Friday, May 27, 2022
spot_img
Homeबिज़नेसबिकवाली के दबाव के बावजूद शेयर बाजार ने की शानदार रिकवरी

बिकवाली के दबाव के बावजूद शेयर बाजार ने की शानदार रिकवरी

नई दिल्ली। नकारात्मक वैश्विक संकेतों के कारण घरेलू शेयर बाजार बुधवार को दिन भर जोरदार उतार-चढ़ाव का सामना करता रहा। विदेशी निवेशकों की ओर से बिकवाली का दबाव और घरेलू संस्थागत निवेशकों की ओर से खरीदारी के जोर के कारण शेयर बाजार लगातार ऊपर नीचे की गति में चलता रहा। दिनभर लिवाली और बिकवाली की खींचतान के बीच सेंसेक्स आज 845 अंक तक लुढ़क भी गया। हालांकि बाद में खरीदारी के सपोर्ट से शेयर बाजार ने प्रभावी रिकवरी की और अंत में लगभग 0.5 प्रतिशत की गिरावट के साथ आज के कारोबार का अंत किया।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के सेंसेक्स ने आज 180.06 अंक की मजबूती के साथ 54,544.91 अंक के स्तर से कारोबार की शुरुआत की। शुरुआती 15 मिनट के कारोबार में ही लिवाली के सपोर्ट से सेंसेक्स 233.70 अंक की मजबूती के साथ 54,598.55 अंक के स्तर तक पहुंच गया। इसके बाद बाजार में चौतरफा बिकवाली शुरू हो गई, जिसके कारण सेंसेक्स गोता लगाकर लाल निशान में पहुंच गया।

कारोबार के दौरान बाजार में रुक रुक कर खरीदारी भी होती रही, लेकिन बिकवाली का दबाव इतना अधिक था कि सेंसेक्स संभल नहीं सका और लगातार नीचे गिरता चला गया। सेंसेक्स में ये गिरावट दोपहर 1 बजे के बाद तक बनी रही। बिकवाली के दबाव की वजह से सेंसेक्स 2 बजे के थोड़ी देर पहले 845.55 अंक की गिरावट के साथ 53,519.30 अंक के आज के सबसे निचले स्तर तक पहुंच गया था। हालांकि 2 बजे के थोड़ी देर पहले घरेलू संस्थागत निवेशकों ने एक बार फिर बाजार में मोर्चा संभाला, जिसकी वजह से सेंसेक्स आज के निचले स्तर से 569.09 अंक की रिकवरी करके 54,088.39 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के निफ्टी ने भी 30 अंक की मजबूती के साथ 16,270.05 अंक के स्तर से आज के कारोबार की शुरुआत की। शुरुआती कारोबार में निफ्टी भी लिवाली के सपोर्ट से 78.70 अंक की छलांग लगाकर 16,318.75 अंक के स्तर तक पहुंच गया, लेकिन इसके बाद बाजार में शुरू हुई बिकवाली ने निफ्टी को भी गोता लगाने के लिए मजबूर कर दिया।

बाजार में यदा-कदा मामूली खरीदारी भी होती रही, लेकिन कारोबार में बिकवाली का दबाव लगातार बना रहा, जिसकी वजह से ये सूचकांक नीचे गिरता चला गया। निफ्टी में गिरावट का ये दौर दोपहर 1 बजे के बाद तक चला। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की बिकवाली के कारण निफ्टी इस समय तक 247.45 अंक का गोता लगाकर 15,992.60 अंक के स्तर तक पहुंच गया था। इस गिरावट के बाद बाजार को संभालने के लिए घरेलू संस्थागत निवेशकों ने मोर्चा संभाल लिया और चौतरफा खरीदारी शुरू कर दी।

नकारात्मक वैश्विक संकेतों के कारण भारतीय शेयर बाजार में बने बिकवाली के दबाव के बावजूद घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) ने खरीदारी करके बाजार को उठाने की पूरी कोशिश की। डीआईआई की इस कोशिश के कारण निफ्टी आज के निचले स्तर से 174.50 अंक की रिकवरी करके सिर्फ 72.95 अंक की गिरावट के साथ 16,167.10 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

आज दिन भर के कारोबार के बाद सेंसेक्स में शामिल 30 शेयरों में से 10 शेयर मुनाफा कमाकर हरे निशान में बंद हुए, जबकि बिकवाली के दबाव में फंस जाने के कारण 20 शेयर गोता लगाकर लाल निशान में बंद हुए। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के 11 सेक्टोरल इंडेक्सों में से 6 इंडेक्स में गिरावट रही, जबकि 5 इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए। आज के कारोबार में बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स में भी गिरावट का रुख बना रहा। मिडकैप इंडेक्स 101.79 अंक टूट कर 22,140.97 अंक के स्तर पर और स्मॉलकैप इंडेक्स 582.66 अंक फिसल कर 25,495.92 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

दिनभर की खरीद बिक्री के बाद ओएनजीसी 2.69 प्रतिशत, एक्सिस बैंक 1.91 प्रतिशत, इंडसइंड बैंक 1.38 प्रतिशत, सिप्ला 1.24 प्रतिशत और एचडीएफसी 0.81 प्रतिशत की मजबूती के साथ आज के टॉप 5 गेनर्स की सूची में शामिल हुए। दूसरी ओर श्री सीमेंट 3.78 प्रतिशत, लार्सन एंड टूब्रो 2.31 प्रतिशत, बजाज फिनसर्व 2.20 प्रतिशत, बजाज फाइनेंस 2.05 प्रतिशत और एनटीपीसी 1.87 प्रतिशत की कमजोरी के साथ आज के टॉप 5 लूजर्स की सूची में शामिल हुए।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments