Connect with us

हेल्थ

दूषित हवा-पानी किडनी पर डालते हैं बुरा असर, जानें क्या कहता है अध्ययन

Published

on

वाशिंगटन। किडनी हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है। क्या आप जानते हैं कि दूषित हवा और दूषित पानी हमारी किडनी पर बुरा प्रभाव पहुंचाती है जो हमारे लिए नुकसानदेह है। यह बात हम नहीं बल्कि एक अध्ययन में बताई गई है। यह अध्ययन अमेरिका की ड्यूक यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने की है।
शोध के बाद बताया गया है कि पॉलीफ्लोरोअल्काइल सबस्टांसेस (पीएफएएस) औद्योगिक प्रक्रियाओं और उपभोक्ता उत्पादों में इस्तेमाल होने वाले नॉन बायोडिग्रेडेबल (स्वाभाविक तरीके से नहीं सडऩे वाले) पदार्थों का एक बड़ा समूह है और ये पर्यावरण में हर जगह मौजूद हैं।

प्रासंगिक अध्ययनों को खंगाला

उन्होंने कहा कि मनुष्य दूषित मिट्टी, पानी, खाने और हवा के जरिए पीएफएएस के संपर्क में आते हैं। पीएफएएस के संपर्क से किडनी पर पडऩे वाले प्रभावों की जांच के लिए अनुसंधानकर्ताओं ने अन्य प्रासंगिक अध्ययनों को खंगाला। ड्यूक यूनिवर्सिटी के जॉन स्टेनिफर ने कहा कि किडनी बेहद संवेदनशील अंग हैं खासकर बात जब पर्यावरणीय विषैले तत्वों की हो जो हमारे खून के प्रवाह में प्रवेश कर जाते हैं।

रसायन किडनी की बीमारी के लिए हो सकते हैं जिम्मेदार

उन्होंने कहा कि क्योंकि अब बहुत से लोग पीएफएएस रसायनों और उनके विकल्प के तौर पर तैयार हो रहे जेनएक्स जैसे बड़े पैमाने पर बनाए जा रहे नए एजेंटों के संपर्क में आ रहे हैंए यह समझना बहुत जरूरी हो गया है कि क्या और कैसे ये रसायन किडनी की बीमारी के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। अनुसंधानकर्ताओं ने 74 अध्ययनों को देखा जिसमें पीएफएएस के संपर्क से जुड़े कई प्रतिकूल प्रभावों के बारे में बताया गया है। इन प्रभावों में गुर्दों का सही ढंग से काम न करना, गुर्दे के पास की नलियों में गड़बड़ी और गुर्दे की बीमारी से जुड़े चयापचय मार्गों का बिगड़ जाना शामिल है। यह अध्ययन क्लिनिकल जर्नल ऑफ द अमेरिकन सोसायटी ऑफ नेफ्रोलॉजी (सीजेएएसएन) में प्रकाशित हुआ है। https://www.kanvkanv.com

हेल्थ

बैली फैट को कम करने में अंडा है बेहद कारगर, अपनाएं ये रेसिपी

Published

on

नई दिल्ली। प्रोटीन की जरूरत को पूरा करने के लिए सबसे अच्छा स्रोत है अण्डा। प्रोटीन शरीर का वजन घटने के लिए जरूरी माना जाता है। शरीर का मेटाबॉलिज्म भी प्रोटीन से ठीक रहता है। इसके अलावा ये बैली फैट भी कम करता है। अण्डे में कई मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। अंडा खाने से आप आसानी से वजन घटा सकते हैं।

अंडा नें कम मात्रा में कैलोरी पाई जाती है साथ ही इसे खाने से काफी समय तक पेट भरा रहता है। अंडे में प्रोटीन, आइरन, फ्रॉसफोरस और कई विटामिन पाए जाते हैं। वेट लॉस डाइट में अंडा खाने का मतलब है आप बिना अपने शरीर को कमजोर करे वजन भी घटा रहे है और आपके शरीर को जरूरी न्यूट्रिएंट भी मिल रहे हैं। यहां हम आपको कुछ ऐसे ही हेल्दी अंडा रेसिपी बता रहे हैं जिससे आपका बेली फैट जल्द घटेगा

स्क्रैम्बल्ड एग

स्क्रैम्बल्ड एग बनाने में बहुत आसान है ये वजन घटाने के साथ आपको हेल्दी भी रखता है। साथ ही इस आप फ्रूट्स, कच्ची सब्जियां किसी के साथ भी खा सकते हैं।

ऑमलेट

ऑमलेट अंडे की सबसे फेमस रेसिपी है। इसे आप अपने हिसाब से बना सकते हैं।

एग बिद बीन्स

बीन्स प्रोटीन का एक अच्छा स्त्रोत है। इसे आप अंडे के साथ बना सकते हैं। इसे साथ में बनाएं और खाएं। इसे खाने से काफी समय तक भूख नहीं लगती।

अंकुरित सलाद के साथ एग

अंकुरित सलाद के साथ एग आपकी सेहत का भी ख्याल रखता है और साथ ही आपको वजन घटाने में भी मदद करता है। ये खाने में टेस्टी और कैलोरी फ्री भी होता है। इस आलेख में दी गई जानकारी का हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक है तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

हेल्थ

डायबिटीज रोगी अपनी बीमारी से हैं अनजान, ऐसे रख सकते हैं ध्यान

Published

on

नई दिल्ली। भारत में मधुमेह को लेकर जागरुकता की कमी है। यही कारण है कि ज्यादातर लोगों को यह मालूम ही नहीं है कि वे मधुमेह से पीडि़त हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की मानें तो वर्तमान में भारत में करीब 6.2 करोड़ लोग मधुमेह से पीडि़त हैं। ऐसा माना जा रहा है कि यह संख्या 2025 में बढ़कर 7 करोड़ तक पहुंच सकती है।

जीवनशैली की बीमारी कही जाने वाली डायबिटीज, दुनिया में दूसरे सबसे अधिक आबादी वाले देश के लिए एक विशाल सार्वजनिक स्वास्थ्य बाधा है। मधुमेह से गुर्दे की क्षति और हृदय रोग सहित जानलेवा जटिलताओं का खतरा बढ़ा सकता है।

युवाओं की बढ़ती संख्या के कुछ प्रमुख कारण हैं

इस बारे में बात करते हुए, पद्म श्री अवार्डी, डॉ. के के अग्रवाल, अध्यक्ष, एचसीएफआई ने कहा कि प्रोसेस्ड एवं जंक फूड से भरपूर उच्च कैलोरी वाला आहार, मोटापा और निष्क्रिय जीवन, देश में मधुमेह पीडि़त युवाओं की बढ़ती संख्या के कुछ प्रमुख कारण हैं। समय पर ढंग से जांच न कर पाना और डॉक्टर के निर्देषों का पालन न करना उनके लिए और भी जटिल हो जाता है, जिससे उन्हें अपेक्षाकृत कम उम्र में अन्य संबंधित परेशानियों में फंसने का खतरा हो जाता है।

एक धारणा यह भी है कि क्योंकि टाइप 2 मधुमेह वाले युवाओं को इंसुलिन की आवश्यकता नहीं होती है, इसलिए यह उतना भयावह नहीं है जितना कि लगता है। हालांकि, यह एक गलत धारणा है। इस स्थिति में तत्काल उपचार और प्रबंधन की आवश्यकता होती है।

टाइप 2 मधुमेह के लक्षण समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होते हैं। उनमें से कुछ में प्यास और भूख में वृद्धि, बार-बार पेशाब आना, वजन कम होना, थकान, धुंधली नजर, संक्रमण और घावों का धीमी गति से उपचार और कुछ क्षेत्रों में त्वचा का काला पडऩा शामिल हैं।

इन बातों का रखें ध्यान

  • 1. बीपी कम ही रखें। एलडीएल यानी ‘खराब’ कोलेस्ट्रॉल का स्तर, रैस्टिंग हृदय गति, चीनी और पेट के निचले स्तर की चौड़ाई को 80 से कम रखें।
  • 2. प्रतिदिन 80 मिनट पैदल चलें। सप्ताह में 80 मिनट (कम से कम) प्रति मिनट 80 कदम की गति से तेज दौड़ें।
  • 3. भोजन कम ही खाएं। प्रत्येक भोजन में 80 ग्राम या एमएल से अधिक कैलोरी न लें।
  • 4. वर्ष में 80 दिन बिना अनाज वाला उपवास करें।
  • 5. धूम्रपान न करें। वरना उपचार के लिए रु. 80,000 अलग करके रखें।
  • 6. एल्कोहॉल ना पिएं। यदि आप इसे लेते हैं, तो पुरुषों के लिए प्रति दिन 80 मिलीलीटर (महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत) या प्रति सप्ताह 80 ग्राम से अधिक का उपभोग न करें। 30 मिलीलीटर शराब या एक औंस 80 प्रूफ लिक्वर में दस ग्राम अल्कोहल मौजूद होता है।
  • 7. यदि आप हृदय रोगी हैं, तो एक दिन में 80 मिलीग्राम एस्पिरिन और 80 मिलीग्राम एटोरवास्टेटिन लेने पर विचार करें।
  • 8. किडनी और फेफड़े के कार्य को 80 प्रतिशत से अधिक रखें।
  • 9. पीएम 2.5 और पीएम 10 के स्तर वाले धूल कणों से बचें।
  • 10. शोर के 80 डीबी स्तर के संपर्क में आने से बचें।
  • 11. साल में 80 दिन धूप से विटामिन डी लें।
  • 12. प्राणायाम (पैरासिम्पेथेटिक ब्रीदिंग) के 80 चक्र प्रति दिन 4 मिनट की गति से करें।
  • 13. हर दिन खुद के साथ 80 मिनट बिताएं (विश्राम, ध्यान, दूसरों की मदद करना आदि)। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading

हेल्थ

जानें कैसे होता है स्किन कैंसर, बचाव के लिए इन टिप्स को करें फॉलो

Published

on

नई दिल्ली। कैंसर का नाम सुनते ही हम सहम जाते हैं। आज हम बात करेंगे त्वचा के कैंसर की। गौरतलब है कि भारत में महिलाओं से ज्यादा पुरुषों में त्वचा कैंसर का मामला 70 फीसदी अधिक पाया जाता है। यह आम कैंसरों में से एक है। यह नियमित रूप से सूरज की रोशनी के बिना भी हो सकता है। आज इस लेख में हम आपको कुछ खास टिप्स बताएंगे।

मेलेनोमा त्वचा कैंसर का सबसे सामान्य रूप

त्वचा कैंसर तब होता है जब अप्राकृतिक त्वचा कोशिकाओं या ऊतकों की अनियंत्रित वृद्धि होती है। इसके कारण आनुवांशिक कारकों से लेकर पराबैंगनी विकिरण के संपर्क में आना है। हालांकि मेलेनोमा त्वचा कैंसर का सबसे सामान्य रूप है, और यह इस स्थिति के कारण होने वाली अधिकांश मौतों का कारण भी है। ज्यादातर त्वचा कैंसर सूरज से सुरक्षा उपायों के जरिये आसानी से रोका जा सकता है।

मृत्यु का बन सकता है कारण

इस बारे में बात करते हुए, पद्म श्री अवार्डी, एचसीएफआई के अध्यक्ष डॉ. के के अग्रवाल ने कहा, मेलानोमा त्वचा के कैंसर के सबसे घातक रूपों में से एक है और यह मेलानोसाइट्स या त्वचा में मौजूद वर्णक कोशिकाओं में विकसित होता है। यह शरीर के अन्य भागों (मेटास्टेसाइज) में फैल सकता है और गंभीर बीमारी और मृत्यु का कारण बन सकता है।

मेलानोमा के संकेतों को पहचानने के लिए एबीसीडीई नियम का उपयोग कर सकते हैं- ए सिमेट्री – एक तिल या जन्मचिह्न का एक हिस्सा दूसरे से मेल नहीं खाता, बी क्रम – किनारों पर अनियमित, दांतेदार, नोकदार या धुंधले हैं, सी रंग – यह सभी पर समान नहीं है और इसमें भूरे या काले रंग के शेड शामिल हो सकते हैं, कभी-कभी गुलाबी, लाल, सफेद या नीले रंग के पैच के साथ, डी व्यास – स्पॉट एक चैथाई इंच से बड़ा है – एक पेंसिल इरेजर के आकार के बारे में, ई विकास – तिल आकार या रंग में बदल रहा हो।

एचसीएफआई के कुछ सुझाव

1. दिन में सूरज से बचें। दिन के अन्य समय के लिए, यहां तक कि सर्दियों में या आकाश में बादल छाए रहने पर बाहरी गतिविधियों को शेड्यूल करें। बादल हानिकारक किरणों से थोड़ी सुरक्षा प्रदान करते हैं। सूरज से बचना सबसे अच्छा उपाय है, इससे आपको उन सनबर्न और सनटैन से बचने में मदद मिलती है जो त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं और त्वचा के कैंसर के विकास के जोखिम को बढ़ाते हैं।

2. सनस्क्रीन साल भर लगायें। सनस्क्रीन सभी हानिकारक यूवी विकिरण को फिल्टर नहीं करते हैं, विशेष रूप से विकिरण जो मेलेनोमा का कारण बन सकता है, लेकिन वे समग्र सूर्य संरक्षण देते हैं। कम से कम 15 एसपीएफ वाले ब्रॉड-स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन का उपयोग करें।

3. सुरक्षात्मक कपड़े पहनें। अपनी त्वचा को अंधेरे, कसकर बुने हुए कपड़ों से ढंकें जो आपकी बाहों और पैरों को ढंके और चैड़ी-चैड़ी टोपी हो, जो बेसबॉल टोपी की तुलना में अधिक सुरक्षा प्रदान करती है।

4. ऐसे धूप के चश्मे का विकल्प जो दोनों प्रकार के यूवी विकिरण – यूवीए और यूवीबी किरणों को रोकता है।

5. टैनिंग बेड से बचें। टैनिंग बेड यूवी किरणों का उत्सर्जन करते हैं और आपकी त्वचा कैंसर का खतरा बढ़ा सकते हैं।

6. अपनी त्वचा से परिचित हो जाएं ताकि आप बदलावों को नोटिस करें। अपनी त्वचा की नियमित रूप से नई त्वचा की वृद्धि या मौजूदा मोल्स, फ्रीकल्स, बम्प्स और बर्थमार्क में बदलाव की जांच करें। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
राज्य4 hours ago

श्रावस्ती : आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर अधिवक्ताओं का कोर्ट बहिष्कार जारी, वादकारी निराश

राज्य5 hours ago

देवीपाटन मंडल : कहीं खुशी तो कहीं गम, हारे हुए प्रत्याशी मंथन में जुटे

राज्य5 hours ago

बरेली : हर्षोल्लास के साथ मनाया गया हज़रत मौलाना रेहान रज़ा खान का 35वां उर्स

राज्य5 hours ago

फतेहपुर : कोल्ड्रिंक उधार न देने पर गोली मारकर युवक की हत्या

देश6 hours ago

सूरत के कोचिंग सेंटर में लगी भीषण आग, 19 की मौत, वीडियो में देंखें कैसे 5वीं मंजिल से कूद रहे छात्र

राज्य8 hours ago

अयोध्या : दिलासीगंज में युवक को ट्रक ने रौंदा, मौत, लोगों ने किया प्रदर्शन

देश8 hours ago

यूपी से मोदी मंत्रिमंडल के 9 मंत्री लड़े थे लोकसभा चुनाव, जानिए किसकी हुई हार और किसकी जीत

हेल्थ9 hours ago

बैली फैट को कम करने में अंडा है बेहद कारगर, अपनाएं ये रेसिपी

टेक्नोलॉजी9 hours ago

Redmi K20 फ्लैम रेड के बैक पैनल में होंगे तीन रियर कैमरे, हो सकते हैं ये ख़ास फीचर

मनोरंजन9 hours ago

बॉलीवुड में भी दिखी भाजपा की लहर, इन सेलिब्रिटियों ने लहराया परचम, कुछ को मिली निराशा

देश10 hours ago

ये हैं वो 18 राज्य जहां कांग्रेस नहीं जीत पाई एक भी लोकसभा सीट, सूपड़ा हो गया साफ, जानें कौन पार्टी जीती

देश10 hours ago

ये हैं वो 10 राज्य जहां मोदी की आंधी में उड़ गए सारे विपक्षी, भाजपा ने सभी सीटों पर किया कब्जा

मनोरंजन11 hours ago

प्रचंड जीत पर पीएम मोदी को बॉलीवुड सितारों ने दी बधाई, जानें अक्षय-सलमान सहित सभी ने क्या कहा

देश11 hours ago

राहुल गांधी की हार पर मेनका गांधी का तंज, कहा-राजनीति बच्चों का खेल नहीं, दी ये नसीहत

देश11 hours ago

रॉबर्ट वाड्रा की हिरासत के लिए ED ने हाईकोर्ट में दी याचिका, कहा- जांच में नहीं कर रहे सहयोग

देश11 hours ago

IPS राजीव कुमार को नहीं मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, गिरफ्तारी पर रोक से किया इनकार, जानें पूरा मामला

देश12 hours ago

ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी ने जिसका उड़ाया था मज़ाक, उसी ने पति को हराया चुनाव

देश12 hours ago

बड़ी कामयाबी : आतंक का पोस्टर बॉय जाकिर मूसा ढेर, इस्लामिक स्टेट बनाना था मकसद

देश1 week ago

जानिए कौन है नीली ड्रेस वाली खूबसूरत पोलिंग अफसर, खुद किया ये बड़ा खुलासा, देखें 13 तस्वीरें

राज्य3 weeks ago

फेसबुक पर इंस्पेक्टर से प्यार, फिर बने संबंध, होने वाली थी शादी, लड़की ने ये सुसाइड नोट लिख चुन ली मौत

राज्य4 weeks ago

अम्बेडकर नगर : कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व सांसद फूलन देवी के पति उम्मेद निषाद का पर्चा खारिज

राज्य3 weeks ago

यूपी की इस सीट पर यदुवंशी शिफ्ट हो रहे भाजपा में, लगा रहे ये नारे, गठबंधन के चेहरे पर चिंता की लकीरें

देश3 weeks ago

BSF के बर्खास्त जवान तेज बहादुर बोले, 50 करोड़ रुपए दो तो कर दूंगा पीएम मोदी की हत्या, देखें वीडियो

राज्य4 weeks ago

योगी सरकार के मंत्री पर महिला ने लगाये रेप के आरोप, मंत्री बोले-दोषी साबित हुआ तो कुत्ते से नुचवा लेना मांस

देश2 weeks ago

जानिए कौन है पीली साड़ी पहनी खूबसूरत पोलिंग ऑफिसर? जिसे ढूंढ रही पूरी दुनिया, देखें फोटो

राज्य3 weeks ago

रमजान शरीफ के चांद की शहादत को लेकर दरगाह आला हजरत से जारी हुआ हेल्पलाइन नंबर

देश4 weeks ago

देखें वीडियो : जब डिंपल यादव ने मंच पर छुए मायावती के पैर, बसपा सुप्रीमो यह कहकर दिया आशीर्वाद

वीडियो3 weeks ago

तेज रफ्तार बाइक की टंकी पर बैठ कर लड़की ने लड़के को किया किस, IPS अफसर ने शेयर किया वीडियो

देश4 weeks ago

पिता और पुत्र ने मां-बेटी से किया बलात्कार, अश्लील वीडियो बनाकर करने लगे ये काम, जानें पूरा मामला

देश2 weeks ago

सट्टा बाजार में भाजपा को बढ़त, बना रहे मोदी सरकार, जानिए महागठबंधन का क्या है हाल

देश2 days ago

कांग्रेस ने जारी किया अपना एग्जिट पोल, खुद को दिखाईं इतनी सीटें, भाजपा को बताया सत्ता से दूर

देश3 weeks ago

दोबारा सत्ता में लौटी मोदी सरकार तो इन पांच राज्यों की सरकारों पर मंडराने लगेंगे खतरे का बादल

राज्य4 weeks ago

बरेली : मुक़द्दस रमज़ान 6 या 7 जून से, बरेलवी हाफिजों की दुनिया भर में मांग

देश3 weeks ago

यूपी की इस लोकसभा सीट को जीते बिना सत्ता में नहीं आती है भाजपा, जानिए क्या है बड़ा कारण

देश2 weeks ago

पहली बार जंगल में उतरीं महिला कमांडो, 2 वर्दीधारी नक्सलियों को किया ढेर

देश2 weeks ago

ममता की प्रत्याशी बोली, बंगाल में राम बोलने की अनुमति नहीं, अल्लाह ही रहेंगे, पुलिसवाले भी समर्थन में

Trending