Connect with us

देश

बिहारी शब्द सम्मान नहीं आज भी गाली है, सरकार बिहार को नहीं बना सकी आत्मनिर्भर

Published

on

संतोष राज पांडेय

अगर बिहारी शब्द गाली नही है तो सम्मान का भी सूचक नही है। नीतीश कुमार ने जब सत्ता संभाली कहा- बिहारी कहलाना गर्व होगा। समय का चक्र है चलता रहा सब कुछ बदला, सुशासन आ गया। राजनीति का चरित्र भी बिहार में बदल गया नहीं बदला तो बिहारी का मतलब। आज भी आप दिल्ली ,मुम्बई, कोलकत्ता और चेन्नई चले जाओ बिहारी शब्द का अर्थ आज भी आपको अहसास करा देगा। मेरा मतलब गुजरात से था।गुजरात भी वही निकला।

पूरे उत्तर भारतीयों के प्रति गलत धारणा

यह समझ से परे है कि कई गैर हिन्दी भाषी राज्यों में बिहारियों के प्रति इतनी नफरत का भाव क्यों घर कर गया है। भारत के संविधान ने जब किसी भी व्यक्ति को, कहीं भी बसने और रोजी−रोटी कमाने की छूट दे रखी हो तो उस पर विवाद क्यों खड़ा किया जाता है। महाराष्ट्र में उत्तर भारतीयों के साथ अकसर ही मारपीट और उनके संपत्ति या फिर वाहनों के साथ तोड़फोड़ की खबरें आती रहती थीं, लेकिन गुजरात तो ऐसा नहीं था। गैर हिन्दी शासित राज्यों में कहीं कम तो कहीं ज्यादा तीखे तरीके से उत्तर भारतीयों को किसी न किसी बहाने से अपमानित करना, किसी एक व्यक्ति के अपराध के आधार पर पूरे उत्तर भारतीयों के प्रति गलत धारणा बना लेना, निश्चित तौर पर मानसिक रूप से दिवालियापन का शिकार और सियासी लोगों की सोच का परिणाम हैं। जैसा कि गुजरात में बलात्कार की एक घटना के बाद देखने को मिल रहा है, वहां इस समय उत्तर भारतीयों को निशाना बनाया जा रहा है। परिवार को सुरक्षित रखने और अपने आप को बचाने के लिये उत्तर प्रदेश−बिहार के लोग रोजी−रोटी छोड़कर पलायन को मजबूर हो रहे हैं तो इसके लिये उत्तर भारतीयों से अधिक वह लोग जिम्मेदार हैं जो अपने आप को इन लोगों के बराबर खड़ा नहीं कर पाते हैं। मेहनत से डरते हैं। महाराष्ट्र हो या फिर गुजरात दोनों के विकास में उत्तर भारतीयों के योगदान को नकारा नहीं जा सकता है। उत्तर भारतीयों को कभी भाषा के नाम पर तो कभी अपराध के लिये जिम्मेदार ठहराकर प्रताड़ित करना सही नहीं है। कौन भूल सकता है कि राष्ट्रीय भाषा हिन्दी के खिलाफ तमिलनाडु के दिग्गज नेता (अब दिवंगत) करूणानिधि ने लम्बा आंदोलन चलाया था।

सियासी निहितार्थ भी कम नहीं

प्रथम दृष्टया तो यह जरूर लगता है कि एक बिहारी का नाम बलात्कार की एक घटना में सामने आने के बाद पूरा विवाद खड़ा हुआ है, लेकिन इसके पीछे के सियासी निहितार्थ भी कम नहीं हैं। असल में देश के विकास और हिन्दुस्तान की राजनीति में उत्तर भारतीयों के दबदबे को कई गैर हिन्दी राज्यों के नेता बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं। इस संदर्भ में करूणानिधि का वो बयान याद किया जा सकता है जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर मैं किसी हिन्दी भाषी राज्य का नेता होता तो कब का प्रधानमंत्री बन चुका होता। शिव सेना प्रमुख बाला साहब ठाकरे को ही ले लीजिए, जो अपने आप को हिन्दू हृदय सम्राट कहलाने में गौरवांवित होते थे, लेकिन जब उत्तर भारत से जाकर मुम्बई में बसे लोगों की बात होती तो वह विरोध का कोई रास्ता नहीं छोड़ते थे, तब उनकी सोच मराठियों तक सीमित हो जाती थी।

प्रतिक्रिया और सियासत होना स्वाभाविक

अतीत में कई गैर हिन्दी राज्यों के कई बड़े नेता अपनी सियासत को बुलंदियों पर ले जाने के लिये उत्तर भारत में हाथ−पैर मारते देखे जा चुके हैं। बीजेपी के दिग्गज नेता और गुजरात के मुख्यमंत्री रहे नरेन्द्र सिंह मोदी की सियासत भी तभी परवान चढ़ पाई जब उन्होंने गुजरात से निकल कर उत्तर भारत के जिले वाराणसी की तरफ रूख किया। वाराणसी से चुनाव जीतने की वजह से ही मोदी प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुंच सके थे। इसी प्रकार चाहे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हों या फिर मराठा क्षत्रप शरद पवार की राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी अथवा ऑल इंडिया मजलिस−ए−इत्तेहादुल मुस्लिमीन के सांसद असदुद्दीन ओवैसी, तमाम दलों के नेता उत्तर भारत में अपनी जड़ें मजबूत करने को उतावले भी रहते हैं और जब मौका पड़ता है तो यहां के लोगों का सियासी विरोध का कोई मौका भी नहीं छोड़ते हैं। इस पर उत्तर भारत से भी प्रतिक्रिया और सियासत होना स्वाभाविक ही रहता है।

विधायक अल्पेश ठाकोर को पूरे घटनाक्रम के लिए बता दिया जिम्मेदार

तमाम दल और नेता ऐसे मामलों से सियासी फायदा भी लेना चाहते हैं और विरोध करते भी दिख जाते हैं। इसीलिये गुजरात से बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को धमकी देकर भगाए जाने के मामले पर भी सियासत तेज हो गई है। भारतीय जनता पार्टी और जनता दल युनाइटेट (जेडीयू) ने इसके लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है तो वहीं, कांग्रेस ने इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांग लिया। इस बीच, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा जरूर है कि इस मामले में पुलिस कार्रवाई कर रही है, लेकिन वह भी फूंक−फूंक कर कदम रख रहे हैं कि कहीं गुजराती नाराज न हो जायें। बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल (यूनाइटेड) ने तो कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को खुला पत्र लिखकर विधायक अल्पेश ठाकोर को इस पूरे घटनाक्रम के लिए जिम्मेदार बता दिया। जेडीयू ने पूछा कि कांग्रेसियों को बिहार के लोगों से इतनी नफरत क्यों है ? जबकि बीजेपी कह रही है कि गुजरात हिंसा के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है। यह कांग्रेस की सोची−समझी साजिश है। कांग्रेस के लोग पूरे देश को खंडित करने में जुटे हैं। बिहार के भाजपा नेता और मोदी सरकार में मंत्री गिरिराज सिंह का कहना थ कि सब कुछ अल्पेश की सेना कर रही है। यह वही अल्पेश हैं जो उत्तर प्रदेश में अपनी जड़ें जमाने के लिये पश्चिमी उत्तर प्रदेश में काफी सक्रिय भीम सेना प्रमुख चन्द्रशेखर ‘रावण’ की चौखट पर कई बार नाक रगड़ते देखे जा चुके हैं। विवाद बढ़ने पर अल्पेश ठाकोर कह रहे हैं कि उनके लोग हिंसा को बढ़ने से रोक रहे हैं और पिछले 1−2 दिन में काफी शांति आई है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘हम नहीं चाहते कि राज्य में विपदा खड़ी हो और हम ऐसी किसी भी हरकत को बढ़ावा नहीं देंगे।’ हार्दिक पटेल ने घटना की निंदा करते हुए मांग की है कि अपराधियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

पीएम को भी वाराणसी जाना है

कांग्रेस इस मसले पर भी सियासत करने से बाज नहीं आ रही है। कांग्रेस के सहयोग से विधायक बने अल्पेश ने बीते साल 23 अक्टूबर 2017 को कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। एक तरफ अल्पेश ठाकोर पर उत्तर भारतीयों के साथ मारपीट करने का आरोप लग रहा है तो दूसरी तफर कांग्रेस के नेता उलटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांग रहे हैं। दस जनपथ के बेहद करीबी और गुजरात से आने वाले कांग्रेस के नेता अहमद पटेल अपना पक्ष रखने की बजाये कह रहे हैं कि गुजरात सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए। इसी प्रकार यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर ने गुजरात और केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस के नेता संजय निरुपम जो हर समय मोदी विरोध पर उतारू रहते हैं, यहां भी सियासत करने से नहीं चूके। उनका कहना था, ‘पीएम के गृह राज्य (गुजरात) में अगर यूपी, बिहार और एमपी के लोगों को मार−मार कर भगाया जा रहा है तो ये याद रखना चाहिए कि एक दिन पीएम को भी वाराणसी जाना है। वाराणसी के लोगों ने उन्हें गले लगाया और पीएम बनाया था।’

पूरे देश के लोगों के खून−पसीने का नतीजा

कांग्रेस पर उंगली बीजेपी ही नहीं उठा रही है जेडीयू भी कांग्रेस को कटघरे में खड़ा कर रही है। जेडीयू ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि एक ओर आप अपने विधायक अल्पेश ठाकोर को बिहार कांग्रेस का सह−प्रभारी निुयक्त करते हैं और दूसरी तरफ उनकी सेना ‘गुजरात क्षत्रिय ठाकोर सेना’ बिहार के लोगों को गुजरात से निकाल रही है। उन्होंने पत्र में कहा है, आज गुजरात में जो विकास दिख रहा है, वह बिहारी ही नहीं पूरे देश के लोगों के खून−पसीने का नतीजा है। गुजरात ही क्यों देश का हर क्षेत्र एक−दूसरे पर आश्रित है। पत्र में जेडीयू ने कांग्रेस के बहाने आरजेडी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि आज कांग्रेस को एक ऐसे दल से गठबंधन करने को मजबूर होना पड़ रहा है, जिसके अध्यक्ष सजायाफ्ता हैं। इतना ही नहीं, उनकी विरासत संभालने वाले उनके बेटे भी भ्रष्टाचार के आरोपी हैं।
जेडीयू ने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा कि विधायक अल्पेश लगातार उत्तर भारतीयों के खिलाफ जहर उगल रहे हैं, रैलियां कर रहे हैं, लेकिन उनके खिलाफ कांग्रेस अनुशासनात्मक कार्रवाई तक नहीं कर पा रही है। जेडीयू नेता ने पत्र में लिखा है, ‘ठाकुर जैसे संकीर्ण मानसिकता वाले व्यक्ति को बिहार में कांग्रेस पार्टी का सह−प्रभारी बनाकर बिहारियों के प्रति घृणा का अहसास कराया गया है।’

जो चुनावों में जीत नहीं पाए हैं, वह हिंसा फैलाने का काम कर रहे

बता दें कि गुजरात में 14 माह की बच्ची से रेप की घटना के बाद बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है जिस कारण उत्तर भारत के लोग गुजरात से पलायन कर रहे हैं। यूपी और बिहार से दो जून की रोटी कमाने गुजरात गए 50,000 से ज्यादा लोगों को पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा है। हालांकि प्रशासन किसी तरह के पलायन से इंकार कर रहा है। उत्तर भारतीयों पर हमलों को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की नाराजगी सामने आ रही है तो बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस संबंध में सीधे गुजरात सीएम विजय रूपाणी से बात की। वहीं, गुजरात बीजेपी के नेताओं का कहना था कुछ लोग जो चुनावों में जीत नहीं पाए हैं, वह हिंसा फैलाने का काम कर रहे हैं।
गुजरात के पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने पत्रकारों को बताया कि बलात्कार की घटना के बाद एक विशेष समुदाय के लोग गुजरात के बाहर के लोगों को टारगेट कर रहे हैं। बता दें कि पीड़ित परिवार गुजरात के ठाकोर समुदाय से ताल्लुक रखता है। यही वजह है कि हिंसा में ठाकोर समुदाय का नाम सामने आया है। हिंसा फैलाने के आरोप में तीन सौ लोगों से अधिक गिरफ्तार हो चुके हैं। कहानी कुछ भी हो, सबकी राजनीति रंग लाई केवल मुंह बना या कुछ खोना पड़ा तो वह बिहारियों को ही।  आज भी वोट की राजनीति करने वाली बिहार की राजनीतिक पार्टिया मजबूत और धनवान तो हो गयी पर बिहार को आत्म निर्भर नहीं बना सकी। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

राजस्थान में फंसा पेंच, मुख्यमंत्री की दावेदारी पर अड़े गए हैं सचिन पायलट, समर्थकों ने की आगजनी

Published

on

जयपुर। राजस्थान में मुख्यमंत्री को लेकर पेंच फंस गया है। सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री को लेकर अपनी दावेदारी पर अड़ गए हैं। पायलट पीछे हटने को तैयार नहीं हैं। रात 10ः30 बजे वह एक बार फिर से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करेंगे।  वहीं इससे पहले करौली, दौसा और जयपुर में सचिन पायलट के समर्थकों ने जमकर हंगामा किया। करौली में उनके समर्थकों ने आगजनी भी की। इस बीच सचिन पायलट ने ट्वीट कर अपने समर्थकों से शांति की अपील की है।

इससे पहले सचिन पायलट ने मीडिया से भी अपील की है कि वे केवल प्रमाणित खबरों को ही चलाएं। सचिन ने कहा कि आलाकमान द्वारा दिए गए फैसले का वे स्वागत करेंगे। सचिन पायलट ने ट्वीट किया, “मीडिया के साथियों से आग्रह है कि कृपया अफवाहों को न प्रदर्शित करें और केवल प्रमाणित खबरों को ही चलाएं, इस समय अफवाहों को रोकने में आप हमारे साथी बने, आलाकमान द्वारा दिए गए फैसले का हम स्वागत करेंगे।

ऐसा माना जा रहा है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत राजस्थान में मुख्यमंत्री की रेस में सचिन पायलट को पछाड़कर आगे निकल गए हैं। वहीं सोनिया गांधी चाहती हैं गहलोत मुख्यमंत्री बनें। सूत्रों की माने तो राजस्थान में अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। हालांकि, अभी भी पूरी तरह से साफ नहीं हो पाया है कि अशोक गहलोत ही सीएम बनेंगे या फिर सचिन पायलट। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

हाई कोर्ट के न्यायाधीश बोले, भारत बने हिंदू राष्ट्र, PM मोदी पर जताया ये विश्वास, सांसद ने जताई आपत्ति

Published

on

हैदराबाद। एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने गुरुवार को मेघालय उच्च न्यायालय के उस फैसले को अस्वीकार्य करार दिया, जिसमें एक न्यायाधीश ने कहा है कि भारत को हिंदू राष्ट्र होना चाहिए। हैदराबाद से संसद के सदस्य ओवैसी ने कहा कि न्यायपालिका व सरकार को इस फैसले पर ध्यान देना चाहिए। घृणा फैलाने की कोशिश की जा रही है। ओवैसी न्यायमूर्ति एस.आर.सेन द्वारा सोमवार को दिए गए फैसले पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। न्यायमूर्ति सेन सेना भर्ती में निवास प्रमाण पत्र के अस्वीकार किए जाने से जुड़ी एक याचिका के निपटारे के दौरान यह फैसला दिया।

यह किस प्रकार का निर्णय है?

एआईएमआईएम द्वारा बुधवार देर रात आयोजित एक सार्वजनिक सभा में ओवैसी ने कहा कि न्यायाधीश जिसने भारतीय संविधान की शपथ ली है, वह इस तरह का गलत निर्णय नहीं दे सकता। ओवैसी ने न्यायमूर्ति सेन की टिप्पणी पर कहा, “भारत इस्लामिक देश नहीं बनेगा। भारत एक बहुलता वादी व धर्म निरपेक्ष देश बना रहेगा। न्यायमूर्ति सेन ने अपनी टिप्पणी में कहा था कि किसी को भी भारत को दूसरा इस्लामिक देश बनाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। ओवैसी ने कहा, “यह किस प्रकार का निर्णय है? क्या न्यायपालिका और सरकार इसका नोटिस लेंगी।

न्यायाधीश ने कहा कि उनका विश्वास मोदी में है

ओवैसी ने न्यायमूर्ति सेन को संविधान की व्याख्या करने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने नहीं झुकने की सलाह दी। न्यायाधीश ने फैसले कहा कि उनका विश्वास मोदी में है कि वह भारत को दूसरा इस्लामिक देश बनने से बचाएंगे। उन्होंने मोदी से यह भी आग्रह किया कि पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान में रह रहे गैर मुस्लिमों को भारत आने की अनुमति व यहां की नागरिकता पाने के लिए कानून बनाएं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

35 साल की शादीशुदा प्रेमिका ने किया 13 साल छोटे प्रेमी का कत्ल, वजह जानकर चौंक जाएंगे आप

Published

on

अहमदाबाद। गुजरात में एक 35 साल की शादीशुदा प्रेमिका ने मामूली विवाद में 13 साल छोटे प्रेमी का कत्ल कर दिया । आरोपी महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हत्या की यह सनसनीखेज घटना महीसागर जिले के लुणावाडा इलाके की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां अंकिता पटेल नामक महिला दिया ब्यूटी पार्लर चलाती है। अंकिता पहले से शादीशुदा है। उसके दो बच्चे हैं। लेकिन इसके बावजूद 22 वर्षीय अंशु चौधरी नामक युवक से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था।

छुरी किया था वार

गुरुवार को अंशु चौधरी अपनी प्रेमिका से मिलने दिया ब्यूटी पार्लर आया था। तभी अंकिता पटेल और अंशु चौधरी के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी होने लगी। इसी दौरान अंकिता ने आपा खो दिया और एक छुरी से अंशु पर वार कर दिया। वार इतना गहरा था कि अंशु की वहीं मौके पर मौत हो गई। कत्ल की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर जा पहुंची और आरोपी अंकिता को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने पंचनामे की कार्रवाई के बाद अंशु का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

राजस्थान का रहने वाला था अंशु, पुलिस रिमांड में अंकिता

पुलिस ने बताया कि अंशु चौधरी राजस्थान का रहने वाला था। वह काम की वजह से महीसागर के लुणावाडा इलाके में रहता था। पुलिस के अनुसार अंकिता पटेल और अंशु चौधरी के बीच अफेयर था। लेकिन अंकिता ने उसकी हत्या क्यों की, पुलिस इस बात की छानबीन कर रही है। पुलिस ने पूछताछ के लिए अंकिता को रिमांड पर लिया है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
देश13 hours ago

राजस्थान में फंसा पेंच, मुख्यमंत्री की दावेदारी पर अड़े गए हैं सचिन पायलट, समर्थकों ने की आगजनी

राज्य13 hours ago

बरेली : हजरत केले शाह बाबा के कुल शरीफ में बड़ी तादाद में जमा हुए अकीदतमंद

राज्य16 hours ago

श्रावस्ती : पीएम आवास योजना के लिए अधिकारियों के चक्कर काट रहा गरीब, नहीं हो रही सुनवाई

देश16 hours ago

हाई कोर्ट के न्यायाधीश बोले, भारत बने हिंदू राष्ट्र, PM मोदी पर जताया ये विश्वास, सांसद ने जताई आपत्ति

राज्य17 hours ago

अयोध्या : सड़क दुर्घटनाओं में दो घायल, हालत गंभीर

राज्य17 hours ago

अयोध्या : ढाई लाख रुपये की लूट का खुलासा, पौने दो लाख की नकदी बरामद

देश17 hours ago

35 साल की शादीशुदा प्रेमिका ने किया 13 साल छोटे प्रेमी का कत्ल, वजह जानकर चौंक जाएंगे आप

राज्य18 hours ago

अयोध्या : रेप पीड़िता के पति और गवाह को कुचलकर मारने का प्रयास, कहा-जिया से टकराओगे तो जिंदगी खत्म

मनोरंजन18 hours ago

शाहरुख खान को ऑनस्क्रीन किस करने के सवाल पर कैटरीना कैफ ने दिया फनी जवाब

देश19 hours ago

सस्पेंस खत्म : MP में कमलनाथ तो राजस्थान में गहलोत होंगे मुख्यमंत्री, छत्तीसगढ़ में ये नेता सबसे आगे

राज्य19 hours ago

लखीमपुर-खीरी : हिंदू समाज को तोड़ने वालों को जवाब देगा बजरंग दल : भोलेन्द्र

हेल्थ20 hours ago

विटामिन-डी का अच्छा स्रोत है धूप, दूर हो जाती है थकान, जानें इसके और फायदे

वीडियो20 hours ago

देखें वीडियो : दूसरी बार केसीआर बने तेलंगाना के सीएम, राज्यपाल ने दिलाई शपथ, जानिए राजनीतिक सफर

बिज़नेस20 hours ago

अमेजॉन ने अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा को लगाया चूना, मंगाया था ‘बोस’ का हेडफोन, आया लोहे का टुकड़ा

देश21 hours ago

तो चौथी बार भी शिवराज सिंह चौहान ही होते MP के मुख्यमंत्री, अगर भाजपा को मिल जाते 4 हजार 337 वोट

राज्य21 hours ago

यूपी : कर्ज से परेशान शख्स ने पत्नी को उतारा मौत के घाट, खुद भी लगा ली फांसी

देश21 hours ago

हाथ जोड़कर बोले सभापति वेंकैया नायडू, हमें बचाने के लिए 9 लोगों ने दी थी जान, आज तो चलने दो सदन

दुनिया21 hours ago

पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के लिए क्राउन प्रिंस सलमान जिम्मेदार : निकी हेले

देश4 days ago

डीएम की पत्नी ने लगाई आरोपों की झड़ी, कहा-यूपी की इस एसडीएम के साथ पति के हैं अवैध संबंध

देश2 weeks ago

यूपी : बुलंदशहर में प्रदर्शनकारियों और पुलिस की भिड़ंत, इंस्पेक्टर शहीद, स्थिति तनावपूर्ण

देश2 weeks ago

देखें : इंस्पेक्टर की मौत का वीडियो आया सामने, घटना स्थल पर मौजूद सिपाही ने सुनाई खौफनाक कहानी

राज्य2 weeks ago

यूपी : पांच साल का बच्चा बना एक दिन का विधायक, कोतवाली का किया निरीक्षण, सुनीं शिकायतें

देश3 weeks ago

डीएम की पत्नी पहनती है छोटे कपड़े और करती है अंग्रेजी में बात, रोका तो धरने पर बैठी

देश2 weeks ago

सीएम योगी आदित्यनाथ ने हनुमानजी को बताया दलित, मिला कानून नोटिस

दुनिया7 days ago

किस्मत हो तो एेसी, घर से निकली थी गोभी खरीदने वापस आई तो बन गई 1.5 करोड़ की मालकिन

देश2 weeks ago

छोटी सी दुकान में आयकर का छापा, मिले 300 लॉकर्स, एक महीने से हो रही नोटों की गिनती

वीडियो4 weeks ago

यूपी : भाजपा विधायक की दबंगई, इंस्पेक्टर को दी जूते से मारने की धमकी, एसपी नतमस्तक, देखें वीडियो

वीडियो2 weeks ago

देखें वीडियो : एेसे भी आती है मौत, स्टेज पर नाचते हुए 12 साल की लड़की ने तोड़ा दम

देश2 weeks ago

बुलंदशहर हिंसा : खेत में मारी गई थी इंस्पेक्टर को गोली, निर्दोष था मारा गया छात्र सुमित, एसआईटी गठित

दुनिया3 weeks ago

ब्वॉयफ्रेंड को मारकर किए छोटे-छोटे टुकड़े फिर बिरयानी बनाकर लोगों को खिला दिया, एेसे हुआ खुलासा

देश4 weeks ago

पहले फौजी से फेसबुक पर की दोस्‍ती, एक मुलाकात के बाद लड़की भेजने लगी अपनी ही अश्‍लील तस्‍वीरें

राज्य4 weeks ago

अयोध्या : भारत जैसा लोकतंत्र और एकरसता पूरी दुनिया में नहीं : हाफिज उस्मान

राज्य3 weeks ago

यूपी : अवैध संबंध के शक में महिला हेड कांस्टेबल को पति ने चापड़ से काटा डाला, गिरफ्तार

देश7 days ago

5 राज्यों के एग्जिट पोल जारी : भाजपा को बड़ा झटका, कांग्रेस की “चांदी”, जानिए कहां किसकी बन रही सरकार

देश3 weeks ago

कुत्ते के साथ नशे में धुत चार युवकों ने किया गैंगरेप, खून से लथपथ छोड़कर हुए फरार

राज्य3 weeks ago

सीतामढ़ी : श्री श्याम बाबा का धूम धाम से मनाया गया जन्मोत्सव, भक्त बोले-‘हारे के सहारे, बाबा श्याम हमारा’

Trending