर आश्रम लिंक रोड पर विश्वकर्मा इंटर प्राइजेज स्टील फैक्ट्री में आग लगने के बाद भारी संख्या में लोग वहां इकट्ठा हो गए। इसी बीच लोगों ने फायर ब्रिगेड को इसकी सूचना दी। इस आग से फैक्ट्री में 10 से 12 लाख रुपए का तेल तथा 15 लाख रुपए की भट्ठी व कई मोटरें जल गई। जिससे फैक्ट्री मालिक को करीब 50 लाख रुपए का नुकसान हुआ। फैक्ट्री मालिक नरेश कुमार ने बताया कि रविवार सुबह छः बजे उन्हें लोगों से सूचना मिली जिसके बाद वह मौके पर पहुंचे और फायर ब्रिगेड को फोन किया। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि सबसे पहले बिजली की तारों में आग लगी और उसके बाद तेल के टैंक में आग लगी जिससे उसका भारी नुकसान हुआ।
Continue Reading

देश

‘गिड़गिड़ा रहा था विकास दुबे, कह रहा था मुझे यूपी पुलिस के हवाले मत करो’

Published

on

भोपाल। मध्य प्रदेश के उज्जैन में तैनात एक पुलिस के जवान ने एक स्थानीय अखबार से बातचीत में विकास दुबे को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है। जवान ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद जब हमारी पुलिस टीम विकास को यूपी पुलिस के हवाले करने जा रही थी तो विकास रास्ते में गिड़गिड़ा रहा था कि मुझे यूपी पुलिस के हवाले मत करो।

जवान के मुताबिक, विकास को पता था कि कानपुर कांड के बाद यूपी में लगातार उसके साथियों का एनकाउंटर हो रहा है। ऐसे में विकास दुबे के मन में भी यह डर बैठा गया था कि उज्जैन पुलिस की टीम जब उसे यूपी एसटीएफ के हवाले करेगी तो उसे छोड़ेगी नहीं। इसीलिए वह ऐसा करने से मना कर रहा था।

उज्जैन जेल में ही रहने दो

जवान के मुताबिक, विकास को यूपी पुलिस के हवाले करने 16 जवानों की टीम गई थी। वह लगातार पुलिस की टीम से कहा रहा था कि मुझे उज्जैन जेल में ही डाल दो। एक जवान ने बताया कि वह उज्जैन में ही रखे जाने को लेकर रास्ते भर गिड़गिड़ा रहा था। एक बार तो पुलिसकर्मियों ने उसे सख्ती दिखाते हुए चुप रहने को कहा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उज्जैन में पुलिस की पूछताछ के दौरान विकास दुबे कई बार रोया भी था। उसने उज्जैन में अधिकारियों से भी गुहार लगाई थी कि मुझे कोर्ट में पेशी को बाद उज्जैन जेल में ही भिजवा दो। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से ही कोर्ट में उसकी पेश हुई। उसके बाद उज्जैन पुलिस ने गुना बॉर्डर पर ले जाकर उसे यूपी पुलिस के हवाले कर दिया।

एक दिन पहले ही आ गया था इंदौर

उज्जैन के एसपी मनोज कुमार सिंह ने बताया है कि वह गिरफ्तारी से एक दिन पहले ही उज्जैन पहुंच गया था। उन्होंने बताया कि अलवर से राजस्थान परिवहन निगम की बस से वह झालावाड़ पहुंचा था। झालावाड़ से वह बस के जरिए उज्जैन पहुंचा। वह सुबह 4 बजे के करीब देवास गेट बस स्टैंड पर उतरा था। वहां से ऑटो लेकर रामघाट गया। वहां स्नान ध्यान करने के बाद मंदिर में गया।

एसपी ने कहा है कि उज्जैन में अभी तक किसी भी व्यक्ति के द्वारा उसे संरक्षण देने की बात सामने नहीं आई है। उसके खुलासे पर हम जांचे करेंगे, उसके बाद ही कुछ कह पाएंगे। उज्जैन वह दर्शन करने के लिए ही आया था। हम लगातार यूपी पुलिस को इनपुट्स शेयर कर रहे हैं। जानकारी सामने आने के बाद मीडिया से भी शेयर करूंगा।

Continue Reading

Trending