Connect with us

हेल्थ

सर्दियों में स्वास्थ्य के लिए हीटर है खतरनाक, जानें इन तरीकों के बारे में

Published

on

नई दिल्ली। सर्दियों के समय अक्सर लोग सुकून के लिए हीटर का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आपको यह पता है कि यही हीटर हमारे शरीर को कितना नुकसान पहुंचाते हैं। दो नुकसान तो होते ही हैं, पहला बिजली की खपत और दूसरा शरीर को नुकसान। शरीर को नुकसान हुआ तो हमें कई परेशानियां हो सकती हैं। क्योंकि हीटर शरीर से नमी सोखने का काम करते हैं। यह शरीर में ऑक्सिजन भी घटाते हैं। तो आइए जानते हैं कि क्या है नुकसान।

चिमनी वाले हीटर

वेंटफ्री इलेक्ट्रिक हीटर सेहत के लिए उतने नुकसानदायक नहीं होते हैं। इनकी चिमनी, जिनसे वेंटिलेशन अच्छा रहता है और हीटर से निकलने वाली खतरनाक गैसें जैसे कार्बन मोनो-ऑक्साइड कमरे से बाहर निकल जाती है। ये औरों की तुलना में महंगे होते हैं, इसलिए ज्यादातर लोग इनको नहीं खरीदते। जबकि अनवेंटेड इलेक्ट्रिक हीटर का चुनाव ज्यादातर लोग करते हैं, जिनसे बुरे तत्व बाहर नहीं निकल पाते और तमाम तरह की हानिकारक गैसें कमरे में ही रहकर सेहत को नुकसान पहुंचाती हैं।

हीटर से मिलती हैं झुर्रियां भी

हीटर त्वचा के लिए नुकसानदायक भी होते हैं। इनके ज्यादा प्रयोग से त्वचा रूखी हो जाती है। ये स्थिति आगे चल कर झुर्रियां बन जाती हैं और हमें अंदाजा भी नहीं मिलता कि इसका कारण हीटर हो सकता है। हीटर की हवा त्वचा की क्वालिटी खराब करके र्सोंलग टिशूज को खराब कर देती है। ये टिशूज त्वचा के अंदर होते हैं और जिनके खराब होने से पिगमेंटेशन की दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

यह आएगा काम

चूंकि हीटर से कमरे की नमी खत्म होती है, इसलिए जरूरी है कि नमी बनाए रखने के इंतजाम कर लिए जाएं। इसके लिए पहले तो कमरे को पूरी तरह से ब्लॉक न करें। उसमें से हवा निकलने की जगह हमेशा बनी रहनी चाहिए। इससे कमरे में ऑक्सिजन की कमी नहीं होने पाती। इसके अलावा कमरे में पानी से भरा एक कटोरा भी रखा जा सकता है। इससे भी कमरे की नमी कम नहीं होती।

नमी सोखने का असर आंखों पर

रूम हीटर हमारे शरीर से सर्दी को तो दूर रखते हैं, पर इस काम को करने के लिए वातवरण से नमी भी सोख लेते हैं। इससे आंखों पर असर होता है। आंखों में खुजली तो होती ही है, कई बार ये लाल हो जाती हैं। समय पर ध्यान न दिया जाये तो इनमें संक्रमण का खतरा भी बढ़ जाता है।

कौन सा हीटर

रूम हीटर से जितनी वॉट निकलती है वो कितने एरिया को कवर करेगी, ये भी जानने वाली बात है। क्योंकि हम ज्यादातर एक हीटर से कितना भी बड़ा कमरा हो, गरम करने की कोशिशों में रहते हैं, जबकि इसको समझने का एक अपना फॉर्मूला है। इसके लिए हीटर की वॉट को 10 से डिवाइड करके जो नंबर आता है, उसको हीटर से प्रभावित कमरे का स्क्वायर फीट माना जाना चाहिए। जैसे हीटर 2000 वॉट का है तो 10 से डिवाइड करने पर 200 आएगा। ये 200 स्क्वायर फीट कमरे का वो एरिया होगा, जिसमें हीटर की गर्माहट अच्छे से फैलेगी।

ऑयल हीटर हैं बेस्ट

कमरा गरम करना हो और स्वास्थ्य को भी हानि न पहुंचे तो ऑयल हीटर का चुनाव सबसे अच्छा रहता है। इसकी वजह यह है कि ये औरों की तुलना में वातावरण से कम ऑक्सिजन लेते हैं। इसी वजह से इस हीटर से कार्बन मोनोऑक्साइड का संचार भी कम होता है। हीटर के इस्तेमाल में बस यही गैस सबसे घातक होती है। जब इसी से छुटकारा मिल जाएगा तो हीटर के इस्तेमाल में कोई दिक्कत नहीं होगी। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हेल्थ

दिल की बीमारियों से रहना है दूर तो रेड मीट का सेवन करें कम

Published

on

वाशिंगटन। क्या आपको पता है रेड मीट आपके लिए कितना घातक है। आपको बता दें कि रेड मीट का एक बर्गर खाने से आपको दिल का दौरा भी पड़ सकता है। ऐसे में अगर आप भी रेड मीट खाने से शौकीन हैं तो जरा संभल जाएं। ऐसा करने से दिल की गंभीर बीमारियों को जन्म देता है। अगर आप चाहते हैं कि आपका दिल आपको थैंक्यू बोले तो आप रेड मीट से थोड़ी दूरी बना लें। एक शोध में इस बात का दावा किया गया है कि रेड मीट खाने से दिल के बीमारियों का खतरा करीब 10 गुना तक बढ़ जाता है।

प्रोटीन, विटामिन और खनिजों का एक अच्छा स्रोत

भेड़, सूअर, भैंस का मांस रेड मीट की श्रेणी में रखा जाता है। यह प्रोटीन, विटामिन और खनिजों का एक अच्छा स्रोत है, लेकिन इसका ज्यादा सेवन बीमारियों के जोखिम को बढ़ाता है। अगर इसे संतुलित मात्रा में लिया जाए, तभी ठीक है। बहुत सारे रेड मीट और संसाधित मांस (प्रॉसेस्ड मीट) खाने से आंत के कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि रेड और प्रॉसेस्ड मीट 90 ग्राम (पकने के बाद का वजन) से अधिक खाते हैं तो यह खतरा रहता है।

कार्डियोवैस्कुलर बीमारी का खतरा ज्यादा

अमेरिका में हुए अध्ययन में पता चला है कि रोजाना रेड मीट खाने से कार्डियोवैस्कुलर बीमारी का खतरा ज्यादा रहता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि रेड मीट खाने से पाचन के दौरान आंत में एक कार्बनिक यौगिक, जिसे टीएमएओ (ट्राइमेथिलामाइन एन-ऑक्साइड) कहा जाता है, का उत्पादन होता है। यह हृदयाघात और दिल के दौरे से समयपूर्व मौत के खतरे को बढ़ाने के उच्च स्तर के साथ जुड़ा है।

यह पाया गया

इस तरह का पहली बार अध्ययन हुआ है, जिसमें यह पता चला है कि केवल एक महीने तक रेड मीट का आहार लेने वाले प्रतिभागियों में औसतन तीन गुना तक यह खतरा बढ़ा हुआ पाया गया। वहीं, कुछ मामलों में चिकन खाने वाले या शाकाहारी भोजन लेने वाले लोगों की तुलना में यह दस गुना तक बढ़ गया।

टीएमएओ के स्तर को कम करने और दिल की बीमारी के बाद के जोखिम को घटाने में आहार का बदलाव प्रभावी उपचार के रूप में सामने आया है। अध्ययन में इस बारे में पुख्ता सबूत भी दिए गए हैं। ऐसा तब होता है जब आंत में मौजूद बैक्टीरिया कोलाइन, लेसितिण और कार्निटाइन जैसे पशु उत्पादों खासतौर पर रेड में पाए जाने वाले पोषक तत्वों को पचा लेता है।

खून के नमूने लेकर किया अध्ययन

‘यूरोपीय हार्ट जर्नल’ में प्रकाशित अध्ययन में बताया गया कि शोध के नतीजे 113 लोगों से लिए गए खून और मूत्र के नमूने पर आधारित था। इसमें लोगों के खानपान के खानपान के आधार पर तीन अलग-अलग समूहों में बांटा गया। रेड मीट, व्हाइट मीट या सब्जियां खाने वाले लोगों को अलग रखा गया।
अध्ययन में रेड मीट खाने वाले लोगों के आहार को रोक दिया गया तो चौंकाने वाला बदलाव देखने को मिला। एक महीने बाद ही नतीजे बदल गए। टीएमएओ का स्तर कम हो गया, मतलब दिल के रोगों का खतरा टल गया। अमेरिका के शोधकर्ताओं की टीम का कहना है कि आहार की पसंद को बदलने से कार्बनिक यौगिकों का उत्पादन तुरंत बदल गया।

Continue Reading

हेल्थ

अब भारत के आयुर्वेद की दुनिया में नहीं कर सकेगा कोई भी चोरी, मोदी सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

Published

on

गाजियाबाद। भारत के आयुर्वेद की दुनिया में अब कोई चोरी नहीं कर सकेगा। गाजियाबाद स्थित भारतीय चिकित्सा एवं होम्योपैथी भेषज संहिता आयोग ने आयुर्वेदिक दवाओं के फॉर्माकोपिया को ऑनलाइन जोड़ दिया है।

केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद येसो नाईक ने इसका शुभारंभ करते हुए बताया कि 700 तरह की आयुर्वेदिक दवाओं की जानकारी भारतीय प्रमाण के साथ सार्वजनिक की गई है। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद के मानकों को विकसित करने और उनकी उपयोगिता के साथ क्रियान्वयन के लिए ये बहुत जरूरी कदम था। इससे न सिर्फ आयुर्वेद औषधियों की गुणवत्ता में सुधार होगा, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इन्हें ख्याति भी हासिल हो सकेगी।

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान

इस दौरान आयुष मंत्रालय के सलाहकार डॉ. मनोज नेसरी ने भी भारतीय चिकित्सा पद्घतियों के विकास कार्य पर जोर देते हुए कहा कि विभिन्न देशों के फॉर्माकोपियल समितियों के साथ भारतीय चिकित्सा एवं होम्योपैथी भेषज संहिता आयोग समझौता ज्ञापन कर रहा है। इसका असर यह होगा कि देश के आयुष वैज्ञानिक औषधियों के मानकों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने में सफल हो सकेंगे।

अलग अलग मोनोग्राफों को ऑनलाइन मंच पर लाया जाएगा

आयोग के निदेशक ने बताया कि अब अलग अलग मोनोग्राफों को ऑनलाइन मंच पर लाया जाएगा जिससे ये मानक शीघ्रता से डाउनलोड व प्रभावी किए जा सकेंगे। वहीं एमिल फॉर्मास्यूटिकल के कार्यकारी निदेशक संचित शर्मा ने कहा है कि आयुर्वेद क्षेत्र में सरकार का यह प्रयास ऐतिहासिक है। इस वक्त जहां जापान भारत के साथ मिलकर योग को अपने यहां लाना चाहता है। वहीं अन्य देशों के लिए भारतीय आयुर्वेद को सात अंतर्राष्ट्रीय भाषाओं में लाना भविष्य में बड़ा फायदा दे सकता है। कार्यक्रम के दौरान आयुर्वेदिक भेषज समिति के अध्यक्ष प्रो वीके जोशी, निदेशक डॉ. जीएन सिंह मौजूद रहे। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

विटामिन-डी का अच्छा स्रोत है धूप, दूर हो जाती है थकान, जानें इसके और फायदे

Published

on

लंदन। विटामिन डी हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद है। विटामिन डी की कमी से शरीर को कई नुकसान हो सकते हैं। ऐसा हो सकता है कि आपको थकावट महसूस हो रही हो, हाथ-पैर में जान नहीं मालूम पड़ता है या यह भी हो सकता है कि तेजी से बाल झडऩे की शिकायत हो। यदि ऐसा है तो यह मुमकिन है कि आप विटामिन डी की कमी से जूझ रहे हों।

सुस्ती, थकान और कमजोरी का एहसास बना रहता है

डॉक्टर स्टीवन लिन के नेतृत्व में हुए ब्रिटिश स्वास्थ्य सेवा के एक अध्ययन में यह दावा किया गया है। शोधकर्ताओं के मुताबिक विटामिन डी शरीर में कैल्शियम और फॉस्फेट का स्तर नियंत्रित रखने के साथ ही उनके इस्तेमाल की क्षमता निर्धारित करने के लिए भी अहम माना जाता है। हड्डियों, मांसपेशियों और दांतों को मजबूती प्रदान करने के साथ ही यह रोगों से लडऩे की ताकत भी बढ़ाता है। यही वजह है कि इसकी कमी से व्यक्ति को न सिर्फ जल्दी-जल्दी सर्दी-जुकाम, बुखार होने की शिकायत सताती है, बल्कि उसके घाव भी देरी से भरते हैं और हर समय सुस्ती, थकान और कमजोरी का एहसास बना रहता है।

ज्यादा पसीना होना भी विटामिन-डी की कमी का संकेत

लिन की मानें तो जरूरत से ज्यादा पसीना होना भी विटामिन-डी की कमी का संकेत है। इसके अलावा हाथ-पैर और जोड़ों में लगातार दर्द व ऐंठन महसूस होना भी इसकी खुराक बढ़ाने का इशारा करता है। लंबे समय तक ध्यान न देने पर ऑस्टियोपोरोसिस (हड्डियों, मांसपेशियों में क्षरण) की शिकायत पनप सकती है, जो फ्रैक्चर का खतरा बढ़ाती है। उन्होंने विटामिन डी की जरूरत पूरा करने के लिए दवाएं और सप्लीमेंट लेने के बजाय धूप सेंकने की नसीहत दी। विभिन्न अध्ययनों में सुबह की हल्की धूप को विटामिन डी का सबसे बेहतरीन प्राकृतिक स्रोत करार दिया गया है।

इनमें होती है ज्यादा कमी

उम्र ढलने के साथ विटामिन डी पैदा करने की शरीर की क्षमता कमजोर पड़ जाती है, इसलिए 50 पार लोगों में इसकी कमी आम बात है।
मोटापे के शिकार सांवले लोगों और दिन का अधिकतर समय घर.दफ्तर की चारदीवारी में गुजारने वालों में भी विटामिन.डी कम बनता है।

किसे कितनी जरूरत

धूप विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत है। हालांकि आपको सुबह-सुबह खिली हल्की धूप ही सेंकनी चाहिए। पालक, मशरूम, तैलीय मछली, अंडे के पीले भाग, अंकुरित अनाज, संतरे के जूस, दूध, पनीर, चीज और सीरियल्स में भी विटामिन डी भारी मात्रा में पाया जाता है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
देश3 hours ago

राफेल डील : पीएम मोदी से राहुल गांधी ने मांगी ये रिपोर्ट, कहा-साबित कर दूंगा कि चौकीदार चोर है

देश4 hours ago

सायना नेहवाल ने इस खिलाड़ी से की शादी, 10 साल से था अफेयर

राज्य5 hours ago

श्रावस्ती : क्रय केंद्र शासनादेश के विपरीत, धान बेचने को चक्कर काट रहे किसान

देश5 hours ago

डीबीटी प्रक्रिया से जोड़ने के लिए केन्द्रीय मंत्री ने लांच किया ‘इंश्‍योर’ पोर्टल

राज्य7 hours ago

बरेली : सय्यदों से करो प्यार और सय्यदों पर करो जां निसार

वीडियो8 hours ago

कपिल शर्मा ने वादा किया पूरा, शेयर किया ‘दूसरी शादी’ का वीडियो, देखें

देश9 hours ago

गहलोत को सौंपी गई राजस्थान की तीसरी बार कमान, पायलट होंगे डिप्टी सीएम, राहुल गांधी ने कही ये बात

खेल9 hours ago

भारत की घातक गेंदबाजी से आस्ट्रेलिया पड़ी पस्त, पहले दिन 6 विकेट खोकर बनाए इतने रन

टेक्नोलॉजी10 hours ago

वोडाफोन का ये प्लान जियो को देगा टक्कर, अब ग्राहकों को मिलेंगी इस तरह की सुविधाएं

देश10 hours ago

अब राफेल पर भाजपा ने कांग्रेस को घेरा, शाह-राजनाथ और जेटली ने राहुल गांधी पर किए ताबड़तोड़ वार

हेल्थ10 hours ago

दिल की बीमारियों से रहना है दूर तो रेड मीट का सेवन करें कम

बिज़नेस11 hours ago

किसानों की कर्जमाफी का रघुराम राजन ने किया विरोध, बताया कितना है घातक

देश11 hours ago

अपार्टमेंट की चौथी मंजिल से गिरकर महिला न्यूज़ एंकर की मौत, साथी पत्रकार हिरासत में

हेल्थ12 hours ago

अब भारत के आयुर्वेद की दुनिया में नहीं कर सकेगा कोई भी चोरी, मोदी सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

देश12 hours ago

मध्य प्रदेश : राज्यपाल से मिले कमलनाथ, 17 को लेंगे CM पद की शपथ, जानिए उनके बारे में 15 बड़ी बातें

मनोरंजन12 hours ago

कॉमेडी क‍िंग कप‍िल शर्मा की शादी, सिद्धू ने ‘ज‍िंदा शहीद’ बताकर दी बधाई

दुनिया12 hours ago

नेपाल सरकार ने भारत की नई करेंसी को किया बैन, अब सिर्फ चल सकेंगे ये नोट

राज्य13 hours ago

अयोध्या : सड़क दुर्घटना में दवा व्यवसायी दम्पत्ति की दर्दनाक मौत

देश4 days ago

डीएम की पत्नी ने लगाई आरोपों की झड़ी, कहा-यूपी की इस एसडीएम के साथ पति के हैं अवैध संबंध

देश2 weeks ago

यूपी : बुलंदशहर में प्रदर्शनकारियों और पुलिस की भिड़ंत, इंस्पेक्टर शहीद, स्थिति तनावपूर्ण

देश2 weeks ago

देखें : इंस्पेक्टर की मौत का वीडियो आया सामने, घटना स्थल पर मौजूद सिपाही ने सुनाई खौफनाक कहानी

राज्य2 weeks ago

यूपी : पांच साल का बच्चा बना एक दिन का विधायक, कोतवाली का किया निरीक्षण, सुनीं शिकायतें

देश3 weeks ago

डीएम की पत्नी पहनती है छोटे कपड़े और करती है अंग्रेजी में बात, रोका तो धरने पर बैठी

देश2 weeks ago

सीएम योगी आदित्यनाथ ने हनुमानजी को बताया दलित, मिला कानून नोटिस

दुनिया1 week ago

किस्मत हो तो एेसी, घर से निकली थी गोभी खरीदने वापस आई तो बन गई 1.5 करोड़ की मालकिन

देश2 weeks ago

छोटी सी दुकान में आयकर का छापा, मिले 300 लॉकर्स, एक महीने से हो रही नोटों की गिनती

वीडियो4 weeks ago

यूपी : भाजपा विधायक की दबंगई, इंस्पेक्टर को दी जूते से मारने की धमकी, एसपी नतमस्तक, देखें वीडियो

वीडियो2 weeks ago

देखें वीडियो : एेसे भी आती है मौत, स्टेज पर नाचते हुए 12 साल की लड़की ने तोड़ा दम

देश2 weeks ago

बुलंदशहर हिंसा : खेत में मारी गई थी इंस्पेक्टर को गोली, निर्दोष था मारा गया छात्र सुमित, एसआईटी गठित

देश11 hours ago

अपार्टमेंट की चौथी मंजिल से गिरकर महिला न्यूज़ एंकर की मौत, साथी पत्रकार हिरासत में

दुनिया3 weeks ago

ब्वॉयफ्रेंड को मारकर किए छोटे-छोटे टुकड़े फिर बिरयानी बनाकर लोगों को खिला दिया, एेसे हुआ खुलासा

राज्य4 weeks ago

अयोध्या : भारत जैसा लोकतंत्र और एकरसता पूरी दुनिया में नहीं : हाफिज उस्मान

राज्य3 weeks ago

यूपी : अवैध संबंध के शक में महिला हेड कांस्टेबल को पति ने चापड़ से काटा डाला, गिरफ्तार

देश2 days ago

जानिए MP के संभावित CM सिंधिया का राजश्री ठाट बाट, राजकुमारी से हुई है शादी, एेसी है इनकी लव स्टोरी

वीडियो2 weeks ago

देखें वीडियो : निक जोनास के साथ शादी के बंधन में बंधीं प्रियंका चोपड़ा, देश-विदेश से मेहमान हुए शामिल

देश1 week ago

5 राज्यों के एग्जिट पोल जारी : भाजपा को बड़ा झटका, कांग्रेस की “चांदी”, जानिए कहां किसकी बन रही सरकार

Trending