Connect with us

हेल्थ

सेहतमंद रहना है तो खड़े होकर पानी कतई न पीयें, इससे होता है बड़ा नुकसान

Published

on

नयी दिल्ली। कहा गया है कि जल ही जीवन है। शरीर को जीवित रखने के लिए पानी पीना काफी अहम कारक है। लेकिन पानी पीने का तरीका सही होना चाहिए। जानकारी के अभाव में हम अक्सर खड़े होकर पानी पी लेते हैं जिससे हमारी पाचक किय्रा पर असर पड़ता ही है, पेट पर उसका सीधा असर पड़ता है जो कई तरह की दुष्पप्रभाव छोड़ जाता है।

  1. आयुर्वेद के मुताबिक, जब हम खड़े होकर पानी पीते हैं तो, इससे हमारे पेट पर अधिक प्रेशर पड़ता है, क्योंकि खड़े होकर पानी पीने पर पानी सीधा इसोफेगस के जरिए प्रेशर के साथ पेट में तेजी से पहुंचता है. इससे पेट और पेट के आसपास की जगह और डाइजेस्टिव सिस्टम को नुकसान पहुंचता है. इसके अलावा खड़े होकर पानी पीने से शरीर को इससे मिलने वाले किसी भी न्यूट्रिएंट्स का फायदा नहीं होता है.
  2. खड़े होकर पानी पीने से पानी प्रेशर के साथ पेट में जाता है, जिससे सभी इंप्योरिटीज ब्लैडर में जमा हो जाती हैं, जो किडनी को गंभीर नुकसान पहुंचता है.
  3. पानी पीने का तरीका हमारी सेहत को कई तरह से प्रभावित करता है, क्योंकि पानी के प्रेशर से शरीर के पूरे बायोलॉजिकल सिस्टम पर प्रभाव पड़ता है. इससे जोड़ों के दर्द की समस्या हो जाती है.
  4. खड़े होकर पानी पीने से फेफड़ों पर भी बुरा असर पड़ता है क्योंकि इससे हमारे फूड पाइप और विंड पाइप में ऑक्सीजन की सप्लाई रूक जाती है. अगर कोई शख्स लगातार खड़े होकर पानी पीता है तो उस व्यक्ति को फेफड़ों के साथ-साथ दिल संबंधी बीमारी होने की संभावना भी अधिक होती है.
  5. खड़े होकर पानी पीने से प्यास कभी नहीं बुझती है. यही कारण है कि पानी पीने के कुछ मिनट बाद ही आपको फिर से प्यास लगने लगती है. इसलिए बेहतर होगा कि बैठकर आराम से पानी पिएं.
  6. जब हम बैठकर पानी पीते हैं तो हमारी मांसपेशियां और नर्वस सिस्टम बहुत रिलेक्स रहते हैं. साथ ही खाना जल्दी डाइजेस्ट हो जाता है.
  7. इसलिए हमेशा बैठकर ही पानी पीने की कोशिश करें. इस तरह से पानी का फ्लो धीमा रहेगा और शरीर को जरूरी न्यूट्रिएंट्स भी मिलेंगे. https://www.kanvkanv.com

हेल्थ

निपाह वायरस से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया अलर्ट, जानें इसके लक्षण

Published

on

भोपाल। निपाह वायरस से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जनसामान्य के लिए एडवाइजरी जारी की है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एन.यू. खान ने बताया कि निपाह वायरस एक घातक वायरल बीमारी है, जो कि चमगादड़ द्वारा फैलती है। इस वायरस का स्त्रोत चमगादड़ के रक्त मे पाया गया है लेकिन इससे चमगादड़ की मृत्यु नहीं होती। चमगादड़ द्वारा खाए गए फलों को अन्य जीव जन्तु एवं मनुष्यों के खाने पर यह बीमारी उनमें फैलती है तथा इससे मृत्यु भी हो सकती हैं। अभी तक यह बीमारी सुअरों और मनुष्यों मे ही पाई गई है।

निपाह वायरस बीमारी के लक्षण

सीएमएचओ डॉ एन.यू. खान ने बताया कि तेज बुखार, सिरदर्द, बदन दर्द, खांसी, सांस लेने मे तकलीफ, बैचेनी, सुस्ती, बेहोशी, उल्टी-दस्त निपाह वायरस के लक्षण है। निपाह वायरस की जांच के लिए भारत सरकार द्वारा वर्तमान मे एनआईवी पुणे बायोलॉजी लैब को चयनित किया गया है, जिसमे संदिग्ध रोगियों के रक्त, मूत्र, गले की लार तथा सीएसएफ के नमूनो का वायरोलोजी परीक्षण किया जाता है। संदिग्ध लक्षण वाले मरीजों को तत्काल नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर संपर्क करने की सलाह दी है।

निपाह से बचाव एवं रोकथाम के उपाय

जनसामान्य को सलाह दी गई कि चमगादड़ वाले क्षेत्रों में चमगादड़ के कुतरे फलों को न खाएं और न ही पेड पर लटकी ताड़ी का सेवन करें। इसी प्रकार बाजार से लाए गए फलों की जांच कर लें कि कहीं वे कुतरे तो नहीं गए हैं। यदि ऐसा हो तो तत्काल उन फलों को फेंक दें, उनका सेवन न करें। लंबे समय से बंद तहखाने एवं कुओं में जहां चमगादड हो सकती है, वहां नहीं जाने की सलाह दी गई है। निपाह रोग से संक्रमित व्यक्ति से दूर रहने तथा रोग की शंका होने पर तत्काल चिकित्सक से सम्पर्क करने के लिए कहा गया है। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading

हेल्थ

ज्यादा खुश और फिट रहने के लिए करें योग, और भी हैं फायदे

Published

on

यह तो हम सब जानते हैं कि योग करने से तन और मन दोनों ही तंदरुस्त रहते हैं। हमारे शरीर की कार्य प्रणाली भी बेहतर बनी रहती है। 21 जून को विश्व योग दिवस मनाया जा रहा है। इसे लेकर देशभर में योजना बनाई जा रही है। योग से मानसिक और शारीरिक संतुलन बढ़ता है। इसलिए कह सकते हैं कि यह सेहत की योगशाला है। नियमित ध्यान व प्राणायाम दिमाग के फील गुड हार्मोन रिलीज करता है, इससे फिट व खुशमिजाज रहता है। आज हम इस लेख में आपको यह बताएंगे कि योग करने से लोग खुश और फिट कैसे रहते हैं।

आयुर्वेद में योग का जिक्र

योग को वेद व उपनिषद् के समय से ही अपनाया जा रहा है लेकिन महर्षि पतंजलि द्वारा शुरू किए गए अष्टांग योग के बाद से इसका प्रयोग बढ़ गया है। आयुर्वेद में योग का जिक्र है, जिसमें मानसिक फायदों के बारे में बताया गया है। खराब जीवनशैली व गलत मुद्रा में बैठने व चलने से जीवनशैली संबंधी रोगों को रोकने में योग कारगर है।

ये हैं फायदे

शारीरिक : मांसपेशियों में लचीलापन आने से प्रसव के दौरान गर्भवती को कम परेशानी आती है। खिलाडिय़ों को स्पोट्र्स इंजरी की आशंका घटती है। फेफड़ों की क्षमता बढ़ जाती है।
मानसिक : दिमाग में मौजूद फील गुड डीहाइड्रोएपियनड्रोस्ट्रोन (डीएचएई) हार्मोन के बढऩे से व्यवहार खुशमिजाज होता है। तनाव का स्तर स्वत: घटता है।

कब कैसे करें योग

सुबह चार से सात बजे के बीच (ब्रह्ममुहूर्त) योग क्रिया खुली व हवादार जगह करें। रंग से व्यक्ति के स्वभाव प्रभावित होता है। पीला, क्रीम, सफेद या हल्दी रंग के कपड़े मन-दिमाग को शांत-शीतल रखते हैं। योगासन करते समय ढीले कपड़े पहनें। 10 मिनट से योग प्रेक्टिस शुरू कर क्षमतानुसार अवधि बढ़ाएं। इस दौरान शौच आदि वेग न रोकें।

खानपान

यदि आप नियमित योग या व्यायाम करते हैं तो एक बार में भोजन लेने की बजाय थोड़ा-थोड़ा बार-बार खाएं। इससे मेटाबॉलिज्म सही रहेगा। योगाभ्यास के कम से कम 10-15 मिनट बाद नारियल पानी, फलों का रस, नींबू पानी, छाछ, लस्सी लें। एक घंटे बाद भोजन लें। भोजन से पहले सलाद लें, जितना हो सके हल्का, सुपाच्य भोजन लें।

सावधानियां

भोजन के तुरंत बाद योग न करें। गंभीर रोगए दर्द व महिलाएं माहवारी या प्रेग्नेंसी में जटिल परिस्थितियों में न करें। ब्रह्ममुहूर्त में उठकर शौच से निवृत्त हुए बिना कोई योग क्रिया न करें। रातभर तांबे के लोटे में रखा पानी पीकर शौच से निवृत्त हों फिर ऊषाकाल में सूर्यनमस्कार करें।

Continue Reading

हेल्थ

इन चीजों का करेंगे सेवन तो तेज होगी याददाश्त, आप भी जानें

Published

on

नई दिल्ली। क्या आपको को लग रहा है कि आप छोटी-छोटी बातों को भूल रहे हैं। अगर ऐसा है तो इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ बताएंगे जो आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होंगे। आप अपने डाइट में इसे इसे जरूर शामिल करें। इससे आपकी याददाशत मजबूत होगी।

टमाटर :

टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। रोजाना सलाद के रूप में टमाटर खाने से याददाश्त अच्छी रहती है।

किशमिश :

किशमिश में मौजूद विटामिन-सी दिमाग को तरोताजा रखता है। रोजाना सुबह के समय 15-20 किशमिश भिगोकर खाने से खून की कमी दूर होती है और दिल मजबूत होता है।

कद्दू के बीज :

इसमें जिंक तत्त्व होता है जो मानसिक स्वास्थ्य बेहतर बनाकर याददाश्त मजबूत करता है।

जैतून का तेल :

इसे खाना बनाने में प्रयोग कर सकते हैं। इसके अलावा रोटी पर देशी घी के बजाय इसे लगाकर भी खाया जा सकता है। यह दिमाग को ताकत देता है।

परहेज करें :

अधिक नमक, शक्कर, तले-भुने पदार्थ व फास्ट फूड दिमाग पर विपरीत असर डालते हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
देश1 hour ago

300 मीटर गहरी खाई में गिरी बस, 15 लोगों की मौत, 50 यात्री घायल, राहत व बचाव का काम जारी

देश2 hours ago

पश्चिम बंगाल में फिर हिंसा, दो गुटों के बीच हुई बमबारी, 2 लोगों की मौत, चार घायल

देश2 hours ago

सोनिया और राहुल गांधी के दबाव में किया था गठबंधन, इसके पक्ष में नहीं था मैं : एचडी देवेगौड़ा

राज्य2 hours ago

हमीरपुर : मोरंग लेने गए ट्रक ड्राइवर की 20 रुपये के लिए गोली मारकर हत्या, हंगामा

वीडियो3 hours ago

शूटिंग के दौरान मारपीट, अभिनेत्री ने भागकर बचाई जान, सुनाई आपबीती, देखें वीडियो

खेल3 hours ago

विश्व कप : शिखर धवन और भुवनेश्वर के बाद चोटिल हुए हरफनमौला खिलाड़ी विजय शंकर

मनोरंजन4 hours ago

संघ प्रमुख मोहन भागवत और CM योगी को गाली देना इस सिंगर को पड़ा महंगा, केस दर्ज

देश4 hours ago

एएन-32 विमान हादसा : एयरफोर्स की सर्च टीम को दुर्घटनास्थल से 6 शव और 7 लोगों के अवशेष मिले

बिज़नेस4 hours ago

सिंगापुर की डीबीएस बैंक ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए घटाई भारत की जीडीपी, सामने आई ये वजह

राज्य4 hours ago

पहले पत्नी और दो बेटियों को तलवार से काटा, फिर खुद फांसी पर झूला, ये है घटना की बड़ी वजह

टेक्नोलॉजी4 hours ago

वैज्ञानिकों ने विकसित किया पोर्टेबल सेंसर, आतंकी गतिविधियों से निपटने में मिलेगी मदद

वीडियो5 hours ago

राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान मोबाइल पर व्यस्त रहे राहुल गांधी, मेज भी नहीं थपथपाई, देखें वीडियो

खेल5 hours ago

कोपा अमेरिका फुटबॉल टूर्नामेंट : अर्जेंटीना ने पैराग्वे के खिलाफ खेला 1-1 से ड्रॉ

खेल5 hours ago

विश्व कप : न्यूजीलैंड के खिलाफ हार के लिए दक्षिण अफ्रीकी कप्तान डू प्लेसिस ने इसपर मढ़ा दोष

देश5 hours ago

नर्मदा में 11 लोगों से भरी नाव पलटी, 6 लोगों को सुरक्षित निकाला, 5 लोग लापता

देश5 hours ago

राज्यपाल का ममता पर हमला, कहा-बंगाल को देश से करना चाहती हैं अलग, तभी लगवा रहीं ये नारे

हेल्थ6 hours ago

निपाह वायरस से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया अलर्ट, जानें इसके लक्षण

दुनिया6 hours ago

ईरान में IRGC ने अमेरिकी जासूसी ड्रोन को गोली मारकर गिराया, वाशिंगटन ने नहीं की पुष्टि

राज्य3 weeks ago

बसपा की तरफ से सपा प्रत्याशियों को हराने वाला लेटर वायरल, लिखी है ये बातें, जानें क्या है पूरा मामला

राज्य3 weeks ago

स्मृति के करीबी सुरेन्द्र सिंह हत्याकांड : कांग्रेस नेता समेत हत्या के सभी नामजद आरोपी गिरफ्तार

मनोरंजन4 days ago

भारत-पाकिस्तान मैच को लेकर स्वरा भास्कर ने लगाई ये शर्त, कहा- मुझे क्या मिलेगा…

वीडियो2 weeks ago

नन्हें फैंस को धक्का देने पर सलमान खान ने खोया आपा, सिक्योरिटी गार्ड को जड़ा जोरदार थप्पड़, देखें वीडियो

बिज़नेस2 weeks ago

लगातार पांचवें दिन कम हुए पेट्रोल और डीजल के दाम, जानिए क्या है आज की कीमत

बिज़नेस2 weeks ago

पाकिस्तान में महंगाई से जनता बेहाल, जानें प्याज और नींबू का दाम

देश4 weeks ago

कांग्रेस ने जारी किया अपना एग्जिट पोल, खुद को दिखाईं इतनी सीटें, भाजपा को बताया सत्ता से दूर

हेल्थ1 week ago

पनीर खाने से दूर होती हैं ये बीमारियां, जानें पनीर से होते हैं और कौन-कौन से फायदे?

राज्य2 weeks ago

पांडेय की जगह कौन होगा यूपी भाजपा का नया अध्यक्ष? इन 8 नामों में लग सकती है किसी पर मोहर!

राज्य4 weeks ago

ढाई लाख से जीतकर भी हार गये सपा प्रमुख अखिलेश यादव, ये है मुख्य कारण

हेल्थ4 weeks ago

बैली फैट को कम करने में अंडा है बेहद कारगर, अपनाएं ये रेसिपी

हेल्थ3 weeks ago

नए रिसर्च का दावा, ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मददगार है ये आसान सा नुस्खा

लाइफ स्टाइल4 weeks ago

रेसिपी : नाश्ते में ऐसे बनाएं कच्चे केले के कटलेट, खाने में होते हैं बेहद स्वादिष्ट

लाइफ स्टाइल4 weeks ago

रेसिपी : इस वीकेंड घर में ऐसे बनायें मलाई कोफ्ता, जीत लेंगे सबका दिल

राज्य4 days ago

अयोध्या : भाई से दोस्ती रास न आने पर की थी मनोज शुक्ला की हत्या, प्रोफेसर का बेटा गिरफ्तार

मनोरंजन2 weeks ago

फिल्म आर्टिकल 15 के खिलाफ लामबंद हुआ ब्राह्मण समुदाय, लगाया गंभीर आरोप, जानें क्या है विवाद

देश3 weeks ago

मोदी सरकार में मंत्री बनने के लिए स्मृति सहित इन सांसदों को आया फोन, देखें लिस्ट

राज्य1 week ago

योगी कैबिनेट का बड़ा फैसला, अब बीएड डिग्री धारक भी बन सकेंगे प्राइमरी टीचर, पढ़ें 6 बड़े फैसले

Trending