Connect with us

हेल्थ

नए रिसर्च का दावा, ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मददगार है ये आसान सा नुस्खा

Published

on

प्यार एक ऐसी चीज है जो दुनिया के सारे दुखों को दूर करने में सक्षम होता है। प्यार लोगों के सभी तनाव को भी दूर कर देते है। यह हम नहीं कह रहे हैं बल्कि एक अध्ययन के जरिए ये दावे किए गए हैं। दरअसल अमेरिका में हुए एक अध्ययन में भी यह दावा किया गया है कि जब आप तनावपूर्ण स्थिति का सामना करें तो अपने प्रेमी के बारे में सोचें। इससे रक्तचाप को काबू रखने में मदद मिलेगी।

 पड़ता है काफी असर

अमेरिका की एरिजोना यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने कहा कि रक्तचाप की प्रतिक्रियात्मकता पर रोमांटिक साथी की मौजूदगी या विचार से काफी असर पड़ता है। पिछले अध्ययनों में भी यह बताया जा चुका है कि एक रोमांटिक साथी की मौजूदगी या कल्पना से तनाव कम करने में काफी मदद मिल सकती है।

मनोविज्ञान के शोध छात्र काइल बोरासा के नेतृत्व में हुआ यह अध्ययन बताता है कि एक प्यार भरा रिश्ता किस तरह से जीवन में तनाव को दूर कर सकता है। बोरासा ने कहा कि अध्ययन के नतीजों से यह समझाने में मदद मिल सकती है कि वैज्ञानिक साहित्य में सकारात्मक स्वास्थ्य परिणामों के लिए अच्छे रोमांटिक संबंध किस हद तक मददगार होते हैं।

तनाव कम होने से रक्तचाप तो नियंत्रित रहता ही है, साथ ही दिल संबंधी तमाम रोगों से भी बचे रह सकते हैं। बोरासा ने कहा कि शोध के अगले चरण में अलग-अलग आयु वर्ग के उन लोगों पर अध्ययन किया जाना चाहिए, जो हर रोज तनावपूर्ण परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं। इस अध्ययन के नतीजे साइकोफिजियोलॉजी जर्नल में प्रकाशित हुए हैं।

इस तरह किया अध्ययन

अमेरिका की एरिजोना यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने 102 प्रतिभागियों पर इसका अध्ययन किया। इसके लिए उन्होंने प्रतिभागियों को एक तनावपूर्ण लक्ष्य दिया गया। इसमें प्रतिभागियों से 3.3 से 4.4 डिग्री सेल्सियस के तापमान में ठंडे पानी में तीन इंच तक पैर डालने के लिए कहा गया। इस टॉस्क में शामिल होने से पहले और बाद में प्रतिभागियों का रक्तचाप, दिल की धड़कन और उसमें होने वाले अचानक बदलाव को भी मापा गया। सभी प्रतिभागी किसी न किसी रोमांटिक रिश्ते में बंधे थे।

दिल संबंधी रोगों से बचे रहेंगे

इसमें शामिल कुछ प्रतिभागियों को शोधकर्ताओं ने अपने रोमांटिक रिश्ते के बारे में सोचने और कुछ को अपने सामान्य दिनों के बारे में विचार करने को कहा। इसके बाद शोधकर्ताओं ने देखा कि जिन प्रतिभागियों ने अपने रोमांटिक साथी के बारे में सोचा था, उनके दिल की धड़कन एकदम सामान्य रही, कोई बदलाव नहीं देखे गए, मतलब रक्तचाप सामान्य रहा। वहीं, जिन प्रतिभागियों ने अपने सामान्य दिनों के बारे में सोचा, उनमें ठंडे पानी में रहने के तनाव के दौरान रक्तचाप कम देखा गया। https://www.kanvkanv.com

हेल्थ

घुटनोंं के दर्द में राहत के लिए अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

Published

on

घुटनों में दर्द की समस्या आज के समय में आम होती जा रही है। खासकर बढ़त उम्र में यह दर्द होता ही है। पुरुषों के मुकाबले महिला में घुटनों का दर्द ज्यादा पाया जाता है। घुटनों में दर्द की समस्या के कारण उठना और बैठना काफी मुश्किल हो जाता है। इस लेख में हम आपको घटनों के दर्द से राहत देने के लए कुछ घेरलू उपाय बताने जा रहे हैं।

सिरका : अम्लीय होने के कारण यह घुटनों के जोड़ पर जमे विषैले पदार्थों को कम कर घुटनों में मूवमेंट को आसान बनाता है। इसके लिए दो चम्मच एप्पल विनेगर को दो कप पानी में मिलाकर थोड़ी-थोड़ी देर में एक-एक घूंट पीएं।

हल्दी : इसमें मौजूद करक्यूमिन तत्व एंटी-ऑक्सीडेंट होने के अलावा दर्द निवारक भी हैं। आधा चम्मच पिसी सोंठ व थोड़ा हल्दी पाउडर पानी में मिलाकर 8-10 मिनट तक उबालकर छान लें। इसे पानी में शहद के साथ मिलाकर पीएं। या एक गिलास पानी में हल्दी उबालकर भी पी सकते हैं।

सेंधा नमक : मैग्नीशियम से भरपूर सेंधा नमक शरीर में नमी से जुड़ा पीएच संतुलन रखता है। आधे कप गुनगुने पानी में सेंधा नमक व नींबू का रस डालें। सुबह-शाम एक-एक चम्मच पीएं। इस नमक को गुनगुने पानी में डालकर नहाएं।

दालचीनी : एक-एक चम्मच दालचीनी पाउडर व शहद को एक कप गुनगुने पानी में मिलाकर सुबह खाली पेट लें। या दालचीनी पाउडर व शहद के पेस्ट से जोड़ों की मालिश करें।

Continue Reading

हेल्थ

अरोमाथैरेपी दिलाएगी इनसोम्निया की समस्या से आराम

Published

on

अनिद्रा की समस्या लोगों में तेजी से बढ़ रही है। इससे शरीर में कई तरह की समस्या भी हो जाती है। अनिद्रा की समस्या को ही हम इनसोम्निया भी कहते हैं। इन में प्रमुख कारण होते हैं हाई ब्लड प्रेशर, दिल का दौरा व बे्रन स्ट्रोक। यदि यह समस्या किसी को घेर लेती है तो इससे तनाव और याददाश्त प्रभावित होने का खतरा बना रहता है। इस लेख में हम आपको अनिद्रा के कारण और उपायों को बताएंगे जिससे कि आप राहत पा सकते हैं।

इनसे बढ़ती है समस्या

– काम का दबाव, पैसे, सेहत व नौकरी छूटने का तनाव अनिद्रा की वजह बनता है।
– कई बार दवाइयों के दुष्प्रभाव से भी नींद प्रभावित हो सकती है।
– किसी रोग के कारण होने वाला दर्द या असुविधा का अहसास, दमा जैसी सांस की तकलीफ, कैंसर, हृदय रोग, एलर्जी और एसिडिटी से भी अनिद्रा रोग हो सकता है।
– अनिद्रा का एक कारण मोबाइल व कम्प्यूटर का कई घंटों तक प्रयोग करना भी है। इससे आंखों में जलन, थकान और लालिमा की स्थिति बनती है जिससे नींद बाधित होती है।
– शराब, कैफीन, निकोटीन, नशीले पदार्थों की लत से भी नींद न आने की दिक्कत होती है।

रोग के लक्षण

सुस्ती आना, जागने के बाद भी खुमारी या सिर भारी होना, स्वभाव में चिड़चिड़ापन, बात-बात पर गुस्सा आने के साथ डिप्रेशन का शिकार होना आम लक्षण हैं। अगर यह लंबे समय से है तो डॉक्टरी सलाह लें वरना यह अन्य रोगों का कारण भी बन सकती है।

ध्यान रखें

अरोमाथैरेपी : इसमें प्रयोग होने वाला लैवेंडर तेल बॉडी को रिलैक्स कर अनिद्रा में राहत पहुंचाता है।
स्क्रीन से दूरी : सोने से दो घंटे पहले मोबाइल या कम्प्यूटर स्क्रीन से दूरी बना लें ताकि आंखें रिलैक्स हो जाएं और नींद आ सके। देर तक जागने की आदत छोड़ें।
तनावमुक्त रहें : सोने से पहले ठंडे पानी से चेहरा धोएं और तनाव से जुड़ी बातों से दूर रहने के लिए कुछ देर किताब या साहित्य पढ़ें।
डॉक्टरी सलाह : उपरोक्त सावधानी बरतने के बाद भी नींद न आए तो डॉक्टरी सलाह लें।

Continue Reading

हेल्थ

बारिश में बढ़ जाता है अपेन्डिक्स के दर्द, जानें कारण और उपचार

Published

on

नई दिल्ली। अपेन्डिक्स का दर्द काफी असहनीय होता है। गौर करने वाली बात तो यह है कि बारिश के मौसम में यह दर्द और अधिक बढ़ जाता है। इस मौसम में सावधानी की जरूरत रहती है। अपेन्डिक्स लगभग चार-पांच इंच लंबी एक बंद और पतली नली होती है। यह वहां स्थित होती है, जहां छोटी आंत और बड़ी आंत मिलती हैं। सामान्यतया यह पेट के दाएं भाग में नीचे की ओर होती है। अपेन्डिक्स की वैसे हमारे लिए कोई उपयोगिता नहीं है। अपेन्डिक्स का संक्रमण घातक हो सकता है, इसलिए इसे सर्जरी कर निकाल दिया जाता है।

क्या है अपेन्डिसाइटिस

अपेन्डिसाइटिस का अर्थ है अपेन्डिक्स का संक्रमण। ऐसा माना जाता है कि इसकी शुरुआत तब होती है, जब अपेन्डिक्स का दूसरा किनारा अवरुद्ध हो जाता है। यह ब्लॉकेज अपेन्डिक्स में म्युकस के जमाव के कारण हो सकता है या मल के सेकम से अपेन्डिक्स में प्रवेश करने के कारण हो सकता है। म्युकस या मल कड़ा हो जाता है और ओपनिंग को ब्लॉक कर देता है। ब्लॉकेज होने के पश्चात जो बैक्टीरिया सामान्यतया अपेन्डिक्स में होते हैं, वे अपेन्डिक्स की दीवार पर आक्रमण (संक्रमित) करने लगते हैं। इससे अपेन्डिक्स में सूजन आ जाती है। इसी संक्रमण को अपेन्डिसाइटिस कहते हैं। अपेन्डिसाइटिस अकसर 10 से 30 वर्ष की आयु वर्ग के बीच में होता है। यह समस्या महिलाओं की तुलना में पुरुषों में अधिक सामान्य होती है, लेकिन बहुत अधिक चिंता की बात नहीं होती।

क्या हैं कारण

अपेन्डिसाइटिस लिम्फोइड फॉलिकल का आकार बढऩे और चोट आदि लगने से भी हो सकता है। जब अपेन्डिक्स में रुकावट आती है, तब बैक्टीरिया इसमें तेजी से बढऩे लगते हैं। इससे पस का निर्माण होने लगता है। दबाव बढऩे से उस स्थान की रक्त नलिकाएं भी दब सकती हैं।

कैसे शुरू होता है दर्द

इसका दर्द पेट में हल्की मरोड़ के साथ शुरू हो सकता है। बहुत कम मामलों में ऐसा देखा जाता है कि इसके लक्षण दिखाई देने के 24 घंटों के भीतर अपेन्डिक्स फट जाए। हालांकि जिन लोगों में लगातार 48 घंटे तक अपेन्डिसाइटिस के लक्षण दिखाई देते हैं, उनमें से 80 प्रतिशत लोगों में यह फट जाता है। ऐसी स्थिति घातक हो सकती है।

सर्जरी ही है उपचार

अपेन्डिसाइटिस का एकमात्र उपचार सर्जरी है। सर्जरी के पारंपरिक तरीके में एक बड़ा-सा लंबा कट लगाया जाता है। दूसरा तरीका है लैप्रोस्कोपी(इसमें 3-5 मिलीमीटर के छेद किये जाते हैं और शरीर के अंदर देखने के लिए दूरबीन का प्रयोग किया जाता है)। यह एक दिन की प्रक्रिया है।

लक्षणों को जानें

– पेट के निचले भाग में दर्द
– भूख न लगना
– जी मिचलाना
– उल्टी होना
– डायरिया की शिकायत
– कब्ज रहना
– हल्का बुखार रहना।

बढ़ जाता है खतरा

भारत में अपेन्डिक्स के अधिकतर मामले बरसात के मौसम में ही देखे जाते हैं। इन दिनों बारिश होने के कारण वातावरण में अत्यधिक नमी होती है। इस मौसम में बैक्टीरिया और वायरस का संक्रमण बढ़ जाता है, जिस कारण अपेन्डिसाइटिस के मामले भी अधिक होते हैं। इसलिए इस मौसम में ताजा खाना खाएं तथा साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें।

Continue Reading
देश13 hours ago

जानें-चंद्रयान-2 की खूबियां, कब उतरेगा चांद पर और क्या काम करेगा, सौरमंडल-चंद्रमा के ये तथ्य भी जानें 

टेक्नोलॉजी13 hours ago

सैमसंग गैलेक्सी फोल्ड स्मार्टफोन ने पास किए सभी टेस्ट, ये होंगे फीचर्स, स्क्रीन का भी रखा गया है ख़याल

देश13 hours ago

ISRO ने रचा इतिहास, `बाहुबली’ पर सवार होकर चांद की ओर निकल पड़ा अपना चंद्रयान-2, जानें बड़ी बातें

हेल्थ14 hours ago

घुटनोंं के दर्द में राहत के लिए अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

खेल14 hours ago

गोल्डन गर्ल हिमा दास का पीएम मोदी को वादा, देश को और सम्मान दिलाने के लिए करूंगी कड़ी मेहनत

मनोरंजन14 hours ago

‘सत्ते पे सत्ता’ की रीमेक में अब दीपिका पादुकोण नहीं, ऋतिक रोशन के साथ नजर आएंगी कैटरीना कैफ

बिज़नेस14 hours ago

गिरावट के साथ शुरू हुआ बाजार, सेंसेक्स 263 और निफ्टी 84 अंक लुढ़का, रुपये में भी गिरावट 

राज्य15 hours ago

यूपी : होटल मालिक से था छात्रा को प्यार, मिलने पहुंची, हुआ कुछ ऐसा कि युवक ने मार दी गोली, मौत

दुनिया15 hours ago

अमेरिका में अपमान के बाद अब इमरान खान का विरोध, कार्यक्रम में हुई जमकर नारेबाजी, देखें वीडियो

राज्य15 hours ago

यूपी : डेढ़ साल के बच्चे की गला घोंटकर हत्या करने के बाद माता-पिता ने लगाई फांसी

देश15 hours ago

रोहित शेखर मौत मामला : क्राइम ब्रांच की चार्जशीट पर कोर्ट ने लिया संज्ञान, 25 को सुनवाई

खेल15 hours ago

भारत ए ने वेस्टइंडीज ए को 8 विकेट से दी पटखनी, 4-1 जीती श्रृंखला, 99 पर आउट हुआ ये भारतीय खिलाड़ी

राज्य16 hours ago

यूपी में बड़ा सड़क हादसा : टक्कर के बाद दो हिस्सों में बंटी पिकअप, आठ बच्चों सहित नौ लोगों की मौत

वीडियो16 hours ago

सपा विधायक बोले, भाजपा से जुड़े दुकानदारों से मुस्लिम समाज न खरीदें सामान, कहा-जूता…देखें वीडियो

लाइफ स्टाइल16 hours ago

राशिफल 22 जुलाई : सावन के पहले सोमवार को इन राशियों पर है भगवान शिव की खास कृपा

राज्य1 day ago

श्रावस्ती : पिकअप लेकर भाग रहे चोर को ग्रामीणों ने दबोचा, किया पुलिस के हवाले

राज्य1 day ago

अयोध्या : जिले के एसएसपी टी-शर्ट पहनकर बुलेट से पहुंचे थाने, सादे वर्दी में की चेकिंग

राज्य1 day ago

अम्बेडकर नगर : किशोरी के अपहरण के मामले में युवक और उसके भाई सहित पिता भी नामजद

वीडियो2 weeks ago

भाजपा विधायक राजेश मिश्रा की बेटी ने दलित युवक से की शादी, कहा-पिता से जान का खतरा, देखें वीडियो

देश3 weeks ago

नई नवेली दुल्हन ने वॉट्सएप पर लोकेशन भेज प्रेमी को बुलाया, पति देखता रहा और कर दिया ये बड़ा कांड

राज्य1 week ago

नशेबाज व गुंडा प्रवृत्ति का है साक्षी मिश्रा का कथित पति अजितेश, लिखता है क्षत्रिय, कई युवतियों से हैं संबंध

वीडियो3 weeks ago

देखें वीडियो : आमिर की बेटी इरा ने बॉयफ्रेंड संग किया रोमांटिक डांस, यूजर बोले-पिता का नाम बदनाम कर रही

हेल्थ3 weeks ago

बैली फैट को कम करने में अंडा है बेहद कारगर, अपनाएं ये रेसिपी

राज्य1 week ago

दलित से शादी करने वाली BJP विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा के पति की पहले हो चुकी है सगाई, देखें फोटो

राज्य1 week ago

साक्षी मिश्रा के बाद इस लड़की ने भी की इंटरकास्ट शादी, पिता बोले-वापस आओ नहीं बन जाऊंगा मुसलमान

मनोरंजन4 weeks ago

लखनऊ की मिजाजी शाम में महानायक अमिताभ ने की शूटिंग, भुट्टा खाते हुये आए नजर

राज्य2 weeks ago

दलित से शादी करने वाली भाजपा विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा ने की पापा से बात, मिला ये जवाब 

देश3 weeks ago

हाई प्रोफाईल सेक्स रैकेट का पर्दाफाश, पांच महिलाओं सहित 9 गिरफ्तार, 7 मॉडलों को कराया मुक्त

राज्य3 weeks ago

पढ़ाई में बहन थी तेज, कमजोर करने के लिए भाई करने लगे गैंगरेप, इस तरह हुआ खुलासा

वीडियो3 weeks ago

अमरनाथ श्रद्धालुओं पर गिरने लगे पत्थर तो चट्टान बनकर खड़े हो गए जवान, देखें सांसे थमा देने वाला वीडियो

देश7 days ago

पिता ने पैर छूने झुकी गर्भवती बेटी का काटा गला, सामने आई हत्या की ये बड़ी वजह

राज्य2 weeks ago

सुहागरात के दिन पत्नी का वीडियो बना पति बनाता रहा अप्राकृतिक संबंध, पीड़िता ने पुलिस को सुनाई दास्तां

दुनिया3 weeks ago

और जब मगरमच्छ को न‍िगल गया अजगर, पकड़ने से लेकर खाने तक की तस्वीरें देख थम जाएंगी आपकी सांसे

राज्य3 weeks ago

आम जनता के लिए योगी ने शुरू की मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076, खुद करेंगे निगरानी, जानिए खास बातें

मनोरंजन3 weeks ago

दंगल गर्ल जायरा वसीम ने बॉलीवुड को कहा अलविदा, बोलीं-अल्लाह के लिए छोड़ी फिल्मी दुनिया

राज्य1 week ago

BJP विधायक की बेटी साक्षी मिश्रा बोली, भाई पीटता था, मां दिखाती थी हॉरर किलिंग का डर, पिता भी…

Trending