Connect with us

Coronavirus

उप्र में कोरोना जांच का बना रिकार्ड, एक दिन में एक लाख से अधिक नमूनों की जांच

Published

on

लखनऊ । प्रदेश में कोरोना के तेजी से बढ़ते प्रसार के बीच स्वास्थ्य महकमे ने प्रतिदिन की जाने वाली जांच के मामले में बहुत बड़ी सफलता हासिल की है। राज्य में रविवार को एक लाख से अधिक कोरोना नमूनों की जांच का रिकार्ड कायम किया गया। इस तरह उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है, जहां पर एक दिन में एक लाख से अधिक टेस्ट किए गए हैं।

कोरोना जांच की शुरुआत के चार महीनों में 24 जून तक 6,03,390 जांच हुई थी। 24 जून से 24 जुलाई तक मात्र एक महीने में 11 लाख से अधिक टेस्ट किए गए और कुल जांच की संख्या 17,05348 पहुंच गई। इसके बाद राज्य में 25 जुलाई को जहां प्रतिदिन कोरोना जांच की संख्या पहली बार 57 हजार का आंकड़ा पार करते हुए 57,068 बताई गई। वहीं 26 जुलाई को एक और बड़ी छलांग लगाते हुए यह संख्या 71,881 पहुंच गई। इसके बाद महज चौबीस घंटों में एक लाख का आंकड़ा पार कर लिया गया। इस तरह राज्य में बेहद तेजी से कोरोना जांच की गई।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में संक्रमण को देखते हुए विगत शनिवार को ही इसे प्रतिदिन एक लाख तक पहुंचाने का निर्देश दिया था। टेस्टिंग क्षमता को विकसित करना का निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि प्रति 10 दिन में 10 लाख टेस्टिंग किट प्राप्त की जाएं। आरटीपीसीआर तथा रैपिड एंटीजन टेस्ट के द्वारा मेडिकल टेस्टिंग की संख्या को बढ़ाने तथा सोमवार तक कुल टेस्ट की संख्या को एक लाख टेस्ट प्रतिदिन किए जाने के निर्देश दिए। जिस पर तेजी से अमल करते हुए स्वास्थ्य महकमे ने यह लक्ष्य पूरा कर लिया और रविवार को कुल 1,06,962 कोरोना नमूनों की जांच की गई। इस तरह राज्य में बीते चौबीस घंटों के दौरान कुल जांच का आंकड़ा 18 लाख से पार करते हुए 19 लाख से अधिक हो गया है। प्रदेश सरकार की ओर से रविवार के आधिकारिक आंकड़े के मुताबिक कुल 18,34,297 कोरोना नमूनों की जांच हो चुकी थी,जो कि अब बढ़कर कुल 19,41,259 हो चुकी है।

दरअसल राज्य में अनलॉक शुरू होने के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ज्यादा से ज्यादा जांच पर जोर दिया, जिससे वास्तविक मरीजों की संख्या सामने आ सके और उन्हे त्वरित इलाज मिल सके। इसके साथ ही संक्रमण फैलने पर रोक लगने में ​मदद मिले। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की 1.90 लाख सर्विलांस टीमें विभिन्न क्षेत्रों में लोगों के बीच पहुंचकर सर्वेश्रण कर रही हैं। ये टीमें अभी तक करीब 07 करोड़ लोगों के बीच पहुंच चुकी हैं और जिन लोगों में लक्षण मिला, उनकी त्वरित जांच करायी गई। इस वजह से बड़ी संख्या में संक्रमित लोगों का पता चला।

इसी तरह आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने वाले कई लोगों को भी फोन किया गया और इनमें भी कई लोग जांच के बाद संक्रमित मिले। देश में कुल 14.49 करोड़ लोगों ने इस एप को डाउनलोड किया है। वहीं उत्तर प्रदेश में 2.47 करोड़ लोग इस एप को डाउनलोड कर चुके हैं। देश में इस एप को डाउनलोड करने के मामले में उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर है।

Trending