Connect with us

देश

PM की मौजूदगी में गरजे शाह, बोले-विपक्ष का गठबंधन ढकोसला, लोकसभा चुनाव एक युद्ध की तरह

Published

on

नयी दिल्ली। ‘मिशन 2019’ की तैयारी में जुटी BJP की दो दिवसीय राष्ट्रीय परिषद की बैठक दिल्ली के रामलीला मैदान में शुरू हो गई। इस बैठक में पीएम नरेन्द्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई केन्द्रीय मंत्री व कई राज्यों के सीएम मौजूद हैं।

सर्वण आरक्षण बिल पास करना एक ऐतिहासिक कदम था – अमित शाह

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राष्ट्रीय अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा कि एक हफ्ते के अंदर दो महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं। आरक्षण बिल पास कराना एक ऐतिहासिक कदम था। भारत के युवाओं को आरक्षण की जरुरत है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जीएसटी काउंसिल की हर बैठक में चीजों के दाम कम किए गए हैं।

मंदिर निर्माण पर कांग्रेस अटका रही है रोड़ा

इस दौरान उन्होंने राम मंदिर को कहा कि कांग्रेस मंदिर बनने में रोड़े अटका रही है। उन्होंने कहा कि हम कोर्ट के जरिए हल निकालने की कोशिश कर रहे हैं। शाह ने कहा, राम मंदिर नहीं बनेगा जहां श्री राम का जन्म हुआ था।

2019 का चुनाव देश के लिए महत्वपूर्ण है

उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, 2019 में मोदी सरकार बनवा दीजिए, केरल तक झंडा फहराएंगे। बुआ-भतीजा पर निशाना साधते हुए कहा कि यूपी में इस बार 74 सीटों पर जीत हासिल करेंगे। शाह ने कहा, “यूपी में भाजपा 50% वोट की लड़ाई लड़ेगी। महागठबंधन को पता है कि मोदी से अकेले नहीं लड़ सकते। 2019 का चुनाव मोदी बनाम ऑल पार्टी हो चुका है। पूरी दुनिया में मोदी जी जैसा लोकप्रिय नेता नहीं। महागठबंधन सिर्फ ढकोसला है।

‘चौबे जी छब्बे बनने निकले थे और दूबे बनकर निकले’

राफेल डील के मसले पर अमित शाह ने कहा कि जब मामला सुप्रीम कोर्ट में गया तो मैंने राहुल गांधी को कहा कि आपके पास जितने भी दस्तावेज हैं वो कोर्ट को दे दीजिये, लेकिन नहीं दिया। सिर्फ भ्रांतियां फैलाई। उन्हें लगा था कि हम संसद में नहीं बोलेंगे, लेकिन झूठ का पर्दाफाश किया। रक्षामंत्री ने एक-एक प्वाइंट का जवाब दिया। चौबे जी छब्बे बनने निकले थे और दूबे बनकर संसद से बाहर आए।

उत्तर प्रदेश में लोकसभा की सीट 74 हो सकती है लेकिन 72 नहीं- अमित शाह

नई दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित बीजेपी राष्ट्रीय अधिवेशन को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मैं लगातार पार्टी इकाई के साथ संपर्क में हूं और पूरे विश्वास के साथ यह कह सकता हूं कि इस बात जीतने वाली सीटों की संख्या 74 हो सकती है, लेकिन कम होकर 72 नहीं।

शाह की बड़ी बातें व विपक्ष पर बड़ा हमला

  1. जिस भारत की कल्पना विवेकानंद जी ने की थी उस भारत को हम मोदी जी के नेतृत्व में बनाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं : अमित शाह
  2. 2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है। दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी है। 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है : अमित शाह
  3. 2019 का चुनाव भारत के गरीब के लिए बहुत मायने रखता है। स्टार्टअप को लेकर निकले युवाओं के लिए ये चुनाव मायने रखता है, करोड़ों भारतीय जो दुनिया में भारत का गौरव देखने चाहते हैं उनके लिए ये चुनाव मायने रखता : अमित शाह
  4. एक दूसरे का मुंह न देखने वाले आज हार के डर से एक साथ आ गए हैं, वो जानते हैं कि अकेले नरेंद्र मोदी जी को हराना मुमकिन नहीं है : अमित शाह
  5. लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में 73 से 74 सीटें भाजपा की होगी : अमित शाह
  6. हमने गरीबों के कल्याण के लिए बहुत सारे काम किये हैं, उसके साथ-साथ हमारे देश की सुरक्षा भी महत्वपूर्ण है। 2014 से पहले देश के जवानों की हत्या कर दी जाती थी, आये दिन बॉर्डर से घुसपैठ होती थी, इस प्रकार की स्थिति में हमने देश संभाला था : अमित शाह
  7. अटल जी जनसंघ के समय से ही देश की राजनीति के ध्रुव तारे की तरह चमके थे, भाजपा के संस्थापक अध्यक्ष थे। देश के हर कौने में भाजपा को पहुंचाने के लिए अटल जी और आडवाणी जी की जोड़ी ने जो संघर्ष किया है, ऐसा संघर्ष शायद ही हुआ हो : अमित शाह
  8. जमानत पर घूमने वालों के आरोपों से कोई फर्क नहीं पड़ता। राहुल आरोप लगाते रहें, देश की जनता सब समझती है : अमित शाह
  9.  पूरी दुनिया में नरेन्द्र मोदी जैसे कोई भी इतने लोकप्रिय नेता नहीं है : अमित शाह
  10. देश की सीमाओं की सुरक्षा का प्रबंधन कैसा हो, मोदी जी की सरकार में इसका आर्दश मॉडल आज दुनिया देख रही है : अमित शाह
  11.  उरी में जवानों के साथ हुई बर्बरता के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक का फैसला किया, इससे दुनिया का भारत को देखने का अंदाज बदल गया : अमित शाह
  12. सबसे पहला काम हमने जवानों को वन रैंक वन पेंशन देने का काम किया. जवानों के परिवारों का सम्मान किया, पहले गोलियां चलाने के लिए दिल्ली पूछना पड़ता था, हमने कहा, गोली का जवाब गोले से दिया जाए, पीछे नहीं हटना है. 70 साल से देश ऐसी सरकार चाहता था, नक्सलवाद और माओवाद खत्म होने की कगार पर है : अमित शाह
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

अब घर खरीदना एक अप्रैल से होगा सस्‍ता, जीएसटी काउंसिल ने नए स्‍लैब को दी मंजूरी, पढ़ें बड़ी बातें

Published

on

नई दिल्ली। आखिरकार गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (जीएसटी) काउंसिल ने आवास परियोजनाओं में मकानों पर नए टैक्‍स स्‍लैब को लागू करने की मंजूरी दे दी । जीएसटी काउंसिल ने मंगलवार को हुई 34वीं बैठक में मकानों पर नए टैक्‍स ढांचे को लागू करने की योजना को स्वीकृति दी।

ये नए नियम एक अप्रैल से लागू होंगे। इसके लागू होने के बाद घर खरीदना पहले के मुकाबले सस्‍ता होगा। हालांकि, काउंसिल की बैठक में देश में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर लागू आचार संहिता की वजह से कोई नया फैसला नहीं लिया गया।

राजस्‍व सचिव ने दी इसकी जानकारी

इसके बारे में केंद्रीय वित्त मंत्रालय में राजस्व सचिव एबी पांडे ने काउंसिल की बैठक के किये गए निर्णय की जानकारी दी। पांडे ने कहा कि राज्य सरकारों के साथ बातचीत करके आवास विकास के कारोबार में लगी कंपनियों को नए टैक्‍स ढांचे के अनुपालन के लिए पर्याप्त वक्‍त दिया जाएगा।

अचार संहिता की वजह से नए फैसले नहीं

बैठक के दौरान रियल एस्टेट सेक्‍टर पर वर्तमान टैक्‍स ढांचे से नए टैक्‍स ढांचे को लागू करने से जुड़े प्रावधानों और इसके अनुपालन से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की गई। इसके बावजूद लोकसभा चुनाव से पहले हुई इस बैठक में आचार संहिता की वजह से कोई नए फैसले नहीं किये गए।

इस बार कम हु जीएसटी कलेक्‍शन

उल्लेखनीय है कि चालू वित्‍त वर्ष में जीएसटी कलेक्‍शन उम्‍मीद के मुताबिक नहीं हो सका है। सिर्फ तीन बार एक लाख करोड़ रुपये के पार कलेक्‍शन हुआ जबकि अन्‍य महीनों में कलेक्‍शन एक लाख करोड़ के नीचे ही रहा। दरअसल जीएसटी कलेक्‍शन में कमी की वजह से नेट इन डायरेक्‍ट टैक्‍स कलेक्‍शन में भी कमी आई है।

जीएसटी कलेक्‍शन इस साल फरवरी में बढ़ा

जीएसटी के तहत रेवेन्‍यू कलेक्‍शन इस साल फरवरी में पिछले साल के मुकाबले 13 फीसदी बढ़कर 97,247 करोड़ रुपये हो गया।फरवरी, 2018 में जीएसटी संग्रह 85,962 करोड़ रुपयेथा। इससे पहले जनवरी 2019 में कलेक्‍शन 1,02,503 करोड़ रुपये रहा था। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

दो साल बेमिसाल : CM योगी ने पेश किया सरकार का रिपोर्ट कार्ड, गिनाईं अपनी उपलब्धियां, पढ़ें बड़ी बातें 

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दो साल बेमिसाल रहे हैं। इन दो वर्षाें में सरकार ने चहुंमुखी विकास किया है। यूपी सरकार ने इस अल्प समय में कई कीर्तिमान भी बनाया है। वे मंगलवार को सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर बीजेपी के प्रदेश मुख्यालय में पत्रकारों से रूबरू थे। उन्होंने दो वर्षाें के कार्यकाल का हिसाब देते हुए कहा कि इन दो साल में प्रदेश की भाजपा सरकार ने अपराध पर अकुंश लगाने में अपनी अहम भूमिका निभायी है।

दो साल में 3300 इनकाउंटर हुए, 74 कुख्यात अपराधी मारे गए

सपा शासनकाल में हर साल दंगे होते थे पर भाजपा सरकार में प्रदेश की कानून-व्यवस्था में सुधार हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह वही प्रदेश है जहां दंगों के लंबा सिलसिला चला और कैराना से बहुसंख्यक हिंदू परिवारों को पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा था, उन्होंने कहा कि अब वो परिवार वापस आ गए हैं।

इन दो साल में 3300 इनकाउंटर हुए। 74 कुख्यात अपराधी मारे गए। 12 हजार से ज्यादा अपराधी गिरफ्तार हुए। पुलिसिया कार्रवाई से अपराधियों में भय का माहौल व्याप्त हुआ। दो साल में एक भी दंगा नहीं हुआ है। महिलाओं में सुरक्षा की भावना आई है। इन दो वर्षों में ऐसिड अटैक की एक भी घटना नहीं हुई। पिछले दो साल में प्रदेश की छवि पूरी तरह से बदली हुई है।

किसानों का कर्ज माफ किया

किसानों के लिए किए गए सरकार के कामों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार आते ही प्रदेश के 86 लाख लघु एवं सीमांत किसानों का कर्ज माफ किये हैं। किसानों को उनकी फसलों का डेढ़ गुना न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलने लगा है। गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 1460 रुपये प्रति कुंतल से बढ़ाकर 1840 रुपये प्रति कुंतल किया गया। सरकार ने बिचैलियों पर लगाम लगाई। आज प्रदेश उन राज्यों में शामिल हो गया है जहां किसानों को 18 घंटे बिजली मिल रही है। प्रदेश सरकार जनता के हित में कई योजनाएं चलायी है।

युवाओं को रोजगार सरकार की प्राथमिकता रही

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने पिछले दस साल के तुलना में दो वर्षो में ही ज्यादा काम किया है। यह भी कहा कि युवाओं को रोजगार सरकार की प्राथमिकता रही है। केंद्र की योजनाओं के अलावा प्रदेश स्तर पर विश्वकर्मा श्रम सम्मान, माटी कला बोर्ड, एक जिला-एक उत्पाद जैसी योजनाओं के जरिये यह क्रम जारी है। इसके अलावा सरकारी क्षेत्र में भी ढाई लाख नौकरियां दी गईं।

कुंभ का अच्छा आयोजन किया

कहा कि इस साल प्रयागराज में कुंभ का अच्छा आयोजन किया है। देश व दुनिया से 24.22 करोड़ लोगों ने संगम में डुबकी लगाई। कुंभ से दुनिया में सुरक्षा व स्वच्छता का अच्छा संदेश गया है। 36 हजार करोड़ की लागत से एक्सप्रेस-वे बनाव रहे हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

यूपी : ये हैं वो दो बड़े कारण जिसके डर से कांग्रेस पर हमलावर हैं मायावती, अखिलेश भी दे रहे साथ

Published

on

नई दिल्ली। बसपा प्रमुख मायावती ने जिस दिन कहा कि बसपा किसी भी राज्य में कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव (लोकसभा) नहीं लड़ेगी, उस दिन उनके सजातीय विश्वासपात्र नौकर शाह व उ.प्र. के पूर्व मुख्य सचिव नेतराम के लखनऊ व दिल्ली के 12 ठिकानों पर आयकर विभाग का सुबह से ही छापा चल रहा था। नेतराम बसपा के टिकट से लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। इन दिनों बसपा के फंड व चुनावी खर्च की व्यवस्था भी उन्हीं के जिम्मे होने की चर्चा है।

इस कारण डरी मायावती और कांग्रेस के साथ तालमेल नहीं करने की घोषणा कर दी

उ.प्र. में मायावती व मुलायम के कार्यकाल में हुए खाद्यान्न घोटाला मामले में जनहित याचिका दायर करने वाले सर्वोच्च न्यायालय के वकील विश्वनाथ चतुर्वेदी का कहना है कि उ.प्र. में 2007 से 2012 तक मुख्यमंत्री रहने के दौरान मायावती ने नोएडा व लखनऊ में कई स्मारक परियोजनाओं के लिए मूर्तियों की खरीद से लगायत पत्थरों की सप्लाई करवाई थी। इसके अलावा अन्य कई मामले में हुए घपलों की जांच चल रही है। इन घोटालों के कुछ मामले में नेतराम भी जांच के दायरे में हैं। नेतराम के मार्फत आयकर, प्रवर्तन निदेशालय व सीबीआई मायावती तक पहुंच सकती है। इससे डरी बसपा प्रमुख ने लोकसभा चुनाव में कहीं भी कांग्रेस के साथ तालमेल नहीं करने की घोषणा कर दी।

प्रियंका गांधी के चन्द्रशेखर से मिलना बसपा सुप्रीमो को अच्छा नहीं लगा

उनकी इस घोषणा के दूसरे ही दिन कांग्रेस की महासचिव व पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी, पश्चिम उत्तर प्रदेश के प्रभारी व पार्टी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया तथा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर को साथ लेकर मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती भीम आर्मी पार्टी के युवा दलित नेता चन्द्रशेखर उर्फ रावण से मिलने चली गईं। लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार नवेन्दु का कहना है कि कांग्रेसी नेताओं – प्रियंका, सिंधिया व राजबब्बर का मेरठ जाकर भीम आर्मी पार्टी के चन्द्रशेखर से मिलना बसपा सुप्रीमो को अच्छा नहीं लगा। उनको लग रहा है कि कांग्रेसी नेताओं ने चन्द्रशेखर के मार्फत बसपा के दलित वोट में सेंध लगाने की रणनीति के तहत यह सौहार्द यात्रा की। उसी के बाद से उनके तेवर कांग्रेस के प्रति और भी कड़े हो गये हैं।

माया के दबाव में सपा प्रमुख अखिलेश यादव उनके निर्देशानुसार बोल रहे

माया के दबाव में सपा प्रमुख अखिलेश यादव उनके निर्देशानुसार बोल रहे हैं। चन्द्रशेखर से कांग्रेसी नेताओं के मुलाकात के बाद से कांग्रेस के प्रति माया के बयान लगातार तल्ख हुए हैं। 17 मार्च को एक कार्यक्रम में अखिलेश यादव ने कहा, ‘हमको हाथी व हाथ दोनों का साथ चाहिए’। 17 मार्च को ही उ.प्र. कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने राज्य के 80 लोकसभा सीटों में से 7 को सपा-बसपा-रालोद नेताओं के लिए छोड़ने की घोषणा की।

उस पर मायावती ने 18 मार्च को दो ट्वीट करके कांग्रेस पर प्रहार किया। कहा कि हमारा गठबंधन अकेले भाजपा को पराजित करने में सक्षम है। कांग्रेस जबरदस्ती उ.प्र. गठबंधन हेतु सात सीटें छोड़ने की भ्रांति नहीं फैलाए। इसके बाद एक और ट्वीट करके माया ने कहा कि उ.प्र. समेत पूरे देश में कांग्रेस से हमारा किसी भी प्रकार का गठबंधन नहीं है। हमारे लोग कांग्रेस द्वारा आए दिन फैलाए जा रहे तरह-तरह के भ्रम में कत्तई नहीं आयें।

मायावती के कड़े रूख के बाद अखिलेश ने दो घंटे बाद उनके ट्वीट को रिट्वीट किया

मायावती के कड़े रूख के बाद अखिलेश ने दो घंटे बाद उनके ट्वीट को रिट्वीट किया, ‘उ.प्र. में सपा-बसपा- रालोद का गठबंधन भाजपा को हराने में सक्षम है। कांग्रेस किसी भी तरह का भ्रम न पैदा करे’। नवेन्दु का कहना है कि चन्द्रशेखर से मेरठ में कांग्रेसी नेताओं की मुलाकात के बाद से इस तरह दो दिन में माया को अपना दलित वोट कांग्रेस की तरफ जाने तथा कांग्रेस द्वारा चन्द्रशेखर को दलित नेता के तौर पर खड़ा करने का डर सताने लगा है। सपा को भी अगड़ा व मुसलमान वोट कांग्रेस की तरफ जाने का भय हो गया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का भाजपा शीर्ष नेतृत्व के विरूद्ध सीधे लगातार हमला और प्रियंका गांधी के सक्रिय राजनीति में आ जाने से ब्राह्मण व मुस्लिम समाज की पहली पसंद कांग्रेस होने लगी है।

मुसलमान छिटका तो दोनों दलों को बहुत अधिक नुकसान होगा

मुसलमानों के जेहन में यह बात भी पैठ गई है कि मायावती कब भाजपा के साथ मिल जायें, कहा नहीं जा सकता। हो सकता है वह इस लोकसभा चुनाव में भाजपा की सीटें कम आने पर उसका समर्थन देकर सरकार में शामिल हो जायें। सपा के नेता मुलायम सिंह तो भाजपा नेतृत्व के प्रति नरम हैं ही। इसके चलते मुसलमानों के मन में यह बात पैठ गई है कि केवल कांग्रेस उसके साथ छल नहीं करती है। बाकी तो सीबीआई ,ईडी,आयकर के डर से भाजपा के सामने साष्टांग हो गये हैं। इसलिए जहां भी कांग्रेस प्रत्याशी भाजपा के विरूद्ध ठीक से लड़ रहा होगा, वहां मुसलमान वोट उसकी तरफ जाएगा। इससे उ.प्र. में सपा व बसपा दोनों को दिक्कत हो रही है। मुसलमान छिटका तो दोनों दलों को बहुत अधिक नुकसान होगा।

मायावती और सपा दोनों का जातीय वोट कुछ हद तक भाजपा ने काट ली है। इस बारे में उ.प्र. के पूर्व मंत्री सुरेन्द्र का कहना है कि समरसता और विकास के लिहाज से मुसलमान कांग्रेस को सबसे मुफीद मानता है। उ.प्र. में कांग्रेस अब उठने लगी है। यह डर बसपा को सताने लगा है। इसलिए वह इसे रोकने के लिए हर तरह के उपक्रम करेंगी। इसके अलावा कई मामलों में सीबीआई,आयकर,ईडी का भी डर है। इस दबाव में भी दोनों दल कांग्रेस से तालमेल नहीं कर रहे हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
राज्य17 hours ago

बाराबंकी में भाजपा समर्थक युवक की धारदार हथियार से हत्या, तनाव

देश17 hours ago

अब घर खरीदना एक अप्रैल से होगा सस्‍ता, जीएसटी काउंसिल ने नए स्‍लैब को दी मंजूरी, पढ़ें बड़ी बातें

राज्य18 hours ago

यूपी : रालोद ने जारी पार्टी उम्मीदवारों की लिस्ट, अजीत सिंह और जयंत चौधरी इस सीट से लड़ेंगे चुनाव

राज्य18 hours ago

दिल्ली पब्लिक जानकीपुरम व प्राथमिक विद्यालय छावनी मड़ियांव में हुई चुनाव पाठशाला

राज्य18 hours ago

अयोध्या : दो सड़क दुर्घटनाओं में बाइक सवार मामा-भांजी और एक अन्य युवक की दर्दनाक मौत

राज्य19 hours ago

सीतामढ़ी : महिलाओं ने श्री श्याम प्रभु संग खेली फूलों की होली, रंग से सराबोर रहे भक्त

राज्य20 hours ago

फतेहपुर : भांग की आड़ में गांजे की बिक्री का वीडियो हुआ वायरल

राज्य21 hours ago

बहराइच : गुण्डा एक्ट के तहत 7 अपराधी हुए जिला बदर, 1 शस्त्र लाइसेंस निरस्त

राज्य21 hours ago

फतेहपुर में पुलिस टीम ने छापा मारकर पकड़ी अफीम की खेती, जांच में जुटे अफसर

राज्य21 hours ago

अयोध्या : पल्सर सवार तीन लुटेरों ने मिठाई कारीगर को पीटकर किया छिनैती

राज्य21 hours ago

अमेठी जिले के होटल पर्ल कांटिनेंटल में प्रेमिका के साथ रात गुजारने के बाद युवक ने खुद को मारी गोली

राज्य22 hours ago

अयोध्या : लखनऊ-फैजाबाद रेलखंड पर फिर मिला अज्ञात अधेड़ का कटा शव

टेक्नोलॉजी22 hours ago

भारत में लांच हुआ रेडमी गो का स्मार्टफोन, बहुत कम है इसकी कीमत, धमाकेदार हैं फीचर्स

मनोरंजन23 hours ago

आलिया भट्ट की दिलेरी, ड्राइवर को दिया ये खास तोहफा, अब सलमान के साथ फरमायेंगी इश्क

राज्य23 hours ago

यूपी : शिवपाल यादव ने जारी की 31 उम्मीदवारों की सूची, फिरोजाबाद से खुद ठोकेंगे ताल

खेल23 hours ago

दो दिग्गजों ने माना, पंत भारत के भविष्य, टीम इंडिया में चौथे नंबर का भगाएंगे ‘सिरदर्द’

दुनिया24 hours ago

अमेरिका के इन 11 शहरों में ‘एन आर आई फॉर मोदी’ का शंखनाद, BJP नेता कर रहें प्रचार

राज्य1 day ago

जमात रजा-ए-मुस्तफा संगठन ने की न्यूजीलैंड में क्राइस्टचर्च मस्जिद पर आतंकी हमले की निंदा

हेल्थ2 weeks ago

मर्दों के लिए खास : स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए खाएं ये असरदार चीजें

टेक्नोलॉजी4 weeks ago

48 मेगापिक्सल कैमरे के साथ धूम मचाने को तैयार है रेडमी Note 7 pro, जानें इसके ख़ास फीचर्स

देश3 weeks ago

जानिए कौन है ये महिला, जो जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन को वाघा बॉर्डर तक छोड़ने आई?

देश3 weeks ago

ब्रेकिंग न्यूज़ : भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनन्दन को कल रिहा करेगा पाकिस्तान : इमरान खान

हेल्थ3 weeks ago

सुबह खाली पेट लहसुन खाने के होते हैं ये जबरदस्त फायदे, आप भी जानें

देश3 weeks ago

अपने ही पायलट की मौत को छिपा रही पाक सेना, भारतीय समझ पाकिस्तानियों ने मार डाला था

देश3 weeks ago

पाकिस्तान में घुसकर भारतीय विमानों ने जैश के ठिकानों पर की भारी बमबारी, 300 आतंकी मारे गए

देश4 weeks ago

PCS परीक्षा-2016 का रिजल्ट घोषित, कानपुर की जयजीत कौर फर्स्ट, टॉपर्स में ये 10 नाम

राज्य3 weeks ago

यूपी की सभी लोकसभा सीटों पर कांग्रेस के लड़ने की तैयारी से सपा परेशान, रामगोपाल यादव ने दी धमकी

देश2 weeks ago

अपनी ही नाबालिग बेटी से देह व्यापार कराती थी मां, अलग-अलग तस्वीरें भेज बुलाए जाते थे ग्राहक

देश4 weeks ago

यूपी : सपा-बसपा गठबंधन ने जारी की लोकसभा सीटों की सूची, जानें किस सीट से कौन लड़ेगा चुनाव

वीडियो4 weeks ago

शहीद मेजर विभूति की शादी का वीडियो हुआ वायरल, पत्नी के साथ ऐसे मनाई थी खुशियां, आप भी देखें

देश4 weeks ago

वीडियो : साल भर भी नहीं हुआ था शादी को, पत्नी ने कुछ यूं दी अपने जांबाज शहीद पति को अंतिम विदाई

राज्य1 week ago

आजमगढ़ से अखिलेश यादव लड़ेंगे चुनाव, कांग्रेस करेगी समर्थन!, जानिए इस सीट का जातीय समीकरण

देश3 weeks ago

पाकिस्तानी सेना का दावा, भारत के दो पायलट हमारे कब्जे में, जारी किया वीडियो

देश5 days ago

समाजवादी पार्टी ने जारी की 4 उम्मीदवारों की एक और लिस्ट, जानिए किस सीट से किसको मिला टिकट

देश3 weeks ago

वतन वापस लौटे विंग कमांडर अभिनंदन, अटारी-वाघा बॉर्डर पर गूंजा-हे शूर वीर तुम्हारा अभिनंदन…महाअभिनंदन

देश3 days ago

पिता ने जबरन करा दी नाबालिग लड़की की अधेड़ से शादी, सुहागरात पर हुआ बड़ा खुलासा

Trending