सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में पहली बार 9 जजों ने एक साथ ली शपथ

सुप्रीम कोर्ट में आज 9 नए जजों ने पदभार संभाला. चीफ जस्टिस एन वी रमना ने उन्हें सुबह 10.30 बजे पद की शपथ दिलाई।
 
9 judges of the Supreme Court took oath together
सुप्रीम कोर्ट के 9 जजों का शपथ ग्रहण 

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में आज 9 नए जजों ने पदभार संभाला. चीफ जस्टिस एन वी रमना ने उन्हें सुबह 10.30 बजे पद की शपथ दिलाई। जो 9 लोग आज सुप्रीम कोर्ट जज बने, उनमें से 8 हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस या जज हैं। उनके अलावा एक वरिष्ठ वकील भी सीधे सुप्रीम कोर्ट जज नियुक्त हुए।

शपथ लेने वाले जजों की असाधारण रूप से बड़ी संख्या के चलते कार्यक्रम का आयोजन 900 लोगों की क्षमता वाले ऑडिटोरियम में हुआ। हालांकि, कोविड प्रोटोकॉल के चलते कार्यक्रम में बहुत सीमित लोगों को अनुमति दी गई थी।

शपथ ग्रहण समारोह का हुआ सीधा प्रसारण
शीर्ष अदालत के जनसंपर्क कार्यालय की ओर से जारी प्रेस बयान में कहा गया कि यह भारत के उच्चतम न्यायालय के इतिहास में पहली बार है, जब नौ न्यायाधीश एक बार में पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण समारोह का डीडी न्यूज, डीडी इंडिया पर सीधा प्रसारण किया गया। 

2 साल बाद हुई नियुक्ति
जजों के चयन करने वाले कॉलेजियम में सहमति न बन पाने के चलते करीब 2 साल से सुप्रीम कोर्ट में नई नियुक्ति नहीं हुई थी. इस कारण जजों के कुल 34 पदों में से सिर्फ 10 पद खाली हो गए थे. आज होनी वाली नई नियुक्तियों के बाद जजों की संख्या 33 हो गई है.

3 लोग बन सकते हैं चीफ जस्टिस
इन जजों में से भविष्य में जस्टिस विक्रम नाथ, जस्टिस बी वी नागरत्ना और पी एस नरसिम्हा भारत के मुख्य न्यायाधीश बनने की संभावना हैं. अब तक सुप्रीम कोर्ट में कोई भी महिला चीफ जस्टिस नहीं हुई है. सितंबर 2027 में जस्टिस नागरत्ना के रूप में भारत को पहली महिला चीफ जस्टिस मिल सकती है.


जजों ने आज इस क्रम में शपथ ली :-

जस्टिस अभय श्रीनिवास ओका
जस्टिस विक्रम नाथ
जस्टिस जितेंद्र कुमार माहेश्वरी
जस्टिस हिमा कोहली
जस्टिस बंगलोर वेंकटरमैया नागरत्ना
जस्टिस चुडलायिल तेवन रविकुमार
जस्टिस एम एम सुंदरेश
जस्टिस बेला माधुर्य त्रिवेदी
पामीदिगंतम श्री नरसिम्हा