Connect with us

देश

बिहारी शब्द सम्मान नहीं आज भी गाली है, सरकार बिहार को नहीं बना सकी आत्मनिर्भर

Published

on

संतोष राज पांडेय

अगर बिहारी शब्द गाली नही है तो सम्मान का भी सूचक नही है। नीतीश कुमार ने जब सत्ता संभाली कहा- बिहारी कहलाना गर्व होगा। समय का चक्र है चलता रहा सब कुछ बदला, सुशासन आ गया। राजनीति का चरित्र भी बिहार में बदल गया नहीं बदला तो बिहारी का मतलब। आज भी आप दिल्ली ,मुम्बई, कोलकत्ता और चेन्नई चले जाओ बिहारी शब्द का अर्थ आज भी आपको अहसास करा देगा। मेरा मतलब गुजरात से था।गुजरात भी वही निकला।

पूरे उत्तर भारतीयों के प्रति गलत धारणा

यह समझ से परे है कि कई गैर हिन्दी भाषी राज्यों में बिहारियों के प्रति इतनी नफरत का भाव क्यों घर कर गया है। भारत के संविधान ने जब किसी भी व्यक्ति को, कहीं भी बसने और रोजी−रोटी कमाने की छूट दे रखी हो तो उस पर विवाद क्यों खड़ा किया जाता है। महाराष्ट्र में उत्तर भारतीयों के साथ अकसर ही मारपीट और उनके संपत्ति या फिर वाहनों के साथ तोड़फोड़ की खबरें आती रहती थीं, लेकिन गुजरात तो ऐसा नहीं था। गैर हिन्दी शासित राज्यों में कहीं कम तो कहीं ज्यादा तीखे तरीके से उत्तर भारतीयों को किसी न किसी बहाने से अपमानित करना, किसी एक व्यक्ति के अपराध के आधार पर पूरे उत्तर भारतीयों के प्रति गलत धारणा बना लेना, निश्चित तौर पर मानसिक रूप से दिवालियापन का शिकार और सियासी लोगों की सोच का परिणाम हैं। जैसा कि गुजरात में बलात्कार की एक घटना के बाद देखने को मिल रहा है, वहां इस समय उत्तर भारतीयों को निशाना बनाया जा रहा है। परिवार को सुरक्षित रखने और अपने आप को बचाने के लिये उत्तर प्रदेश−बिहार के लोग रोजी−रोटी छोड़कर पलायन को मजबूर हो रहे हैं तो इसके लिये उत्तर भारतीयों से अधिक वह लोग जिम्मेदार हैं जो अपने आप को इन लोगों के बराबर खड़ा नहीं कर पाते हैं। मेहनत से डरते हैं। महाराष्ट्र हो या फिर गुजरात दोनों के विकास में उत्तर भारतीयों के योगदान को नकारा नहीं जा सकता है। उत्तर भारतीयों को कभी भाषा के नाम पर तो कभी अपराध के लिये जिम्मेदार ठहराकर प्रताड़ित करना सही नहीं है। कौन भूल सकता है कि राष्ट्रीय भाषा हिन्दी के खिलाफ तमिलनाडु के दिग्गज नेता (अब दिवंगत) करूणानिधि ने लम्बा आंदोलन चलाया था।

सियासी निहितार्थ भी कम नहीं

प्रथम दृष्टया तो यह जरूर लगता है कि एक बिहारी का नाम बलात्कार की एक घटना में सामने आने के बाद पूरा विवाद खड़ा हुआ है, लेकिन इसके पीछे के सियासी निहितार्थ भी कम नहीं हैं। असल में देश के विकास और हिन्दुस्तान की राजनीति में उत्तर भारतीयों के दबदबे को कई गैर हिन्दी राज्यों के नेता बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं। इस संदर्भ में करूणानिधि का वो बयान याद किया जा सकता है जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर मैं किसी हिन्दी भाषी राज्य का नेता होता तो कब का प्रधानमंत्री बन चुका होता। शिव सेना प्रमुख बाला साहब ठाकरे को ही ले लीजिए, जो अपने आप को हिन्दू हृदय सम्राट कहलाने में गौरवांवित होते थे, लेकिन जब उत्तर भारत से जाकर मुम्बई में बसे लोगों की बात होती तो वह विरोध का कोई रास्ता नहीं छोड़ते थे, तब उनकी सोच मराठियों तक सीमित हो जाती थी।

प्रतिक्रिया और सियासत होना स्वाभाविक

अतीत में कई गैर हिन्दी राज्यों के कई बड़े नेता अपनी सियासत को बुलंदियों पर ले जाने के लिये उत्तर भारत में हाथ−पैर मारते देखे जा चुके हैं। बीजेपी के दिग्गज नेता और गुजरात के मुख्यमंत्री रहे नरेन्द्र सिंह मोदी की सियासत भी तभी परवान चढ़ पाई जब उन्होंने गुजरात से निकल कर उत्तर भारत के जिले वाराणसी की तरफ रूख किया। वाराणसी से चुनाव जीतने की वजह से ही मोदी प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुंच सके थे। इसी प्रकार चाहे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हों या फिर मराठा क्षत्रप शरद पवार की राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी अथवा ऑल इंडिया मजलिस−ए−इत्तेहादुल मुस्लिमीन के सांसद असदुद्दीन ओवैसी, तमाम दलों के नेता उत्तर भारत में अपनी जड़ें मजबूत करने को उतावले भी रहते हैं और जब मौका पड़ता है तो यहां के लोगों का सियासी विरोध का कोई मौका भी नहीं छोड़ते हैं। इस पर उत्तर भारत से भी प्रतिक्रिया और सियासत होना स्वाभाविक ही रहता है।

विधायक अल्पेश ठाकोर को पूरे घटनाक्रम के लिए बता दिया जिम्मेदार

तमाम दल और नेता ऐसे मामलों से सियासी फायदा भी लेना चाहते हैं और विरोध करते भी दिख जाते हैं। इसीलिये गुजरात से बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को धमकी देकर भगाए जाने के मामले पर भी सियासत तेज हो गई है। भारतीय जनता पार्टी और जनता दल युनाइटेट (जेडीयू) ने इसके लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है तो वहीं, कांग्रेस ने इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांग लिया। इस बीच, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा जरूर है कि इस मामले में पुलिस कार्रवाई कर रही है, लेकिन वह भी फूंक−फूंक कर कदम रख रहे हैं कि कहीं गुजराती नाराज न हो जायें। बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल (यूनाइटेड) ने तो कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को खुला पत्र लिखकर विधायक अल्पेश ठाकोर को इस पूरे घटनाक्रम के लिए जिम्मेदार बता दिया। जेडीयू ने पूछा कि कांग्रेसियों को बिहार के लोगों से इतनी नफरत क्यों है ? जबकि बीजेपी कह रही है कि गुजरात हिंसा के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है। यह कांग्रेस की सोची−समझी साजिश है। कांग्रेस के लोग पूरे देश को खंडित करने में जुटे हैं। बिहार के भाजपा नेता और मोदी सरकार में मंत्री गिरिराज सिंह का कहना थ कि सब कुछ अल्पेश की सेना कर रही है। यह वही अल्पेश हैं जो उत्तर प्रदेश में अपनी जड़ें जमाने के लिये पश्चिमी उत्तर प्रदेश में काफी सक्रिय भीम सेना प्रमुख चन्द्रशेखर ‘रावण’ की चौखट पर कई बार नाक रगड़ते देखे जा चुके हैं। विवाद बढ़ने पर अल्पेश ठाकोर कह रहे हैं कि उनके लोग हिंसा को बढ़ने से रोक रहे हैं और पिछले 1−2 दिन में काफी शांति आई है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘हम नहीं चाहते कि राज्य में विपदा खड़ी हो और हम ऐसी किसी भी हरकत को बढ़ावा नहीं देंगे।’ हार्दिक पटेल ने घटना की निंदा करते हुए मांग की है कि अपराधियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

पीएम को भी वाराणसी जाना है

कांग्रेस इस मसले पर भी सियासत करने से बाज नहीं आ रही है। कांग्रेस के सहयोग से विधायक बने अल्पेश ने बीते साल 23 अक्टूबर 2017 को कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। एक तरफ अल्पेश ठाकोर पर उत्तर भारतीयों के साथ मारपीट करने का आरोप लग रहा है तो दूसरी तफर कांग्रेस के नेता उलटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांग रहे हैं। दस जनपथ के बेहद करीबी और गुजरात से आने वाले कांग्रेस के नेता अहमद पटेल अपना पक्ष रखने की बजाये कह रहे हैं कि गुजरात सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए। इसी प्रकार यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर ने गुजरात और केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस के नेता संजय निरुपम जो हर समय मोदी विरोध पर उतारू रहते हैं, यहां भी सियासत करने से नहीं चूके। उनका कहना था, ‘पीएम के गृह राज्य (गुजरात) में अगर यूपी, बिहार और एमपी के लोगों को मार−मार कर भगाया जा रहा है तो ये याद रखना चाहिए कि एक दिन पीएम को भी वाराणसी जाना है। वाराणसी के लोगों ने उन्हें गले लगाया और पीएम बनाया था।’

पूरे देश के लोगों के खून−पसीने का नतीजा

कांग्रेस पर उंगली बीजेपी ही नहीं उठा रही है जेडीयू भी कांग्रेस को कटघरे में खड़ा कर रही है। जेडीयू ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि एक ओर आप अपने विधायक अल्पेश ठाकोर को बिहार कांग्रेस का सह−प्रभारी निुयक्त करते हैं और दूसरी तरफ उनकी सेना ‘गुजरात क्षत्रिय ठाकोर सेना’ बिहार के लोगों को गुजरात से निकाल रही है। उन्होंने पत्र में कहा है, आज गुजरात में जो विकास दिख रहा है, वह बिहारी ही नहीं पूरे देश के लोगों के खून−पसीने का नतीजा है। गुजरात ही क्यों देश का हर क्षेत्र एक−दूसरे पर आश्रित है। पत्र में जेडीयू ने कांग्रेस के बहाने आरजेडी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि आज कांग्रेस को एक ऐसे दल से गठबंधन करने को मजबूर होना पड़ रहा है, जिसके अध्यक्ष सजायाफ्ता हैं। इतना ही नहीं, उनकी विरासत संभालने वाले उनके बेटे भी भ्रष्टाचार के आरोपी हैं।
जेडीयू ने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा कि विधायक अल्पेश लगातार उत्तर भारतीयों के खिलाफ जहर उगल रहे हैं, रैलियां कर रहे हैं, लेकिन उनके खिलाफ कांग्रेस अनुशासनात्मक कार्रवाई तक नहीं कर पा रही है। जेडीयू नेता ने पत्र में लिखा है, ‘ठाकुर जैसे संकीर्ण मानसिकता वाले व्यक्ति को बिहार में कांग्रेस पार्टी का सह−प्रभारी बनाकर बिहारियों के प्रति घृणा का अहसास कराया गया है।’

जो चुनावों में जीत नहीं पाए हैं, वह हिंसा फैलाने का काम कर रहे

बता दें कि गुजरात में 14 माह की बच्ची से रेप की घटना के बाद बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है जिस कारण उत्तर भारत के लोग गुजरात से पलायन कर रहे हैं। यूपी और बिहार से दो जून की रोटी कमाने गुजरात गए 50,000 से ज्यादा लोगों को पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा है। हालांकि प्रशासन किसी तरह के पलायन से इंकार कर रहा है। उत्तर भारतीयों पर हमलों को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की नाराजगी सामने आ रही है तो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस संबंध में सीधे गुजरात सीएम विजय रूपाणी से बात की। वहीं, गुजरात बीजेपी के नेताओं का कहना था कुछ लोग जो चुनावों में जीत नहीं पाए हैं, वह हिंसा फैलाने का काम कर रहे हैं।
गुजरात के पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने पत्रकारों को बताया कि बलात्कार की घटना के बाद एक विशेष समुदाय के लोग गुजरात के बाहर के लोगों को टारगेट कर रहे हैं। बता दें कि पीड़ित परिवार गुजरात के ठाकोर समुदाय से ताल्लुक रखता है। यही वजह है कि हिंसा में ठाकोर समुदाय का नाम सामने आया है। हिंसा फैलाने के आरोप में तीन सौ लोगों से अधिक गिरफ्तार हो चुके हैं। कहानी कुछ भी हो, सबकी राजनीति रंग लाई केवल मुंह बना या कुछ खोना पड़ा तो वह बिहारियों को ही।  आज भी वोट की राजनीति करने वाली बिहार की राजनीतिक पार्टिया मजबूत और धनवान तो हो गयी पर बिहार को आत्म निर्भर नहीं बना सकी। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

घायल यात्री को कंधे पर लादकर 1.5 किलोमीटर दौड़ा सिपाही, बचाई जान, देखें लाइव वीडियो

Published

on

होशंगाबाद/भोपाल । मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में पुलिस के एक सिपाही ने यात्री गाड़ी से गिरे युवक को कंधे पर लादकर डेढ़ किलोमीटर का रास्ता तय किया और चिकित्सा सुविधा समय पर मुहैया कराकर उसकी जान बचाई। डीजीपी वी.के. सिंह ने पुलिस जवान के इस काम को सराहा है।

Posted by Rahul Saklley on Friday, February 22, 2019

मामला होशंगाबाद जिले के शिवपुर थाना क्षेत्र का है, जहां शनिवार को एक यात्री, यात्रा के दौरान चलती गाड़ी से गिर गया। इस हादसे की सूचना भोपाल के डायल 100 पर दी गई। सूचना के आधार पर पुलिसकर्मी पूनम बिल्लौरे व डायल 100 गाड़ी के चालक राहुल साकल्ले मौके पर पहुंचे। युवक की हालत को देखने के बाद दोनों ने पाया कि घटनास्थल तक गाड़ी का आना संभव नहीं है। इस स्थिति में पूनम ने वक्त खराब किए बिना ही घायल युवक को कंधे पर लादा और गाड़ी की तरफ चल पड़ा।

Posted by Rahul Saklley on Friday, February 22, 2019

डीजीपी ने कहा-पुलिस जवान होगा पुरस्कृत

घटनास्थल से घायल युवक अजीत को कंधे पर लादकर पुलिस जवान भोपाल के अस्पताल लाया, जहां उसका इलाज जारी है। इस मामले में राज्य के पुलिस महानिदेशक वी.के. सिंह ने ट्वीट किया और होशंगाबाद पुलिस अधीक्षक से पुलिस जवान को पुरस्कृत करने को कहा। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

हमारी सरकार और मां भगवती पर भरोसा रखो, इस बार सबका हिसाब होगा, पूरा हिसाब होगा : पीएम मोदी

Published

on

टोंक। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद आतंकवाद के खिलाफ पूरे विश्व को भारत के साथ बताते हुए कहा है कि देश बुलंद हौंसलों के साथ सीना तानकर विश्व पटल पर खड़ा हैं और इस बार सबका हिसाब और पूरा हिसाब होगा।

पीएम मोदी शनिवार को राजस्थान के टोंक में भाजपा की विजय संकल्प रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने पुलवामा शहीदों को नमन करते हुए कहा कि पुलवामा हमले के बाद देश तो एक साथ है ही, विश्व भी देश के साथ हैं। देश और दुनियां आज पुलवामा हमले के खिलाफ एकजूट हैं और एक स्वर हैं। उन्होंने आश्वस्त करते हुए कहा कि मोदी सरकार और मां भगवती पर भरोसा रखो, इस बार सबका हिसाब होगा, पूरा हिसाब होगा।

पाकिस्तान का एक एक हिसाब लिया जा रहा

पीएम मोदी ने कहा, मानवता के दुश्मनों को सबक और दुनियाभर में इनका दाना पानी बंद होना चाहिए और देश का प्रधानसेवक इसी काम में जुटा हैं। उन्होंने कहा कि दुनिया में तब तक शांति नहीं हैं जब तक आतंकवादी की फैक्ट्री ऐसे ही चलती रहेगी। इस पर ताला लगाने का काम भी मेरे ही हिस्से रखा हैं तो ऐसा ही सही। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के विरुद्ध पूरी दुनिया में एक रुप में मन बन गया हैं और आतंकवाद के गुनहगारों को सजा देने के लिए हर मोर्चे पर मजबूती के साथ आगे बढ रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह राजनीति से ऊपर उठकर राष्ट्रनीति और राष्ट्र के स्वाभीमान का सवाल हैं। पीएम मोदी ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान का एक एक हिसाब लिया जा रहा है। सरकार द्वारा फैसले लेने के बाद वहां हड़कंप मचा हुआ हैं।

हमारी लड़ाई आतंकवाद एवं मानवता के दुश्मनों के खिलाफ

देश में रह रहे अलगाववादियों पर सख्त कार्रवाई हुई और सख्त होती रहेगी। हम चुपचाप नहीं बैठेंगे और हम आतंकवाद को कुचलना भी जानते हैं। यह नई रीति एवं नई नीति वाला भारत हैं। उन्होंने कहा कि देश में सेना को पूरी छूट दे दी हैं। उन्होंने कहा कि हमारी लड़ाई आतंकवाद एवं मानवता के दुश्मनों के खिलाफ हैं। यह लड़ाई कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ हैं कश्मीरियों के नहीं। उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोग भी आतंकवाद के खिलाफ हैं और वे पिछले चालीस साल से आतंकवाद के भुगतभोगी हैं।

उन्होंने कहा कि कश्मीर में पंच और सरपंचों ने उनसे कश्मीर में आतंकवादियों को स्कूल नहीं जलाने देने का वादा किया और उन्होंने ये स्कूले नहीं जलाने देकर इसे पूरा भी किया। उन्होंने कहा कि लड़ाई जीतनी हैं और आतंकवाद को जड़ से उखाड़ना हैं। कश्मीरी भी आतंकवाद से मुक्ति चाहते हैं, लेकिन पिछले सरकारे ऐसे बीज बोए हैं, अब कश्मीरियों के सपने पूरे यही सरकार करेगी।

इमरान खान को प्रधानमंत्री बनने पर बधाई थी

पीएम मोदी ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को प्रधानमंत्री बनने पर बधाई देते हुए कहा था कि बहुत लड़ चुके भारत और पाकिस्तान, पाकिस्तान ने कुछ नहीं पाया, हर लड़ाई हार चुका हैं और यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा। आप तो क्रिकेट से राजनीति में आये हो, भारत और पाकिस्तान मिलकर गरीबी के खिलाफ लड़े, अशिक्षा से लड़े, यह बात उस दिन कही थी। उस समय खान ने उनसे कहा था कि मोदीजी मैं पठान का बच्चा हूं, सच्चा बोलता हूं और सच्चा करता हूं, आज यह कसौटी पर खरा उतरने का समय हैं। पीएम मोदी ने कहा कि मैं देखता हूं कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इस पर कितना खरा उतरते हैं।

कांग्रेस पर बोला हमला

इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस का नाम लिए बगैर कहा कि लोग पाकिस्तान जाकर कहते हैं कि कुछ भी करो मोदी को हटाओं। मुम्बई हमले के बाद आतंकवादी सरपरस्तों को जवाब देने की उनमें हिम्मत नहीं हैं। ऐसे लोग देश के किस काम के हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

PCS परीक्षा-2016 का रिजल्ट घोषित, कानपुर की जयजीत कौर फर्स्ट, टॉपर्स में ये 10 नाम

Published

on

नयी दिल्ली। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने पीसीएस-2016 का अंतिम परिणाम शुक्रवार 22 फरवरी को देर रात जारी कर दिया है। जिन उम्मीदवारों ने ये परीक्षा दी है वह आधिकारिक वेबसाइट पर uppsc.up.nic.in पर जा सकते हैं। उत्तर प्रदेश को 630 नए पीसीएस मिल गए हैं। वहीं तीन पद सहायक रोजगार अधिकारियों के खाली रह गए हैं, क्योंकि इन पदों के लिए किसी ने आवेदन के लिए चयन नहीं किया था।

PCS 2016- ये हैं टॉप -10 उम्मीदवार, पढ़ें- नाम

  1. परीक्षा में पहला स्थान कौशलपुरी, कानपुर की जयजीत कौर ने हासिल किया है।
  2. दूसरे स्थान प्रतापगढ़ जिले के विनोद कुमार पांडेय ने हासिल किया है।
  3. तीसरे स्थान प्रयागराज जिले नैनी के नवदीप शुक्ला ने हासिल किया है।
  4. चौथा स्थान फतेहपुर के प्रखर उत्तम ने हासिल किया है।
  5. पांचवा स्थान सिद्धार्थनगर के सतीश चंद्र त्रिपाठी ने हासिल किया है।
  6. छठां स्थान आशुतोष कुमार राय ने हासिल किया है।
  7. सातवां स्थान लवी त्रिपाठी ने हासिल किया है।
  8. आठवां स्थान सौरभ सिंह ने हासिल किया है।
  9. नौवां स्थान नम्रता सिंह ने हासिल किया है।
  10. दसवां स्थान अंशिका दीक्षित ने हासिल किया है।

पति भी हुए चयनित

इस परीक्षा में जयजीत के पति आशुतोष मिश्रा भी चयनित हुए हैं। पत्नी की तरह उन्होंने भी बीटेक के बाद एमबीए किया है और मुम्बई में दोनों साथ ही नौकरी कर रहे थे। दोनों ने साल 2015 में शादी के बाद नौकरी छोड़ने और प्रशासनिक सेवा की तैयारी करने का निर्णय लिया था। आशुतोष का परिवार लखनऊ में रहता है और पिता प्रशासनिक सेवा में रह चुके हैं। आशुतोष की बड़ी बहन एसडीएम हैं।

PCS 2016 परीक्षा का रिजल्ट इस तरह से देखें

सबसे पहले UPPSC क आधिकारिक वेबसाइट  uppsc.up.nic.in. पर जाएं। फिर ‘List of selected candidates in combined state/upper subordinate services exam -2016’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद  ‘PCS16Result.docx’  फाइल  डाउनलोड करें। यहां आपको बता दें कि भविष्य के लिए प्रिंटआउट लेना न भूलें।

ये पद हैं खाली

पीसीएस 2016 में एसडीएम के 53, डेप्युटी एसपी के 52, बीडीओ के 21, नायब तहसीलदार के 209 और टीटीओ के 56 पद शामिल हैं।

बता दें,  2,50,696 उम्मीदवारों ने प्रारंभिक परीक्षा में हिस्सा लिया था जिसका आयोजन 20 मार्च 2016 में किया था। जिसमें से 14,615 उम्मीदवार सफल हुए। रिजल्ट 27 मई 2016 को जारी किया था। जिसके बाद मुख्य परीक्षा का आयोजन प्रयागराज और लखनऊ में 20 सितंबर, 2016 और 8 अक्टूबर, 2016 को आयोजित की गई थी। जबकि फाइनल इंटरव्यू 24 जनवरी 2019 को आयोजित किया गया था। बता दें, पीसीएस परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है जिसमें – प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू शामिल है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
राज्य49 mins ago

बहराइच : पशु वध करते हुए प्रयुक्त उपकरण के साथ आरोपी गिरफ्तार

देश51 mins ago

घायल यात्री को कंधे पर लादकर 1.5 किलोमीटर दौड़ा सिपाही, बचाई जान, देखें लाइव वीडियो

राज्य1 hour ago

फतेहपुर : पीसीएस परीक्षा में किसान के बेटे प्रखर उत्तम ने हासिल किया प्रदेश में चौथा स्थान, जिले में खुशी

राज्य1 hour ago

बहराइच : ईवीएम व वीवी पैट जागरुकता के लिए डीएम ने कराया माॅकपोल

राज्य1 hour ago

बहराइच : तारा महिला व महाराज सिंह इण्टर कालेज परीक्षा केन्द्र का डीएम ने किया निरीक्षण

राज्य1 hour ago

25 फरवरी को शादी के पवित्र बंधन में बंधेंगी अदाकारा श्रद्धा सिंह

राज्य1 hour ago

कन्नौज : किसान सम्मान योजना का गोरखपुर से कल शुभारंभ करेंगे प्रधानमंत्री

राज्य1 hour ago

कन्नौज : भगवान हमेशा धर्म के साथ ही रहते है : आचार्य मृदुल कृष्ण

राज्य2 hours ago

कन्नौज : आंगनबाड़ी केंद्रों का नियमित निरीक्षण कर समय से निर्धारित बैठकें भी आयोजित कराएं : डीएम

राज्य2 hours ago

अयोध्या : भरतकुंड के पास दर्दनाक हादसा, पूर्व ब्लॉक प्रमुख के दो चालकों की मौत, भतीजा घायल

राज्य2 hours ago

लखीमपुर-खीरी : दुधवा जंगल में आपसी संघर्ष में नर गैंडे भीम की मौत

राज्य2 hours ago

देवीपाटन मंडल : विधिक साक्षरता शिविर का उद्देश्य अदालत से बाहर निकलकर जनता को न्याय देना : सचिव 

राज्य2 hours ago

भदोही में पटाखा कारोबारी के मकान में भीषण विस्फोट, 13 की मौत, थानाध्यक्ष-चौकी इंचार्ज निलंबित

राज्य2 hours ago

अयोध्या : शाहगंज बाजार में किशोरी ने फांसी लगाकर दे जान, घर में मचा कोहराम

देश5 hours ago

हमारी सरकार और मां भगवती पर भरोसा रखो, इस बार सबका हिसाब होगा, पूरा हिसाब होगा : पीएम मोदी

देश6 hours ago

PCS परीक्षा-2016 का रिजल्ट घोषित, कानपुर की जयजीत कौर फर्स्ट, टॉपर्स में ये 10 नाम

देश6 hours ago

इंस्पेक्टर को पकड़ने गई सीबीआई टीम पर ग्रामीणों ने किया हमला, दो अधिकारी घायल

देश6 hours ago

पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, लड़ाकू विमान ‘तेजस’ में उड़ाने भरने वाली बनीं पहली महिला, देखें 8 फोटो

खेल1 week ago

ICC के कहने पर जोंटी रोड्स ने चुने दुनिया के टॉप 5 फील्डर्स, इस भारतीय खिलाड़ी को बताया नंबर वन

राज्य1 week ago

यूपी में 64 IAS और 11 IPS व 58 PPS अफसरों के तबादले, 22 जिलों में नए डीएम, देखें पूरी लिस्ट

मनोरंजन4 weeks ago

रवि किशन की बेटी और पद्मिनी कोल्हापुरे के बेटे की जोड़ी फिल्मी परदे पर मचाएगी धमाल

देश1 week ago

पुलवामा में उरी से भी बड़ा आतंकी हमला, 20 जवानों के दूर तक बिखरे थे शव, देखें 20 भयावह तस्वीरें और वीडियो

देश1 week ago

पुलवामा आतंकी हमला : CRPF के 44 जवान शहीद, मोदी बोले-व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान, देखें वीडियो

राज्य3 weeks ago

सीतापुर : पीड़ित गिड़गिड़ाते रहे और रसूखदारों को रेवड़ी की तरह बांट दिए शस्त्र लाइसेंस

राज्य3 weeks ago

अय्याश दरोगा ने खाकी को किया शर्मसार, युवती के साथ रंगरेलिया मनाते वायरल हुआ वीडियो

मनोरंजन3 weeks ago

43 साल की कुंवारी एकता कपूर सरोगेसी से बनी मां, बेटे का हुआ जन्म, सोशल मीडिया पर ऐसे आए रिएक्शन

राज्य1 week ago

योगी आदित्यनाथ सरकार को बड़ा झटका, ओम प्रकाश राजभर ने छोड़ा मंत्री पद, CM को लिखा लेटर

देश4 weeks ago

भाजपा को झटका : प्रियंका गांधी की पहल पर कांग्रेस में शामिल होंगे वरुण गांधी!, मिलेगी ये बड़ी जिम्मेदारी

देश1 week ago

जम्मू-कश्मीर में CRPF के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला, IED ब्लास्ट में 20 जवान शहीद, 45 घायल

टेक्नोलॉजी3 days ago

48 मेगापिक्सल कैमरे के साथ धूम मचाने को तैयार है रेडमी Note 7 pro, जानें इसके ख़ास फीचर्स

देश1 week ago

शहादत को सलाम : 22 दिन पहले ही पिता बने थे तिलक राज, खबर मिलते ही शोक में डूबा गांव

राज्य2 weeks ago

ESMA के बावजूद 20 लाख कर्मचारी ‘महाहड़ताल’ पर, काटा जाएगा वेतन

राज्य3 weeks ago

योगी के हेलिकॉप्टर को ममता सरकार ने उतरने के नहीं दी इजाजत, लखनऊ से फोन पर गरजे मुख्यमंत्री

देश1 week ago

एलओसी पर आईईडी ब्लास्ट में मेजर शहीद, 19 दिन बाद होनी थी शादी

राज्य6 days ago

यूपी में चली ‘तबादला एक्सप्रेस’, योगी सरकार ने 109 वरिष्ठ PCS अधिकारियों के किए तबादले, देखें लिस्ट

राज्य4 weeks ago

अखिलेश यादव ने संगम में लगाई डुबकी, खाई गंगा मइया की कसम, कहा-सरकार बनने पर…

Trending