Connect with us

देश

नाटकीय ढंग से हिरासत में लिए गए कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर, आपे से बाहर हुए समर्थक

Published

on

संतोष राज पांडेय

उत्तर प्रदेश में जाने-माने कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। यह नाटकीय घटना तब हुई जब मंगलवार (11 सितंबर) दोपहर वह आगरा में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आए थे। प्रेस कॉन्फ्रेंस के वक्त पुलिस ने उन्हें तब पकड़ा, जब वह कमला नगर स्थित रेस्त्रां में कॉन्फ्रेंस शुरू करने ही वाले थे। पुलिसकर्मी इसके बाद उन्हें एक होटल ले गए, जहां उनसे पूछताछ की गई। बाद में उन्हें गिरफ्तार कर पुलिस लाइन भेजा गया। कथावाचक को पकड़ने के बाद उनके कुछ समर्थक भी आपे से बाहर हो गए थे। आनन-फानन में पुलिस ने उन्हें भी हिरासत में ले लिया। पुलिस का उनपर आरोप था कि  आगरा में उनकी एंट्री बैन होने के बाद भी वह कार्यक्रम में हिस्सा लेने आ आए थे। हालांकि, देर शाम निजी मुचलके पर उन्हें पुलिस लाइंस से छोड़ दिया गया। आपको बता दें कि कथावाचक एससी-एसटी एक्ट में हुए संशोधनों के खिलाफ सवर्णों के आंदोलन की अगुवाई भी कर चुके हैं। कुछ दिनों पहले मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर में वह इस मसले पर विरोध करते नजर आए थे।
पूरे घटनाक्रम के बारे में जो जानकारी मिली उसके अनुसार  देवकीनंदन आगरा में विरोध प्रदर्शन की जिद कर रहे थे. जबकि वहां जिला प्रशासन ने धारा 144 लगा रखी है. आपको बता दे कि देवकीनंदन ठाकुर एससी एसटी एक्ट संशोधन के विरोध को लेकर आजकल काफी चर्चा में हैं. इसी बात का विरोध करने के लिए वो आगरा में प्रदर्शन करना चाहते थे. लेकिन पुलिस ने धारा 144 का हवाला देकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया. हालांकि बाद में उन्हें निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया.

अखंड इंडिया मिशन के नाम से बनाया दल

रिहाई के बाद ठाकुर देवकीनन्दन मथुरा के लिये रवाना हो गये. प्रेस कांफ्रेंस में देवकीनंदन ने बताया कि उनको बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. सोशल मीडिया के माध्यम से उनको जान से मारने की भी धमकी दी गई है. ये सब एससी/एसटी एक्ट कानून का विरोध करने पर किया जा रहा है. अगर सरकार इस कानून में बदलाव नहीं करती है तो हम उग्र आन्दोलन करेंगे. सीओ हरीपर्वत अभिषेक सिंह का कहना था कि देवकीनन्दन आगरा के खन्दौली में मीटिंग करने जा रहे थे. उनको मीटिंग की अनुमति नहीं थी. लेकिन वे एक होटल में प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे. उनके पास उसकी भी अनुमति नहीं थी. देवकीनन्दन को धारा 151 के तहत गिरफ्तार कर पुलिस लाइन ले जाया गया था. देवकीनंदन एक कथावाचक और आध्यात्मिक गुरु हैं. SC-ST एक्ट के खिलाफ मुहिम चलाने के लिए ‘अखंड इंडिया मिशन’ नाम का एक दल भी बनाया गया है. इस दल का राष्ट्रीय अध्यक्ष देवकीनंदन ठाकुर को बनाया गया है. एससी-एसटी एक्ट में किए गए बदलाव को समाज बांटने वाला बताते हुए भागवताचार्य देवकीनंदन ठाकुर ने कहा कि केंद्र सरकार अगले दो महीने में इस एक्ट को सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार रूप में बदल दे. यदि ऐसा नहीं हुआ तो हम सब मिलकर देश को जातिगत राजनीति वाले दलों से स्थाई समाधान देंगे.

खूब चर्चा में रहे विवादित बयान

कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर हाल ही में अपने एक विवादित बयान को लेकर खूब चर्चा में रहे. उन्होंने सरकार को चेतावनी भरे लहजे में कहा था- ‘दो महीने का समय हमने लिया है, अगर हमें हल मिल गया तो हम कुछ नहीं करेंगे. अगर नहीं मिला तो वो करेंगे जो भारत के इतिहास में कभी हुआ ही नहीं.’ देवकीनंदन ठाकुर का जन्म 12 सितंबर 1978 को उत्तर प्रदेश के मथुरा में हुआ था. वह श्रीकृष्ण जन्मभूमि मथुरा के ओहावा गांव के एक ब्राह्मण परिवार से हैं. उनकी मां श्रीमद्भागवतगीता महापुराण में काफी विश्वास रखती थीं. उनके अलावा उनके 4 भाई और दो बहनें भी हैं. 6 साल की उम्र में वह घर छोड़कर वृंदावन पहुंचे और ब्रज के रासलीला संस्थान में हिस्सा लिया. यहां उन्होंने भगवान कृष्ण और भगवान राम की भूमिकाएं निभाईं. श्रीकृष्ण (ठाकुरजी) की भूमिका निभाने की वजह से घर में उन्हें ‘ठाकुरजी’ कहा जाने लगा. कहा जाता है कि 13 साल की उम्र में उन्होंने श्रीमद्भागवतपुराण कंठस्थ कर लिया. उन्होंने निंबार्क संप्रदाय के अनुयायी के रूप में गुरु-शिष्य की परंपरा के तौर पर दीक्षा ली. 18 साल की उम्र में दिल्ली के शाहदरा में श्रीराममंदिर में श्रीमदभागवत महापुराण के उपदेश लोगों को दिए. इसके बाद उन्होंने कई जगहों पर श्रीकृष्ण और राम कथा का वाचन किया और उनके फॉलोअर्स की संख्या बढ़ने लगी. बता दें कि ट्विटर पर उनके 3 लाख 27 हजार फॉलोअर्स जबकि फेसबुक पर 25 लाख से ज्यादा फॉलोअर्स हैं. https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

तीन राज्यों में भाजपा की हार का कारण बना मोदी सरकार का ये दांव, न माया मिली और न राम

Published

on

नयी दिल्ली। तीन राज्यों में भाजपा की मिली करारी हार के पीछे कहीं न कहीं एससी-एसटी एक्ट फैक्टर नजर आ रहा है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने एससी-एसटी एक्ट में बदलाव करते हुए कहा था कि इसके मामलों में तुरंत गिरफ्तारी नहीं की जाएगी, लेकिन केंद्र की मोदी ने अध्यादेश लाकर इसे पलट दिया। जिसको लेकर मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के सवर्ण वोटर काफी नाराज थे।

इसको लेकर मध्य प्रदेश में हिंसक प्रदर्शन भी हुआ था। हालत इस कदर बिगड़े थे कि मध्य प्रदेश के सीधी जिले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर चप्पल फेंकी गई। चप्पल फेंकने वाले एससी/एसटी एक्ट का विरोध कर रहे थे। इतनी ही नहीं जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान उनके ऊपर पत्थर फेंके गए थे और काले झंडे दिखाए गए थे।

भारी विरोध के बाद शिवराज ने कही थी ये बात

भारी विरोध के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि राज्य में एससी-एसटी एक्ट के तहत जांच के बिना किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान चौहान ने यह भी कहा था कि वह मध्य प्रदेश में एससी-एसटी एक्ट का दुरुपयोग नहीं होने देंगे। लेकिन इसका कुछ खास फायदा नहीं हुआ।

मध्य प्रदेश का गणित

एक अनुमान के अनुसार मध्य प्रदेश में अनुसूचित जाति की आबादी 15.2 फीसदी, और अनुसूचित जनजाति की आबादी 20.8 फीसदी है। अनुसूचित जाति की 35 सीटें हैं, जिसमें पहले 28 पर भाजपा काबिज थी। इसी प्रकार 47 अनुसूचित जनजाति बहुल सीटों में से 32 पर भाजपा का कब्जा था।

छत्तीसगढ़ में भी नहीं मिला साथ

वहीं छत्तीसगढ़ की बात करें तो वहां अनुसूचित जाति-जनजातियों के वोट का बड़ा हिस्सा है, लेकिन जिस तरह से रमन सिंह सरकार का सूपड़ा साफ हुआ है, उससे साफ है कि इस वर्ग का भी समर्थन पार्टी को नहीं मिला।

राजस्थान में भी हुआ नुकसान

राजस्थान की बात करें तो साल 2013 में भाजपा ने एससी/एसटी के लिए तय 58 सीटों में से 49 सीटें जीती थीं। इस बार कांग्रेस ने 31 जीती हैं। एससी/एसटी एक्ट में केंद्र द्वारा लाए गए बिल से राज्य के सवर्ण वोटर नाराज हैं। इस पर हिंसा भी हुई थी। इससे भाजपा को ही नुकसान हुआ।

भाजपा विधायक का निशाना

वहीं हार के बाद यूपी के बैरिया विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने पार्टी के खराब प्रदर्शन का ठीकरा एससी-एसटी एक्ट पर फोड़ा है। उन्होंने कहा है कि भाजपा को यह हार एससी-एसटी एक्ट की वजह से मिली है। उन्होंने कहा कि एससी-एसटी एक्ट में संशोधन सरकार का आत्मघाती निर्णय था।

भाजपा को माया मिली न राम

विधानसभा चुनावों के परिणाम के बाद ऐसा माना जा रहा है कि एससी-एसटी एक्ट पर सवर्ण काफी नाराज थे और इस वजह से तीनों राज्यों में सवर्णों के काफी वोट भाजपा के खिलाफ चले गए। बड़ी संख्या में नाराज मतदाताओं ने नोटा पर भी वोट डाल दिए जिसका आखिरकार भाजपा को ही नुकसान हुआ है। दूसरी तरफ, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के वोट भी काफी हद तक तीनों राज्यों में कांग्रेस की तरफ चले गए।

यह वर्ग परंपरागत तौर पर कांग्रेस का वोटर रहा है, लेकिन पिछले कुछ चुनावों से भाजपा को भी इस वर्ग के वोट अच्छी तादाद में मिल रहे थे। इस मामले में यह कहा जा सकता है कि भाजपा को माया मिली न राम, क्यों‍कि एक तरफ उससे सवर्ण नाराज हो गए, वहीं दूसरी तरफ, उसे एससी-एसटी वर्ग की तरफ से भी बहुत समर्थन नहीं मिला। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार पर बहुत खुश हैं सोनिया गांधी, कह रहीं ये बात

Published

on

नयी दिल्ली। तीन राज्य, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ में भाजपा को मिली हार पर सोनिया गांधी काफी खुश हैं। संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने बुधवार को संसद भवन परिसर में पत्रकारों के सवालों के जवाब पर कहा “मैं निश्चित रूप से बहुत खुश हूँ कि कांग्रेस ने इन विधानसभा चुनावों में जीत हासिल कर भाजपा की नकारात्मक राजनीति को परास्त किया है। सोनिया गांधी ने कहा कि पार्टी को अब लोगों की समस्याओं का समाधान कर उनकी सेवा करनी है और देश के विकास के लिए और प्रभावी ढंग से काम करना है।

‘कांग्रेस-मुक्त’ भारत के नारे का राहुल ने दिया था जारेदार जवाब

इससे पहले पार्टी की जीत को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने कार्यकर्ताओं की जीत बताते हुये प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी के ‘कांग्रेस-मुक्त’ भारत के नारे का जारेदार जवाब दिया और कहा कि कांग्रेस जनहित के लिए काम करेगी और किसी के लिए भी ‘भारतमुक्त’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। बता दें कि राहुल गांधी पिछले वर्ष 11 दिसम्बर को कांग्रेस अध्यक्ष चुने गये थे। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

छत्तीसगढ़ में सीएम की रेस में ये चार नाम, लेकिन इस नेता का नाम सबसे आगे

Published

on

रायपुर । छत्तीसगढ़ के नवनिर्वाचित विधायक राज्य का अगला मुख्यमंत्री तय करने के लिए बुधवार को बैठक करेंगे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल इस दौड़ में सबसे आगे हैं। बघेल ने एक एजेंसी से बातचीत में कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे की अगुवाई में शाम को सभी नवनिर्वाचित विधायकों के साथ बैठक होगी। उन्होंने कहा, “बैठक में मुख्यमंत्री तय करने के बारे में फैसला लिया जाएगा। बैठक में राज्य के कांग्रेस प्रभारी पी.एल. पुनिया भी शामिल होंगे।

सीएम की दौड़ में चार लोग

मुख्यमंत्री पद के लिए दौड़ मुख्य रूप से पाटन से विधायक बघेल, पार्टी के दिग्गज नेता और पिछली विधानसभा में विपक्ष के नेता रहे टी.एस. सिंह और राज्य से लोकसभा सांसद ताम्रध्वज साहू के बीच है। तीनों के अलावा, पूर्व केंद्रीय मंत्री चरण दास महंत को भी मुख्यमंत्री पद के लिए दौड़ में माना जा रहा है। पूर्व राज्य मंत्री बघेल को इस दौड़ में सबसे आगे देखा जा रहा है।

पार्टी के एक सूत्र ने कहा, “बघेल ने जमीनी स्तर पर काम करने के साथ-साथ केंद्र और राज्य के नेताओं के साथ समन्वय किया। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में उन्होंने बहुत मेहनत की है और उनके मुख्यमंत्री के रूप में चुने जाने की संभावना है। रमन सिंह की अगुवाई वाली भाजपा को सत्ता से बाहर करने वाली कांग्रेस ने 90 सदस्यीय विधानसभा में 68 सीटों पर जीत दर्ज की है। भाजाप पिछले 15 सालों से राज्य में सत्ता पर काबिज थी। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
राज्य6 mins ago

श्रावस्ती : ड्रेस पाकर खिल उठे बच्चों के चेहरे, निलम्बित शिक्षक को 19 दिसम्बर तक अपना पक्ष रखने के निर्देश

राज्य30 mins ago

सुल्तानपुर : स्कूल जा रही मासूम को ट्रैक्टर ने रौंदा, मौत के बाद घर और स्कूल मचा कोहराम

देश1 hour ago

तीन राज्यों में भाजपा की हार का कारण बना मोदी सरकार का ये दांव, न माया मिली और न राम

खेल2 hours ago

इस ख़ास उपलब्धि को हासिल करने से सिर्फ तीन कदम दूर हैं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली

देश2 hours ago

विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार पर बहुत खुश हैं सोनिया गांधी, कह रहीं ये बात

लाइफ स्टाइल2 hours ago

घर में ऐसे बनाएंगे पनीर कोरमा तो खाने में होगा बेहद स्वादिष्ट, जानें पूरी रेसिपी

देश3 hours ago

छत्तीसगढ़ में सीएम की रेस में ये चार नाम, लेकिन इस नेता का नाम सबसे आगे

दुनिया3 hours ago

सुंदर पिचई ने किया खुलासा, बताया क्यों गूगल पर ‘Idiot’ लिखने पर आ जाती है डोनाल्‍ड ट्रंप की फोटो

राज्य3 hours ago

यूपी : एक बच्चे की गुब्बारा लेने की जिद बनी चार लोगों की मौत का कारण, जानें पूरी घटना

वीडियो4 hours ago

VIDEO : ईशा अंबानी की शादी में जमकर नाचे रणवीर-दीपिका, इन दिग्गज सितारों ने भी लगाए ठुमके

देश4 hours ago

जानिए MP के संभावित CM सिंधिया का राजश्री ठाट बाट, राजकुमारी से हुई है शादी, एेसी है इनकी लव स्टोरी

दुनिया4 hours ago

डोनाल्ड ट्रम्प ने दीवार बनाने के लिए फिर दी धमकी, कहा- देश को सीमा सुरक्षा की जरूरत

हेल्थ4 hours ago

गुस्से में सुनी हुई आवाज पर तुरंत प्रतिक्रिया करता है दिमाग : शोध

देश5 hours ago

जानिए क्या थी MP के भावी CM सिंधिया की वो कसम जो शिवराज की हार से हुई पूरी

राज्य5 hours ago

युवक ने महिला से पहले फेसबुक पर की दोस्ती, फिर मिलने के बहाने घर जाकर किया बलात्कार

राज्य6 hours ago

चुनाव परिणामों के बाद पीएम मोदी के खिलाफ लगे होर्डिंग्स और पोस्टर, लिखा- ‘योगी लाओ-देश बचाओ’

देश6 hours ago

जानिए राजस्थान के भावी CM सचिन के बारे में, सारा अब्दुल्ला से की है शादी, कुछ एेसी है इनकी लव स्टोरी

टेक्नोलॉजी6 hours ago

6.26 इंच डिस्प्ले के साथ लॉन्च हुआ Huawei Enjoy9, जानें फोन की खासियत

देश1 week ago

यूपी : बुलंदशहर में प्रदर्शनकारियों और पुलिस की भिड़ंत, इंस्पेक्टर शहीद, स्थिति तनावपूर्ण

देश1 week ago

देखें : इंस्पेक्टर की मौत का वीडियो आया सामने, घटना स्थल पर मौजूद सिपाही ने सुनाई खौफनाक कहानी

राज्य2 weeks ago

यूपी : पांच साल का बच्चा बना एक दिन का विधायक, कोतवाली का किया निरीक्षण, सुनीं शिकायतें

देश3 weeks ago

डीएम की पत्नी पहनती है छोटे कपड़े और करती है अंग्रेजी में बात, रोका तो धरने पर बैठी

देश2 weeks ago

सीएम योगी आदित्यनाथ ने हनुमानजी को बताया दलित, मिला कानून नोटिस

देश2 days ago

डीएम की पत्नी ने लगाई आरोपों की झड़ी, कहा-यूपी की इस एसडीएम के साथ पति के हैं अवैध संबंध

दुनिया5 days ago

किस्मत हो तो एेसी, घर से निकली थी गोभी खरीदने वापस आई तो बन गई 1.5 करोड़ की मालकिन

देश1 week ago

छोटी सी दुकान में आयकर का छापा, मिले 300 लॉकर्स, एक महीने से हो रही नोटों की गिनती

वीडियो4 weeks ago

यूपी : भाजपा विधायक की दबंगई, इंस्पेक्टर को दी जूते से मारने की धमकी, एसपी नतमस्तक, देखें वीडियो

वीडियो2 weeks ago

देखें वीडियो : एेसे भी आती है मौत, स्टेज पर नाचते हुए 12 साल की लड़की ने तोड़ा दम

दुनिया3 weeks ago

ब्वॉयफ्रेंड को मारकर किए छोटे-छोटे टुकड़े फिर बिरयानी बनाकर लोगों को खिला दिया, एेसे हुआ खुलासा

देश4 weeks ago

पहले फौजी से फेसबुक पर की दोस्‍ती, एक मुलाकात के बाद लड़की भेजने लगी अपनी ही अश्‍लील तस्‍वीरें

राज्य3 weeks ago

अयोध्या : भारत जैसा लोकतंत्र और एकरसता पूरी दुनिया में नहीं : हाफिज उस्मान

देश1 week ago

बुलंदशहर हिंसा : खेत में मारी गई थी इंस्पेक्टर को गोली, निर्दोष था मारा गया छात्र सुमित, एसआईटी गठित

राज्य3 weeks ago

यूपी : अवैध संबंध के शक में महिला हेड कांस्टेबल को पति ने चापड़ से काटा डाला, गिरफ्तार

देश5 days ago

5 राज्यों के एग्जिट पोल जारी : भाजपा को बड़ा झटका, कांग्रेस की “चांदी”, जानिए कहां किसकी बन रही सरकार

देश3 weeks ago

कुत्ते के साथ नशे में धुत चार युवकों ने किया गैंगरेप, खून से लथपथ छोड़कर हुए फरार

राज्य3 weeks ago

सीतामढ़ी : श्री श्याम बाबा का धूम धाम से मनाया गया जन्मोत्सव, भक्त बोले-‘हारे के सहारे, बाबा श्याम हमारा’

Trending