Connect with us

दुनिया

कोरोना की वैक्सीन के जल्द आने की उम्मीद बढ़ी, मोडरेना और ऑक्सफोर्ड का अंतिम ट्रायल जुलाई में

Published

on

लॉस एंजेल्स। अमेरिका में नए सिरे से कोरोना संक्रमण मामलों के उजागर होने के बाद लगातार दावे किए जा रहे हैं कि बस अब कोरोना की वैक्सीन के आने में कुछ ही समय शेष है।

‘मोडरेना’ के दो क्लिनिकल ट्रायल सफल

मैसाचुसेट्स की ‘मोडरेना’ बायोटेक कंपनी ने दावा किया है कि उसके पहले दो क्लिनिकल ट्रायल की सफलता के बाद तीसरे और अंतिम क्लिनिकल ट्रायल का काम शुरू हो गया है। इसका विधिवत ट्रायल जुलाई में शुरू हो जाएगा। इसके लिए चयनित डोज़ के बंदोबस्त हो चुके हैं।

ऑक्सफोर्ड ने किया करार

इसी तरह ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी तथा एस्ट्रा जेनेका AstraZeneca Plc ने घोषणा की है कि वैक्सीन उत्पादन के लिए एमेरजेंट बायो सोल्यूशंस के साथ एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए है। चीन ने भी अपने देश में विकसित की जा रही वैक्सीन के दो दो टीके लगवाने की अपील की है। ये टीके सार्वजनिक कंपनियों में कर्मचारियों को लगाए जाएँगे।

मोडरेना ने जारी की शोध की रिपोर्ट

मोडरेना कंपनी की ओर से जारी एक शोध रिपोर्ट में कहा गया है कि जुलाई में 30,000 लोगों को चयनित डोज़ के इंजेक्शन दिए जाएँगे। इसके लिए नेशनल इंस्टीट्यूट आफ एलेर्जी और इंफ़ेक्शियस डीजीज के सहयोग से तीसरे क्लिनिकल ट्रायल को अंजाम दिया जाएगा।

ट्रायल का मूल उद्देश्य

इस ट्रायल का मूल उद्देश्य लोगों में कोविड के लक्षणों के विकसित होने में नियंत्रण की अहमियत होगी। इसका दूसरा उद्देश्य कोविड मरीज़ों को ख़राब से ख़राब स्थिति के बावजूद अस्पताल की दहलीज़ से दूर रखना होगा। मोडरेना ने दूसरे क्लिनिकल ट्रायल – mRNA-1273 के तहत 600 स्वस्थ युवाओं पर परीक्षण किए थे। गुरुवार को कहा गया है कि इस में आधे लोग 54 वर्ष से अधिक आयु के थे।

मोडरेना के शेयर में उछाल

‘ब्लूमबर्ग’ के अनुसार मोडरेना के इस नए दावे के बाद न्यूयॉर्क स्टाक एक्सचेंज में कंपनी के शेयरों में उछाल आ गया। इन शेयरों में 3.2 % की वृद्धि से शेयर की क़ीमत 61.98 डालर प्रति शेयर हो गई। इस साल के प्रारंभ में जब से शेयर शुरू हुए हैं, इनमें तीन गुना वृद्धि हो चुकी है। ओक्सफ़ोर्ड ने पूणे स्थित सिरम इंस्टीट्यूट से भी वैक्सीन उत्पादन का आवाहन किया है। इस कंपनी ने सितंबर में एक करोड़ वैक्सीन डोज़ दिए जाने का वादा भी किया है।

‘ जानसन एन जानसन’ का दावा

बता दें, अमेरिका की एक अन्य कंपनी ” जानसन एन जानसन” ने बुधवार को घोषणा की थी कि वे क्लिनिकल ट्रायल में तेज़ी लाने के लिए अपने शेड्यूल में तेज़ी लाते हुए जुलाई के दूसरे सप्ताह में फ़ाइनल क्लिनिकल ट्रायल के बंदोबस्त कर रहे हैं। पहले कंपनी ने सितंबर में तीसरे क्लिनिकल ट्रायल किए जाने की घोषणा की थी।

Trending