राजस्थान के नागौर में भीषण सड़क हादसा, करणी माता के दर्शन कर लौट रहे मप्र के 12 श्रद्धालुओं की मौत

राजस्थान में करणी माता के दर्शन कर वापस आ रहे मध्यप्रदेश (मप्र ) के 12 श्रद्धालुओं की मंगलवार सुबह राजस्थान के नागौर में सड़क हादसे में मौत हो गई।
 
A horrific road accident in Rajasthan's Nagaur
नागौर में भीषण सड़क हादसा

भोपाल। राजस्थान में करणी माता के दर्शन कर वापस आ रहे मध्यप्रदेश (मप्र ) के 12 श्रद्धालुओं की मंगलवार सुबह राजस्थान के नागौर में सड़क हादसे में मौत हो गई। सभी श्रद्धालु एक जीप में सवार थे, जिसकी एक ट्रॉलर से टक्कर हो गई। हादसे में 6 लोग घायल भी हुए हैं।

उज्जैन जिले की घटिया थाना क्षेत्र में स्थित सज्जनखेड़ा एवं दौलतपुर के श्रद्धालु दर्शन के लिए करणी माता मंदिर गए थे। लौटते समय इनकी जीप मंगलवार सुबह नागौर में नोखा बाइपास पर श्रीबालाजी के समीप विपरीत दिशा से आ रहे ट्रेलर से टकरा गई। इस भीषण हादसे में 12 लोगों की मौत हो गई है, वहीं 6 की हालत गंभीर है।

इनमें 6 महिलाओं और 2 पुरुषों की मौके पर ही मौत हो गई थी जबकि 2 महिलाओं और 1 पुरुष को बीकानेर रेफर किया गया था, जिनकी रास्ते में ही मौत हो गई। एक पुरुष की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा है कि 12 सीटर जीप तूफान में 18 लोग सवार थे।

उज्जैन के घटिया थाना प्रभारी विक्रम सिंह चौहान का कहना है कि दो गांवों के 40 लोग 3 गाड़ियों में सवार होकर रविवार शाम को गए थे। करणी माता के दर्शन के बाद दो गाड़ियां दर्शन के लिए रामदेवरा चली गईं, जबकि तूफान जीप के लोग बालाजी दर्शन के लिए जा रहे थे। इस बीच नागौर से नोखा की तरफ जा रहे ट्रेलर ने टक्कर मार दी।

प्रधानमंत्री ने जताया शोक 

हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर दुख जताया है।

मुआवजे का ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम राहत कोष से हादसे में जान गंवाने वालों के पीड़ित परिवारों को दो-दो लाख रुपए और घायलों को 50-50 हजार रुपए देने की घोषणा की है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी प्रदेश सरकार की ओर से पीड़ित परिवारों को दो-दो लाख रुपए देने और घायलों का इलाज कराने का ऐलान किया है।