Tuesday, May 24, 2022
spot_img
Homeराज्यउत्तराखंडचारधाम यात्रा से दें अतिथि देवो भवः का सन्देश : मुख्यमंत्री धामी

चारधाम यात्रा से दें अतिथि देवो भवः का सन्देश : मुख्यमंत्री धामी

  • सुविधाजनक चार धाम यात्रा के लिए पुख्ता व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें: धामी

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चार धाम यात्रा 2022 की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि चार धाम यात्रा के माध्यम से देश-विदेश में अतिथि देवो भव: का संदेश जाना चाहिए। इस बार बहुत अधिक संख्या में श्रद्धालुओं के आने की सम्भावना है। श्रद्धालुओं के लिए पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

जरूरी मशीनों की व्यवस्था और तैनाती कर ली जाए : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग को यात्रा मार्गों का स्थलीय निरीक्षण कर सभी आवश्यक सुधार कार्य यात्रा प्रारम्भ होने से पूर्व सुनिश्चित करने को कहा। साथ ही संबंधित जिलाधिकारियों को भी यात्रा मार्गों पर कार्यों की प्रगति की लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिये। मार्ग अवरुद्ध होने की स्थिति में तत्काल खोलने के लिए जरूरी मशीनों की व्यवस्था और तैनाती कर ली जाए। यात्रा मार्ग से संबंधित सड़कों पर कहीं भी मलबा या कचरा न रहे। कचरा निस्तारण पर विशेष ध्यान दिया जाए।

चार धाम यात्रा प्रबंधन में टेक्नोलॉजी का किया जाए उपयोग : धामी

मुख्यमंत्री ने कहा कि चार धाम यात्रा प्रबंधन में टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाए। ट्रैफिक प्रबंधन व संचालन के लिए ड्रोन का भी प्रयोग किया जाए। चार धाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए टोल फ्री नम्बर जारी किया जाएं, जिस पर यात्रा से संबंधित हर प्रकार की जानकारी हो। इस नम्बर को व्यापक प्रचारित भी किया जाए। इस वर्ष बहुत बड़ी संख्या में यात्रियों के आने की सम्भावना है। किसी प्रकार की अव्यवस्था न हो, इसके लिए यात्रियों के रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था हो। यात्रा मार्गों पर जगह-जगह पर्याप्त संख्या में पार्किंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाए। डायवर्जन और वैकिल्पक मार्गों की व्यवस्था भी कर ली जाए। जगह-जगह पर साइन बोर्ड भी लगाए जाएं।

बसों और टैक्सियों की फिटनेस की जांच सुनिश्चित हो : सीएम

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि यात्रा मार्गों पर जाने वाले बसों और टैक्सियों की फिटनेस की जांच सुनिश्चित हो। यात्रा मार्ग पर तैनात किए जाने वाले पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि नियमों का पालन कराते हुए यात्रियों व श्रद्धालुओं के साथ विनम्रतापूर्वक व्यवहार हो। एक बार एंट्री प्वॉइन्ट पर वाहनों की चेकिंग होने के बाद बार-बार चेकिंग कर यात्रियों को परेशान न किया जाए। विभिन्न स्थानों पर क्वालिटी पेयजल के लिए वाटर एटीएम/वाटर मशीन लगाई जाएं।

आवश्यकतानुसार चिकित्सकों की कर ली जाए तैनाती : धामी

मुख्यमंत्री ने कहा कि आवश्यकतानुसार चिकित्सकों की तैनाती कर ली जाए। एयर एम्बुलेंस की व्यवस्था भी हो। यात्रा मार्ग पर रेट लिस्ट के निर्धारण के साथ ही मिलावटखोरी को रोकने के लिए नियमित चेकिंग अभियान चलाया जाए। यात्रा शुरू होने से पूर्व बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री व हेमकुण्ड साहिब में 24 घंटे बिजली आपूर्ति के साथ ही यात्रा मार्गों पर समुचित प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित कर ली जाए। यात्रा मार्ग पर बेहतर संचार व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments