Connect with us

हेल्थ

बिहार में ZIKA VIRUS को लेकर अलर्ट, 38 जिलों में जारी की गई एडवायजरी

Published

on

सीवान: सीवान जिले में उस समय अफरातफरी मच गई जब जयपुर में पढ़ने वाले एक लड़के की जांच में जीका वायरस पॉजिटिव पाया गया. पंकज चौरसिया जयपुर में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करते हैं। जीका वायरस से पोजीटिव होने की खबर मिलते ही पूरे जिले में हड़कंप मचा हुआ है. इसके बाद केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देश पर राज्य स्वास्थ्य विभाग ने बिहार के सभी 38 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया है.

युवक परीक्षा देने आया था सीवान

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, पंकज चौरसिया नामक छात्र जयपुर में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई कर रहा है. उसकी उम्र 22 वर्ष है. पंकज परीक्षा देने के लिए 23 अगस्त को सीवान आया था. इस बीच 7 और 8 सितंबर को अपने दोस्त से मिलने पटना भी गया था. 12 सितंबर को वह जयपुर वापस चला गया. वहां उसकी तबीयत खराब हो गई. बुखार, सिरदर्द, ज्वाइंट पेन एवं उल्टी की शिकायत को देखकर 23 सितंबर को सवाई मानसिंह अस्पताल में जांच की गई, जिसमें जीका वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई.

शरीर में जीका वायरस मिलने की पुष्टि

पंकज चौरसिया जयपुर में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करते हैं. वह 28 अगस्त से लेकर 12 सितंबर तक बिहार एक परीक्षा में शामिल होने के लिए आए थे. परीक्षा खत्म होने के बाद वह 12 सितंबर को जयपुर लौट गया. सीवान से जाने के बाद उसकी तबीयत खराब हो गयी. परिवार वालों ने उसे जयपुर के एसएमएस मेडिकल कॉलेज में दिखाया. मेडिकल जांच के दौरान उसके शरीर में जीका वायरस मिलने की पुष्टि हुई. एसएमएस मेडिकल कॉलेज द्वारा जिला सर्वेक्षण इकाई को पंकज चौरसिया में जीका वायरस मिलने की सूचना दी गयी.
इसी सूचना पर जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ एमआर रंजन, केटीएस इंद्र कुमार, पीके ओझा और आईडीएसपी के राकेश कुमार सिंह पंकज के घर पहुंचे और विस्तृत जानकारी ली. डीएमओ ने बताया इस गांव में मलेरिया विभाग द्वारा एहतियात के तौर पर मालाथियान की फॉगिंग करायी जायेगी. वायरस का पता चलते ही बिहार के 38 जिलों में एडवायजरी जारी कर दी है. https://www.kanvkanv.com

हेल्थ

दिल को रखना है दुरुस्त तो करें नाड़ी शोधन प्राणायाम

Published

on

नई दिल्ली। करेंगे योग तो रहेंगे निरोग। आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में आपका हृदय सबसे अधिक प्रभावित होता है। यह रोग बच्चों और युवाओं को भी अपनी चपेट में ले रहा है। इस लेख में हम आपको बताएंगे कि योग ही एकमात्र ऐसा उपाय है, जो मानसिक तथा भावनात्मक असंतुलन का स्थायी निदान प्रस्तुत करता है। योग उनके लिए भी लाभप्रद है, जो किसी भी तरह के हृदय रोग से पीडि़त हैं। इसके लिए नाड़ी शोधन प्राणायाम काफी लाभदायक साबित होता है। इस योगासन को अनुलोम विलोम प्राणायाम के रूप में भी जाना जाता है।

आनुवांशिक भी हो सकता है कारण

हृदय संबंधी समस्याएं जैसे उच्च रक्तचाप, निम्न रक्तचाप, हृदय शूल, हृदय की धड़कन का असामान्य होना, हृदय की वॉल्व संबंधी समस्याएं, हृदय की मांसपेशियों का कमजोर होना आदि आज बेतहाशा बढ़ रही हैं। इनका कारण आनुवंशिक भी हो सकता है, किन्तु इनका प्रतिशत कम है। इसका मूल कारण मानसिक तथा भावनात्मक असंतुलन है। आधुनिक पाश्चात्य चिकित्सा विज्ञान हृदयाघात जैसी समस्याओं के तात्कालिक निदान में मदद कर जीवन की रक्षा करता है, किन्तु वह इसके मूल कारणों को दूर नहीं करता।

नाड़ी शोधन प्राणायाम की अभ्यास विधि

पद्मासन, सिद्धासन, सुखासन या कुर्सी पर रीढ़, गला व सिर को सीधा कर बैठ जाएं। दोनों हाथों को घुटनों पर स्थिरतापूर्वक रख लें। अब अपने दाएं हाथ को उठाकर इसके अंगूठे को दाईं नासिका तथा अनामिका को बाईं नासिका पर रखें। तर्जनी तथा माध्यमिका अंगुलियों को माथे पर या हथेलियों की ओर मोड़ लें। कनिष्ठिका अंगुली को सीधा छोड़ दें। इसके पश्चात बाईं नासिका से एक लम्बी, धीमी तथा गहरी श्वास अंदर लें। पूरी श्वास भर लेने के बाद बाईं नासिका को बंद कर दाईं नासिका से लम्बी गहरी तथा धीमी प्रश्वास बाहर(रेचक) निकालें। रेचक के तुरंत बाद दाईं नासिका से पूरक तथा बाईं नासिका से रेचक करें। यह नाड़ीशोधन प्राणायाम का एक चक्र है। प्रारम्भ में इसके छह चक्रों का अभ्यास करें। धीरे-धीरे इसके चक्रों का अभ्यास छह के गुणांक में बढ़ाते जाना चाहिए।

आहार

सभी प्रकार के रोगों से बचने के लिए आहार नियमित तथा सात्विक रखें।

Continue Reading

हेल्थ

शुगर को नियंत्रित करना है तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

Published

on

नई दिल्ली। आज के बदलते दौर में शुगर तेजी से पांव पसार रहा है। बड़े से लेकर युवाओं में भी यह बीमारी देखी जा रही है। यह अब आम समस्या हो गई है। व्यायाम कम करने वालों को भी यह समस्या उठानी पड़ती है। शुगर से कई और तरह की बीमारियां भी बढऩे लगती हैं। इस बात का ध्यान रहे कि संतुलित जीवनशैली और खानपान को अपनाया जाए इससे निजात पाई जा सकती है। यहां हम कुछ ऐसे घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं जो शुगर को नियंत्रित करने में काफी मददगार होते हैं।

5 घरेलू उपाय

1 भिंडी
4 से 5 भिंडी एक कांच के बर्तन में पानी में काट कर रख दीजिए। सुबह तक उसमें भिंडी गल जाएगी अब आप उस पानी को पी लीजिये इस पानी से शुगर लेवल कंट्रोल हो जाता है।

2 नीम
नीम व गिलोय की दातुन करें दातुन करते समय जो पानी मुंह में आए उसे बाहर ना निकालें बल्कि अंदर ही गटक लें। इसे आप अपनी दिनचर्या में शामिल कीजिए। इससे भी शुगर लेवल काबू में रहता है।

3 जामुन
जामुन एक ऐसा पेड़ है जिसकी पत्तियाँ, फूल, फल, गुठलियां सब शुगर कंट्रोल करने में काफी अच्छी मानी जाती है। जामुन के बीज आप सुखा कर पीस लीजिये। इनका चूर्ण आप नियमित रूप से लीजिये काफी फायदा करेगा। यह चूर्ण आप दिन में दो बार लीजिये काफी लाभ होगा।

4 एलोवेरा
एलोवेरा भी मधुमेय रोग के लिए काफी अच्छा स्त्रोत है। आप चाहें तो एलोवेरा की सब्जी बना कर भी खा सकते हैं। आप चाहें तो इसका चूर्ण भी बना कर रख सकते हैं या फिर इसका रस भी आप पी सकते हैं। यह शुगर कंट्रोल करने का रामबाण ईलाज है।

5 गेंहू की ज्वारी

गेंहू की ज्वारी यानि के गेंहू को मिट्टी में दबा कर उससे जो हरी हरी घास निकलती है, उसे गेंहू की ज्वारी कहा जाता है। यह शुगर के मरीजों के लिए एक बेहतरीन तोहफा है। इसे भी आप अपनी डाइट में शामिल कीजिए। 5 से 7 दिन की जो ज्वारी है वो आपके लिए और भी फायदा करेगी यह रक्त में शर्करा के प्रभाव को कम कर देती है। इसका जूस निकाल कर या फिर ऐसे ही आप इसे खा सकते हैं।

Continue Reading

हेल्थ

नारियल तेल के इस्तेमाल से होते हैं ये ढेरों फायदे, जानकर रह जाएंगे हैरान

Published

on

नई दिल्ली। नारियल तेल के कई फायदे हैं। यह हमारे शरीर, बालों और मोटापा कम करने के लिए भी लाभ दायक होता है। नारियल का तेल कई गुणों से भरपूर होता है। यह तेल पीढिय़ों से इस्तेमाल किया जाता है। ठंड के मौसम में होंठ फटने से बचाने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है।

कोई साइड इफेक्ट नहीं

आयुर्वेद के अनुसार नारियल तेल त्वचा के लिए नैचुरल मॉइश्चराइजर का काम करता है। यह मृत त्वचा को हटाकर रंग निखारता है, चूंकि इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है, तो इसका इस्तेमाल त्वचा रोग, डमेर्टाइटिस, एक्जिमा और स्किन बर्न में किया जा सकता है। नारियल तेल स्ट्रेच माक्र्स हटाने में भी मदद करता है और होंठ को फटने से बचाने के लिए भी इसे नियमित रूप से होंठ पर लगाया जा सकता है।

रक्त संचार में वृद्धि

नारियल तेल बालों को घना, लंबा और चमकदार बनाने में काफी मददगार साबति होता है। सिर का मसाज सिर्फ पांच मिनट नारियल तेल से करने से न सिर्फ रक्त संचार में वृद्धि होती है, बल्कि खो चुके पोषक तत्वों की भी भरपाई करता है, नियमित रूप से नारियल तेल से मसाज करने से बालों में रूसी नहीं होता है।

मुंह के कीटाणु दूर

नारियल तेल को मुंह में करीब 20 मिनट तक रखने के बाद थूक देने से मुंह के कीटाणु और मसूड़ों की समस्याएं दूर होती है। स्वस्थ मसूड़ों के लिए सप्ताह में कम से कम तीन बार ऐसा करें। आयुर्वेद में पित्त वृद्धि के कारण नारियल तेल का इस्तेमाल गठिया, जोड़ों के दर्द को कम करने के लिए किया जाता है। यह हड्डियों में कैल्शियम और मैग्नीशियम अवशोषित करने की क्षमता में सुधार करता है।

वजन घटाने में मददगार

नारियल तेल के इस्तेमाल से वजन भी कम किया जा सकता है। ताजे नारियल से निकाले गए तेल में अन्य नारियल तेलों की अपेक्षा ज्यादा मीडियम चेन फैटी एसिड्स (70-85 प्रतिशत) होता है। मीडियम चेन फैटी एसिड्स आसानी से ऑक्सीडाइज्ड लिपिड्स होते हैं और एडीपोज ऊतक में संग्रहित नहीं होते हैं। इस प्रकार मुख्य रूप से मीडियम चेन फैटी एसिड युक्त नारियल का तेल वजन घटाने में मददगार साबित होता है।

खाना पकाने के लिए सबसे सुरक्षित

नारियल तेल लॉरिक एसिड और कैप्रिक एसिड की तरह एंटीमाइक्रोबियल लिपिड का एक समृद्ध स्रोत होता है, जो एंटीफंगल और जीवाणुरोधी होते हैं। खाना पकाने में नारियल का तेल ज्यादा अच्छा रहता है। इसका तेल ऑक्सीकरण के प्रति कम असुरक्षित होता है, जो इसे खाना पकाने के लिए सबसे सुरक्षित बनाता है।  https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
देश10 hours ago

BJP के इस सांसद ने श्रीराम मंदिर निर्माण में देरी के लिए PM मोदी को ठहराया दोषी

राज्य11 hours ago

श्रावस्ती : भाइयों ने ही कर दी भाई की हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार

राज्य11 hours ago

गोंडा : रोडवेज बस और मार्शल जीप की भीषण टक्कर, कई घायल, 10 से ज्यादा लोग गंभीर

राज्य11 hours ago

बहराइच : डॉक्टर की लापरवाही से चली गई महिला की जान

राज्य11 hours ago

श्रावस्ती : मरीजों को मुहैया हो सभी सुविधाएं : नोडल अधिकारी

राज्य11 hours ago

श्रावस्ती : सीडीओ के औचक निरीक्षण से खुली स्कूलों में गुरूजनों के उपस्थिति की पोल 

राज्य12 hours ago

अयोध्या : बेकाबू ट्रक ने छात्र को कुचला, मौत, चालक गिरफ्तार

राज्य12 hours ago

अयोध्या : प्रधान की हत्या के बाद हुए तांडव की कवरेज़ करने गये पत्रकारों से लूटपाट और मारपीट

राज्य13 hours ago

अयोध्या : ग्राम प्रधान की हत्या पर तांडव, चौकी इंचार्ज सस्पेंड, पूरा स्टॉफ लाइन हाजिर

राज्य14 hours ago

अयोध्या : राजकीय हवाई पट्टी को श्रीराम एयरपोर्ट के रूप में विकसित करने की कवायद तेज

राज्य14 hours ago

बिजली के खंभे से टकराई कार, दूल्हे और बुआ की मौत, दुल्हन सहित 4 लोग घायल

टेक्नोलॉजी15 hours ago

टाटा मोटर्स ने किया ‘टेकफेस्‍ट’ और ‘स्किलफेस्‍ट’ प्रोग्राम का संचालन, इसपर करेगा काम

खेल15 hours ago

अस्पताल में भर्ती हुए पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा, अचानक सीने में उठा दर्द

देश16 hours ago

‘भारत माता मंदिर’ के संस्थापक पद्म भूषण स्वामी सत्यमित्रानंद का निधन, योगी ने जताया दुःख

वीडियो17 hours ago

VIDEO : माथे पर स‍िंदूर, हाथों में मेहंदी और चूड़ा पहने संसद पहुंचीं नुसरत जहां, इनके छुए पैर

खेल17 hours ago

इस पूर्व स्पिनर ने इंग्लैंड को चेताया, कहा- भारी पड़ सकती है इस खिलाड़ी की अनुपस्थिति

देश17 hours ago

गृहमंत्री बनने के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर पहुंच रहे अमित शाह, सबसे पहले करेंगे ये काम

बिज़नेस17 hours ago

भारत ने बनाया दवाब, मेहुल चोकसी की नागिरकता रद्द करेगी एंटीगुवा सरकार, लौटेगा स्वदेश

राज्य4 weeks ago

बसपा की तरफ से सपा प्रत्याशियों को हराने वाला लेटर वायरल, लिखी है ये बातें, जानें क्या है पूरा मामला

राज्य4 weeks ago

स्मृति के करीबी सुरेन्द्र सिंह हत्याकांड : कांग्रेस नेता समेत हत्या के सभी नामजद आरोपी गिरफ्तार

मनोरंजन1 week ago

भारत-पाकिस्तान मैच को लेकर स्वरा भास्कर ने लगाई ये शर्त, कहा- मुझे क्या मिलेगा…

वीडियो3 weeks ago

नन्हें फैंस को धक्का देने पर सलमान खान ने खोया आपा, सिक्योरिटी गार्ड को जड़ा जोरदार थप्पड़, देखें वीडियो

बिज़नेस3 weeks ago

लगातार पांचवें दिन कम हुए पेट्रोल और डीजल के दाम, जानिए क्या है आज की कीमत

बिज़नेस3 weeks ago

पाकिस्तान में महंगाई से जनता बेहाल, जानें प्याज और नींबू का दाम

हेल्थ2 weeks ago

पनीर खाने से दूर होती हैं ये बीमारियां, जानें पनीर से होते हैं और कौन-कौन से फायदे?

राज्य2 weeks ago

पांडेय की जगह कौन होगा यूपी भाजपा का नया अध्यक्ष? इन 8 नामों में लग सकती है किसी पर मोहर!

राज्य1 week ago

अयोध्या : भाई से दोस्ती रास न आने पर की थी मनोज शुक्ला की हत्या, प्रोफेसर का बेटा गिरफ्तार

हेल्थ4 weeks ago

नए रिसर्च का दावा, ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मददगार है ये आसान सा नुस्खा

देश1 week ago

बादल फटने से तीस्टा नदी की बाढ़ में बह गया NHPC का गेस्ट हाउस, 300 पर्यटकों को निकला बाहर

देश4 days ago

रात में टहल रही थीं दो सगी बहनें, 8 लड़कों ने किया रेप, वीडियो भी बनाया

मनोरंजन3 weeks ago

फिल्म आर्टिकल 15 के खिलाफ लामबंद हुआ ब्राह्मण समुदाय, लगाया गंभीर आरोप, जानें क्या है विवाद

देश4 weeks ago

मोदी सरकार में मंत्री बनने के लिए स्मृति सहित इन सांसदों को आया फोन, देखें लिस्ट

राज्य2 weeks ago

योगी कैबिनेट का बड़ा फैसला, अब बीएड डिग्री धारक भी बन सकेंगे प्राइमरी टीचर, पढ़ें 6 बड़े फैसले

हेल्थ1 week ago

इन चीजों का करेंगे सेवन तो तेज होगी याददाश्त, आप भी जानें

हेल्थ2 weeks ago

शोध : बढ़ती उम्र में कमजोरी की वजह से बढ़ जाती है इस बीमारी का खतरा

देश3 weeks ago

‘जय श्री राम’ को लेकर ममता बनर्जी की आपत्ति पर कांग्रेस ने भी उठाया सवाल, कहा- जो दूसरों का घर तोड़ते हैं…

Trending