Connect with us

हेल्थ

मोटापा पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण की संभावना कम, जानें शरीर के लिए कितना खतरनाक है मोटापा

Published

on

नई दिल्ली। अधिक वजनी महिलाओं को गर्भधारण में संतुलित वजन वाली महिलाओं के मुकाबले एक साल से अधिक का समय लग सकता है। मोटापे से पीड़ित महिलाओं में गर्भपात की आशंका भी दोगुनी से अधिक रहती है। एक महिला रोग विशेषज्ञ ने बताया कि अधिक वजन या मोटापे से पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण की संभावनाएं अपेक्षाकृत कम रहती हैं।

शोध बताते हैं कि मोटापा मुख्य कारण तो नहीं है, लेकिन इनफर्टिलिटी (नि:संतानता) का महत्वपूर्ण कारण जरूर है। मोटापे के कारण एंड्रोजन, इंसुलिन जैसे हार्मोन का अत्यधिक निर्माण जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं या अंडोत्सर्जन तथा शुक्राणु के लिए नुकसानदेह प्रतिरोधी हार्मोन बनते हैं। लिहाजा, स्वस्थ लाइफस्टाइल अपनाएं। इससे न सिर्फ आपकी प्रजनन क्षमता बढ़ेगी, बल्कि आप फिट भी रह सकती हैं।

मोटापे के कारण शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान

मोटापे के कारण आपके शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान होता है। मोटापे से पीड़ित व्यक्तियों में टाइप 2 डायबिटीज, हाई ब्लडप्रेशर, हृदयरोग और यहां तक कि कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियां भी उभर सकती हैं। आज युवाओं में मोटापे के मामले आश्चर्यजनक रूप से बढ़ रहे हैं।

एक ही जगह पर लंबे समय तक बैठ कर लगातार वेब सीरीज देखते रहना आज युवाओं में एक नया चलन बन गया है और इस वजह से भी बचपन से ही लोग मोटापे का शिकार हो जाते हैं। हाल ही में एक अध्ययन बताता है कि अस्थमा से पीड़ित बच्चों में मोटापे का शिकार होने की संभावना अधिक रहती है, क्योंकि अपनी सेहत स्थिति के कारण वे व्यायाम करने से दूर रहते हैं और इनहेलर के तौर पर स्टेरॉयड लेने से उनकी भूख बढ़ती जाती है। लिहाजा, लोगों को सलाह है कि वे स्वस्थ भोजन लें, अपना बीएमआई संतुलित रखें और अपने लाइफस्टाइल में शारीरिक गतिविधियों को महत्व दें।

तनाव में भी मोटापे का हो सकते हैं शिकार

यदि आप तनाव में रहते हैं तो आप मोटापे का शिकार हो सकते हैं। तनाव कई तरीके से वजन बढ़ाने में योगदान कर सकता है। तनाव की वजह से हमारे शरीर में कई हार्मोन पैदा होते हैं जिनमें कोर्टिसोल भी एक है। यह हार्मोन फैट स्टोरेज और शरीर की ऊर्जा खपत प्रबंधित करने का काम करता है। कोर्टिसोल का स्तर बढ़ने से भूख भी बढ़ जाती है। इस वजह से मीठा और वसायुक्त भोजन खाने की इच्छा बढ़ जाती है।

उन्होंने कहा, “गंभीर तनाव की स्थिति में वसा के रूप में शरीर में ऊर्जा इकट्ठा होने लगती है और यह हमारे पेट पर सबसे ज्यादा असर करती और चर्बी बढ़ाता है। मोटापे के कारण हृदय रोग, डायबिटीज, ओस्टियो-अर्थराइटिस आदि जैसी कई स्वास्थ्य समस्याएं पैदा होती हैं। इन सभी बीमारियों का रिस्क फैक्टर कम करने के लिए आपको रोजाना कम से कम एक घंटे तक कुछ शारीरिक व्यायाम करना और अपने खानपान में संतुलित आहार लेना जरूरी है। ज्यादा तनाव न लें और फिट एवं स्वस्थ रहने के लिए अपने व्यक्तिगत तथा प्रोफेशनल जीवन में संतुलन बनाए रखें।”https://www.kanvkanv.com

हेल्थ

सीतामढ़ी : दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र में 42 दिव्यांगों का हुआ परीक्षण, डायबिटीज मरीजों की भी हुई जांच

Published

on

राजेश कुमार सुन्दरका

सीतामढ़ी। रेडक्रॉस की सीतामढ़ी जिला शाखा की जिला दिव्यांगता पुनर्वास केन्द्र ईकाई द्वारा दिव्यांगता जाँच हेतु शिविर का सफल आयोजन किया गया। रेडक्रॉस चैयरमेन डॉ0 महावीर ठाकुर की अध्यक्षता में जिला दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र में रविवार सुबह से दिव्यांगों के शारिरिक अक्षमता की जाँच शुरू हुई। शिविर में केंद्राधीक्षक डॉ0 धर्मेश कुमार की टीम की देख रेख में पंजीकृत दिव्यांग पुरूष, महिला व बच्चों ने हिस्सा लिया।

42 दिव्यांगों का परीक्षण किया गया

जाँच के लिए ऑर्थोपेडिक विशेषज्ञ डॉ0 प्रभाकर कुमार तिवारी ने निःशुल्क सेवा दी। डॉ0 प्रभाकर ने सभी दिव्यांगों के दिव्यांग अंग का परीक्षण पूरी सावधानी से किया।
शिविर में सीतामढ़ी जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आए भोला राय, कविता कुमारी, पूजा कुमारी, अशोक कुमार मिश्रा, प्रियंका कुमारी, तेतरी देवी, राणाश्रय मंडल, मो0 इरफान, शबनम खातून, सचिन कुमार, नैतिक कुमार, मुसरत खातून समेत 42 दिव्यांगों का परीक्षण किया गया।

शारीरिक अक्षमता के प्रतिशत को देखा गया

जाँच के दौरान दिव्यांगता की वजह से शारीरिक अक्षमता के प्रतिशत को देखा गया। शिविर में 05 दिव्यांगों को 70 प्रतिशत, 03 दिव्यांगों को 60 प्रतिशत, 06 दिव्यांगों को 50 प्रतिशत और 06 दिव्यांगों को 40 प्रतिशत शारिरिक रूप से अक्षम पाया गया। शिविर में डीएमडी एवं ऑस्टियोजेनेसिस इम्पेरफेक्टा जैसे अनुवांशिक रोग से पीड़ित दिव्यांग भी पहुँचे। शिविर के सफल आयोजन हेतु मौके पर नोडल अधिकारी नवीन कुमार, डॉ0 विभा ठाकुर, राजेश कुमार सुन्दरका, नरेन्द्र कुमार, डॉ0 एम0एन0 रहमान, डॉ0 उदय कुमार साह, मनीष कुमार सिंह, दिलीप कुमार शर्मा ने सहयोग दिया।

डायबिटीज मरीजों की जांच की गई

सीतामढ़ी। भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी, सीतामढ़ी द्वारा नियमित मासिक जाँच के अंतर्गत दिसम्बर माह के दूसरे रविवार 09 दिसम्बर को डॉ0 विभा ठाकुर के संयोजकत्व में निःशुल्क मधुमेह और रक्तचाप जाँच शिविर का आयोजन किया गया.
जाँच इंटास के प्रतिनिधि मो0 शमीम अहमद व सदाकत कुमार ने अपनी देख रेख में की. इस अवसर पर चैयरमेन डॉ0 एम0 ठाकुर ने पीड़ित मरीजों को मधुमेह रोग से संबंधीत सलाह भी दी. शिविर में 120 डाइबिटिक व हाइपरटेंशन के मरीजों की जाँच की गई। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

सर्जरी के पहले करें मछली के तेल का सेवन, कम होता है रक्तस्त्राव का जोखिम

Published

on

न्यूयॉर्क। मछली का तेल फायदेमंद तो है ही लेकिन क्या आप जानते हैं कि सर्जरी के दौरान मछली के तेल का क्या काम है। इस लेख में हम आपको मछली के तेल के बारे में बताएंगे और यह भी बताएंगे कि कैसे दिन के रोगों की बीमारी के रोकथाम के लिए लाभदायक है।

रक्तस्त्राव के जोखिम को कम करता है

मछली के तेल में पाया जानेवाला ओमेगा-3एस सर्जरी के दौरान रक्तस्त्राव के जोखिम को कम करता है। मान्यता यह है कि सर्जरी से पहले मछली का तेल खाना बंद कर देना चाहिए। मछली का तेल हाइपरट्रिग्लीसेरीडेमिया या कार्डियोवैस्कुलर (हृदय संबंधी) बीमारी की रोकथाम के लिए सबसे आम प्राकृतिक पूरक है।

हालांकि सर्जरी के दौरान रक्तस्त्राव के जोखिम को कम करने के लिए मरीजों को सर्जरी से पहले मछली का तेल लेने से मना करने की सिफारिश की जाती है। यह शोध सर्कुलेशन नाम के जर्नल में प्रकाशित किया गया है। इसमें बताया गया है कि रक्त में ओमेगा-3 की उच्च मात्रा-ईपीए और डीएचए मिलकर रक्तस्त्राव के जोखिम को कम करता है।

पुनर्विचार करने की जरूरत

यह शोध कुल 1,516 मरीजों पर किया गया, जिनकी सर्जरी होनी थी। आधे मरीजों को ओमेगा-3एस का डोज दिया गया, जबकि आधे मरीजों को प्लेसबो (शोध के लिए झूठी-मूठी दवाई देना) दिए गए। शोध के दौरान पाया गया कि जिन मरीजों को ओमेगा-3एस दिया गया था, उनमें सर्जरी के दौरान चढ़ाने के लिए कम यूनिट रक्त की जरूरत पड़ी। ओमेगाक्वांट के संस्थापक बिल हैरिस ने कहा कि इस अध्ययन में शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला है कि सर्जरी से पहले मछली के तेल का सेवन रोकने या सर्जरी में देरी की जो सिफारिश की जाती है, उस पर पुनर्विचार करने की जरूरत है।

ओमेगा-3एस खासतौर से ईपीए और डीएच, हृदय, मस्तिष्क, आंखें और जोड़ों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। मगर ज्यादातर लोग इस मूल्यवान फैटी एसिड का पर्याप्त सेवन नहीं करते हैं, जो स्वास्थ्य संबंधी गंभीर खतरों का जोखिम बढ़ाता है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

पालक की सब्जी से ज्यादा फायदेमंद होता है जूस, रोजाना पीनें से होते हैं इतने फायदे

Published

on

नयी दिल्ली। आमतौर पर लोग पालक को सब्जी बनाकर या फिर पराठे के रूप में खाना पसंद करते हैं लेकिन अगर आप पालक का पूरा फायदा उठाना चाहते हैं तो उसका जूस बनाकर पिएं।पालक में शारीरिक विकास के लिए लगभग सभी पोषक तत्व पाए जाते हैं। पालक में विटामिन ए, सी, ई, के और बी कॉम्प्लेक्स, मैगनीज, कैरोटीन, आयरन, आयोडीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सोडियम, फॉस्फोरस और आवश्यक अमीनो एसिड भी पाए जाते हैं।

ये हैं पालक के जूस के फायदे…

पालक के जूस में एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। जो त्वचा की झुर्रियों को दूर करने में मदद करते हैं। साथ ही इसके सेवन से चेहरे पर ग्लो आता है।

पालक में विटामिन की अच्छी मात्रा होती है। ऐसे में पालक का जूस पीने से हड्ड‍ियां मजबूत होती हैं।

पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने के लिए भी पालक का जूस पीने की सलाह दी जाती है। ये शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मददगार है। इसके अलावा अगर आपको कब्ज की समस्या है तो भी पालक का जूस आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

अगर आपको त्वचा से जुड़ी कोई समस्या है तो पालक का जूस पीना आपके लिए फायदेमंद रहेगा। पालक का जूस पीने से त्वचा निखरी और जवान बनी रहती है। ये बालों के लिए भी अच्छा है।

गर्भवती महिलाओं को भी पालक का जूस पीने की सलाह दी जाती है। पालक का जूस पीने से गर्भवती महिला के शरीर में आयरन की कमी दूर हो जाती है।

कई अध्ययनों में कहा गया कि पालक में मौजूद कैरोटीन और क्लोरोफिल कैंसर से बचाव में सहायक हैं। इसके अलावा ये आंखों की रोशनी के लिए भी अच्छा है।

पालक का जूस बनाने की विधि

पालक का जूस बनाने के लिए पालक और पुदिना की पत्तियों को धोकर मिक्सर में पीस लें। फिर इसमें पानी, भुना हुआ जीरा, काला नमक और नींबू मिलाकर तैयार कर के पीलें। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
देश12 hours ago

CM अमरिंदर का बड़ा बयान, कहा-करतारपुर मामले में ISI और PAK सेना की साजिश, सिद्धू पर दिया ये बयान

राज्य12 hours ago

बहराइच : एसपी ने की अपराध गोष्ठी, थानाध्यक्षों को दिए निर्देश, अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई करें

राज्य12 hours ago

श्रावस्ती : संदिग्ध परिस्थितियों में दो महिलाओं की मौत, दहेज का मुकदमा दर्ज

राज्य12 hours ago

श्रावस्ती : विद्यालय भवन का सांसद ने किया शिलान्यास, कहा-सरकार अच्छी शिक्षा के लिए प्रतिबद्ध

राज्य13 hours ago

सीतामढ़ी : कांग्रेस सेवा दल ने धूमधाम से मनाया सोनिया गांधी 72वां जन्मदिन

राज्य13 hours ago

अयोध्या : यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बोले, पांचों राज्यों के साथ लोकसभा चुनाव भी जीतेंगे

राज्य13 hours ago

उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य का अयोध्या दौरा अचानक हुआ रद्द, आयोजकों में छाई मायूसी

राज्य13 hours ago

लखीमपुर : नेपाल के कैसीनो से चल रहा था सट्टे का खेल, एक गिरफ्तार

राज्य15 hours ago

आंवला : सर्राफा की दुकान से लाखों की लूट, व्यापार मंडल ने दी प्रशासन को चेतावनी

राज्य15 hours ago

लखीमपुर : विहिप नेता बोले, अब धैर्य की परीक्षा न ले सरकार, सांसद को सौंपा ज्ञापन

राज्य15 hours ago

अयोध्या : सागरिया पट्टी के महंत प्रेमदास बने हनुमानगढ़ी के नये गद्दीनशीन

देश16 hours ago

धर्म सभा में पीएम मोदी को चेतावनी, राम मंदिर निर्माण का वादा नहीं किया पूरा तो सत्ता में नहीं आने देंगे

लाइफ स्टाइल16 hours ago

सर्दी में आप ऐसे रखें अपने गले का ख्याल, इन चीजों को अपनाने से दूर होगी दिक्कत

देश16 hours ago

शिवपाल बोले-बाबरी मस्जिद की जगह नहीं बनना चाहिए राम मंदिर, मुलायम और अपर्णा ने भी भरी हुंकार

मनोरंजन17 hours ago

प्रियंका-निक को बड़े भाई जो ने बताया ‘स्वर्ग की जोड़ी’, शादी पर सवाल उठते ही दिया था मुंहतोड़ जवाब

हेल्थ17 hours ago

सीतामढ़ी : दिव्यांग पुनर्वास केन्द्र में 42 दिव्यांगों का हुआ परीक्षण, डायबिटीज मरीजों की भी हुई जांच

राज्य17 hours ago

लखीमपुर : गन्ना बेचने जा रहे किसान की सड़क हादसे में मौत, साथी घायल

राज्य17 hours ago

सुल्तानपुर में एक सप्ताह से लापता किशोरी की शव तालाब से बरामद

देश7 days ago

यूपी : बुलंदशहर में प्रदर्शनकारियों और पुलिस की भिड़ंत, इंस्पेक्टर शहीद, स्थिति तनावपूर्ण

देश6 days ago

देखें : इंस्पेक्टर की मौत का वीडियो आया सामने, घटना स्थल पर मौजूद सिपाही ने सुनाई खौफनाक कहानी

मनोरंजन4 weeks ago

देखें फोटो : पहलवान से भिड़ना राखी सावंत को पड़ा महंगा, उठाकर एेसा पटका कि पहुंच गईं अस्पताल

राज्य1 week ago

यूपी : पांच साल का बच्चा बना एक दिन का विधायक, कोतवाली का किया निरीक्षण, सुनीं शिकायतें

देश3 weeks ago

डीएम की पत्नी पहनती है छोटे कपड़े और करती है अंग्रेजी में बात, रोका तो धरने पर बैठी

देश2 weeks ago

सीएम योगी आदित्यनाथ ने हनुमानजी को बताया दलित, मिला कानून नोटिस

राज्य4 weeks ago

योगी सरकार की बड़ी तैयारी, इलाहाबाद-फैजाबाद के बाद अब बदले जाएंगे इन शहरों के नाम

देश1 week ago

छोटी सी दुकान में आयकर का छापा, मिले 300 लॉकर्स, एक महीने से हो रही नोटों की गिनती

वीडियो3 weeks ago

यूपी : भाजपा विधायक की दबंगई, इंस्पेक्टर को दी जूते से मारने की धमकी, एसपी नतमस्तक, देखें वीडियो

दुनिया3 days ago

किस्मत हो तो एेसी, घर से निकली थी गोभी खरीदने वापस आई तो बन गई 1.5 करोड़ की मालकिन

वीडियो2 weeks ago

देखें वीडियो : एेसे भी आती है मौत, स्टेज पर नाचते हुए 12 साल की लड़की ने तोड़ा दम

लाइफ स्टाइल4 weeks ago

जानिए शारीरिक संबंध बनाते समय क्या सोचते हैं महिलाएं और पुरुष, पढ़िए इस बारे क्या कहते हैं कपल्स

दुनिया3 weeks ago

ब्वॉयफ्रेंड को मारकर किए छोटे-छोटे टुकड़े फिर बिरयानी बनाकर लोगों को खिला दिया, एेसे हुआ खुलासा

राज्य3 weeks ago

अयोध्या : भारत जैसा लोकतंत्र और एकरसता पूरी दुनिया में नहीं : हाफिज उस्मान

देश4 weeks ago

पहले फौजी से फेसबुक पर की दोस्‍ती, एक मुलाकात के बाद लड़की भेजने लगी अपनी ही अश्‍लील तस्‍वीरें

राज्य3 weeks ago

यूपी : अवैध संबंध के शक में महिला हेड कांस्टेबल को पति ने चापड़ से काटा डाला, गिरफ्तार

राज्य4 weeks ago

यूपी : काम के बोझ से अवसाद में आकर डिप्टी सीएमओ ने की आत्महत्या, प्रशासन में खलबली

देश3 weeks ago

कुत्ते के साथ नशे में धुत चार युवकों ने किया गैंगरेप, खून से लथपथ छोड़कर हुए फरार

Trending