Connect with us

देश

बाहुबली विधायक राजा भैया बनाएंगे नई पार्टी, चुनाव आयोग में किया आवेदन, जानें उनका सियासी रसूख

Published

on

नयी दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बाहुबली नेताओं में शुमार रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया अब यूपी की सियासत में अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने जा रहे हैं। इससे पहले समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रह चुके शिवपाल सिंह यादव अपनी नई पार्टी बना चुके हैं। बता दें कि राजा भैया प्रतापगढ़ के कुंडा विधानसभा से निर्दलीय विधायक हैं। इसी साल राजा भैया के राजनीति पारी के 25 साल पूरे हो रहे हैं। इसीलिए आगामी 30 नंबर को लखनऊ में शक्ति प्रदर्शन करेंगे। अनुमान लगाया जा रहा है कि इसी रैली में वो अपनी नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं।

चुनाव आयोग में आवेदन

जानकारी के मुताबिक, राजा भैया ने नई पार्टी के गठन के लिए चुनाव आयोग में आवेदन कर​ दिया है। इस सिलसिले में राजा भैया अपना शपथपत्र आज जमा कर सकते हैं। मंगलवार को राजा भैया की तरफ से अक्षय प्रताप उर्फ गोपाल ने आवेदन किया है। पार्टी बनाने को लेकर अक्षय प्रताप उर्फ गोपाल जी और राजा भैया के मास्टर बैन केएन ओझा ने दिल्ली में डेरा जमाया हुआ है।

राजा भैया का रसूख

निर्दलीय विधायक के रूप में राज्य सरकारों को अपना समर्थन देने वाले राजा भैया का सूबे की सियासत में अपना एक अलग रसूख एवं प्रभाव माना जाता है। वहीं, राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि राजा भैया की यह पार्टी खासकर राजपूत वोटरों को एकजुट करने का काम करेगी। जिसका फायदा 2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा को हो सकता है। निर्दलीय विधायक रहते हुए भी सूबे की सियासत में राजा भैया काफी अहमियत रखते आए हैं।

राजा भैया और मायावती राजनीतिक शत्रुता

वहीं राजा भैया का सपा के साथ करीबी संबंध रहे हैं लेकिन पिछले कुछ समय से उनकी भाजपा के साथ नजदीकी देखी जा रही है। हाल में संपन्न राज्यसभा के चुनावों में उन्होंने भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में अपना वोट दिया था। समझा जाता है कि सपा और बसपा के राजनीतिक गठबंधन के जोर पकड़ने के बाद उन्होंने सपा से दूरी बनाई है। राज्यसभा चुनाव के दौरान उन्होंने कहा था कि वह बसपा के उम्मीदवार के समर्थन में अपना वोट नहीं देंगे। यूपी में राजा भैया और मायावती राजनीतिक शत्रुता से सभी वाकिफ हैं।

राजा भैया की सियासत

वैसे राजा भैया बीजेपी और सपा सरकार में मंत्री रह चुके हैं। लेकिन योगी सरकार में उनकी एंट्री मंत्रिमंडल में नहीं हो सकी है। राजा भैया लगातार आठवीं बार विधायक हैं। 1993 से वह कुंडा से निर्दलीय जीतते आ रहे हैं। 1997 में बीजेपी की कल्याण सिंह की सरकार में वह पहली बार मंत्री बने थे। 2002 में बसपा सरकार में विधायक पूरन सिंह बुंदेला को धमकी देने के मामले में उन्हें जेल जाना पड़ा था। बाद में मुख्यमंत्री मायावती ने उन पर पोटा लगा दिया था। करीब 18 महीने वह जेल में रहे। 2003 में मुलायम सिंह ने मुख्यमंत्री बनने के बाद राजा भैया के ऊपर से पोटा हटा लिया और उन्हें अपने मंत्रिमंडल में शामिल किया, तब से वह लगातार सपा के साथ थे। अखिलेश सरकार में भी वह मंत्री बने रहे। इस बीच कुंडा में सीओ जियाउल हक की हत्या में नाम आने पर उन्होंने इस्तीफा दे दिया। https://www.kanvkanv.com

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

मां से मिलने के बाद वाराणसी जाएंगे पीएम मोदी, फिर इस तारीख को लेंगे प्रधानमंत्री पद की शपथ

Published

on

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में जबरदस्त जीत हासिल करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल के लिए अपनी मां का आशीर्वाद लेने कल (रविवार को) गुजरात जाएंगे। उन्होंने शनिवार को ट्वीट कर यह भी कहा कि अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों का धन्यावाद करने के लिए वह सोमवार को वाराणसी जाएंगे।

वाराणसी भी जाएंगे

मोदी ने कहा, “कल शाम को अपनी मां का आशीर्वाद लेने गुजरात जाऊंगा। उसके बाद, मुझ पर दोबारा भरोसा जताने के लिए काशी की महान धरती की जनता को धन्यवाद देने सोमवार को वाराणसी जाऊंगा। भाजपा ने 2019 लोकसभा चुनावों में प्रचंड बहुमत हासिल किया है और पार्टी ने 543 सीटों में से 303 सीटों पर कब्जा जमाया है।

बीजेपी संसदीय दल की बैठक आज

प्रचंड जीत के बाद कार्यवाहक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी शनिवार को बीजेपी संसदीय दल के नेता चुने जाएंगे। आज शाम को बीजेपी संसदीय दल की बैठक होगी।इसके बाद एनडीए संसदीय दल की भी बैठक होगी। इसका न्योता बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सभी सहयोगियों को दिया है। इसमें शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे समेत कई सहयोगी आएंगे।

मोदी पीएमओ स्टाफ से मिले

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपनी टीम के सभी सदस्यों के सहयोग की प्रशंसा की। साउथ ब्लाक में प्रधानमंत्री कार्यालय में अधिकारियों से मिलते हुए उन्होंने कहा कि पिछला पांच साल सीखने वाला अनुभव रहा।  प्रधानमंत्री कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने मोदी को जीत पर बधाई दी।

इनमें प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, अतिरिक्त प्रधान सचिव पी.के. मिश्रा और प्रधानमंत्री के सचिव भाष्कर खुल्बे शामिल थे। पीआईबी से जारी बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री कार्यालय के सभी अधिकारियों की पिछले पांच साल में कठिन परिश्रम के लिए सराहना की। मोदी ने कहा कि सरकार से लोगों की काफी आकांक्षाएं हैं, इससे प्रधानमंत्री कार्यालय को कर्तव्यनिष्ठा के साथ काम करने की प्रेरणा मिलती है।

राष्ट्रपति से मिले प्रधानमंत्री, मंत्रिपरिषद का इस्तीफा सौंपा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर उन्हें अपनी मंत्रिपरिषद का इस्तीफा सौंपा। यह उनके अगले कार्यकाल के लिए शपथ लेने से पहले की एक औपचारिकता मात्र है। राष्ट्रपति भवन की एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि राष्ट्रपति ने इस्तीफा स्वीकार कर लिया और प्रधानमंत्री और मंत्रिपरिषद से नई सरकार के गठन तक कामकाज जारी रखने का आग्रह किया।

इससे पहले मंत्रिपरिषद की बैठक में सोलहवीं लोकसभा को भंग करने का प्रस्ताव पारित किया गया जिसका गठन 18 मई 2014 को हुआ था। इसके बाद मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रधानमंत्री के प्रति आभार जताया गया और उनकी नेतृत्वकारी भूमिका और योगदान की सराहना की गई। प्रधानमंत्री ने भी अपने सहयोगियों के योगदान के लिए आभार जताया। इसके बाद मंत्रिपरिषद ने सामूहिक रूप से अपना इस्तीफा प्रधानमंत्री को सौंप दिया।

मोदी 30 मई को ले सकते हैं शपथ

नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल के लिए 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए विश्व के नेताओं को निमंत्रण भेजा जा सकता है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री शपथ ग्रहण के लिए जल्दबाजी में नहीं हैं, क्योंकि वह विश्व के कुछ नेताओं को समारोह के लिए आमंत्रित करना चाहते हैं, ताकि विश्व के ‘सबसे बड़े लोकतंत्र’ भारत की ताकत को लेकर दुनिया भर में एक संदेश जाए। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

CWC बैठक में राहुल गांधी ने की इस्तीफे की पेशकश, हड़कंप, मनाने में जुटे सोनिया और मनमोहन

Published

on

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है। हार पर मंथन के लिए कांग्रेस कार्य समिति (CWC) की बैठक हो रही है। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ने हार के लिए नैतिक जिम्मेदारी की बात कहकर इस्तीफे की पेशकश की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राहुल को सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह मनाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वह (राहुल) इस्तीफे पर अड़े हैं। राहुल से पूछा जा रहा है कि अगर आप नहीं तो कौन? इस पर राहुल ने चुप्पी साधी हुई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक मनमोहन सिंह ने राहुल गांधी से अलग बात की जिसमें उन्होंने कहा कि चुनाव में हार जीत तो लगी रहती है। वहीं कांग्रेस कार्य समिति के भी सभी सदस्यों ने राहुल से कहा कि वह इस्तीफा न दें। फिलहाल मंथन जारी है।

हार पर हो रहा मंथन

बता दें, मोदी की सुनामी में कांग्रेस की जो गत हुई, उससे हर कोई हैरान है। हार पर मंथन करने के लिए कांग्रेस के दिग्गज इकट्ठा हुए हैं। इस बैठक में हिस्सा लेने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, गुलाम नबी आजाद, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह सहित कई दिग्गज नेता पहुंचे हुए हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश

तृणमूल कांग्रेस छोड़कर थामा था भाजपा का झंडा, अपराधियों ने गोली मारकर कर दी हत्या

Published

on

चकदह, कोलकाता। लोकसभा चुनाव समाप्त होने के बाद से ही राज्य के विभिन्न हिस्सों में हिंसा का दौर जारी है। केशपुर, कांकीनाड़ा, सिताई के बाद अब चकदह में हिंसा की खबर आई है। बताया जा रहा है कि शुक्रवार रात चकदह में एक भाजपा कार्यकर्ता को गोली मार दी गई जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

भाजपा कार्यकर्ता के रूप में की थी काफी मेहनत

स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार रात चकदह के गौरपाड़ा तपोवन स्कूल के पास संतु घोष(22) नामक भाजपा कार्यकर्ता अपने साथियों के साथ बैठकर बातें कर रहा था। उसी समय कुछ गुंडों ने उन पर गोली चला दी। गोली सीधे संतु के गले में लगी और घटनास्थल पर ही संतु ने दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि हाल ही में संतु ने तृणमूल कांग्रेस को छोड़कर भाजपा का झंडा थामा था। चुनाव के दौरान भी उसने भाजपा कार्यकर्ता के रूप में काफी मेहनत की थी। स्थानीय लोगों का आरोप है कि भाजपा का होकर प्रचार करने के कारण उसकी हत्या की गई है। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच में जुटी है। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading
खेल8 mins ago

सेकसुई ओपन स्क्वैश टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे महेश मनगांवकर, अब स्पेन के इस खिलाड़ी से सामना

देश20 mins ago

मां से मिलने के बाद वाराणसी जाएंगे पीएम मोदी, फिर इस तारीख को लेंगे प्रधानमंत्री पद की शपथ

लाइफ स्टाइल37 mins ago

रेसिपी : नाश्ते में ऐसे बनाएं कच्चे केले के कटलेट, खाने में होते हैं बेहद स्वादिष्ट

देश37 mins ago

CWC बैठक में राहुल गांधी ने की इस्तीफे की पेशकश, हड़कंप, मनाने में जुटे सोनिया और मनमोहन

लाइफ स्टाइल48 mins ago

राशिफल : सिंह राशि वालों के लिए खुशियां लेकर आएगा आज का दिन, जानें अपना भविष्यफल

हेल्थ55 mins ago

पर्याप्त पोषण के लिए करें इन चीजों का सेवन, होता है सबसे ज्यादा प्रोटीन, ऐसे रखें अपने शरीर को फिट

दुनिया56 mins ago

वेनेज़ुएला की जेल में दो गुटों के बीच खूनी झड़प, 23 लोगों की मौत, 14 पुलिस अधिकारी घायल

देश1 hour ago

तृणमूल कांग्रेस छोड़कर थामा था भाजपा का झंडा, अपराधियों ने गोली मारकर कर दी हत्या

देश1 hour ago

मोदी की ऐतिहासिक जीत के दिन मिला नवजात, जन्म के साथ संघर्ष को देख रख दिया ये नाम

बिज़नेस1 hour ago

लगातार तीसरे दिन बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम, जानिए क्या है आज की कीमत

राज्य16 hours ago

श्रावस्ती : आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर अधिवक्ताओं का कोर्ट बहिष्कार जारी, वादकारी निराश

राज्य17 hours ago

देवीपाटन मंडल : कहीं खुशी तो कहीं गम, हारे हुए प्रत्याशी मंथन में जुटे

राज्य17 hours ago

बरेली : हर्षोल्लास के साथ मनाया गया हज़रत मौलाना रेहान रज़ा खान का 35वां उर्स

राज्य17 hours ago

फतेहपुर : कोल्ड्रिंक उधार न देने पर गोली मारकर युवक की हत्या

देश18 hours ago

सूरत के कोचिंग सेंटर में लगी भीषण आग, 19 की मौत, वीडियो में देंखें कैसे 5वीं मंजिल से कूद रहे छात्र

राज्य20 hours ago

अयोध्या : दिलासीगंज में युवक को ट्रक ने रौंदा, मौत, लोगों ने किया प्रदर्शन

देश21 hours ago

यूपी से मोदी मंत्रिमंडल के 9 मंत्री लड़े थे लोकसभा चुनाव, जानिए किसकी हुई हार और किसकी जीत

हेल्थ21 hours ago

बैली फैट को कम करने में अंडा है बेहद कारगर, अपनाएं ये रेसिपी

देश2 weeks ago

जानिए कौन है नीली ड्रेस वाली खूबसूरत पोलिंग अफसर, खुद किया ये बड़ा खुलासा, देखें 13 तस्वीरें

राज्य3 weeks ago

फेसबुक पर इंस्पेक्टर से प्यार, फिर बने संबंध, होने वाली थी शादी, लड़की ने ये सुसाइड नोट लिख चुन ली मौत

राज्य3 weeks ago

यूपी की इस सीट पर यदुवंशी शिफ्ट हो रहे भाजपा में, लगा रहे ये नारे, गठबंधन के चेहरे पर चिंता की लकीरें

देश3 weeks ago

BSF के बर्खास्त जवान तेज बहादुर बोले, 50 करोड़ रुपए दो तो कर दूंगा पीएम मोदी की हत्या, देखें वीडियो

राज्य4 weeks ago

योगी सरकार के मंत्री पर महिला ने लगाये रेप के आरोप, मंत्री बोले-दोषी साबित हुआ तो कुत्ते से नुचवा लेना मांस

देश2 weeks ago

जानिए कौन है पीली साड़ी पहनी खूबसूरत पोलिंग ऑफिसर? जिसे ढूंढ रही पूरी दुनिया, देखें फोटो

राज्य3 weeks ago

रमजान शरीफ के चांद की शहादत को लेकर दरगाह आला हजरत से जारी हुआ हेल्पलाइन नंबर

देश4 weeks ago

देखें वीडियो : जब डिंपल यादव ने मंच पर छुए मायावती के पैर, बसपा सुप्रीमो यह कहकर दिया आशीर्वाद

वीडियो3 weeks ago

तेज रफ्तार बाइक की टंकी पर बैठ कर लड़की ने लड़के को किया किस, IPS अफसर ने शेयर किया वीडियो

देश4 weeks ago

पिता और पुत्र ने मां-बेटी से किया बलात्कार, अश्लील वीडियो बनाकर करने लगे ये काम, जानें पूरा मामला

देश2 weeks ago

सट्टा बाजार में भाजपा को बढ़त, बना रहे मोदी सरकार, जानिए महागठबंधन का क्या है हाल

देश3 days ago

कांग्रेस ने जारी किया अपना एग्जिट पोल, खुद को दिखाईं इतनी सीटें, भाजपा को बताया सत्ता से दूर

देश3 weeks ago

दोबारा सत्ता में लौटी मोदी सरकार तो इन पांच राज्यों की सरकारों पर मंडराने लगेंगे खतरे का बादल

राज्य4 weeks ago

बरेली : मुक़द्दस रमज़ान 6 या 7 जून से, बरेलवी हाफिजों की दुनिया भर में मांग

देश3 weeks ago

यूपी की इस लोकसभा सीट को जीते बिना सत्ता में नहीं आती है भाजपा, जानिए क्या है बड़ा कारण

देश2 weeks ago

पहली बार जंगल में उतरीं महिला कमांडो, 2 वर्दीधारी नक्सलियों को किया ढेर

देश2 weeks ago

ममता की प्रत्याशी बोली, बंगाल में राम बोलने की अनुमति नहीं, अल्लाह ही रहेंगे, पुलिसवाले भी समर्थन में

मनोरंजन1 week ago

जानें, फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ की बॉक्स ऑफिस पर कैसी रही शुरुआत, दर्शकों ने दी कैसी प्रतिक्रिया?

Trending