Connect with us

हेल्थ

कान में परेशानी से भी मरीज को आ जाता है चक्कर, जानें डॉक्टरों की राय

Published

on

लखनऊ। कान हमारे शरीर का एक अहम हिस्सा है और यह काफी संवेदनशील भी है। कई बार ऐसा होता है कि उल्टी और चक्कर की शिकायत को लेकर लोग न्यूरो के डॉक्टर के पास चले जाते हैं। लेकिन हो सकता है कि यह परेशानी आपके कान से संबंधित हो। यह परेशानी आपके सिर से संबंधित नहीं हो सकती है। कभी-कभी कान में संतुलन बिगडऩे से भी मरीज को चक्कर आ जाता है। लेकिन बाजार में जल्द ही एक ऐसा उपकरण आने वाला है जिससे मरीज बिना सहारे के चल-फिर सकता है। इस उपकरण को वेस्टीबुलर असिस्टिव कहते हैं। जल्द ही यह उपकरण बाजार में उपलब्ध होगा। यह जानकारी नीदरलैंड के डॉ. हरमैन किंग्मा ने दी।

शरीर का संतुलन बनाए रखने में करता है मदद

वह सोमवार को केजीएमयू में ओटोराइनोलैरिंगोलॉजी एंड हेड, नेक सर्जरी (ईएनटी) विभाग की ओर से आयोजित प्रो. आरएन मिश्रा मेमोरियल ओरेशन को संबोधित कर रहे थे। नोबल पुरस्कार विजेता डॉ. हरमैन किंग्मा ने बताया कि खड़े होने, चलने, उठने-बैठने के दौरान कान का एक हिस्सा (वेस्टीबुलर सिस्टम) शरीर का संतुलन बनाए रखने में मदद करता है। चोट लगने, संक्रमण या दूसरे कारणों से वेस्टीबुलर सिस्टम गड़बड़ा जाता है। इससे संतुलन की परेशानी शुरू हो जाती है। उन्होंने कहा कि शुरुआत में बीमारी का सटीक इलाज है। पर, मरीज ईएनटी विशेषज्ञ के पास नहीं आते। वह इसे सिर की बीमारी मानकर न्यूरोलॉजिस्ट से इलाज कराते हैं।

यहां इस्तेमाल करना है मशीन

मरीजों को चक्कर आने व चलने-फिरने आदि में परेशानी से बचाने के लिए खास तरह का उपकरण खोजा गया है। वेस्टीबुलर असिस्टिव उपकरण की मदद से मरीज सामान्य लोगों की तरह चल-फिर सकते हैं। इस उपकरण को पेट और कमर के हिस्से में पहन लिया जाता है। उन्होंने कहा कि जल्द ही यह उपकरण बाजार में उपलब्ध होगा। केजीएमयू ईएनटी विभाग के अध्यक्ष डॉ. अनुपम मिश्रा ने बताया कि उपकरण को कंप्यूटर आधारित इजाद किया गया है। जो शरीर के संतुलन के लिए संदेश भेजती है। शरीर को गिरने से बचाती है। डॉ. अनुपम ने बताया कि किसी मरीज को बार-बार चक्कर आए तो उसे दवा खाने के बाद तुरंत लेटना नहीं चाहिए, चलते-फिरते रहें ताकि हमारा दिमाग जल्दी इसे आसानी से ग्रहण कर ले।

दवाओं से बीमारी का सटीक इलाज

केजीएमयू ईएनटी विभाग के डॉ. वीरेंद्र वर्मा ने बताया कि .5 प्रतिशत आबादी को संतुलन में गड़बड़ी संबंधी परेशानी है। उम्र बढऩे के साथ लोगों में यह परेशानी अधिक देखने को मिलती है। इसके कारण व्यक्ति चलने में लाचार होता है। चलने पर चक्कर आते हैं। लडख़ड़ा कर गिर पड़ता है। सामने की चीजें हिलती-डुलती नजर आती हैं। उन्होंने बताया कि दवाओं से बीमारी का सटीक इलाज है। इस बीमारी से पीडि़तों को आराम से ज्यादा चलने-फिरने पर ध्यान देना चाहिए। https://www.kanvkanv.com

हेल्थ

पेट को दुरुस्त रखने के लिए खाएं ये चीजें, फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान

Published

on

हेल्थ डेस्क। अगर आप भी पेट की बीमारी से परेशान हैं तो हम आपको कुछ एसी चीजें बताएंगे जिसके उपयोग से आपको इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है। बता दें कि पेट यदि ठीक है तो सब ठीक है। क्योंकि पाचन तंत्र हमारी शरीर को प्रभावित करता है। इसलिए हमें इसे सही रखना जरूरी है।

दरअसल पाचन तंत्र हमारे भोजन को पचाकर उससे  शरीर को पोषक तत्व पहुंचाने में खास भूमिका निभाता है। तो आइये जानते हैं किस चीजों का सेवन करने से आपका पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है।

गुनगुना पानी पिएं

सुबह जागने के बाद गुनगुना पानी पीना आंत की सफाई, नए खून के निर्माण, वजन कम करने और त्वचा को चमक देने में सहायता करता है।

भोजन के बाद चाय या कॉफी न लें

भोजन के तुरंत बाद चाय या कॉफी न लें, क्योंकि ये भोजन से लौह तत्व लेने में बाधा पैदा करते हैं। भोजन के तुरंत बाद लेटें या सोएं नहीं, क्योंकि इससे पेट में मौजूद अम्ल खाने की नली में पहुंचकर सीने में जलन पैदा कर सकता है।

भोजन को निगलने के पहले खूब चबाएं, ताकि उसमें मुंह से निकलने वाला पाचक रस मिल जाए। फलों का रस पीने की बजाय उन्हें काटकर खाएं, ताकि उनका फाइबर आपको मिल सके। भोजन के आधा घंटा पहले पानी पीना पाचन में सहायक होता है।

अनन्नास

पाचन सुधारता है, सूजन घटाता है, आंखों की रोशनी बढ़ाता है, हड्डियां मजबूत करता है और त्वचा को स्वस्थ रखता है।

दही

अस्वस्थ पेट के लिए दही सबसे बढिय़ा आहार होता है। यह पेट को तत्काल ठंडक प्रदान करता है।

अदरक

पाचन संबंधी समस्याओं को ठीक करने का अद्भुत जरिया है। भोजन पचाने के लिए जरूरी रसों और एंजाइम के प्रवाह को प्रेरित करता है। खांसी-जुकाम, अपच, उल्टी और गले की पीड़ा से राहत देता है।

मेथी दाना

मेथी दाने और दही का सम्मिलित प्रभाव पेट दर्द और उल्टी से तुरंत राहत देता है। कुछ दाने निगलने होते हैं, उन्हें चबाना नहीं होता।

काली मिर्च

पाचन सुधारने, भूख बढ़ाने और पेट संबंधी समस्याओं को दूर करने में असरदार होती है। यह पेट की गैस को भी दूर करती है।

सौंफ

अपच, पेट फूलना, कब्ज और इरिटेबल बाउल सिंड्रोम के उपचार में उपयोगी है। गैस और अपच से पीडि़त बच्चे को एक चम्मच कुटी सौंफ एक कप गर्म पानी में शहद के साथ मिलाकर 10 मिनट तक हिलाने के बाद धीरे-धीरे पिलाएं।

केला

केला आपकी आंतों को स्वस्थ रखने, ह्रदय की लय बनाए रखने वाले पोषक तत्व प्रदान करने और स्वास्थ्य के लिए आवश्यक विटामिन देने में मदद करते हैं। केला पेट के लिए बहुत फायदेमंद फल है, जो आपके बिगड़े पेट को प्राकृतिक रूप से ठीक करने में मदद करता है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

रहना चाहते हैं ज्यादा खुश और फिट तो करें योग, मिलते हैं ये भी फायदे

Published

on

यह तो हम सब जानते हैं कि योग करने से तन और मन दोनों ही तंदरुस्त रहते हैं। हमारे शरीर की कार्य प्रणाली भी बेहतर बनी रहती है। योग से मानसिक और शारीरिक संतुलन बढ़ता है। इसलिए कह सकते हैं कि यह सेहत की योगशाला है। नियमित ध्यान व प्राणायाम दिमाग के फील गुड हार्मोन रिलीज करता है, इससे फिट व खुशमिजाज रहता है। आज हम इस लेख में आपको यह बताएंगे कि योग करने से लोग खुश और फिट कैसे रहते हैं।

आयुर्वेद में योग का जिक्र

योग को वेद व उपनिषद् के समय से ही अपनाया जा रहा है लेकिन महर्षि पतंजलि द्वारा शुरू किए गए अष्टांग योग के बाद से इसका प्रयोग बढ़ गया है। आयुर्वेद में योग का जिक्र है, जिसमें मानसिक फायदों के बारे में बताया गया है। खराब जीवनशैली व गलत मुद्रा में बैठने व चलने से जीवनशैली संबंधी रोगों को रोकने में योग कारगर है।

ये हैं फायदे

शारीरिक : मांसपेशियों में लचीलापन आने से प्रसव के दौरान गर्भवती को कम परेशानी आती है। खिलाडिय़ों को स्पोट्र्स इंजरी की आशंका घटती है। फेफड़ों की क्षमता बढ़ जाती है।
मानसिक : दिमाग में मौजूद फील गुड डीहाइड्रोएपियनड्रोस्ट्रोन (डीएचएई) हार्मोन के बढऩे से व्यवहार खुशमिजाज होता है। तनाव का स्तर स्वत: घटता है।

कब कैसे करें योग

सुबह चार से सात बजे के बीच (ब्रह्ममुहूर्त) योग क्रिया खुली व हवादार जगह करें। रंग से व्यक्ति के स्वभाव प्रभावित होता है। पीला, क्रीम, सफेद या हल्दी रंग के कपड़े मन-दिमाग को शांत-शीतल रखते हैं। योगासन करते समय ढीले कपड़े पहनें। 10 मिनट से योग प्रेक्टिस शुरू कर क्षमतानुसार अवधि बढ़ाएं। इस दौरान शौच आदि वेग न रोकें।

खानपान

यदि आप नियमित योग या व्यायाम करते हैं तो एक बार में भोजन लेने की बजाय थोड़ा-थोड़ा बार-बार खाएं। इससे मेटाबॉलिज्म सही रहेगा। योगाभ्यास के कम से कम 10-15 मिनट बाद नारियल पानी, फलों का रस, नींबू पानी, छाछ, लस्सी लें। एक घंटे बाद भोजन लें। भोजन से पहले सलाद लें, जितना हो सके हल्का, सुपाच्य भोजन लें।

सावधानियां

भोजन के तुरंत बाद योग न करें। गंभीर रोगए दर्द व महिलाएं माहवारी या प्रेग्नेंसी में जटिल परिस्थितियों में न करें। ब्रह्ममुहूर्त में उठकर शौच से निवृत्त हुए बिना कोई योग क्रिया न करें। रातभर तांबे के लोटे में रखा पानी पीकर शौच से निवृत्त हों फिर ऊषाकाल में सूर्यनमस्कार करें। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

अच्छी नींद लेने में भारतीय निकले आगे, जानें और देशों के हाल, इन पांच कारणों से नींद होती है प्रभावित

Published

on

नई दिल्ली। दुनिया में रात को अच्छी नींद लेने के मामले में भारतीय सबसे आगे हैं। इसके बाद सऊदी अरब और चीन का स्थान है।  भारत में बहुत से लोग सबसे अच्छी नींद लेते हैं। एक सर्वे में इस बात का खुलासा हुआ है।

फिलिप्स की ओर से ग्लोबल मार्केट रिसर्च फर्म केजेटी ग्रुप ने 12 देशों के 18 वर्ष और उससे ऊपर के 11,006 लोगों पर सर्वे किया। मोटे तौर पर सर्वे में पाया गया कि दुनिया भर के 62 प्रतिशत वयस्कों ने माना है कि रात को जब वे सोने जाते हैं तो उन्हें अच्छी नींद नहीं आती है।

दक्षिण कोरिया की हालत बहुत बुरी

अनिद्रा की आदत को लेकर सबसे सबसे बुरी हालत दक्षिण कोरिया की और उसके बाद जापान की है। विश्व के वयस्क हफ्ते में रात के दौरान औसतन 6.8 घंटे की नींद लेते हैं। वहीं वे छुट्टी के दिन रात को 7.8 घंटे की नींद लेते हैं। सर्वे में पता चला है कि प्रत्येक दिन आठ घंटे की नींद पूरी करने के लिए 10 में से छह वयस्क (63 प्रतिशत) सप्ताहांत में अधिक सोते हैं। 10 में से चार लोगों का कहना है कि पिछले पांच सालों में उनकी नींद में गड़बड़ी आई है।

हलांकि, 26 प्रतिशत लोगों ने कहा है कि उनकी नींद अच्छी हुई है, जबकि 31 प्रतिशत ने कहा है कि उनकी नींद लेने की आदतों में कोई बदलाव नहीं आया है। फिलिप्स ग्लोबल स्लीप सर्वे 2019 के अनुसार, कनाडा (63 प्रतिशत) और सिंगापुर (61 प्रतिशत) में लोगों को सबसे ज्यादा नींद से जुड़ी समस्याएं हैं।

नींद को प्रभावित करने के पांच मुख्य कारण

नींद को प्रभावित करने में जीवनशैली का भी बहुत बड़ा हाथ है। दुनिया में नींद को प्रभावित करने के पांच मुख्य कारण है : चिंता/तनाव (54 प्रतिशत), पर्यावरण (40 प्रतिशत), कार्य व स्कूल का शेड्यूल (37 प्रतिशत), मनोरंजन (36 प्रतिशत) और स्वास्थ्य कारण (32 प्रतिशत)। स्वस्थ रहने और हालचाल ठीक रखने में नींद एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

देश2 hours ago

डेढ़ घंटे के हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद गिरफ्तार किए गए कांग्रेस के दिग्गज नेता पी चिदंबरम

देश3 hours ago

महिला कर रही थी ट्रेन के एसी कोच में सफर, आया एक यात्री और करने लगा शर्मनाक हरकत

देश4 hours ago

राम जन्मभूमि केस 9वां दिन : वकील ने कहा-रामलला नाबालिग, उनकी संपत्ति छीनी नहीं जा सकती

देश4 hours ago

बाल गोपाल के प्रिय स्थल सीतामढ़ी गौशाला में धूमधाम से मनेगी जन्माष्टमी

देश4 hours ago

सीतामढ़ी : बाल गोपाल में पहुंचे कान्हा भक्त, दौड़ी खुशी की लहर

उत्तर प्रदेश4 hours ago

श्रावस्ती : पीएमकेएसवाई योजना के लिए तत्काल जमा करायें फार्म पात्र किसान – कृषि अधिकारी

उत्तर प्रदेश4 hours ago

कन्नौज : अपनी मांगों पर संवेदनहीन रवैये से भड़के कलेक्ट्रेटकर्मी

उत्तर प्रदेश4 hours ago

कन्नौज : ज्यादा से ज्यादा लोगों को कुम्हारी कला के लिए वितरित करें पट्टे

उत्तर प्रदेश4 hours ago

अयोध्या : बरसात के दौरान गिरी आकाशीय बिजली, एक ही गांव के चार किशोर घायल, दो भैंस भी मरी

उत्तर प्रदेश4 hours ago

कन्नौज : पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्यवृद्धि पर सपाइयों ने सरकार को घेरा

उत्तर प्रदेश4 hours ago

श्रावस्ती : बरसात से आमजन जीवन को राहत, किसान हुए खुश, नगरों की खुली पोल

उत्तर प्रदेश4 hours ago

कन्नौज : तालग्राम थाने में दर्ज हुआ तीन तलाक़ का मुकदमा 

उत्तर प्रदेश4 hours ago

गोंडा : डीआईजी की प्रभावी पैरवी से मिला पीड़िता को शीघ्र न्याय, जानिए क्या था पूरा मामला

उत्तर प्रदेश5 hours ago

बलरामपुर : अनियंत्रित ट्रक ने खेल रहे दो बच्चों को कुचला, दर्दनाक मौत

उत्तर प्रदेश5 hours ago

अयोध्या : चौबीस घंटे के अंदर विद्युत स्पर्शाघात से दो महिलाओं समेत चार की मौत

उत्तर प्रदेश5 hours ago

पहले से पीड़ित थी पत्नी कोर्ट में मिला पति तो दी ये चीज, लेने से किया मना तो दे दिया तीन तलाक

दुनिया8 hours ago

पाकिस्तान को डबल झटका, फ्रांस और बांग्लादेश ने भी कश्मीर मुद्दे पर बोल दी ये बड़ी बात

हेल्थ8 hours ago

पेट को दुरुस्त रखने के लिए खाएं ये चीजें, फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान

वीडियो4 weeks ago

फिर चर्चा में पीली साड़ी वाली अफसर, सपना के गाने पर नीली साड़ी पहन किया धमाकेदार डांस, देखें वीडियो

दुनिया3 weeks ago

‘प्रेमी को बांध देती थी हथकड़ी से फिर करती थी मारपीट, वियाग्रा खिला कर बनाती थी जबरन संबंध’

वीडियो3 weeks ago

साक्षी की तरह कृति ने भी भागकर रचाई दूसरी जाति में शादी, सियासी खानदान की है बेटी, देखें वीडियो

वीडियो4 weeks ago

थाने में महिला पुलिसकर्मी को चढ़ा टिक-टॉक का खुमार, वीडियो बनाकर लगाए ठुमके, देखें वीडियो

देश4 weeks ago

स्पीकर की कुर्सी पर बैठीं थीं BJP सांसद, आजम बोले-…आपकी आंखों में देखता रहूं, अखिलेश बचाव में उतरे

टेक्नोलॉजी3 weeks ago

भारत में लांच हुआ धमाकेदार स्मार्टफोन, फीचर्स देख हो जाएंगे हैरान, कीमत सिर्फ इतनी

मनोरंजन3 weeks ago

टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने शेयर की हनीमून की फोटो, फिर कैैप्शन में लिख दी ये बात

देश4 weeks ago

इस वरिष्ठ आईएएस पर आरोप, नशे में कर संबंध बनाए फिर धमकी देकर की दूसरी शादी, जानें पूरा मामला

देश4 weeks ago

आठ माह की गर्भवती के साथ 4 दरिंदों ने किया सामूहिक बलात्कार, फिर वीडियो बनाकर पति को भेज दिया

मनोरंजन3 weeks ago

जेल जा सकते हैं पवन सिंह, अक्षरा ने दर्ज कराई FIR, लगाए सनसनीखेज आरोप, सुनाई ब्रेकअप स्टोरी

वीडियो2 weeks ago

नहीं बन सका पायलट तो अपनी नैनो कार को ही बना दिया हेलिकॉप्टर, देखें हैरान करने वाला वीडियो

राज्य2 weeks ago

अम्बेडकर नगर में चार युवकों ने शिवलिंग पर पैर रखकर खिंचवाई फोटो, पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा

मनोरंजन3 weeks ago

बिकनी पहनकर निक जोनास के पैरों पर लेटी प्रियंका चोपड़ा, पी सिगरेट, लोगों ने किये ऐसे कमेंट

देश2 weeks ago

एक और न‍िर्भया कांड, युवती के साथ गैंगरेप के बाद काट डाले स्तन, चीर दी छाती

देश2 weeks ago

पत्नी की बेवफाई, पति नहीं रहता था घर पर बुला लेती थी प्रेमी को, फिर ऐसी खुल गई सारी पोल

देश2 weeks ago

बड़ी कंपनी में नौकरी करती थी महिला, GB रोड में बेच दिया, रोज 20 आदमी करते थे बलात्कार

वीडियो2 weeks ago

पुल पर बैठकर किस कर रहा था कपल, फिर कुछ हुआ ऐसे कि दोनों की हो गई मौत, देखें लाइव वीडियो

Uncategorized3 weeks ago

उन्नाव कांड की पूरी कहानी : 18 साल पहले पीड़ित व विधायक के परिवार में थी दोस्ती, फिर कुछ ऐसे हुई दुश्मनी

Trending