टीवी के बिग बॉस की अंतिम यात्रा: सिद्धार्थ शुक्ला का पार्थिव शरीर ओशिवारा श्मशान घाट पहुंचा

बदहवास शहनाज गिल भी पहुंची अंतिम दर्शन के लिए  
 
Siddharth Shukla reached Oshiwara crematorium
टीवी एक्टर और बिग बॉस 13 के विनर सिद्धार्थ शुक्ला का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए ओशिवारा श्मशान घाट पहुंच गया है।

मुंबई।  टीवी एक्टर और बिग बॉस 13 के विनर सिद्धार्थ शुक्ला का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए ओशिवारा श्मशान घाट पहुंच गया है।  बेटे के अंतिम दर्शन करने माँ रीता और कथित गर्लफ्रेंड शहनाज़ भी श्मशान घाट पहुंच गई हैं। 40 साल के सिद्धार्थ का गुरुवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया था।

 इस बीच अली गोनी, अर्जुन बिजलानी और आसिम रियाज श्मशान घाट पहुंच गए हैं। सिद्धार्थ को अंतिम विदाई देने शहनाज गिल श्मशान पहुंच चुकी हैं। भाई के साथ गाड़ी में शहनाज बेसुध दिखाई दीं। वहीं सिद्धार्थ की मां भी श्मशान पहुंचीं। कोरोना की वजह से वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था है। अपने चहेते सितारे को आखिरी बार देखने काफी भीड़ जुटी है।

भारत को को गोल्ड मिलने पर जताई थी खुशी

सिद्धार्थ शुक्ला ने अपनी मौत से ठीक 2 दिन पहले यानी 30 अगस्त को अपने ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट किया था। इस ट्वीट में टीवी स्टार ने पैरालिंपिक में भारत को मिले गोल्ड के लिए खुशी जताई थी। साथ ही एक्टर ने पैरालिंपिक खिलाड़ी सुमित अंतिल और अवानी लेखरा को बधाई दी थी। उन्होंने लिखा था, ‘भारतीय हमें बार-बार गर्व करने का मौका दे रहे हैं। पैरालिंपिक में गोल्ड के अलावा एक विश्व रिकॉर्ड... बधाई सुमित अंतिल और अवनी लेखरा।’

इंस्टाग्राम पर 24 अगस्त को थी आखिरी पोस्ट 

सिद्धार्थ शुक्ला के इस पोस्ट को देखने के बाद शायद ही किसी ने ये सोचा होगा कि यह सिद्धार्थ का आखिरी पोस्ट होगा। वहीं सिद्धार्थ ने इंस्टाग्राम पर आखिरी बार 24 अगस्त को आखिरी पोस्ट किया था। जिसमें एक्टर ने ‘द हीरोज वी ओ’ के लिए एक प्रमोशनल पोस्ट शेयर किया था। 

फ्रंटलाइन वर्कर्स को किया था धन्यवाद 

इस पोस्ट में भी सिद्धार्थ शुक्ला रियल लाइफ हीरो डॉक्टर्स और नर्सेज को सलाम करते दिख रहे थे। अपनी इस पोस्ट में उन्होंने अपनी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा था -''सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स को दिल से धन्यवाद! आप अपने जीवन को जोखिम में डालते हैं, अनगिनत घंटे काम करते हैं, और उन रोगियों को आराम देते हैं जो अपने परिवारों के साथ नहीं हो सकते। आप वास्तव में सबसे बहादुर हैं! अग्रिम पंक्ति में रहना आसान नहीं है, लेकिन हम वास्तव में आपके प्रयासों की सराहना करते हैं। #मुंबईडायरीजऑनप्राइम इन सुपरहीरो के लिए सफेद टोपी, नर्सिंग स्टाफ और उनके अनगिनत बलिदानों के लिए एक श्रद्धांजलि है। '