बहरीन ने भी दी भारत की कोवैक्सीन को मंजूरी

बहरीन में भारतीय कोरोना रोधी कोवैक्सीन के आपात उपयोग को मंजूरी मिल गई है।
 
covaccine
कोवैक्सीन-  बहरीन

नई दिल्ली। बहरीन में भारतीय कोरोना रोधी कोवैक्सीन के आपात उपयोग को मंजूरी मिल गई है। वहां के भारतीय दूतावास की ओर से कहा गया है कि बहरीन नेशनल हेल्थ रेग्यूलेटरी अथॉरिटी ने कोवैक्सीन के आपात उपयोग को मंजूरी दी है।

इससे पहले 10 अक्टूबर को वियतनाम और हांगकांग ने भी कोवैक्सीन को मंजूरी दे दी है। अमेरिका, यूके और स्विटजरलैंड भी कोवैक्सीन मंजूरी दे चुके हैं। इससे भारतीयों को भी बहरीन का यात्रा करने में आसानी होगी। जिनके पास भारतीय कोरोना रोधी वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट है, आरटीपीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट नहीं दिखानी होगी और क्वारंटीन रहने की आवश्यकता भी नहीं है।

कोवैक्सीन को हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मंजूरी दी है। यह बहरीन में 18 साल और इससे अधिक उम्र के लोगों के लिए उपलब्ध होगी। ये एक इनएक्टिवेटेड वैक्सीन है।

एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोवैक्सीन कोरोना रोग के खिलाफ 77.8 प्रतिशत प्रभावी है और वायरस के नए डेल्टा स्वरूप के खिलाफ 65.2 प्रतिशत प्रभावी है।

कोवैक्सीन के अलावा विश्व स्वास्थ्य संगठन के ईयूएल (इमरजेंसी यूज लिस्टिंग) में शामिल चीन की सिनोवैक और सिनोफार्म वैक्सीन को भी ब्रिटेन अपनी मान्यता प्राप्त वैक्सीन की सूची में शामिल करेगा। ऐसा होने पर संयुक्त अरब अमीरात और मलेशिया से ब्रिटेन की यात्रा करने वाले पूर्ण रूप से वैक्सीनेटेड लोगों को राहत मिलेगी।