सांस्कृतिक और पारंपारिक धरोहरों को सजोने का काम कर रही प्रदेश सरकार : CM योगी

  • मुख्यमंत्री ने जारी किया खिचड़ी मेले का डाक टिकट
  • सरकार की डिजिटल डायरी का भी हुआ लोकार्पण

गोरखपुर। मकर संक्रांति महापर्व के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को गोरखनाथ मंदिर से मेले का डाक टिकट जारी किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मकर संक्रांति के अवसर पर डाक टिकट जारी कर बहुत प्रसन्नता हो रही है। मेले का यह डाक टिकट हमारी संस्कृति और परंपराओं को और समृद्ध करेगा। देश और विश्व स्तर पर एक अलग पहचान स्थापित करेगा। प्रदेश सरकार भारतीय संस्कृति और परंपराओं को सजोने का काम कर रही है। हम प्रदेश के हर कस्बों हर गांवो में स्थित प्राचीन, मंदिरां, स्थलों, शहीद स्मारको का जीर्णोद्धार कर उन्हें सजोने का काम भी कर रही है।

सरकार की डिजिटल डायरी का लोकार्पण करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि देश डिजिटल भारत की ओर अग्रसर है। ऐसे में सरकार की योजनाओं और अन्य जानकारी के लिए डिजिटल डायरी का लोकार्पण विशेष मह्त्व रखता है। हर आदमी के पास स्मार्टफोन है। सब कुछ डिजिटल प्लेटफार्म पर शुलभ हो इसके लिए डिजिटल डायरी का लोकार्पण किया गया है।

डाक विभाग की तरफ से गोरखनाथ मंदिर में ही कैंप लगाकर इसका प्रबंध किया गया है। इसके बाद पोस्ट मास्टर जनरल ने मंदिर में ही डाकघर के विशेष कैंप का उद्घाटन किया। कैंप 10 दिनों तक मंदिर में ही लगा रहेगा।

प्रवर डाक अधीक्षक मनीष कुमार ने बताया कि गोरखनाथ खिचड़ी मेले का इस बार विशेष आवरण टिकट जारी किया है। यह पहला मौका है जब डाक विभाग इस तरह से अंचल की सांस्कृतिक धरोहरों और परंपराओं को सहेजने की पहल कर रहा है। डाक विभाग ने इसके लिए पांच हजार प्रतियां छपवा ली हैं। सीएम के जारी करने के बाद इनका वितरण किया गया। इस टिकट पर खिचड़ी मेले की महत्ता का वर्णन है।