Monday, June 27, 2022
spot_img
Homeराज्यमध्य प्रदेशसीएम शिवराज ने अफसरों के साथ की बैठक, कहा- करप्शन के खिलाफ...

सीएम शिवराज ने अफसरों के साथ की बैठक, कहा- करप्शन के खिलाफ जीरो टॉलरेंस रखें, अपराधियों को न छोड़ें

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को सुबह 6ः30 बजे कलेक्टरों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने खंडवा और डिंडौरी जिले के कलेक्टर और एसपी में कहा कि करप्शन के मामले में जीरो टॉलरेंस रखो, मेरी तरफ से फ्री हैंड है। उन्होंने दोनों जिलों के प्रभारी मंत्री और अधिकारियों के साथ बैठक में केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं की जानकारी ली और कई निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री शिवराज ने नवाचार, कुपोषण से मुक्ति के प्रयासों, एडॉप्ट एन आंगनवाड़ी, पेयजल, पीएम आवास, खंडवा शहर में पेयजल स्थिति, राशन वितरण, बिजली बिल माफी शिविर, सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों, रोजगार मेला, अमृत सरोवर, मनरेगा के काम, अपराध नियंत्रण, अवैध उत्खनन, माफियाओं के खिलाफ अभियान, अतिक्रमण से मुक्ति अभियान, लाडली लक्ष्मी योजना, कैरियर काउंसलिंग, छात्रवृत्ति की स्थिति, केंद्र और राज्य की फ्लैगशिप स्कीम सहित विभिन्न विषयों पर चर्चा की।

खंडवा कलेक्टर ने मुख्यमंत्री को बताया कि कुपोषण कम करने सहजन की पत्तियो के पाउडर को आंगनवाड़ी में बटवाना शुरू किए है। अभी 65 आंगनवाड़ी से प्रयास शुरू हुआ है जल्द ही इसे पूरे जिले में शुरू करेंगे, इस प्रयास के परिणाम सकारात्मक आ रहे है। एडॉप्ट एन आंगनवाड़ी के अंतर्गत 1682 आंगनवाड़ी में से 1540 आंगनवाड़ी एडॉप्ट की जा चुकी है। सीएम ने कहा कि यदि कोई जनता से पैसा मांगता है तो हमें उन्हें निर्मूल करना है। कोई पैसे न खा पाए। सीएम ने कहा कि मेरे पास 270 शिकायत बिजली बिल में गड़बड़ी की हैं। जिनको दिखवा लें।

सीएम ने कहा कि मेरा सीधा फार्मूला है, दबंगों से जमीन छीनो और गरीब को दे दो। गोकशी की घटनाओं पर तीखी नजर रखें। इसमें किसी को न छोड़ें। एसपी से कहा कि थानों के लोग पैसे तो नहीं मांग रहे? जरा गहराई में जाओ। अगर कोई पैसे मांग रहा है तो इसे ठीक करो। करप्शन के मामले में जीरो टॉलरेंस रखें। मेरी तरफ से फ्री हैंड है, अपराधियों को न छोड़ें। बैठक में मुख्यमंत्री ने खंडवा के भ्रष्ट अधिकारियों की सूची कलेक्टर को दी, जांच कर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने के निर्देश दिए।

सीएम ने डिंडौरी के अधिकारियों से पूछा कि निचला अमला मकान के एवज में पैसे की मांग तो नहीं कर रहा है? इस पर जानकारी दी गई कि शिकायत मिली थी। दो लोगों पर एफआईआर दर्ज हुई है। इन एफआईआर वालों को तुरंत जेल भेजो। गरीबों का हक मारने का अधिकार किसी को नहीं है। जनता की सुविधा खाने वालों को तोड़ दो। सीएम ने कहा कि आवास के लाभार्थियों के घर पर मिले शुभकामना संदेश जाए। सीएम ने कहा कि एक जिला, एक उत्पाद में कोदो कुटकी के बिस्किट और कुकीज पैक करके प्रधानमंत्री को भेजें। हम उन्हें सूचित करेंगे कि यह आदिवासी जिले का प्रोडक्ट 100% बिक जाता है। इससे डिंडोरी का नाम होगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments