Connect with us

हेल्थ

गंजे सिर पर दोबारा उग सकेंगे बाल, वैज्ञानिकों ने की खोज

Published

on

नयी दिल्ली। आजकल गंजेपन की समस्या महिलाओं और पुरूषों दोनो में देखने को मिलती है। कुछ लोग तनाव या वजन कम होने तो कुछ किसी गंभीर बीमारी के कारण गंजेपन का शिकार हो जाते है। महिला हो या पुरुष गंजापन सभी को खलता है। कोई नहीं चाहता कि लोग उसे गंजा कहें। मगर आजकल गंजापन एक आम समस्या बनती जा रही है। वहीं बाल झड़ने से परेशान लोगों के लिए यह खबर अच्छी हो सकती है। अमरीकी वैज्ञानिकों ने पुरुषों में गंजेपन के वैज्ञानिक कारण की खोज करने का दावा किया है। यह उम्मीद भी जताई गई है कि इस शोध से गंजेपन को रोकने का इलाज और यहां तक कि बाल को दोबारा उगाना भी संभव हो सकेगा।

न्यू यॉर्क स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने बाल झड़ने और गंजा होने की समस्या का हल दिमाग में Sonic Hedgehog Pathway को ऐक्टिवेट कर निकाला है। स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, जब बच्चा मां के गर्भ में होता है तो उस समय Sonic Hedgehog सबसे ज्यादा एक्टिव होता है और बालों की जड़ के आस-पास की कोशिकाओं और ऊतकों का निर्माण होता है। लेकिन जख्मी त्वचा या उम्र बढ़ने के साथ इसका निर्माण रुक जाता है। अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी के मुताबिक, दुनियाभर के पुरुषों में 25 साल की उम्र होने के बाद से ही बाल झड़ने लगते हैं। जबकि, 40 फीसदी महिलाओं में 40 की उम्र के बाद से बाल झड़ने की समस्या शुरू होती है।

ये स्टडी चूहे पर की गई है, जिसमें चूहे की डैमेज स्किन और फाइब्रोब्लास्ट नाम की कोशिकाओं की जांच की गई है। इन कोशिकाओं से कोलेजन निकलता है। बता दें, कोलेजन एक तरह की प्रोटीन होती है, जो स्किन और बालों के आकार और मजबूती को कायम रखने में मदद करता है। स्टडी की मुख्य शोधकर्ता Dr. Mayumi Ito, ने दिमाग में मौजूद Sonic Hedgehog को एक्टिवेट करके देखा। बता दें, ये दिमाग में मौजूद कोशिकाओं के बीच सिग्नल भेजने में मदद करता है। स्टडी में पाया गया कि कोशिकाओं के बीच सिग्नल मिलने पर चूहे में चार हफ्तों के अंदर ही बाल दोबारा से उगने लगे। नेचर कम्युनिकेशन जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, चूहों में 9 हफ्तों के बाद ही बालों की जड़ें उगनी दिखाई देने लगी।

संभव है गंजे सिर पर बाल! चूहों पर प्रयोग सफल,जगी उम्‍मीद

वैज्ञानिकों को अब तक लगता था कि डैमेज हो चुकी स्किन में कोलेजन बनने की वजह से बालों की ग्रोथ रुक जाती है लेकिन नई स्टडी ने वैज्ञानिकों की इस बात को गलत साबित कर दिया है। Dr. Mayumi Ito ने बताया, अब हम जानते हैं कि बालों के बढ़ने और झड़ने के पीछे कोशिकाएं जिम्मेदार होती हैं। जब शिशु मां के गर्भ में होता है तो उस वक्त ये कोशिकाएं सबसे ज्यादा एक्टिवेट होती हैं, लेकिन उम्र के साथ कमजोर पड़ने लगती हैं। स्टडी के नतीजों में पाया गया कि Sonic Hedgehog के जरिए फाइब्रोब्लास्ट को बढ़ाकर बालों को तीन गुना जल्दी बढ़ाया जा सकता है। शोधकर्ताओं के मुताबिक, कई लोग चोट लगने या जलने के कारण अपने सिर के बालों को खो चुके हैं। लेकिन अब लोगों की डैमेज स्किन में भी बाल आ सकेंगे।

शोधकर्ताओं ने बताया कि बाल बढ़ाने वाली दवाइयों को बनाने में  ये स्टडी बेहद काम आएगी। हालांकि, Sonic Hedgehog को एक्टिवेट करने वाले दूसरे एक्सपेरिमेंट में ट्यूमर होने का खतरा भी सामने आया। इस खतरे से बचने के लिए शोधकर्ताओं की टीम ने सिर्फ स्किन के सबसे ऊपरी हिस्से में फाइब्रोब्लास्ट एक्टिवेट किया। ऐसा करने से अच्छे नतीजे सामने आए। इस स्टडी का उद्देश्य मजबूत और बढ़ते बालों के लिए नई दवाइयों का बनाना है। दरअसल, बाजार में जो बालों की जो दवाइयां उपलब्ध हैं उनके कई साइड इफेक्ट्स हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हेल्थ

इन फलों का करें सेवन, सेहत में सुधार और वजन रहेगा नियंत्रित

Published

on

नई दिल्ली। आज के दौर में सेहत को दुरुस्त रख पाना सबसे बड़ी चुनौती है। भागदौड़ के चक्कर में लाइफस्टाइल बदल गई है और खाने-पीने का ध्यान नहीं रख पाते हैं। अगर आपको अच्छी सेहत चाहिए तो खाने-पीने के साथ ही फलों का भी सेवन करना चाहिए। फल हमारे शरीर के जरूरी है।

सुबह खाना चाहिए फल

फ्रूट्स में कई न्यूट्रिएंट जैसे विटामिन सी, ए, फाइबर पाए जाते हैं। सही फ्रूट्स को सही समय पर खाना आपकी सेहत के लिए सबसे अच्छा होता है। हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक फलों को सबसे पहले सुबह खाना चाहिए। इन्हें कभी भी दूध या दही के साथ मिला कर नहीं खाना चाहिए। इसे मिलाकर खाने से कई तरह के टॉक्सिन बन जाते है जिससे साइनस, कोल्ड, कफ और एलर्जी हो सकती है। अपने आपको सहेतमंद रखने के लिए और वजन नियंत्रित रखने के लिए इन 8 फलों का सेवन कर सकते हैं।

1. पपीता

पपीता में कैल्शियम, विटामिन, आयरन, मिनरल्स और शरीर के लिए फास्फोरस भी पाया जाता है। इसमें कई तरह डाइजेस्टिव एंजाइम पाए जाते है जो खाना पचाने में मददगार है। वहीं इसमें कैलोरी और वसा भी कम होती है।

2. तरबूज

तरबूज में कैलोरी बहुत कम होती है और पानी की मात्रा बहुत अधिक होती है इसलिए तरबूज खाने से आपका शरीर हाइड्रेट रहता है और इसे खाने से वजन भी नहीं बढ़ता है। तरबूज को खाना और इसका जूस पीना दोनों ही वजन कम करने के लिए उपयोगी होता है।

3. केला

एक केले में 105 कैलोरी पाये जाने के कारण यह इंस्टेंट एनर्जी के लिए सबसे उपयुक्त फल है। वर्कआउट के बाद खाने के लिए मिलने वाले कई पैकेज्ड फ़ूड की तुलना में यह फल बहुत अधिक हेल्दी होता है और यह आपके मसल्स क्रैम्प को सही करने में, ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखने में और एसिडिटी से बचाने में भी सहायक होता है।

4. संतरा

इसका सिर्फ स्वाद ही अच्छा नही होता बल्कि संतरे के 100 ग्राम टुकड़े में करीब 47 कैलोरी होती हैं इसलिए यह डाइटिंग और वजन कम करने के वालों के लिए बहुत उपयोगी है।

5. नाशपाती

नाशपाती में पर्याप्त मात्रा में फाईबर होता है। इसके सेवन से लंबे समय तक पेट भरा रहता है और भूख नहीं लगती है इसलिए यह वजन कम करने में लाभकारी होती है।

6. आम

आम में फाइबर, मैग्निशियम, एंटीऑक्सीडेंट और आयरन होता है जो भूख को नियंत्रित रखता है। ऐसे में आपका वजऩ भी कंट्रोल रहता है।

7. स्ट्रॉबेरी

स्ट्रॉबेरी में फैट फ्री और लो कैलोरी वाली होती है जिसमें ना तो शक्‍कर होती है और ना ही सोडियम। रोजाना डेढ़ कप स्‍ट्रॉबेरी खाने से आपको बाहर का कोई स्‍नैक्‍स खाने की जरुरत नहीं पड़ेगी जिससे वजन नियंत्रण में रहेगा।

8. अनार

हर रोज एक लाल अनार खाकर आप न केवल वजन कम कर सकते हैं बल्क‍ि ये शारीरिक कमजोरी को भी दूर करने में सहायक होता है।

Continue Reading

हेल्थ

प्याज में हैं ढेरों खूबियां, सुंदरता के साथ ही सेहत की करता है रक्षा

Published

on

नई दिल्ली। किचन में पाया जाने वाला प्याज कई बीमारियों से राहत दिलाता है। आप प्याज का इस्तेमाल सब्जी बनाने, दाल और सलाद के रूप में करते होंगे। आपको बता दें कि इसके अलावा भी इसके कई फायदे हैं जो आप नहीं जानते होंगे। प्याज का इस्तेमाल कई तरह के रोगों से निजात दिलाता है। आज हम इस लेख में आपको इससे होने वाले फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं।

घरेलू औषधि है प्याज

आयुर्वेदिक दृष्टिकोण से कई तरह के रोगों को दूर करने में उत्तम घरेलू औषधि होती है प्याज प्याज का प्रयोग वैसे हर दिन हर घर में होता है। प्याज का छौंक लगी हुई दालों, सब्जियों के अलावा कई तरह के फास्ट फूड आदि में स्वाद बढ़ाता है प्याज। प्याज का हम सलाद के रूप में भी सेवन करते हैं। इसके अलावा आयुर्वेद में प्याज के कई औषधीय गुण बताये गयें हैं, जो चमत्कारी हैं।

प्याज के गुण

आयुर्वेद में प्याज को पलांडू कहते हैं। प्याज में प्रोटीन 1.2त्न, कार्बोहाइड्रेट 11.6त्न, तथा कैल्शियम, आयरन, विटामिन ए, विटामिन बी1, विटामिन सी पाए जाते हैं। आयुर्वेद के अनुसार, प्याज का प्रयोग शरीर पर बाहरी और आंतरिक दोनों ही रूपों में किया जा सकता है और इससे भरपूर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

ज्वरनाशक है प्याज

प्याज का उपयोग बुखार को ठीक करने के लिए किया जाता है। अगर किसी व्यक्ति को बुखार आ रहा हो तो ऐसा व्यक्ति प्याज के पत्तों को एक गिलास पानी में तब तक उबाले, जब तक वह आधा न हो जाए। फिर इसे ठंडा करके पीने से बुखार में तुरंत आराम मिलता है।

डायबिटीज दूर करे

जिन लोगों को डायबिटीज की बीमारी है, उन्हें प्याज, अजवाइन, कलौंजी और मेथी के बीजों को एक समान मात्रा में मिलाकर पीसकर एक-एक चम्मच नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। इससे डायबिटीज की समस्या हमेशा नियंत्रित रहेगी।

कफ को निकाल बाहर करे

प्याज का सेवन करने से जमा हुआ कफ पतला होकर आसानी से बाहर निकल जाता है। इसके लिए प्याज को हल्का गर्म करके उसका रस निकालकर उसमें थोड़ी सी चीनी मिलाएं। कफ से पीडि़त बच्चे को यह रस एक चम्मच पिलाएं और बड़े को दो चम्मच।

अनेक रोगों में उपयोगी

अकसर गर्मियों के मौसम में गर्म हवाएं चलने के कारण लू लगने का खतरा बना रहता है। ऐसे में अगर खुद को लू लगने से बचाना है तो नियमित रूप से प्याज का सेवन करना चाहिए। जो लोग दिनभर धूप में बाहर रहते हैं, उनको अपनी जेब में एक प्याज रखनी चाहिए, ताकि लू न लगे।

इसमें भी कारगर

गर्मी के कारण अकसर उल्टी, दस्त जैसी समस्या हो जाती है। जब कभी ये समस्या हो तो प्याज के रस के साथ पुदीना व काला नामक मिलाकर पीने से तुरंत राहत मिलती है।
किस समस्या से बचने के लिए कितनी खुराक लें, इसकी जानकारी विशेषज्ञ से ले लें।

त्वचा रोगों से मिले छुटकारा

त्वचा से संबंधित किसी भी तरह की समस्या जैसे फोड़े-फुंसी, मुहांसे हो जाएं या फिर शरीर में किसी जगह गांठ निकल आए या त्वचा में खुजली की समस्या हो तो प्रभावित जगह पर प्याज का रस लगाएं, त्वचा संबंधी रोगों से छुटकारा मिलेगा। किसी भी कारण से त्वचा जल जाए तो प्रभावित जगह पर तुरंत प्याज का रस लगा लेने से जलन कम होती है। त्वचा पर कहीं भी जलने के निशान हों तो। उस जगह प्याज का लेप लगाने से वह निशान धीरे-धीरे खत्म हो जाता है। प्याज दांत दर्द दूर करने में भी अचूक साबित होता है। दांत में कीड़ा लगने और मसूढ़ों में सूजन आने पर प्याज और कलौंजी के बीजों को बराबर मात्रा में मिलाकर और उसे चिलम में भरकर उसका धुआं लेने से दोनों तकलीफों से आराम मिलता है।

जहरनाशक है प्याज

कुत्ते के काटने पर प्याज के रस में चूना मिलाकर प्रभावित जगह पर लगाने से कुत्ते का जहर खत्म हो जाता है। प्याज के बीजों को कलौंजी के बीजों के साथ मिलाकर इस्तेमाल करने से भी कुत्ते, बिच्छू, मधुमक्खी जैसे कई अन्य जहरीले कीड़ों के काटने का असर नहीं होता। इससे उनके काटने से हुई जलन भी काफी कम हो जाती है।

बालों के लिए चमत्कारी है प्याज

अगर किसी व्यक्ति के सिर के बीच के कुछ बाल संक्रमण के कारण उड़ जाते हैं या दाढ़ी के बाल उड़ जाते हैं, उनके लिए प्याज किसी चमत्कार से कम नहीं है। ऐसे में प्याज के रस में शहद मिलाकर प्रभावित स्थान पर लगाने से कुछ ही दिनों में बाल धीरे-धीरे वापस आ जाते हैं।
बालों में डैंड्रफ होने पर प्याज के पत्तों के रस और धतूरे के पत्तों के रस को एक साथ मिलाकर लगाएं, डैंड्रफ खत्म हो जाएगा। इसके अलावा बालों में चमक लाने के लिए प्याज के रस के साथ आंवले का रस, एलोवेरा का रस मिलाकर लगाएं, बाल चमक उठेंगे।

आंखों की रोशनी बढ़ाए

आंखों की रोशनी कम होने और आंखों से पानी आने पर प्याज के रस में बराबर मात्रा में गुलाब जल मिलाकर इसकी कुछ बूंदें आंखों में डालें। प्याज के पत्तों के रस को आंखों में डालने से रतौंधी रोग भी दूर हो सकता है। प्याज के रस में शहद मिलाकर आंखों में डालने से आंखों की रोशनी बढ़ती है। प्याज के रस को कान में डालने से कान का दर्द तुरंत ठीक हो जाता है।

और भी हैं लाभ

कनखजूरा (एक प्रकार का कीड़ा) अगर किसी के कान में घुस गया हो तो प्याज और लहसुन के रस को कान में डालने से वह तुरंत बाहर आता है।
मिर्गी का दौरा पडऩे पर अगर तुरंत ही प्याज को पीसकर रोगी को सुंघाया जाए तो तुरंत आराम मिलता है।
अगर नाक से खून आता हो तो सफेद प्याज के रस में दूब घास के रस को मिलाकर दो बूंद नाक में डालें, खून आना तुरंत बंद हो जाएगा।
प्याज के रस को गर्म करके कान में डालने से कान के दर्द से तुरंत आराम मिलता है।
पेट में दर्द हो रहा हो तो ऐसे में प्याज के रस के साथ हींग और काला नमक मिलाकर देने से काफी आराम मिलता है।

जरूरी सलाह

प्याज का अधिक सेवन बौद्धिक स्तर पर आपको कमजोर कर सकता है।
यदि प्याज को औषधि के रूप में लेते हैं तो मूंग की दाल, चावल, गेहूं की रोटी और घी के साथ ही लेना असरकारक होता है।
किस व्यक्ति को प्याज की कितनी मात्रा कितने दिनों तक लेनी चाहिए, इसकी जानकारी किसी विशेषज्ञ से जरूर लें।

Continue Reading

हेल्थ

शक्कर से तीस गुना ज्यादा मीठा स्टीविया डायबिटीज के लिए है रामबाण दवा, इन रोगों में भी है फायदेमंद

Published

on

लखनऊ। मधुपत्र या मधुरगुणा नाम से भी जाना जाने वाला स्टीवियाआम शक्कर से लगभग 25 से 30 गुणा ज्यादा मीठा होता है। इसके बावजूद डायबिटीज को दूर करने के लिए महत्वपूर्ण औषधीय है। खास बात यह है कि इसे घर के बगिया में भी उगाया जा सकता है। इसकी खेती से किसान एक साल पौध रोपण कर पांच साल तक लाभ कमा सकते हैं। इसकी खेती महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश में प्रमुख रूप से होती है।

यूपी में आठ साल पूर्व कानपुर कृषि विश्व विद्यालय ने इसकी खेती अपने संरक्षण में फर्रुखाबाद और फिर कानपुर में करवाई थी, लेकिन खरीदारों की कमी के कारण किसानों ने इससे मुंह मोड़ लिया लेकिन अब वैसी परिस्थिति नहीं है। किसान आसानी से इसका स्थानीय बाजार भी बना सकते हैं, जहां उत्पाद हाथों-हाथ बिक जाएगा।

इन रोगों में है फायदेमंद

शून्य कैलोरी स्वीटनर वाला स्टीविया दिल के रोग, मोटापा, ब्लड प्रेशर, हाइपर टेंशन, दांतों, वजन कम करने, गैस, पेट की जलन, त्वचा रोग और सुंदरता बढ़ाने के लिए भी फायदेमंद होता है। समान्य अवस्था में इससे निकाला जाने वाला एक्सट्रैक्ट शक्कर से लगभग 300 गुणा ज्यादा मीठा होता है। इस कारण इसका उपयोग चाय आदि में मीठा के रूप में डायबिटिज के रोगी करते हैं।

तराई क्षेत्रों में हो सकता है अच्छा उत्पाद

इस संबंध में कानपुर कृषि विश्व विद्यालय के वैज्ञानिक डॉ. मुनीष कुमार ने बताया कि स्टीविया रिबाउडियाना मूलतः मध्य पैरग्वे का पौधा है। इसकी खेती तराई क्षेत्रों लखीमपुर, श्रावस्ती, देवरिया, गोरखपुर, कुशीनगर आदि जिलों में की जा सकती है। उन्होंने बताया कि इसमें इतनी औषधीय गुण है कि इसके लिए स्थानीय बाजार भी विकसित किया जा सकता है। इसके अलावा डायबिटिज से संबंधित दवा बनाने वाली आयुर्वेदिक कंपनियां भी इसका उत्पाद खरीद रही हैं।

स्टीविया की खेती की विधि

डॉ. मुनीष कुमार ने बताया कि इसकी खेती के लिए पानी की आवश्यकता ज्यादा होती है।  स्टीविया की खेती एक पंचवर्षीय फसल के रूप में की जाती है, क्योंकि एक बार रोपण के पश्चात या फसल पांच वर्ष तक खेत में रहेगी। इसकी रोपाई अधिक ठंड और अधिक गर्मी का समय छोड़कर कभी भी की जा सकती है। खेत की अच्छी प्रकार गहरी जुताई करके उसमें तीन टन केंचुआ खाद अथवा छह टन कम्पोस्ट खाद के साथ-साथ 120 किलोग्राम प्रॉम जैविक खाद मिला दी जाती है। प्रति एकड़ 150 से 200 किलोग्राम नीम की पिसी हुई खल्ली मिलाकर जड़ों के विकास की दृष्टि से खेत में 1 से 1.5 फीट ऊंची मेढ़े बनाई जाती है। इन मेढ़ों की चौड़ाई लगभग 2 फीट रखी जाती है।  एक एकड़ खेत में 28000 से 30000 तक पौधे लगाए जा सकते हैं।

स्टीविया की प्रमुख प्रजातियां

वर्तमान में कृषिकरण की दृष्टि से स्टीविया की मुख्यतया तीन प्रजातियां प्रचलन में है। एसआरबी- 123 की वर्ष भर में 5 कटाइयां ली जा सकती है। एसआरबी- 512 प्रजाति ऊत्तरी भारत के लिए ज्यादा उपयुक्त है। एसआरबी- 128 कृषिकरण की दृष्टि से स्टीविया की या किस्म सर्वोत्तम मानी जाती है।

फसल पर  होने वाले प्रमुख रोग तथा उनका नियंत्रण

इसमें भूमि में बोरोन तत्व की कमी के कारण लीफ स्पॉट का प्रकोप हो सकता है। इसके निदान हेतु छह प्रतिशत बोरेक्स का छिड़काव किया जा सकता है। वैसे नियमित अंतरालों पर गौमूत्र अथवा नीम के तेल को पानी में मिश्रित करके उसका छिड़काव करने से फसल पूर्णतया रोगों अथवा कीटों/कृमियों से मुक्त रहती है।  रोपण के लगभग चार माह के उपरान्त स्टीविया की फसल प्रथम कटाई के लिए तैयार हो जाती है। कटाई का कार्य पौधों पर फूल आने के पूर्व ही कर लिया जाना चाहिए।

कुल उपज तथा प्राप्तियां

एक बहुवर्षीय स्टीविया की चार कटाईयों में औसतन वर्ष भर में लगभग तीन टन सूखे पत्ते प्राप्त हो जाते हैं। इनकी बिक्री दर 80 से 135 रुपये प्रति किलोग्राम तक हो सकती है। इस हिसाब से प्रतिवर्ष किसान को 2.5 लाख रुपये प्रति एकड़ की प्राप्तियां होगी। इस फसल से किसान को पांच वर्षों में लगभग 8.40 लाख रुपये लाभ होना अनुमानित है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

राज्य13 mins ago

जे.एन यादव ने श्रावस्ती उपायुक्त उद्योग पद का कार्यभार संभाला, ये है पहली प्राथमिकता

राज्य18 mins ago

अयोध्या : सपा नेता अखिलेश यादव की हत्या में चार के खिलाफ केस दर्ज, हंगामे के बाद हुआ अंतिम संस्कार

टेक्नोलॉजी23 mins ago

भारत में लांच हुए दो नए Redmi K20 और K20 Pro स्मार्टफोन, जानें फोन की कीमत और इसके फीचर्स

राज्य31 mins ago

लखनऊ से आए एक वीआईपी फोन से बदली बरेली नगर निगम की तस्वीर

वीडियो55 mins ago

बाढ़ के पानी में सांपों ने किया खतरनाक डांस, वीडियो देख भूल जाएंगे नागिन फिल्म

मनोरंजन1 hour ago

सलमान खान ने कैटरीना कैफ को खास अंदाज में दी जन्मदिन की बधाई, लोग बोले-‘शादी कर लीजिए न सर…’

खेल2 hours ago

जेम्स एंडरसन का खुलासा, बेन स्टोक्स ने अंपायरों से कहा था मत दो ओवरथ्रो के रन, ये था पूरा मामला

हेल्थ2 hours ago

इन फलों का करें सेवन, सेहत में सुधार और वजन रहेगा नियंत्रित

खेल2 hours ago

मनीष पांडे के शतक और क्रुणाल पांड्या की फिरकी में फंसा वेस्टइंडीज-ए, भारत-ए ने लगाई जीत की हैट्रिक

बिज़नेस2 hours ago

आयकर रिटर्न फॉर्म में कोई बदलाव नहीं, सोशल मीडिया पर चल रही खबर अफवाह : सीबीडीटी 

देश2 hours ago

सीडी कांड : सीबीआई की जांच में खुलासा, वीडियो को एडिट कर लगाया था मंत्री का चेहरा, फिल्मकार गिरफ्तार

दुनिया2 hours ago

पाकिस्तान का ड्रामा या डर? : मुंबई हमले का मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद गिरफ्तार, भेजा गया जेल

देश3 hours ago

एक गांव ऐसा, जहां के ग्वाले नहीं बेचते दूध, जिसने की कोशिश वह हो गया बर्बाद

देश3 hours ago

कर्नाटक सरकार को SC से झटका, बागी विधायकों को विश्वास मत में शामिल होने के लिए बाध्य नहीं कर सकते

देश3 hours ago

पहले दोस्ती, फिर प्यार उसके बाद शादी का झांसा देकर युवती के साथ किया बलात्कार, फिर उठाया घिनौना कदम

लाइफ स्टाइल4 hours ago

राशिफल 17 जुलाई : जानिए आपके लिए कैसा है सावन का पहला दिन, पढ़ें अपना भविष्यफल

राज्य4 hours ago

अहमदाबाद जेल में बंद माफिया अतीक अहमद के ठिकानों पर सीबीआई का छापा

राज्य4 hours ago

20 साल पुराने हत्या के मामले में CM योगी को कोर्ट से मिली बड़ी राहत, केस खारिज, पढ़ें क्या था मामला

देश2 weeks ago

पत्नी एम्स में थी नर्स, पति को चरित्र पर था शक, बीवी व 3 बच्चों की हत्या कर किया सुसाइड

वीडियो6 days ago

भाजपा विधायक राजेश मिश्रा की बेटी ने दलित युवक से की शादी, कहा-पिता से जान का खतरा, देखें वीडियो

देश2 weeks ago

नई नवेली दुल्हन ने वॉट्सएप पर लोकेशन भेज प्रेमी को बुलाया, पति देखता रहा और कर दिया ये बड़ा कांड

देश4 weeks ago

रात में टहल रही थीं दो सगी बहनें, 8 लड़कों ने किया रेप, वीडियो भी बनाया

राज्य3 days ago

नशेबाज व गुंडा प्रवृत्ति का है साक्षी मिश्रा का कथित पति अजितेश, लिखता है क्षत्रिय, कई युवतियों से हैं संबंध

देश4 weeks ago

बादल फटने से तीस्टा नदी की बाढ़ में बह गया NHPC का गेस्ट हाउस, 300 पर्यटकों को निकला बाहर

हेल्थ3 weeks ago

बैली फैट को कम करने में अंडा है बेहद कारगर, अपनाएं ये रेसिपी

बिज़नेस4 weeks ago

कारोबारी सप्ताह के आखिरी दिन शेयर बाजार में मायूसी, 219 अंक फिसला सेंसेक्स

वीडियो3 weeks ago

देखें वीडियो : आमिर की बेटी इरा ने बॉयफ्रेंड संग किया रोमांटिक डांस, यूजर बोले-पिता का नाम बदनाम कर रही

हेल्थ4 weeks ago

इन चीजों का करेंगे सेवन तो तेज होगी याददाश्त, आप भी जानें

राज्य3 days ago

साक्षी मिश्रा के बाद इस लड़की ने भी की इंटरकास्ट शादी, पिता बोले-वापस आओ नहीं बन जाऊंगा मुसलमान

राज्य5 days ago

दलित से शादी करने वाली BJP विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा के पति की पहले हो चुकी है सगाई, देखें फोटो

दुनिया4 weeks ago

US के ड्रोन को मार गिराए जाने से अमेरिका और ईरान के बीच सैन्य टकराव की बढ़ी आशंका

मनोरंजन3 weeks ago

लखनऊ की मिजाजी शाम में महानायक अमिताभ ने की शूटिंग, भुट्टा खाते हुये आए नजर

राज्य2 weeks ago

पढ़ाई में बहन थी तेज, कमजोर करने के लिए भाई करने लगे गैंगरेप, इस तरह हुआ खुलासा

वीडियो2 weeks ago

अमरनाथ श्रद्धालुओं पर गिरने लगे पत्थर तो चट्टान बनकर खड़े हो गए जवान, देखें सांसे थमा देने वाला वीडियो

देश3 weeks ago

हाई प्रोफाईल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश, पांच महिलाओं सहित 9 गिरफ्तार, 7 मॉडलों को कराया मुक्त

राज्य4 weeks ago

दोस्ती की आड़ में दोस्त ही बनाते थे मां-बेटी से सम्बन्ध, बेटे को लगी भनक तो दे दी मौत

Trending