यूपी में कोविड वार्ड में होगा डेंगू और वायरल के मरीजों का इलाज

उत्तर प्रदेश में तैयार कोविड के सभी बेडों और वार्ड में अब डेंगू और वायरल से ग्रसित मरीजों का इलाज किया जाएगा।
 
covid ward
कोविड वार्ड

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में तैयार कोविड के सभी बेडों और वार्ड में अब डेंगू और वायरल से ग्रसित मरीजों का इलाज किया जाएगा। डेंगू से ग्रसित इन मरीजों को बेड और चिकित्‍सीय सुविधाएं मिल सके इसके लिए सीएम योगी ने आला अधिकारियों को समय से सभी व्‍यवस्‍थाओं को पूरो करने के निर्देश दिए हैं। 

मौसमी बीमारियों के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए डेंगू और वायरल समेत दूसरी बीमारियों पर लगाम लगाने के लिए सभी इंतजाम किए जा रहे हैं। सीएम योगी ने शुक्रवार को बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि प्रदेश में कोविड के लिए आरक्षित ऑक्सीजन बेड और आइसोलेशन बेड्स को डेंगू समेत अन्य वायरल बीमारियों के इलाज के प्रयोग में लाया जाएगा।

 प्रदेश के सभी जनपदों के एक-एक मरीज की सेहत पर नजर रखी जाएगी जिसके लिए स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीम को दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इसके साथ ही सीएम ने फिरोजाबाद और आगरा जिले के हालातों को देखते हुए तत्काल प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा को वहां जाकर कैंप करने के आदेश दिए हैं।  जिसके तहत वो इन दोनों जनपदों के एक-एक मरीज के उपचार की व्यवस्था की पड़ताल करने संग सभी व्यवस्था पर अपनी पैनी नजर रखेंगे।

रविवार से पूरे प्रदेश में होगा सैनीटाइजेशन 

बदलते मौसम को ध्‍यान में रखते हुए प्रदेश में पांच सितंबर से स्वच्छता-सैनीटाइजेशन का वृहद अभियान शुरू किया जाएगा। जिसके लिए सभी जिलों के नामित नोडल अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। वहीं, सात सितंबर से स्वास्थ्य विभाग की ओर से आशाबहु, संगिनी, आंगनबाड़ी समेत स्वास्थ्यकर्मियों के जरिए प्रदेशव्यापी सर्विलांस कार्यक्रम किया जाएगा। ये स्वास्थ्यकर्मी घर-घर जाकर बुखार से पीड़ित और कोविड के लक्षण वाले लोगों को चिन्हित करेंगे। इसके साथ ही 45 वर्ष से अधिक आयु के जिन लोगों ने अब तक कोविड वैक्सीन की एक भी डोज नहीं ली है उनकी सूची भी तैयार करेंगे।