Connect with us

हेल्थ

328 फिक्सड डोज कॉम्बिनेशन दवाओं की बिक्री और वितरण पर केंद्र सरकार ने लगाई रोक

Published

on

केंद्र सरकार ने स्वास्थ्य के लिए 328 फिक्सड डोज कॉम्बिनेशन (एफडीसी) दवाओं की बिक्री और वितरण पर बुधवार तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी। इन दवाओं में सर्दी-खांसी और मधुमेह में इस्तेमाल की जाने वाली कई दवाएं शामिल हैं, जिन्हें सेहत के लिए नुकसानदेह माना गया है।  केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से बुधवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार, दवा तकनीकी सलाहकार बोर्ड की सिफारिशों के आधार पर इन दवाओं की बिक्री पर रोक लगाई गई है। बोर्ड ने एफडीसी दवाओं पर सौंपी गई रिपोर्ट में कहा था कि इन 328 एफडीसी में निहित सामग्री का कोई चिकित्सकीय औचित्य नहीं है। इनसे मानव स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है।

बाजार में मौजूद दवाओं को लेना होगा वापस

बोर्ड ने सिफारिश की थी कि औषधि और प्रसाधन सामग्री अधिनियम, 1940 की धारा 26ए के तहत व्यापक जनहित में इन एफडीसी के उत्पादन, बिक्री तथा वितरण पर प्रतिबंध लगाना जरूरी है। इसके अलावा छह अन्य एफडीसी दवाओं के बारे में बोर्ड ने अनुशंसा की थी कि इनके चिकित्सकीय औचित्य के आधार पर कुछ शर्तों के साथ इनके उत्पादन, बिक्री और वितरण पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। इस बीच, दवा विक्रेताओं ने बताया कि प्रतिबंधित दवाओं की सूची में कई खांसी की मशहूर दवाएं हैं, जिनकी सूची उन्हें मिल गई है। फैसला तत्काल प्रभाव से लागू होने की वजह कंपनियों को बाजार में मौजूद दवाओं को वापस लेना होगा।

केंद्र को सौंपी रिपोर्ट

गौरतलब है कि फिक्सड डोज कॉम्बिनेशन दो या इससे अधिक दवाओं का निश्चित मेल होता है। 2016 में भी हुई थी कोशिश केंद्र सरकार ने मार्च 2016 में भी 349 एफडीसी दवाओं की बिक्री और वितरण पर रोक लगा दी थी, जिसके खिलाफ दवा कंपनियां हाईकोर्ट सुप्रीम कोर्ट गई थी। दिसंबर 2017 में सुप्रीम कोर्ट के आए आदेश के बाद दवा तकनीकी सलाहकार बोर्ड ने मामले की समीक्षा की और केंद्र को अपनी रिपोर्ट सौंपी। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हेल्थ

अब यहां ऑपरेशन से सीधी हो सकती है रीढ़ की हड्डी, डॉक्टरों ने किया कारनामा

Published

on

प्रयागराज। प्रयागराज में पहली बार टेढ़ी रीढ़ की हड्डी को जाने-माने न्यूरो सर्जन डा. पंकज गुप्ता ने लाउदर रोड स्थित आदर्श हास्पिटल में सफलतापूर्वक ऑपरेशन कर सीधा किया। यह ऑपरेशन लगभग दस घंटे चला और 26 स्क्रू और राॅड की मदद से रीढ़ को सीधा किया गया।

लड़कों की तुलना में लड़कियों में ज्यादा नुकसान

डा. पंकज गुप्ता ने बताया कि रीढ़ की हड्डी में होने वाली बीमारी को काइफो स्कोलियोसिस कहते हैं। इसके कारण रीढ़ की हड्डी टेढ़ी-मेढ़ी धनुषनुमा हो जाती है या मरीज को कूबड़ हो जाता है। अक्सर यह जन्मजात बीमारी होती है। यह बीमारी तीन प्रतिशत बच्चों में होती है। शुरुआत में इस बीमारी के लक्षण नजर नहीं आते, पर उम्र बढ़ने के साथ यह प्रकट होता है। यह लड़कों की तुलना में लड़कियों में ज्यादा होता है।

चढ़ाया गया केवल दो यूनिट खून

प्रयागराज शहर की 26 वर्षीय दीपा को करीब आठ वर्षों से रीढ़ में लगातार दर्द था। रीढ़ के टेढ़ेपन के कारण पीठ पर कूबड़ भी दिखाई देता था और चलने में शरीर का सन्तुलन भी प्रभावित हो रहा था। मरीज की पूरी रीढ़ में राॅड-स्क्रू की मदद से ऑपरेशन द्वारा सीधा किया गया। ऑपरेशन पूर्णतः सफल रहा और मरीज वापस अपना कार्य करने में समर्थमें अत्यधिक खून बहने और पैरों में लकवा आने का खतरा होता है।
डा. गुप्ता ने बताया कि गर्दन के नीचे से कमर तक चीरा लगाया गया, जिसके बाद वरटिब्रल काॅलम रोटेटर, मैनीपुलेटर और स्पाइनल सिस्टम विद राॅड कैप्चर सिस्टम के माध्यम से रीढ़ की हड्डी को सीधा किया गया। इस सर्जरी में केवल दो यूनिट खून चढ़ाया गया।

पहली बार शहर में किया गया जटिल ऑपरेशन

इस प्रकार का जटिल ऑपरेशन पहली बार शहर में किया गया। इसके पूर्व ऐसे ऑपरेशन के लिए मरीज को दिल्ली या मुम्बई स्थित बड़े स्पाइन सेन्टर्स जाना पड़ता था, जहां 15-20 लाख रूपये का खर्च आता था, किन्तु शहर में हुए इस ऑपरेशन में कुल खर्च पांच लाख रुपये तक आया और मरीज पूर्णतः स्वस्थ है। इस ऑपरेशन में डा. पंकज गुप्ता के साथ डा. अरूण, डा. राहुल, डा. जय सिंह, नरेन्द्र प्रताप सिंह व अन्य सहयोगी के तौर पर रहे। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

कम उम्र में ही हो कमर दर्द की शिकायत तो ये है मुख्य कारण, ऐसे करें इन बीमारियों से बचाव

Published

on

बेगूसराय। आईएमए इन दिनों हेल्थ फॉर ऑल स्वास्थ्य जागरूकता सप्ताह के तहत लगातार विविध कार्यक्रमों का आयोजन कर रहा है। इसी कड़ी में भारद्वाज गुरुकुल में तंबाकू, बीड़ी, सिगरेट, गुटखा निषेध जागरूकता अभियान चलाया गया। मौके पर मौजूद आईएमए के डॉक्टरों ने छात्र-छात्राओं के बीच स्वास्थ्य से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान आईएमए के सचिव सह ऑर्थोपेडिक सर्जन डॉ. निशांत रंजन ने बताया कि कम उम्र में ही कमर दर्द की शिकायत का मुख्य कारण गलत तरीके से बैठना है।

ऐसे करें बचाव

हमेशा कमर सीधी कर बैठना चाहिए। बिस्तर पर झुककर कभी भी पढ़ाई नहीं करनी चाहिए। अगर बिस्तर पर पढ़ना हो तो सामने तकिया या तख्ती पर किताब रखकर पढ़ना चाहिए। कुर्सी पर बैठते समय दोनों पैर के घुटना को बंद कर बैठना चाहिए। सामने झुककर नहीं चलना चाहिए। वहीं, दंत चिकित्सक डॉ बलबन कुमार एवं कुंदन कुमार ने सही तरीके से दाँतों की सफाई तथा सुबह और रात में भोजन करने के बाद ब्रश करने के उद्देश्य पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि दांतों के बीच फंसी खाद्य सामग्री के सड़ने के कारण सूक्ष्म जीव के बढ़ने से दांत में कई तरह की बीमारियां फैलती हैं।

पूरे विश्व की भुखमरी को दूर किया जा सकता

हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ रंजन चौधरी ने भारत में तम्बाकू के उपयोग के कारण होने वाले हजारों करोड़ के नुकसान के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि भारत में तम्बाकू का उपयोग पूरी तरह से बंद हो जाय तो उस धन से पूरे विश्व की भुखमरी को दूर किया जा सकता है। बड़ों को समझाना बहुत कारगर नहीं है क्योंकि उन्होंने धीरे -धीरे ही सही, आत्महत्या का निर्णय ले लिया है। बच्चों को जागरूक कर सुखद परिणाम की आशा की जा सकती है।

कानून को सख्ती से लागू करने की जरूरत

उन्होंने शिक्षण संस्थानों के आसपास इस तम्बाकू उत्पाद की बिक्री रोकने के कानून को सख्ती से लागू करने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि आम लोगों के टैक्स से ही गरीब कैंसर पीड़ितों का इलाज होता है। इसलिए टैक्स के सदुपयोग के लिए सबों को प्रयास करना चाहिए। बाल रोग विशेषज्ञ डॉ प्रभात कुमार ने बीमारी के इलाज से बेहतर उसकी रोकथाम के सिद्धांत को और मजबूत करने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि कोई कितना भी पढ़ ले या धन कमा ले, लेकिन अस्वस्थ होने पर कष्ट ही कष्ट होता है। मौके पर निदेशक शिव प्रकाश भारद्वाज ने कहा कि देश में करीब साढ़े छह करोड़ लोग हर रोज विभिन्न रूप में तम्बाकू और तम्बाकू जनित उत्पादों का उपयोग कर रहे हैं। मुंह और फेफड़ा के कैंसर ने महामारी का रूप ले लिया है जो इस जागरुक देश के लिए बहुत बड़ा अभिशाप है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

नॉन वेज खाने वाले पुरुष हो जाएं सावधान, हो सकता है ये गंभीर नुकसान

Published

on

लंदन। पुरुषों को अब सावधान रहने की जरूरत है। पुरुषों को खाने में ज्यादा जीव रहित आधारित प्रोटीन लेने के बाद समस्या खड़ी हो सकती है। ज्यादा जीव रहित आधारित प्रोटीन लेने से पुरुषों में मौत का खतरा बढ़ सकता है। यह बात हम नहीं हालिया में हुए शोध में दावा किया गया है। शोध के अनुसार प्रोटीन युक्त मीट जैसे सॉसेज और पका हुआ ठंडा मांस खाने वाले पुरुषों में मौत का खतरा बढ़ जाता है।

23 फीसदी तक ज्यादा खतरा

शोध में पाया गया कि जो पुरुष प्लांट प्रोटीन से ज्यादा जीव प्रोटीन का सेवन करते हैं उनमें मौत का खतरा संतुलित प्रोटीन आहार लेने वाले पुरुषों की तुलना में 23 फीसदी तक ज्यादा होता है। शोध के अनुसार टाइप-2 डायबिटीज, हृदय संबंधी बीमारियों और कैंसर से पीडि़त पुरुष में ज्यादा प्रोटीन का सेवन करने से भी मौत का खतरा बढ़ जाता है। वहीं, जिन पुरुषों को यह बीमारियां नहीं है उनमें कुल प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होने पर भी कोई खतरा नहीं पाया गया। यह शोध अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रिशन में प्रकाशित किया गया है।

बुजुर्गों में कुपोषण की समस्या

यूनिवर्सिटी ऑफ इस्टर्न फिनलैंड के शोधकर्ता हेली विरटानेन ने कहा, हमारे शोध के परिणामों को सामान्यीकृत नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि बुजुर्गों के खाने में अक्सर प्रोटीन की मात्रा निर्धारित स्तर से कम होती है। इसकी वजह से बुजुर्गों में कुपोषण की समस्या बनी रहती है। इस शोध के परिणामों के बाद सेहत पर प्रोटीन के असर के बारे में और जानकारी जुटाने के लिए शोध करने की जरूरत महसूस की जा रही है।

Continue Reading
लाइफ स्टाइल8 hours ago

चैत्र पूर्णिमा : लाखों भक्तों ने मां विंध्यवासिनी दरबार में नवाया शीश

राज्य9 hours ago

बहराइच : बाढ़ से पूर्व की जा रही तैयारियों की समीक्षा के लिए डीएम ने की बैठक

राज्य10 hours ago

देवीपाटन मंडल : हनुमान जयंती पर मंदिरों में हुई महावीर हनुमान की आराधना

राज्य10 hours ago

कन्नौज : भाजपा के मास्टरस्ट्रोक ने बढ़ाई गठबंधन की मुश्किल, मोदी की रैली 27 को फिर बंद हो जाएगा प्रचार

राज्य10 hours ago

कन्नौज: पूरी गंभीरता से लें प्रशिक्षण और दिए गए निर्देश पत्र सावधानी से पढ़कर याद कर लें

राज्य10 hours ago

कन्नौज : 80 फीसदी मतदान का लक्ष्य पूरा करने के लिए जरूरी है हर नागरिक इस महोत्सव में ले भाग

राज्य10 hours ago

कन्नौज : पर्याप्त मात्रा में रहे सुरक्षा व्यवस्था, कंट्रोल रूम होगा और प्रभावी

वीडियो12 hours ago

VIDEO : बंपर ओपनिंग के बाद दूसरे दिन बॉक्स ऑफिस पर लड़खड़ाई ‘कलंक’, कमाए सिर्फ इतने करोड़

खेल12 hours ago

मुम्बई इंडियंस ने दिल्ली कैपिटल्स को खेल के हर विभाग में पछाड़ा : श्रेयस अय्यर

राज्य12 hours ago

बरेली : मुकद्दर सवांरने की रात है शब-ए-बारात, जानें, मुसलमान इस रात क्या करें और किन कामों से बचें

राज्य12 hours ago

सीतामढ़ी : हनुमान जन्मोत्सव में भक्तों ने भाव नृत्य का लिया आनंद, महाआरती में जुटा हुजूम

देश13 hours ago

वीडियो : शहीद हेमंत करकरे पर BJP प्रत्याशी ने दिया विवादास्पद बयान, EC में शिकायत, पार्टी ने झाड़ा पल्ला

दुनिया14 hours ago

नरसंहार : पाकिस्तान में बंदूकधारियों ने बस से उतारकर 14 यात्रियों को गोलियों से भूना, 2 बचने में सफल

राज्य14 hours ago

अयोध्या : 10 महीने में रुपया दोगुना करने वाली कम्पनी ड्रीम बुलियन करोड़ों की हेराफेरी कर फरार

खेल14 hours ago

26 साल की इस महिला खिलाड़ी ने 23 साल की अपनी महिला मित्र से की शादी, देखें फोटो

देश15 hours ago

मायावती ने मुलायम को बताया पिछड़ों का असली नेता, सपाइयों से बोले मुलायम, इनका सम्मान करना

देश15 hours ago

कांग्रेस छोड़ इस पार्टी में शामिल हुईं प्रियंका चतुर्वेदी, कहा-आत्मसम्मान को पहुंची थी ठेस, जानें पूरा मामला

देश16 hours ago

यूपी : सामूहिक हत्याकांड में BJP विधायक अशोक चंदेल समेत 10 को उम्र कैद

मनोरंजन2 weeks ago

डायरेक्टर ने इस अभिनेत्री से कहा, एक रात…कॉम्प्रोमाइज, एक्ट्रेस बोली-‘आपके साथ सो तो जाऊं लेकिन…’

मनोरंजन3 weeks ago

जानें पहले दिन कैसा रहा फिल्म ‘नोटबुक’ और ‘जंगली’ का प्रदर्शन, दर्शकों ने दिये कितने अंक

देश4 weeks ago

सपा ने जारी की 40 स्टार प्रचारकों की लिस्ट, मुलायम सिंह का नाम नहीं, देखें कौन-कौन हैं शामिल

मनोरंजन2 weeks ago

टाइगर की गर्लफ्रेंड दिशा पटानी ने किया ऐसा डांस कि वायरल हो गया वीडियो, आप भी देखें

राज्य4 days ago

BJP सांसद हरिओम पाण्डेय का कटा टिकट तो पार्टी के नेताओं पर लगाया लड़की और पैसे पर टिकट बेचने का आरोप

देश7 days ago

गृहमंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ कांग्रेस से ये नेता लड़ेगा चुनाव!, खरीदा नामांकन पत्र

देश3 weeks ago

दुल्हन को फेरे लेते समय अचानक होने लगीं उल्टियां, दूल्हे ने जबरन कराया वर्जिनिटी और प्रेग्नेंसी टेस्ट

देश1 week ago

यूपी में तीन बजे तक 51 प्रतिशत मतदान, सतीश चन्द्र मिश्रा ने किया DGP को फोन, दर्ज कराई शिकायत

राज्य3 weeks ago

सपा ने जारी एक और उम्मीदवारों की सूची, गोरखपुर व कानपुर से इस दिग्गज नेता को दिया टिकट

देश2 weeks ago

65 साल के बुजुर्ग को जवान लड़की से डेट करना पड़ा महंगा, हो गया ये बड़ा कांड

मनोरंजन4 weeks ago

कांग्रेस में शामिल हुईं डांसर सपना चौधरी, यूपी की इस सीट से लड़ सकती हैं लोकसभा चुनाव

दुनिया3 weeks ago

महिला ने एक बेटे को जन्म देने के बाद फिर 26 दिन बाद दो जुड़वा बच्चों को दिया जन्म, डाक्टर हुए हैरान

दुनिया1 week ago

पति ने घर पर छोड़ा खुला कैमरा, आकर देखा तो दोस्त के साथ पत्नी का दिखा अतरंग वीडियो

देश1 week ago

महिला आयोग ने देह व्यापार के रैकेट का किया भंडाफोड़, चार नाबालिग लड़कियां मुक्त कराईं

वीडियो7 days ago

बॉयफ्रेंड संग नजर आईं एमी जैक्सन, दिख रहा बेबी बंप, बिकिनी पहन कर खेला गोल्फ, देखें वीडियो

देश2 weeks ago

आडवाणी ने तोड़ी चुप्पी, भाजपा को दी नसीहतें, टिकट न मिलने का भी छलका दर्द, राहुल-ममता ने किया स्वागत

वीडियो4 weeks ago

देखें वीडियो : घर में घुसकर मुस्लिम परिवार को लोगों ने पीटा, कहा-पाकिस्तान जाओ, भड़के मुख्यमंत्री

देश1 week ago

फोन पर दोस्ती, फिर हुस्न के जाल में फंसे दो दोस्त, 6 युवतियों ने कर डाला ये खौफनाक कांड

Trending