इंसान की सीने में धड़का सुअर का दिल, अमेरिकी डॉक्टर ने रचा चिकित्सा क्षेत्र में नया कीर्तिमान

अमेरिकी डॉक्टरों ने इंसान के शरीर में सूअर का दिल ट्रांसप्लांट (heart transplant) कर चिकित्सा जगत में नया कीर्तिमान रच दिया है। डॉक्टरों ने कई बीमारियों से जूझ रहे 57 वर्षीय व्यक्ति में जेनेटिकली मॉडिफाइड सूअर का दिल ट्रांसप्लांट किया है।
 
 Pig heart transplant into human body
इंसान के शरीर में सुअर का दिल ट्रांसप्लांट

नई दिल्ली। अमेरिकी डॉक्टरों ने इंसान के शरीर में सूअर का दिल ट्रांसप्लांट (heart transplant) कर चिकित्सा जगत में नया कीर्तिमान रच दिया है। डॉक्टरों ने कई बीमारियों से जूझ रहे 57 वर्षीय व्यक्ति में जेनेटिकली मॉडिफाइड सूअर का दिल ट्रांसप्लांट किया है। चिकित्सकों की यह सफलता, भविष्य में जानवरों के अंगों के मानव शरीर में ट्रांसप्लांट और अंगदान की कमी को काफी हद तक पूरा कर सकती है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल स्कूल ने अपनी तरफ से जारी जानकारी में बताया कि मैरीलैंड निवासी डेविड बेनेट नामक मरीज को कई दूसरी बीमारियों की वजह से हार्ट ट्रांसप्लांट (heart transplant)  के लिए उपयुक्त नहीं माना गया। उसकी बीमारियों के कारण इंसानों का दिल ट्रांसप्लांट (heart transplant)  नहीं किया जा सकता था। लेकिन उसकी हालत लगातार खराब हो रही थी। उसकी जान बचाने के लिए आखिरकार हार्ट ट्रांसप्लांट का निर्णय लेना पड़ा। डॉक्टर बार्टले ग्रिफिथ ने अपनी टीम के साथ इंसानी शरीर में सूअर का दिल सफलतापूर्वक ट्रांसप्लांट (heart transplant) किया। हालांकि इस ट्रांसप्लांट के बाद भी मरीज की बीमारी का इलाज फिलहाल निश्चित नहीं है।

अमेरिका के खाद्य और औषधि प्रशासन ने पारंपरिक प्रत्यारोपण की गुंजाइश नहीं होने की स्थिति में एक आखिरी कोशिश के तौर पर इस आपात ट्रांसप्लांट को मंजूरी दी।